Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Kolkata Metro: The only Metro of IR. কলকাতা মেট্রো : তিলোত্তমার জীবন রেখা ।। - PPG

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Wed Feb 20 00:07:44 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

News Posts by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~

Page#    Showing 1 to 5 of 11592 news entries  next>>
  
Yesterday (12:40) रांची में दो मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्‍त, दो दर्जन डिब्‍बे बेपटरी (m.jagran.com)
Major Accidents/Disruptions
ECR/East Central
0 Followers
1453 views

News Entry# 376892  Blog Entry# 4236288   
  Past Edits
Feb 19 2019 (12:41)
Station Tag: Ranchi Junction/RNC added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836

Feb 19 2019 (12:41)
Station Tag: Ray/RAY added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836

Feb 19 2019 (12:41)
Station Tag: Khalari/KLRE added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836
Stations:  Ranchi Junction/RNC   Khalari/KLRE   Ray/RAY  
रांची, जेएनएन। खलारी-राय स्टेशन के बीच पोल संख्या 154/8 से154/14 के बीच दो मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई। घटना रात दो बजे की है। डाउन लाइन से कोयला लेकर मालगाड़ी गुजर रही थी। 25 डिब्बे गुजरने के बाद अचानक डिब्बा डीरेल हो गए। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि कोयला लदा एक डिब्बा अप लाइन में आ गया। डाउन लाइन के 10 डिब्बे डीरेल हो गए।
पांच मिनट बाद ही अपलाइन में कन्टेनर लदी मालगाड़ी आ गयी। कंटेनर मालगाड़ी के इंजन की पहले से दुर्घटनाग्रस्त डिब्बे से टक्कर हो गई। जिससे कन्टेनर मालगाड़ी के 12 डिब्बे डीरेल हो गए। अप तथा डाउन दोनों लाइन से रेल यातायात बंद हो गया है। सूचना मिलते ही रेलवे अधिकारी व खलारी इंस्पेक्टर वहां पहुंचे। घायल रेल ड्राइवर को
...
more...
मेडिका भेज गया। रांची से ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर, खलारी डीएसपी पीके सिंह, रेलवे के सहायक सुरक्षा आयुक्त दीवान शुक्ला सहित रेल रेसक्यू टीम पहुंच गई है। पुलिस घटना का कारण तकनीकी बता रही है। रांची से खोजी कुत्ते को बुलाकर जांच करवाया गया। घटना उग्रवादी है या तकनीकी इसकी पुष्टि अभी नहीं हो सकी है। एफएसएल की टीम भी आ रही है।
 
कर्षण तार, पोल, लाइन सारा क्षतिग्रस्त हो गया है। रेसक्यू टीम जोर शोर से लगी है। यातायात शुरू होने में 24 घंटे का समय लग सकता है। कोयला लदी मालगाड़ी सिंगरौली से बिलासपुर के मउदा थर्मल पावर जा रही थी। कन्टेनर वाली मालगाड़ी राउरकेला से KFSH जा रही थी। कन्टेनर में कीमती सामान बताया जा रहा है। झारखंड जैगुआर के बम डिटेक्शन एंड डिस्पोजल टीम के इंस्पेक्टर असित कुमार मोदी ने तात्कालिक जांच में किसी तरह के विस्फोट से इन्कार किया है। टीम के द्वारा घटनास्थल से नमूने लिए गए हैं।
रांची के ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर ने  कहा है कि अभी तक विस्फोट की कोई बात सामने नहीं आई है। देर रात एक मालगाड़ी डिरेल होकर पटरी से उतर गई थी। थोड़ी देर बाद एक और मालगाड़ी उधर से ही गुजर रही थी जो डिरेल हुई माल गाड़ी से टकरा गई। बम निरोधक दस्ते और एफएसएल की टीम को जांच के लिए बुलाया गया है। प्रारंभिक जांच में अभी तक विस्फोट होने की बात सामने नहीं आई है। हादसे में जिस ट्रेन में डी रेल ट्रेन में टक्कर मारी है उसके दो ड्राइवर घायल हुए हैं। जिन्हें मेडिका अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।
  
Yesterday (08:33) एक ही ट्रैक पर आई मालगाड़ी और इंजन, यहां हुआ हादसा (m.jagran.com)
Major Accidents/Disruptions
SER/South Eastern
0 Followers
1125 views

News Entry# 376873  Blog Entry# 4236117   
  Past Edits
Feb 19 2019 (08:33)
Station Tag: Tatanagar Junction/TATA added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836

Feb 19 2019 (08:33)
Station Tag: Adityapur/ADTP added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836
जमशेदपुर, जेएनएन। झारखंड के टाटानगर स्टेशन से अगले स्टेशन आदित्यपुर में रविवार को सुबह बड़ा हादसा टल गया। यहां एक ही ट्रैक पर मालगाड़ी और रेल इंजन आ गई। इससे मालगाड़ी की एक बोगी और ओवरब्रिज को क्षति पहुंची। इस दुर्घटना में इलेक्ट्रिक तार भी टूट गए।
दक्षिण-पूर्व रेलवे के आदित्यपुर स्टेशन में यह हादसा तब हुआ जब संटिंग ट्रैक से मालगाड़ी को मेन ट्रैक पर लाया जा रहा था। इसी क्रम में उसी ट्रैक से एक रेल इंजन को भी सिग्नल दे दिया गया। दोनों आगे बढ़ते हुए टकरा गई। जानकारी मिलते ही विभाग के इंजीनियर ने ऑपरेशन शुरू किया और ट्रैक को सुरक्षा घेरे में ले लिया। हालांकि, इसमें किसी की जान का कोई नुकसान नहीं हुआ। 
ब्रिज
...
more...
के ऊपर मालगाड़ी की खुली कपलिंग
आदित्यपुर ओवर ब्रिज के बीचो बीच शनिवार की सुबह करीब 8.30  बजे  मालगाड़ी की कपलिंग खुल गई थी। कपलिंग खुलने के कारण इंजन से मालगाड़ी अलग हो गई। इसका पता चालक को चला तो उन्होंने तुरंत इंजन को रोका और इसकी सूचना टाटानगर स्टेशन के रेल अधिकारियों को दी। लेकिन ब्रिज के ऊपर बीचो बीच कपलिंग खुलने के कारण मालगाड़ी की कपलिंग लगाने में रेलकर्मियों को काफी परेशानी हुई। किसी तरह इंजन को पीछे धकेल कर कपलिंग फिर से लगाई गई। कपलिंग लगने के बाद मालगाड़ी ब्रिज को पार कर पाई। कपलिंग खुलने के कारण सुबह करीब 8.30  बजे से 9.30 बजे तक मालगाड़ी आदित्यपुर ओवर ब्रिज पर ही खड़ी रही। इस टाईम कोई यात्री गाड़ी यहां से नहीं गुजरती।
  
Yesterday (08:28) निरीक्षण में नहीं मिली खामी तो 12 लाख के अवार्ड बांट आए (mnaidunia.jagran.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
1125 views

News Entry# 376872  Blog Entry# 4236113   
  Past Edits
Feb 19 2019 (08:28)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836
Stations:  Jabalpur Junction/JBP  
जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि
इटारसी से जबलपुर के बीच निरीक्षण के दौरान जीएम अनिल विजयवर्गीय को रेलवे ट्रैक से लेकर स्टेशन, प्लेटफार्म, यात्री सुविधाएं और कर्मचारी कल्याण के लिए किए गए काम इतने पसंद आए कि उन्होंने तकरीबन 12 लाख रुपए के अवार्ड बांट दिए। यह अवार्ड रेल कर्मचारी, अधिकारी और विभाग को दिए गए।
जीएम स्पेशल ट्रेन रात तकरीबन साढ़े 8 बजे जबलपुर स्टेशन के प्लेटफार्म 2 पर पहुंची। यहां मीडिया से चर्चा करते हुए जीएम ने बताया कि हबीबगंज की तरह तो नहीं,
...
more...
लेकिन जबलपुर स्टेशन को रिडवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रेलवे के जो काम पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) में नहीं हुए, उन्हें रेलवे अपने खर्च पर खुद करा रहा है।
35 दिन का ब्लॉक चाहिए, जल्द होगा काम
जबलपुर स्टेशन के आउटर पर खड़े होने के सवाल पर जीएम ने कहा कि जबलपुर रिमॉडलिंग के लिए स्टेशन पर तकरीबन 35 दिन का ब्लॉक लेना होगा। इसके लिए हम प्लानिंग कर रहे हैं। इस काम के बाद स्टेशन के आउटर पर ट्रेनें खड़े होने की समस्या खत्म हो जाएगी। उन्होंने जबलपुर-इंदौर रेल लाइन परियोजना पर कहा कि पहले फेस में यह काम इंदौर से बुधनी तक हो रहा है। दूसरे फेस में यह काम आगे बढ़ेगा। निरीक्षण से जुड़े अनुभव शेयर करते हुए उन्होंने स्टेशन पर पेंटिंग, फव्वारे और स्टेशन के बाहर को सुंदर बनाने के काम का सराहा।
स्टॉपेज की मांग
उन्होंने बताया कि निरीक्षण के दौरान स्थानीय लोगों से बातचीत में कई मांगें सामने आईं। इसमें मुख्यतौर पर संघमित्रा और मेल एक्सप्रेस के नए स्टॉपेज देने संबंधित मांग मुख्य थी। जल्द ही इस पर निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने नरसिंहपुर स्टेशन पर इलाहाबाद-नागपुर ट्रेन में हुई घटना पर अफसोस जाहिर कर कहा कि स्टेशन और ट्रेन की सुरक्षा के लिए कई बड़े कदम उठाए जा रहे हैं, ताकि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। इस दौरान जबलपुर रेल मंडल के डीआरएम मनोज सिंह, समेत जोन और मंडल के सभी विभागाध्यक्ष मौजूद रहे।
यह भी देखा
- जीएम ने तवा ब्रिज, तवा टनल व कर्व का निरीक्षण किया
- 25 हजार वॉट की विद्युत लाइन में सावधानी पर चर्चा की
- रेल क्वार्टर की विद्युत खपत की रिमोट मीटर रीडिंग का उद्घाटन किया
  
Yesterday (08:27) तवा नदी के ब्रिज पर पैदल चलकर किया जीएम ने निरीक्षण, सुंदरता से खुश (mnaidunia.jagran.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
1104 views

News Entry# 376871  Blog Entry# 4236112   
  Past Edits
Feb 19 2019 (08:27)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836

Feb 19 2019 (08:27)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836
जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि
इटारसी से जबलपुर तक तकरीबन 245 किमी लंबे रेलवे ट्रैक और इसमें आने वाले 25 रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करने सोमवार को जीएम स्पेशल ट्रेन दौड़ी। पश्चिम मध्य रेलवे के जीएम अनिल विजयवर्गीय ने सुबह तकरीबन 8.20 पर इटारसी से अपना निरीक्षण शुरू किया। ट्रेन तवा नदी पर बने ब्रिज से पहले ठहर गई, जिसके बार जीएम अपने आला अधिकारियों के साथ उतरे और ब्रिज का पैदल निरीक्षण किया। उन्होंने ब्रिज की सुंदरता और तकनीक को देखकर खुशी भी जाहिर की। इसके बाद वे बागरातवा स्टेशन पहुंचे और यात्री व कर्मचारियों से मिलकर सुविधा और समस्याओं पर बातचीत की।
...
more...
साहब, स्टेशन पर बंदर बहुत परेशान करते हैं
इटारसी से जबलपुर के बीच जीएम ने चार रेलवे स्टेशन पर रुककर निरीक्षण किया। सबसे अधिक समय उन्होंने पिपरिया स्टेशन पर गुजारा। यहां पर यात्री, कर्मचारी, क्षेत्रीय लोगों से लेकर सामाजिक और राजनीतिक संगठनों से मुलाकात की। जीएम से बातों ही बातों में यात्रियों ने अपनी शिकायत भी दर्ज कर दी। उनका कहना था कि स्टेशन पर पैसेंजर को ट्रेन की टाइमिंग नहीं बल्कि बंदर परेशान करते हैं।
गाडरवारा और नरसिंहपुर स्टेशन में भी रुके
जीएम के साथ इंजीनियरिंग, मैकेनिकल, ऑपरेटिंग, कमर्शियल, सिग्नल एंड कम्युनिकेशन के अलावा आरपीएफ के मुखिया मौजूद रहे। उन्होंने निरीक्षण के दौरान बागरातवा, पिपरिया के अलावा गाडरवारा और नरसिंहपुर स्टेशन का भी निरीक्षण किया। इस दौरान स्टेशन, यात्री, कर्मचारियों की जो भी समस्याएं आईं, उन्हें तत्काल संबंधित विभाग के मुखिया से बातचीत कर दूर कर दिया। इधर पैसेंजर ने कई ट्रेनों को स्टेशन पर रोकने के लिए उन्हें ज्ञापन भी दिया।
120 किमी की रफ्तार से दौड़ी जीएम
नरसिंहपुर स्टेशन का निरीक्षण करने के बाद शाम तकरीबन सवा सात बजे जीएम स्पेशल ट्रेन जबलपुर के लिए रवाना हुई। नरसिंहपुर से जबलपुर तक, रेलवे ट्रैक की स्पीड चेक करने स्पेशल ट्रेन को तकरीबन 120 किमी की रफ्तार से दौड़ाया गया। ट्रेन में विद्युत इंजन लगा था, जिसकी मदद से ट्रेन को बेहतर स्पीड मिली। इस दौरान जीएम और अधिकारियों ने कोच के विंडों से यह देखा कि इतनी स्पीड पर ट्रेन को कंट्रोल किया जा सकता है कि नहीं। रात तकरीबन 8 बजे जीएम स्पेशल जबलपुर स्टेशन पहुंची।
इसलिए होता है जीएम निरीक्षण
दरअसल, देशभर में 17 रेलवे जोन हैं। हर जोन के जीएम को साल में कम से कम एक बार जीएम निरीक्षण करना होता है। निरीक्षण रेल मंडल स्तर पर होता है। जोन स्तर के सभी विभागाध्यक्ष जीएम के साथ होते हैं। इनकी मदद से रेलवे स्टेशन, ट्रैक, सिग्नल और ट्रेन से जुड़ी सभी समस्याएं मौके पर ही दूर हो जाती हैं। ऐसा ही इटारसी से जबलपुर के बीच हुए जीएम निरीक्षण के दौरान हुआ। ट्रैक को इतना सुंदर बनाया गया था, मानो घर का आंगन लग रहा हो। स्टेशन, ब्रिज से लेकर हर जगह सुविधाएं बेहतर दिखीं।
  
Yesterday (08:26) प्लेटफार्म पर पैसेंजर को कुर्सी, पानी, हवा की देनी थी सुविधा, ड्राइंग से आगे नहीं बढ़ा काम (mnaidunia.jagran.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
1040 views

News Entry# 376870  Blog Entry# 4236110   
  Past Edits
Feb 19 2019 (08:26)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836
Stations:  Jabalpur Junction/JBP  
जबलपुर। स्लीपर से लेकर एसी तक के पैसेंजर के लिए ट्रेन और प्लेटफार्म पर सुविधाएं बढ़ाई गईं, लेकिन जनरल कोच में सफर करने वालों का हाल अब भी बुरा है। इन पैसेंजरों को देने के लिए जो योजना बनाई गई उस पर भी अमल नहीं किया गया। ऐसी ही एक योजना थी जिसमें जनरल कोच में सफर करने वाले यात्रियों को प्लेटफार्म पर बैठने के लिए कुर्सी, पीने के लिए स्वच्छ पानी और हवा तक की सुविधाएं देनी थीं। यह काम जनप्रतिनिधियों की मदद से होना था। पैसेंजर सुविधाओं का क्लस्टर बनाकर एक जगह पर सारी सुविधाएं उपलब्ध करानी थीं, लेकिन न तो इसमें जनप्रतिनिधियों ने रुचि दिखाई न ही रेल अधिकारियों ने। काम सिर्फ ड्राइंग तक ही रहा। अधिकारी हर बार ड्राइंग बनाकर जनप्रतिनिधियों को दिखाते रहे और वे हर बार उसमें बदलाव कर उसे नापसंद करते रहे।
क्या
...
more...
थी क्लस्टर पैसेंजर योजना
दरअसल जबलपुर समेत कई बड़े स्टेशनों पर सांसद निधि से पैसेंजर सुविधाएं देनी थीं। मुख्यतौर पर जनरल कोच के पैसेंजर को इन सुविधाओं से जोड़ना था। प्लेटफार्म पर ऐसी जगह तलाशनी थी, जहां अक्सर ट्रेन के जनरल कोच रुकते हैं। कुर्सी, पंखा, पानी, टेलीविजन, मोबाइल चर्जिंग जैसी प्राथमिक सुविधाओं का क्लस्टर बनाकर प्लेटफार्म पर छोटे-छोटे प्वाइंट विकसित करने थे। रेलवे बोर्ड ने भी अपने सांसदों को इस काम में खास रुचि दिखाने को कहा गया, लेकिन पश्चिम मध्य रेलवे के कुछ सांसद छोड़कर बाकी ने इसमें कोई रुचि नहीं दिखाई।
इसलिए उठाया था कदम
रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर स्लीपर और एसी कोच के पैसेंजर के लिए वेटिंग रूम उपलब्ध होते हैं, लेकिन जनरल कोच के लिए यह सुविधा नहीं होती। बी और सी स्तर के स्टेशनों का हाल तो और बुरा होता है। ऐसे में पैसेंजर ट्रेन, जनरल कोच में सफर करने वाले यात्रियों की सुविधाओं को बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया गया। जबलपुर रेल मंडल के कमर्शियल विभाग ने भी यह प्रयास किया। जबलपुर स्टेशन पर भी पैसेंजर सुविधा क्लस्टर बनाने के लिए प्वाइंट तय किए गए, लेकिन काम सिर्फ ड्राइंग तक ही रहा।
जनरल कोच और पैसेंजर का हाल
- जबलपुर स्टेशन पर अभी तक कोई ऐसी जगह नहीं जहां जनरल कोच के पैसेंजर बैठ सकें।
- पैसेंजर ट्रेन में सफर करने वाले पैसेंजर को अक्सर प्लेटफार्म या स्टेशन के बाहर बैठना पड़ता है।
- ट्रेन प्लेटफार्म पर ठहरती है तब इन पैसेंजर के लिए पानी की सुविधा चार-पांच कोच दूर होती है।
- ट्रेन महज 2 से 5 मिनट रुकती है और तब पानी लेने पैसेंजर को मशक्कत करनी होती है।
- कोच में सीट तय न होने से बैठने को लेकर भी कई बार झगड़े होते हैं।
- इन कोच में आरपीएफ और जीआरपी के जवान अक्सर गश्त नहीं करते।
Page#    11592 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy