Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

हम RailFan - हमेशा पंखों पे

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Wed Sep 22 16:05:34 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
Page#    438154 news entries  next>>
Today (15:14) Rail News in Bilaspur: जोनल स्टेशन में बिगड़ी चलित सीढ़ी, परेशान हुए यात्री (www.naidunia.com)
Major Accidents/Disruptions
SECR/South East Central
0 Followers
1211 views

News Entry# 465525  Blog Entry# 5072144   
  Past Edits
Sep 22 2021 (15:14)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bilaspur Junction/BSP  
बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)।Rail News in Bilaspur: जोनल स्टेशन में यात्रियों की सुविधा के लिए लगाई गई चलित सीढ़ी में बुधवार को सुबह बंद हो गई। एकाएक आई इस खराबी की वजह तो कोई समझ नहीं पाया, लेकिन इसके चलते यात्रियों को परेशानी हुई। उन्हें भारी- भरकम लगेज लिए सामान्य सीढ़ियों से चढ़कर प्लेटफार्म दो- तीन व चार- पांच पर जाना पड़ा। दोपहर तक रेलवे ने इसे नहीं सुधारा था।
जोन के इस मुख्य स्टेशन के गेट क्रमांक चार पर चलित सीढ़ी के अलावा लिफ्ट की सुविधा भी है। पर लिफ्ट में सीमित ही यात्री जा सकते। यदि भारी- भरकम लगेज है तो उसके पास चलित सीढ़ी या सामान्य सीढ़ियों के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है। यात्रियों को इसी परेशानी से जुझता
...
more...
देखा गया है। चलित सीढ़ी चलते- चलते अचानक बंद हो गई।
जिस समय यह खराबी आई कुछ यात्री थे। उन्हें चलित सीढ़ी में पैदल चढ़कर जाना पड़ा। जबकि सुबह प्लेटफार्म दो- तीन के अलावा चार- पांच में लगातार ट्रेनें पहुंचती है। इसकी वजह से यात्रियों की भीड़ और उनमें ट्रेन पकड़ने की हड़बड़ी भी रहती है। अचानक सीढ़ी बंद होने से यात्रियों को भारी- भरकम लगेज उठाकर सीढ़ी चढ़नी पड़ी। वह रेलवे की इस अव्यवस्था से नाराज भी दिखे।
इन यात्रियों में कुछ ऐसे भी थे, ट्रेन से नियमित यात्रा करते हैं। उनका कहना था कि रेलवे ने यह सुविधा जरुरी दी है, पर नियमित मरम्मत नहीं होती। जिसका खामियाजा यात्रियों को इसी तरह भुगतना पड़ता है। खराबी आने से सीढ़ी बंद की यह समस्या पहली बार नहीं आई है। संबंधित विभाग यदि नियमित निगरानी व समय- समय पर मरम्मत करेगी तो अचानक आने वाली खराबी नहीं आएगी।
Today (15:13) Indian Railway ने लॉन्च की बायोमेट्रिक टोकन मशीन, जनरल कोच में होगी रिजर्वेशन जैसी व्यवस्था (www.naidunia.com)
New Facilities/Technology
SCR/South Central
0 Followers
1152 views

News Entry# 465524  Blog Entry# 5072142   
  Past Edits
Sep 22 2021 (15:13)
Station Tag: New Delhi/NDLS removed by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 22 2021 (15:13)
Station Tag: Secunderabad Junction/SC added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 22 2021 (15:13)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Secunderabad Junction/SC  
Indian Railway: रोजाना ट्रेन से अप डाउन करने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर है। भारतीय रेलवे ने इन लोगों की सुविधा के लिए बायोमेट्रिक टोकन मशीन लॉन्च की है। इसकी वजह से सामान्य डिब्बे में भी रिजर्वेशन जैसी सुविधा मिलेगी। अब हर यात्री को अपनी सीट पता होगी और वो वहीं जाकर बैठेगा। इससे यात्री भीड़ भाड़ से भी बच सकेंगे और सामान्य डिब्बे में होने वाली धक्का-मुक्की बंद होगी। साउथ सेंट्रल रेलवे ने सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर यह मशीन लॉन्च की है। यह ऐसी पहली मशीन है, जिसे रेलवे स्टेशन पर लगाया गया है। यहां इसके बारे में सब कुछ बता रहे हैं।
कैसे काम करेगी मशीन
यात्रियों
...
more...
को इस मशीन में अपने सफर से जुड़ी पूरा जानकारी देनी होगी और इसमें अपना अंगूठा भी लगाना होगा। इससे मशीन आपकी बायोमेट्रिक डीटेल हासिल करेगी। पूरी जानकारी लेने के बाद मशीन आपको टिकट देगी, जिसमें डिब्बा नंबर और सीरियल नंबर होगा। इसी के आधार पर आप अपने कोच में चढ़ेंगे और अपनी सीट पर बैठेंगे। इससे सीट के लिए होने वाली लड़ाई और धक्का मुक्की बंद होगी।
क्या होगा फायदा
इस मशीन की वजह से यात्रियों को भीड़ नहीं लगाना पड़ेगा। वो आराम से ट्रेन में चढ़ेंगे और अपनी सीट पर बैठेंगे। साथ ही रेलवे के पास हर यात्री की डीटेल होगी और किसी भी तरह का अपराध होने पर तुरंत अपराधी को पकड़ा जा सकेगा। पकड़े जाने के डर से अपराधी भी ट्रेनों में यात्रा नहीं कर पाएंगे। इस वजह से आपका सफर पहले से ज्यादा व्यवस्थित और सुरक्षित होगा। बायोमेट्रिक मशीन सबसे पहले 14 सितंबर 2021 को लॉन्च की गई थी। सिकंदराबाद स्टेशन पर बहुत जल्द दूसरी बायोमेट्रिक मशीन भी लगेगी।
लाइन में नहीं खड़े होंगे यात्री
रेलवे ने इस मशीन के बारे में जानकारी देते हुए बताया है कि बायोमेट्रिक मशीन का बड़ा फायदा स्टेशनों पर भीड़ रोकने में होगा। इसकी वजह से यात्रियों को पहले से कोच नंबर मिलेगा, इसलिए वे घंटों में लाइन में खड़े होकर ट्रेन में बैठने का इंतजार नहीं करेंगे। बायोमेट्रिक मशीन से यात्री को टोकन लेते वक्त ही पता चल जाएगा कि उसे किस कोच में बैठना है, तो वह स्टेशन या ट्रेन के पास तभी जाएगा जब वह ट्रेन और उसका कोच आ जाएगा।"
Yesterday (12:56) Gwalior Railway News: इंजीनियराें ने दी हरी झंड़ी, अब नवरात्र से ग्वालियर-इटावा ट्रैक पर दाैड़ने लगेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेन (www.naidunia.com)
IR Affairs
NCR/North Central
0 Followers
13343 views

News Entry# 465412  Blog Entry# 5071288   
  Past Edits
Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Mainpuri Junction/MNQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Bhind/BIX added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Birlanagar Junction/BLNR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Udi Mor Junction/UDMR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Adittyaa Sharma/1421836
Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर-इटावा रेलमार्ग पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें शारदीय नवरात्र से दौड़ने लगेंगी। तीन साल में 90 करोड़ रुपये की लागत से 101 किलोमीटर की दूरी की यह लाइन ग्वालियर के बिरला नगर से इटावा के उदी मोड़ जंक्शन तक बनी है। बीते सप्ताह इंजीनियरों ने इलेक्ट्रिक इंजन दौड़ाकर इस लाइन को हरी झंडी दिखा दी थी। अब रेल संरक्षा आयुक्त की अनुमति मिलते ही ट्रैक पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।
इटावा जंक्शन से बीते पांच वर्षो में तीन रेलवे ब्रांच लाइनों पर यात्री ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित बटेश्वर-आगरा से इटावा रेल मार्ग पर 24 दिसंबर 2015 को, इसके बाद 27 फरवरी 2016 को ग्वालियर-भिंड-इटावा रेलमार्ग पर व
...
more...
28 दिसंबर 2016 को इटावा-मैनपुरी रेलमार्ग पर डीजल इंजन की ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। कुछ माह पूर्व आगरा-बटेश्वर रेल मार्ग पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। अब ग्वालियर-इटावा रेलमार्ग पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का परिचालन शुरू कराने की कवायद जोरों पर है। शारदीय नवरात्र में इस मार्ग पर इलेक्टि्रक ट्रेनों का परिचालन शुरू करने की तैयारी है।
जल्द रेल संरक्षा आयुक्त करेंगे निरीक्षण: सितंबर के अंतिम सप्ताह से रेल संरक्षा आयुक्त इस ग्वालियर-इटावा ट्रैक का निरीक्षण करेंगे। उनको जो खामियां मिलेंगी, उनको दूर कराकर अक्टूबर के प्रथम सप्ताह से इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।
ट्रेनों के विस्तार की संभावना: इस रेल मार्ग पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू होने से यात्री ट्रेनों का विस्तार होने की संभावना बढ़ गई है। अभी तक ग्वालियर-झांसी, गुना और कोटा तक इस मार्ग पर यात्री ट्रेनें हैं। यहां से मुंबई, अहमदाबाद, भोपाल, इंदौर के लिए यात्री ट्रेनों का चलाए जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है।
एलएचबी कोच लगेंगे छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस मेंः रेलवे जल्द ही छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को एलएचबी (लिंक हाफमैन बुश)कोच से सुसज्जित करने जा रही है। इससे किसी तरह की दुर्घटना में जान- माल की सुरक्षा हो सकेगी। असल में 2020 में छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में यह कोच लगाए जाने थे, पर कोविड के आने से यह कार्य नहीं हो सका। अब हालात सामान्य हेाते जा रहे हैं तो रेलवे अब उन गाड़ियों में एलएचबी कोच लगाने की प्रक्रिया तेज कर रही है, जिनमें कोरोना के चलते कोच नहीं लगाए जा सके थे। वर्तमान में छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस स्पेशल बनकर सप्ताह में केवल तीन दिन चल रही है।
वर्जन-
ग्वालियर से उदी मोड़ जंक्शन तक रेलवे का विद्युतीकरण कार्य पूर्ण हो चुका है। रेल संरक्षा आयुक्त के निरीक्षण का समय मिलने का इंतजार किया जा रहा है। उनके निरीक्षण के बाद इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।
मनोज सिंह, जनसंपर्क अधिकारी उत्तर-मध्य रेलवे, झांसी मंडल
Today (12:24) Andhra Pradesh Sampark Kranti to halt at Gwalior (railtracker.in)
Temporary Stops
NCR/North Central
0 Followers
4391 views

News Entry# 465517  Blog Entry# 5071979   
  Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.
Stations:  Gwalior Junction/GWL  
दिल्ली मेट्रो के पिंक लाइन में सफर करनेवालों को इस खबर पर ध्यान देने की जरूरत है, क्योंकि इस लाइन पर चलनेवाली ट्रेन का समय आनेवाले सोमवार से बदल जाएगा. ये बदलाव पिंक लाइन (Pink Line) पर शुरू हुए नए सेक्‍शन त्रिलोकपुरी-संजय लेक और मयूर विहार पॉकेट-1 के शेड्यूल में किया गया है. दरअसल ये बदलाव सिग्‍नलिंग सिस्‍टम को जोड़ने के लिए इस रूट पर मेट्रो ट्रेनों की पहली और आखिरी ट्रेन सर्विस के लिए किया गया है.

दिल्ली मेट्रो की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 16 अगस्त से 10
...
more...
सितंबर के दरम्यान मजलिस पार्क से शिव विहार के दरम्यान चलनेवाली मेट्रो के टाइमिंग में बदलाव किया गया है. इन रूट पर सुबह 6 बजे के बाजाए नई टाइम के मुताबिक सुबह 6.30 बजे यानी आधे घंटे देरी से शुरू होगी. जबकि रात को जहां आखरी ट्रेन 11 बजे मिलती वह अब एक घंटे पहले यानी 10 बजे तक ही मिल पाएगी. लेकिन रविवार को सुबह की ट्रेन हमेशा की तरह सुबह 8 बजे ही मिलेगी लेकिन रात की आखरी ट्रेन 11 बजे की ही होगी. लिहाजा इन रूट्स के यात्रियों को इस बात को नोट कर लेना जरूरी है वरना सुबह ट्रेन देर से और रात में स्टेशन देर से पहुंचने पर पछतावा होगा.


DMRC ने बताया कि 11 सितंबर से मेट्रो पहले की तरह ही सुबह 6 से रात 11 बजे तक चलाई जाएगी.
Page#    438154 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy