Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

RailFans - the future of journalism

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sun Apr 11 09:18:17 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search

News Posts by Siddharth Jain

Page#    Showing 1 to 5 of 804 news entries  next>>
Mar 31 (10:51) पश्चिम मध्य रेलवे:पश्चिम मध्य रेलवे बना देश का पहला पूर्ण विद्युतीकृृत जोन (www.bhaskar.com)
WCR/West Central
0 Followers
16556 views

News Entry# 447389  Blog Entry# 4924672   
  Past Edits
Mar 31 2021 (10:51)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by Siddharth Jain/720659

Mar 31 2021 (10:51)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Siddharth Jain/720659

Mar 31 2021 (10:51)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Siddharth Jain/720659

Mar 31 2021 (10:51)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Siddharth Jain/720659
कोटा-चित्तौड़गढ़ सेक्शन के श्रीनगर से जलंधरि रेलवे स्टेशन तक की 23 किलोमीटर के सेक्शन का 30 मार्च को उत्तर परिमंडल दिल्ली के मुख्य रेल संरक्षा आयुक्त एसके पाठक ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद बिजली के इंजन को 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ा कर देखा गया।
इस सेक्शन के इलेक्ट्रिक फाइड होने के बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट किया है कि पश्चिम मध्य रेलवे देश का पहला पूर्ण विद्युतीकरण जोन बन गया है। इससे यात्रा के समय में कमी व पर्यावरण सुरक्षा जैसे लाभ मिलेंगे। इसमें कोटा मंडल का 903,44 किलोमीटर सेक्शन शामिल है।
कोटा-चित्तौड़गढ़
...
more...
सेक्शन में गुडला से चंदेरिया तक के 156 किमी रेल मार्ग का विद्युतीकरण किया जाना था। इसमें से गुडला से श्रीनगर के लगभग 45 किमी के सेक्शन को कमिश्नर रेलवे सेफ्टी ने पिछले साल जून में मंजूरी दी थी।
जलंधरि से चंदेरिया तक के 95 किमी के सेक्शन में इलेक्ट्रिफिकेशन वर्क पूरा हो चुका था। श्रीनगर से जलंधरि तक के 23 किमी सेक्शन को इलेक्ट्रीफाइड किया जा चुका था। मंगलवार को उत्तर परिमंडल के मुख्य रेल संरक्षा एसके पाठक ने स्पेशल ट्रेन से श्रीनगर जालंधरि सेक्शन का निरीक्षण किया। उनके साथ सीनियर डीओएम तुषार सारस्वत व अन्य अधिकारी भी थे।
इस दौरान पाठक ने जलंधरि से श्रीनगर स्टेशन तक के मध्य स्थित विभिन्न एलसी गेट, पावर सब स्टेशन, ट्रेक्शन सब स्टेशन और स्टेशनाें का निरीक्षण किया।
Mar 28 (17:56) रेल सुविधा:एक साल बाद 12 कोच वाली कोटा-मंदसौर ट्रेन एक अप्रैल से, छोटे स्टेशनों पर नहीं होगा ठहराव (www.bhaskar.com)
New/Special Trains
WCR/West Central
0 Followers
21548 views

News Entry# 447267  Blog Entry# 4922284   
  Past Edits
Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Mandal Garh/MLGH added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Bundi/BUDI added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Chanderiya/CNA added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Nimach/NMH added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Train Tag: Mandsor - Kota InterCity Special/09815 added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Train Tag: Kota - Mandsor InterCity Special/09816 added by Siddharth Jain/720659
रेलवे ने कोरोनाकाल के एक साल बाद मंदसौर से वाया चित्तौड़गढ़ कोटा ट्रेन को भी बहाल कर दिया है। जबलपुर मंडल द्वारा इसे स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन के रूप में एक अप्रैल से चलाया जा रहा है। यानी इसमें रिवर्जवेशन कराकर ही सफर किया जा सकेगा, वहीं छोटे स्टेशनों पर ठहराव नहीं होगा।
यह ट्रेन कोटा से सुबह 4.45 बजे रवाना होकर 7.50 चित्तौड़गढ़ और 10.30 बजे मंदसौर पहुंचेगी। वापसी में सुबह 11.45 बजे मंदसौर से रवाना होकर दोपहर 01.15 बजे चित्तौड़गढ़ और शाम 5 बजे कोटा पहुंचेगी। सड़क मार्ग से सफर करना मजबूरी बना हुआ था। अब पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर मंडल ने कोटा-मंदसौर स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन को मंजूरी दी है। इसका संचालन 1 अप्रैल को कोटा से शुरू होगा। पूर्व में
...
more...
यह रात में पैसेंजर ट्रेन के रूप में चलती थी। अब स्पेशल ट्रेन के रूप में सुबह के समय चल रही है। ताकि अधिकतम यात्री सफर कर सकें। हालांकि यह कई छोटे स्टेशनों पर नहीं रुकेगी और सभी श्रेणियों में पूर्व रिजर्वेशन भी जरूरी होगा।
परेशानी: इन स्टेशनों पर नहीं होगा ठहराव, नीमच का किराया 45 रुपए लगेगा, जनरल कोच में भी आरक्षण करवाना होगा... कोटा-मंदसौर स्पेशल ट्रेन का चित्तौड़गढ़ से नीमच के बीच शंभुपूरा, गंभीरी रोड, जावद, बिसलवाकलां तथा नीमच-मंदसौर के बीच हर्कियाखाल, मल्हारगढ़, पिपिलयामंडी जैसे स्टेशन पर ठहराव नहीं होगा। ट्रेन में 4-4 जनरल व स्लीपर सहित कुल 12 कोच रहेंगे। जनरल के दो-दो कोच आगे पीछे रहेंगे। चित्तौड़गढ़-नीमच का किराया 45 रुपए रहेगा। कोटा रुट पर कोरोनाकाल के पहले दो पैंसेजर व एक एक्सप्रेस ट्रेन चलती थी। जो अभी बंद है। पैसेंजर ट्रेन में मंदसौर-नीमच के बीच 15 रुपए में सफर होता था। अब 30 रुपए अधिक देना पड़ेंगे।
यह रहेगा शेड्यूल : ट्रेन संख्या 09816 कोटा- मंदसौर स्पेशल... कोटा से सुबह 4.45 बजे रवाना होकर 5.30 बजे बूंदी, 6.18बजे श्यामपुर, 6.36 बजे मांडलगढ़, 6.58 बजे पारसोली, 7.18 बजे बस्सी, 7.45 बजे चंदेरिया पासिंग, 7.50 बजे चित्तौड़गढ़, 8.26 बजे निंबाहेड़ा, 8.47 बजे नीमच होते हुए 10.30 बजे मंदसौर पहुंचेगी।
ट्रेन संख्या 09815 मंदसौर-कोटा स्पेशलमंदसौर से सुबह 11.15 बजे रवाना होकर 12.10 नीमच, 12.44 निंबाहेड़ा, 1.15 चित्तौड़गढ़, 2.10 चंदेरिया पासिंग, 2.31 बस्सी, 2.46 पारसोली, 3.07 बजे मांडलगढ़, 3.25 बजे श्यामपुरा, 4.13 बजे बूंदी होते हुए शाम 5 बजे कोटा पहुंचेगी।
कोटा के यात्रियों की इंटरसिटी से कनेक्टविटीकोटा से यह ट्रेन सुबह 7.50 बजे चित्तौड़गढ़ पहुंचेंगी। इससे इसमें आने वाले यात्रियों को उदयपुर-जयपुर इंटरसिटी स्पेशल ट्रेन से कनेक्टिविटी मिल जाएगी। इसी तरह कोटा से यमुनाब्रिज ट्रेन की कनेक्टिविटी मिलेगी।

Rail News
18495 views
Mar 28 (19:27)
aniket
aniket   124 blog posts
Re# 4922284-1            Tags   Past Edits
Diesel loco hoga ya eloco?

18522 views
Mar 28 (19:43)
Siddharth Jain
RamganjMandi^~   5755 blog posts
Re# 4922284-2            Tags   Past Edits
Abhi CRS hua nhi to Dloco mention kiya notification me. 30.3 ko CRS hai
To ho skta first run se eloco se chale.

17161 views
Mar 28 (20:04)
Mewar RF
Love114~   1388 blog posts
Re# 4922284-3            Tags   Past Edits
Mewar ke bad ise Eloco milega
Mar 28 (11:43) ट्रेनों की रफ्तार 160 किमी करने पर 2664 करोड़ खर्च होंगे (www.patrika.com)
WCR/West Central
0 Followers
24197 views

News Entry# 447250  Blog Entry# 4922051   
  Past Edits
Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Chanderiya/CNA added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Junakhera/JNKHR added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Jhalawar City/JLWC added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Sawai Madhopur Junction/SWM added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Mathura Junction/MTJ added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Nagda Junction/NAD added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Siddharth Jain/720659
कोटा. रेलवे की मिशन रफ्तार परियोजना के तहत दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर वाया कोटा होकर ट्रेनों की रफ्तार 160 किमी प्रतिघंटे करने के लिए राशि स्वीकृत हो गई है। इस योजना पर 2664.14 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सबसे ज्यादा ट्रेक को अपडग्रेड करने के कार्य पर 1311.19 करोड़ रुपए खर्च होंगे। विद्युत कार्य पर 874.21 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सिग्नल और टेलीकॉल से जुड़े कार्यों पर 428.26 करोड़ रुपए खर्च होंगे। यांत्रिक विभाग के कार्यों पर 50.48 करोड़ रुपए खर्च होंगे। कई जगह ट्रेक के घुमाव को दुरुस्त किया जाएगा।कोटा के डीआरएम पंकज शर्मा ने बताया कि निकट भविष्य में दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर 160 किमी की रफ्तार से ट्रेनें चलेंगी। अभी हाल ही में नागदा-कोटा-सवाईमाधोपुर रेलखंड में 180 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से कोच और इंजन का परीक्षण सफ लतापूर्वक किया गया है। डीआरएम ने बताया कि कोटा मंडल में यात्री ट्रेनों की पहले अधिकतम 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार थी,...
more...
जिसे बढ़ाकर 130 प्रतिघंटे कर दिया है। करीब 90 प्रतिशत मेल, एक्सप्रेस ट्रेनों की रफ्तार में इजाफा किया गया है। अब मथुरा-नागदा रेलखंड में सभी एलएचबी कोच वाली ट्रेनों की रफ्तार 130 किमी प्रति घंटे है। इसके अलावा मालगाडिय़ों की औसत रफ्तार में भी इजाफा हुआ है। पहले 36.9 किमी प्रति घंटे की औसत रफ्तार से मालगाडिय़ों का संचालन होता था, अब 57.21 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से मालगाडिय़ों का संचालन हो रहा है।24.75 किमी लाइन विद्युतीकृतडीआरएम ने बताया कि रामगंजमण्डी-भोपाल रेलखंड में झालावाड़ सिटी-झालरापाटन-जूनाखेड़ा रेलखंड में 24.75 किलोमीटर के नए रेलवे ट्रेक को विद्युतीकृत कर दिया है। इसके अलावा गुड़ला से चन्देरिया रेलखंड में एक छोटे से हिस्से में स्वीकृति मिलनी बाकी है। अभी इस रेलखंड में मालगाडिय़ां विद्युत इंजन से चलाई जा रही हैं, बहुत जल्दी ही सम्पूर्ण रेलखंड में यात्री गाडिय़ां भी विद्युत इंजन से चलने लगेंगे। डीआरएम पंकज शर्मा ने बताया कि कोटा-बीना रेलखण्ड में भी दोहरीकरण का कार्य तेज गति से चल रहा है। वित्तीय वर्ष 2021-22 में यह कार्य पूरा कर लिया जाएगा।ग्रीन ऊर्जा पर जोरडीआरएम शर्मा ने बताया कि ग्रीन एनर्जी की दिशा में कार्य करते हुए कोटा मंडल में सोलर पावर प्लांट लगाने से लगभग 10 लाख रुपए से भी ज्यादा की बचत हो रही है। अभी पहले चरण में 11 रेलवे स्टेशनों पर बिजली सिस्टम को सिग्नलिंग सिस्टम से जोड़ दिया गया है। जिससे अनावश्यक बिजली की खपत को रोकने में मदद मिली है ।
Mar 27 (13:14) मिरज-शेणोलीदरम्यान रेल्वेमार्गाच्या विद्युतीकरणाची चाचणी यशस्वी (www.lokmat.com)
CR/Central
0 Followers
13563 views

News Entry# 447178  Blog Entry# 4921177   
  Past Edits
Mar 27 2021 (13:14)
Station Tag: Miraj Junction/MRJ added by Siddharth Jain/720659
Stations:  Miraj Junction/MRJ  
मध्य रेल्वेच्या पुणे विभागातर्फे मिरज-शेणोलीदरम्यान रेल्वेमार्गाच्या विद्युतीकरणाची रेल्वे सुरक्षा आयुक्त ए.के. जैन, सुरक्षा निरीक्षक आर.के. शर्मा यांच्या उपस्थितीत शुक्रवारी चाचणी पार पडली. मार्गावर विद्युत इंजिनाने ६४ किलाेमीटरचे अंतर ६० मिनिटांत पूर्ण केले. विद्युत इंजिनाची चाचणी यशस्वी झाल्याचे रेल्वे अधिकाऱ्यांनी सांगितले. चाचणीदरम्यान रेल्वे इंजीनचा सर्वाेच्च वेग १५० किलाेमीटर प्रतितास
हाेता. पुणे-मिरज-लोंढा रेल्वेमार्गावर विद्युतीकरणासह दुहेरीकरणाचे काम सुरू आहे. मिरज-पुणे रेल्वेमार्गावर बहुतांश ठिकाणी विद्युतीकरण पूर्ण झाले आहे. मिरज-शेणोलीदरम्यान ६४ किलाेमीटर मार्गाचे विद्युतीकरण पूर्ण झाले असून दोन महिन्यांपूर्वी मिरज-शेणोलीदरम्यान विद्युतचाचणी घेण्यात आली होती. शुक्रवारी रेल्वे सुरक्षा आयुक्तांच्या उपस्थितीत मध्य रेल्वेतर्फे शेणोली-ताकारी व मिरज-शेणोलीदरम्यान ताशी १५० किलाेमीटर वेगाने विद्युत इंजिनाची चाचणी पार पडली.
मिरज-पुणे
...
more...
यादरम्यान विद्युतीकरणाचे काम पूर्ण झाल्यानंतर एक्स्प्रेस, पॅसेंजरचा वेग वाढणार असल्याचे रेल्वे अधिकाऱ्यांनी सांगितले. शुक्रवारी दुपारी मिरज स्थानकातून ह.भ.प. ज्ञानेश्वर पोतदार (महाराज) यांच्या हस्ते विद्युत इंजीनची पूजा करून चाचणी घेऊन विशेष रेल्वे रवाना करण्यात आली. मिरज-पुणे मार्गावर ताकारी-शेणोली, फुरसुंगी-पुणे यादरम्यान दुहेरीकरण व मिरजेपर्यंत विद्युतीकरण पूर्ण झाले आहे. त्याची यशस्वी चाचणी पार पडली. मिरज-कोल्हापूर रेल्वेमार्गाचेही विद्युतीकरण पूर्ण झाले आहे. रेल्वे सुरक्षा आयुक्तांनी रेल्वे मार्गाचे दुहेरीकरण, विद्युतीकरणासह मिरज स्थानकात फलाट क्रमांक १ व ३ वर बसविण्यात आलेल्या लिफ्टची व स्थानकात सुरू असलेल्या विविध कामांची पाहणी केली.
Web Title: Successful test of electrification of railway line between Miraj-Shenoli
विस्तार झांसी - कानपुर रेल लाइन पर 18 किलोमीटर डबल ट्रैक के कार्य का मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) के निरीक्षण के बाद हरी झंडी मिलते ही इस खंड पर सौ किलोमीटर की रफ्तार से ट्रेनों को दौड़ाना शुरू कर दिया है। बृहस्पतिवार को गोरखपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस को सौ किलोमीटर की रफ्तार से निकाला गया।विज्ञापनबुधवार को सीआरएस मोहम्मद लतीफ ने झांसी- कानपुर रेल लाइन पर भुआ, उरई और सरसोकी रेलवे स्टेशन के मध्य 18 किलोमीटर रेल खंड का गहनता से निरीक्षण किया था। निरीक्षण के बाद शाम को इस रेलखंड पर सौ किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ट्रेनें दौड़ाने की अनुमति दे दी गई थी। अधिकारियों की देखरेख में बृहस्पतिवार को पहली ट्रेन 05067 गोरखपुर-बांद्रा टर्मिनस एक्सप्रेस को सौ किलोमीटर की रफ्तार से निकाला गया। इसके बाद मालगाड़ियों को साठ किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से भी निकालना शुरू कर दिया गया है। अधिकारी भी ट्रेनों के संचालन पर नजर बनाए रहे।मई...
more...
तक पूरा होना है झांसी-उरई डबल ट्रैक का काम...206 किलोमीटर लंबे झांसी-कानपुर रेलवे ट्रैक पर डबल लाइन डालने के काम तेजी से चल रहा है। अभी तक 24 किलोमीटर लंबे झांसी से पारीछा, 19 किलोमीटर पारीछा से नंदखास, 27 किलोमीटर पिरौना-एट और भुआ व 17 किलोमीटर सरसोकी व ऊसरगांव का काम पूरा हो चुका है। माना जा रहा है कि मई में यह सेक्शन बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बाद पुन: सीआरएस निरीक्षण होगा। सीआरएस निरीक्षण में पास होने पर 118 किलोमीटर का दोहरा ट्रैक ट्रेन संचालन के लिए खुल जाएगा। मई तक पूरा होना है झांसी-उरई डबल ट्रैक का काम.
Page#    804 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy