Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

RailFanning is a gift you give yourself. - Varun

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Fri Jan 28 11:43:46 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Advanced Search

News Posts by pujanandan

Page#    Showing 1 to 5 of 66 news entries  next>>
Jan 15 (00:21) मालदा से धनौरी के बीच जर्जर पटरियों की होगी जांच (www.livehindustan.com)
0 Followers
22855 views

News Entry# 474854  Blog Entry# 5190499   
  Past Edits
Jan 15 2022 (00:21)
Station Tag: Kajra/KJH added by pujanandan/1953434

Jan 15 2022 (00:21)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by pujanandan/1953434

Jan 15 2022 (00:21)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by pujanandan/1953434

Jan 15 2022 (00:21)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by pujanandan/1953434

Jan 15 2022 (00:21)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by pujanandan/1953434
जमालपुर। निज प्रतिनिधि
पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले के दोमोहोनी के निकट गुरुवार को हुई बीकानेर गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन हादसा के बाद पूर्व रेलवे कोलकाता प्रशासन हाई अलर्ट है। दूसरे दिन पूर्व रेलवे कोलकाता के महाप्रबंधक अरुण अरोड़ा ने वर्चुअल बैठक कर ईस्टर्न रेलवे के अंतगर्त हावड़ा, मालदा, आसनसोल और सियालदा की रेल पटरियों को दुरुस्त करने का आदेश जारी किया है। वहीं जर्जर पुल-पुलिया का निरीक्षण करने और कॉशन रेलमार्ग स्थल का निरीक्षण कर कमियों को दूर करने का भी आदेश दिया है। ताकि किसी तरह की घटना-दुर्घटनाएं न हो सके।
इधर,
...
more...
मालदा प्रशासन ने मालदा से धनौरी स्टेशन की रेलपटरियों की मरम्मत कार्य में तेजी लाने का आदेश जारी किया है। ताकि फरवरी माह में मालदा से धनौरी की रेल पटरियों का स्पीड जांच की जा सके। इस बावत पूर्व रेलवे मालदा मंडल के डीआरएम यतेंद्र कुमार ने बताया कि जमालपुर की दूसरी सुरंग लगभग चालू होने के लिए तैयार हो गया है। तथा इसका अब बस सीआरएस जांच होनी शेष है। हालांकि इससे पूर्व भागलपुर से धनौरी तक की रेलपटरियों को 110 की स्पीड के लायक बनानी होगी। इसकी जर्जर पटरियों को बदलने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मार्च के पहले इस रेलखंड से गुजरने वाली लंबी दूरी की एक्सप्रेस ट्रेनों के स्पीड 100 से 110 तक रहेगी।
हालांकि किऊल से पटना और पटना से आगे की स्पीड 130 तक पहुंच जाएगी। उन्होंने कहा कि भागलपुर और किऊल के बीच कई जगह कॉशन स्थल है, जहां इसकी जांच होनी है। कॉशन को कम करने और जर्जर पुल-पुलिया को मरम्मत करने का भी आदेश जारी किया गया है। ताकि बीकानेर एक्सप्रेस जैसी ट्रेन हादसा न हो सके। गौरतलब है कि गुरुवार को बीकानेर एक्सप्रेस ट्रेन हादसा में कुल 12 बोगियां एक दूसरे पर चढ़कर बेपटरी होने 5 यात्रियों की जान जा चुकी है। वहीं कई दर्जन यात्री घायल होकर इलाजरत है। घटना के बाद विभिन्न जोन व मंडल के प्रशासन हाई अलर्ट है। तथा अपने अपने क्षेत्रों से ट्रेनों का परिचालन में सुधार लाने का आदेश जारी किया है।
Copyright © 2022 HT Digital Streams Limited. All RightsReserved.
Nov 21 2021 (01:13) भारतीय रेल: ट्रेनों के आगे गुजरेगी लाइट इंजन, जानिए वजह (www.jagran.com)
0 Followers
40897 views

News Entry# 470509  Blog Entry# 5137871   
  Past Edits
Nov 21 2021 (01:13)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by pujanandan/1953434

Nov 21 2021 (01:13)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by pujanandan/1953434

Nov 21 2021 (01:13)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by pujanandan/1953434

Nov 21 2021 (01:13)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by pujanandan/1953434
नक्सली बंदी पर अलर्ट मोड रेलवे ट्रेनों के आगे गुजरेगी लाइट इंजन। सुरक्षित रेल यात्रा को लेकर लिया गया निर्णय अप-डाउन में रात में लाइट इंजन से चौकसी। रेल पुलिस के पदाधिकारी लाइट इंजन से करेंगे जांच सभी स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ी।
जागरण संवाददाता, मुंगेर। नक्सली प्रशांत बोस और शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में नक्सलियों ने बंद का आह्वान करते हुए झारखंड में उत्पात मचाया है। रेलवे ट्रैक को विस्फोट कर उड़ा दिया है। नक्सली बंद और उत्पात को देखते हुए रेल प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड पर है। किसी तरह का रिस्क ेलेने के मूड में नहीं है। रेल जिला जमालपुर के अंतर्गत आने वाले नक्सल प्रभावित स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रेलवे ट्रैक पर रात्रि
...
more...
जांच चल रही है। रात में अप और डाउन मार्ग में गुजरने वाली ट्रेनों के आगे लाइट इंजन (सिर्फ इंजन) चलेगी। अप और डाउन मार्ग पर रात्रि ट्रेनों की समय से 10 मिनट पहले लाइट इंजन चलेगी। भागलपुर पहुंचे बिहार सरकार के मंत्री, बोले-बिहार के हर प्रखंड में बच्चों के खेलने के लिए बनेगा स्टेडियम यह भी पढ़ें लाइट इंजन के सुरक्षित गुजरने के बाद ओके रिपोर्ट मिलने पर यात्री ट्रेन संबंधित स्टेशनों से आगे बढ़ेगी। जमालपुर रेल पुलिस अप और डाउन मार्ग पर रात नौ से लेकर सुबह चार बजे तक लाइट इंजन से पेट्रोल‍िंंग करेगी। रेल एसपी आमिर जावेद नक्सली बंद में किसी तरह से रेल परिचालन में बाधा नहीं पहुंचे इसकी वह खुद देखरेख कर रहे हैं। शुक्रवार की रात से सुबह तक रेल एसपी कैंप करते रहे। रेल एसपी ने बताया कि सभी रेल थानाध्यक्षों को पूरी तरह सतर्क रहने को कहा गया है, रेल थानों में पदाधिकारियों और जवानों को विशेष चौकसी पर लगाया गया है। जमालपुर रेल थानाध्यक्ष सुधीर कुमार स‍िंह ने बताया कि लाइट इंजन से रात में पेट्रोङ्क्षलग चल रही है। अप-डाउन में बंद तक विशेष पेट्रोलिंग चलेगी। सुपौल ने मारी हैट्रिक, रचा एक और कीर्तिमान, अगर आप हैं बिहार से तो यहां जरुर आएं यह भी पढ़ें भागलपुर-किऊल, किऊल-झाझा और गया रूट पर विशेष चौकसी रेल जिला जमालपुर का क्षेत्र काफी बड़ा है। मिर्जाचौकी से किऊल, भागलपुर-बांका, किऊल से झाझा, किऊल से मानपुर (गया) तक आने वाले स्टेशन जमालपुर के अधीन है। इस खंड पर कई स्टेशन नक्सल प्रभावित है। बंद या फिर नक्सलियों की गिरफ्तारी के बाद कई बार नक्सली रेल ट्रैक को विस्फोट कर उड़ा चुके हैं। ऐसे में सभी स्टेशनों पर चौकसी बढ़ाई गई है। Vivah Shubh Muhurat 2021: जल्‍दी करें, 13 दिसंबर के बाद नहीं है शुभ मुहुर्त, एक Click में ले लीजिए पूरी जानकारी यह भी पढ़ें मसूदन स्टेशन का उड़ाया था, नाथनगर में बम नहीं हुआ विस्फोट नाथनगर स्टेशन पर फरवरी 2021 में डेटोनेटर लगाकर रेलवे ट्रैक को उड़ाने की कोशिश नक्सलियों ने की थी, संयोग था बम विस्फोट नहीं हुआ और रेल पुलिस ने बम डिफ्यूज कर दिया। वर्ष 2017 में नक्सलियों ने मसूदन रेलवे स्टेशन (जमालपुर-धरहरा के बीच) के पैनल कार्यालय को डेटोनेटरयुक्त बम से उड़ाया था। डेढ़ दर्जन नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया था। स्टेशन पैनल कार्यालय उड़ाने के लिए आधा दर्जन डेटोनेटर बम लगाए थे। विजय हजारे ट्राफी: चयन के दौर से बाहर हुए भागलपुर के तीनों क्रिकेटर यह भी पढ़ें नक्सल प्रभावित स्टेशन रतनपुर, नाथनगर, धरहरा, अभयपुर, मसूदन, कजरा, धनौरी, वंशीपुर, जमुई, झाझा, सिमुतल्ला, वजीरगंज। हाल के वर्षों की घटना पर एक नजर -2005 : कजरा स्टेशन पर आरपीएफ जवानों पर हमला, हथियार लूटे -2008 : वंशीपुर के पास नक्सली घटना -2013 : रेल सुरंग के समीप इंटरसिटी की गश्ती दल पर हमला, तीन जवानों की हत्या, हथियार लूटे - 2014 : घरहरा-अभयपुर स्टेशन के बीच पटरी काटी - 2014 : झाझा स्टेशन के पास नक्सलियों ने रेल पटरी को उड़ाई - 26 जनवरी 2017 : रतनपुर स्टेशन समीप पटरी से 49 पैंड्रॅाल क्लिप खोला -20 दिसंबर 2017 में नक्सलियों ने मसूदन स्टेशन को उड़ाया -2021 के फरवरी में नाथनगर स्टेशन पर डेटोनेटरयुक्त बम बरामद -2021 के जुलाई में रेलवे सुरंग और रतनपुर स्टेशन पर विस्फोट की साजिश टारगेट पर रहा है रेल जिला जमालपुर के स्टेशन Munger: क्लास में बैठे-बैठे टीचर को देख मुस्कुराती थी छात्रा, प्यार होने पर शादी का चला पता तो लिया ये फैसला यह भी पढ़ें भागलपुर से किऊल और जमुई-झाझा रेल सेक्शन नक्सली संगठनों का साफ्ट टारगेट रहा है। जब भी नक्सलियों की ओर से बंद की घोषणा की जाती है अथवा उनके किसी साथी की गिरफ्तारी या सजा सुनाई जाती है तो सबसे पहले वे लोग रेलवे को अपना निशाना बनाते हैं। हाल के वर्षो में भी नक्सलियों ने भागलपुर-किउल रेलखंड के कई स्टेशनों के आसपास पटरी को विस्फोट कर उड़ा चुके है। कई जगह कैबिनमैन को अगवा भी किया है। Edited By: Dilip Kumar Shukla
जागरण संवाददाता, मुंगेर। नक्सली प्रशांत बोस और शीला मरांडी की गिरफ्तारी के विरोध में नक्सलियों ने बंद का आह्वान करते हुए झारखंड में उत्पात मचाया है। रेलवे ट्रैक को विस्फोट कर उड़ा दिया है। नक्सली बंद और उत्पात को देखते हुए रेल प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड पर है। किसी तरह का रिस्क ेलेने के मूड में नहीं है। रेल जिला जमालपुर के अंतर्गत आने वाले नक्सल प्रभावित स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रेलवे ट्रैक पर रात्रि जांच चल रही है। रात में अप और डाउन मार्ग में गुजरने वाली ट्रेनों के आगे लाइट इंजन (सिर्फ इंजन) चलेगी। अप और डाउन मार्ग पर रात्रि ट्रेनों की समय से 10 मिनट पहले लाइट इंजन चलेगी।

लाइट इंजन के सुरक्षित गुजरने के बाद ओके रिपोर्ट मिलने पर यात्री ट्रेन संबंधित स्टेशनों से आगे बढ़ेगी। जमालपुर रेल पुलिस अप और डाउन मार्ग पर रात नौ से लेकर सुबह चार बजे तक लाइट इंजन से पेट्रोल‍िंंग करेगी। रेल एसपी आमिर जावेद नक्सली बंद में किसी तरह से रेल परिचालन में बाधा नहीं पहुंचे इसकी वह खुद देखरेख कर रहे हैं। शुक्रवार की रात से सुबह तक रेल एसपी कैंप करते रहे। रेल एसपी ने बताया कि सभी रेल थानाध्यक्षों को पूरी तरह सतर्क रहने को कहा गया है, रेल थानों में पदाधिकारियों और जवानों को विशेष चौकसी पर लगाया गया है। जमालपुर रेल थानाध्यक्ष सुधीर कुमार स‍िंह ने बताया कि लाइट इंजन से रात में पेट्रोङ्क्षलग चल रही है। अप-डाउन में बंद तक विशेष पेट्रोलिंग चलेगी।

भागलपुर-किऊल, किऊल-झाझा और गया रूट पर विशेष चौकसी
रेल जिला जमालपुर का क्षेत्र काफी बड़ा है। मिर्जाचौकी से किऊल, भागलपुर-बांका, किऊल से झाझा, किऊल से मानपुर (गया) तक आने वाले स्टेशन जमालपुर के अधीन है। इस खंड पर कई स्टेशन नक्सल प्रभावित है। बंद या फिर नक्सलियों की गिरफ्तारी के बाद कई बार नक्सली रेल ट्रैक को विस्फोट कर उड़ा चुके हैं। ऐसे में सभी स्टेशनों पर चौकसी बढ़ाई गई है।

मसूदन स्टेशन का उड़ाया था, नाथनगर में बम नहीं हुआ विस्फोट
नाथनगर स्टेशन पर फरवरी 2021 में डेटोनेटर लगाकर रेलवे ट्रैक को उड़ाने की कोशिश नक्सलियों ने की थी, संयोग था बम विस्फोट नहीं हुआ और रेल पुलिस ने बम डिफ्यूज कर दिया। वर्ष 2017 में नक्सलियों ने मसूदन रेलवे स्टेशन (जमालपुर-धरहरा के बीच) के पैनल कार्यालय को डेटोनेटरयुक्त बम से उड़ाया था। डेढ़ दर्जन नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया था। स्टेशन पैनल कार्यालय उड़ाने के लिए आधा दर्जन डेटोनेटर बम लगाए थे।

नक्सल प्रभावित स्टेशन
रतनपुर, नाथनगर, धरहरा, अभयपुर, मसूदन, कजरा, धनौरी, वंशीपुर, जमुई, झाझा, सिमुतल्ला, वजीरगंज।
हाल के वर्षों की घटना पर एक नजर
टारगेट पर रहा है रेल जिला जमालपुर के स्टेशन

भागलपुर से किऊल और जमुई-झाझा रेल सेक्शन नक्सली संगठनों का साफ्ट टारगेट रहा है। जब भी नक्सलियों की ओर से बंद की घोषणा की जाती है अथवा उनके किसी साथी की गिरफ्तारी या सजा सुनाई जाती है तो सबसे पहले वे लोग रेलवे को अपना निशाना बनाते हैं। हाल के वर्षो में भी नक्सलियों ने भागलपुर-किउल रेलखंड के कई स्टेशनों के आसपास पटरी को विस्फोट कर उड़ा चुके है। कई जगह कैबिनमैन को अगवा भी किया है।
Copyright © 2021 Jagran Prakashan Limited.
भागलपुर-मंदार हिल और दुमका रेलखंड पर जल्द ही बिजली से ट्रेन दौड़ेगी। सीआरएस ने इसकी मंजूरी दी है। इस ट्रैक पर बिजली से चलने वाली पहली ट्रेन कविगुरु एक्सप्रेस होगी। यह भागलपुर के रास्ते हावड़ा-जमालपुर के बीच रोजाना चलती है। पिछले माह सीआरएस एएम चौधरी ने निरीक्षण कर रिपोर्ट दी थी।
इधर, गुरुवार को कई ट्रेनें देरी से भागलपुर पहुंची। आनंद विहार जाने वाली गरीब रथ गुरुवार को 4.35 मिनट देर से खुली। ट्रेन शाम को आई और 6.15 बजे खुली। आनंद विहार से आने में देरी के चलते ट्रेन-04411 गरीब रथ भागलपुर से शाम 6.15 बजे रवाना हुई।
यूपी
...
more...
में ट्रैक पर गड़बड़ी से हुई देरीप्रयागराज व पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के बीच डाउन ट्रैक पर बुधवार को मालगाड़ी के 8 कंटेनर बेपटरी होने से गरीब रथ तय समय से 7.16 घंटे देर से शाम 5.16 बजे भागलपुर पहुंची। यह सुबह 10.55 बजे भागलपुर पहुंचती है। सूरत एक्सप्रेस पौने दो घंटेे देर से चली।
यह ट्रेन तय समय से 1.50 घंटे देरी से गुरुवार सुबह 8.35 बजे खुली। इसका भागलपुर से रवाना होने का समय सुबह 6.45 बजे है। सूरत से यह ट्रेन बुधवार को तय समय से 6.51 घंटे देरी से रात 1.26 बजे भागलपुर पहुंची। यह शाम 6.35 बजे भागलपुर पहुंचती है।
Copyright © 2021-22 DB Corp ltd., All Rights Reserved
This website follows the DNPA Code of Ethics.

Rail News
20987 views
Dec 01 2021 (01:38)
MAVERICKS
JaiSriRam   158 blog posts
Re# 5135432-1            Tags   Past Edits
kab train chalegi ?Majak bana rakha hai

Rail News
18072 views
Dec 02 2021 (23:46)
सत्यम शिवम सुन्दरम
MrMultiTalented~   2161 blog posts
Re# 5135432-2            Tags   Past Edits
It is the height of corruption and delay culture of Indian Railway. Train should run via eloco as green signal come from respective team.

Kis shubh muhurat ka intejar kiya ja raha hai ?????
Nov 18 2021 (03:28) भागलपुर दुमका रेलखंड पर करीब दोगुना होगी ट्रेनों की रफ्तार, 50 से 90 होगी स्पीड (www.livehindustan.com)
0 Followers
234017 views

News Entry# 470254  Blog Entry# 5132024   
  Past Edits
Nov 18 2021 (03:28)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by pujanandan/1953434

Nov 18 2021 (03:28)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by pujanandan/1953434

Nov 18 2021 (03:28)
Station Tag: Dumka/DUMK added by pujanandan/1953434

Nov 18 2021 (03:28)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by pujanandan/1953434

Nov 18 2021 (03:28)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by pujanandan/1953434
शायद आप ऐड ब्लॉकर का इस्तेमाल कर रहे हैं। पढ़ना जारी रखने के लिए ऐड ब्लॉकर को बंद करके पेज रिफ्रेश करें।
अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें →
भागलपुर दुमका रेलखंड पर भी अगले कुछ दिनों में 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनें दौड़ेंगी। इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। मालदा रेल मंडल ने इसके लिए प्रस्ताव बनाकर मुख्यालय को भेज दिया है। पहले चरण में भागलपुर से मंदारहिल स्टेशन के बीच 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के लिए प्रस्ताव दिया गया है। इसके
...
more...
बाद मंदारहिल से दुमका तक के ट्रैक की स्पीड बढ़ाने का प्रस्ताव दिया जाएगा। 
भागलपुर मंदारहिल रेलखंड पर अभी ट्रेनें अधिकतम 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती हैं। इससे अधिक रफ्तार की अनुमति नहीं है। इसमें भी कुछ जगहों पर काउशन है। मंदारहिल से दुमका के बीच अभी 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार है। इस सेक्शन में भी रफ्तार बढ़ाकर 90 किलोमीटर प्रति घंटे करायी जाएगी। ट्रेनों की रफ्तार बढ़ने से ट्रेनों की रनिंग टाइम घट जाएगी। अभी लगभग आधा घंटा अधिक समय लग रहा है।
भागलपुर-मंदारहिल रेलखंड पर नई दिल्ली-गोड्डा हमसफर एक्सप्रेस, गोड्डा-रांची एक्सप्रेस, कविगुरु एक्सप्रेस सहित अन्य पैसेंजर ट्रेनें चलती है। ट्रैक की स्पीड बढ़ जाने से इन ट्रेनों का रनिंग टाइम घट जाएगा। भागलपुर से गोड्डा और हावड़ा जाने वाली ट्रेनें कम समय में गंतव्य तक पहुंचा देगी। इस रेलखंड से जुड़े पीडब्ल्यूआई इंजीनियर की मानें तो इस पूरे रेलखंड पर पटरी बदलने का काम पूरा कर लिया गया है। अब कुछ अन्य कार्य हैं जो कराये जा रहे हैं। इसके बाद ट्रेन की स्पीड बढ़ायी जा सकती है। दुमका रेलखंड पर पुरानी पटरी होने के कारण हावड़ा की शार्ट रूट होने के बावजूद ट्रेन यात्रा लंबी होती थी। 
पुरानी पटरियां होने के कारण लगती थी अधिक समय
दरअसल भागलपुर से मंदारहिल के बीच लगभग 50 साल पहले बिछी पुरानी पटरियां थी जिसपर ट्रेनें प्रतिबंधित रफ्तार से चल रही थीं। पटरियों को बदलने का आदेश भी था लेकिन नई पटरियों की आपूर्ति कम होने के कारण यह काम बेहद धीमा चल रहा था। पुरानी पटरी पर ट्रेनों की प्रतिबंधित रफ्तार के कारण भाया साहिबगंज के मुकाबले भाया दुमका 33 किमी दूरी कम होने के बावजूद ट्रेनें 11.30 घंटे में हावड़ा पहुंचती जबकि साहिबगंज के रास्ते महज 9 घंटे की रनिंग है।
साल 2011 में तत्कालीन डीआरएम एमके माथुर ने मंदारहिल रेलखंड की पुरानी पटरियों को बदलने का प्रस्ताव दिया था। डीआरएम मालदा रेल मंडल यतेन्द्र कुमार मंदारहिल रेलखंड पर भी ट्रेनों की स्पीड बढ़ायी जाएगी। इसके लिए प्रक्रिया चल रही है। जहां जरूरत है काम भी कराया जा रहा है। अगले कुछ दिनों में यह काम हो जाएगा। 
संबंधित खबरें
भागलपुर दुमका रेलखंड पर 90 स्पीड से दौड़ेगी ट्रेन
विक्रमशिला और ब्रह्मपुत्र मेल का नंबर के साथ परिचालन
बीएयू के हड़ताली शिक्षकों ने कुलपति की मांग की
अब डाकघरों से भी रेल का होगा रिर्जेवेशन
Copyright © 2021 HT Digital Streams Limited. All RightsReserved.
Nov 17 2021 (01:18) IRCTC/Indian Railways : सामान्य होते ही कई ट्रेनों का 30 प्रतिशत तक घटा किराया, जानिए अब किस ट्रेन का कितना है किराया (www.jagran.com)
0 Followers
32332 views

News Entry# 470178  Blog Entry# 5129774   
  Past Edits
Nov 17 2021 (01:18)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by pujanandan/1953434

Nov 17 2021 (01:18)
Station Tag: Patna Junction/PNBE added by pujanandan/1953434

Nov 17 2021 (01:18)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by pujanandan/1953434

Nov 17 2021 (01:18)
Station Tag: Munger (Monghyr)/MGR added by pujanandan/1953434

Nov 17 2021 (01:18)
Station Tag: Jamalpur Junction/JMP added by pujanandan/1953434
IRCTC/Indian Railways कोरोना संक्रमण की रफ्तार सुस्त होने के साथ ही ट्रेनें पटरियों पर लौट चुकी है। स्पेशल ट्रेन में अतिरिक्त किराया वसूला जाता था लेकिन यह टैग हटने के साथ ही किराया भी घट गया है। जानिए किस ट्रेन का कितना किराया घटा है...
जमशेदपुर : कोविड 19 काल में भारतीय रेल मंत्रालय कई ट्रेनों को स्पेशल ट्रेन के रूप में चला रही थी। इसके लिए यात्रियों को सामान्य किराए से 30 प्रतिशत अधिक किराया देना पड़ रहा था। लेकिन स्थिति सामान्य होने के बाद रेल मंत्रालय ने सभी ट्रेनों को सामान्य रूप से चलाने और किराया कम करने का निर्णय लिया है। दक्षिण पूर्व रेलवे में 162 पैसेंजर ट्रेन होती हैं संचालित दक्षिण पूर्व रेलवे से 90 मेल, 48
...
more...
हाई स्पीड ट्रेन और 24 पैसेंजर और मेमू ट्रेनों का संचालित होता है। ये कुल 162 ट्रेनें हैं जिनके किराए में कटौती हो रही है। ऐसे में यदि आप कहीं यात्रा करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह आपके लिए अच्छी खबर है क्योंकि अब आपको यात्रा करने के दौरान अतिरिक्त किराया नहीं देना होगा। साथ ही ट्रेनों में अब यात्रियों को आरक्षण, यात्रा के किराए में रियायत का भी लाभ मिलेगा। आरएसएस के शिविर में 172 लोगों ने किया रक्तदान यह भी पढ़ें कम होगा 30 प्रतिशत किराया वर्तमान में सभी कोविड स्पेशल और फेस्टिवल स्पेशल के नाम से चलाए जा रहे ट्रेनों के लिए यात्रियों को 130 प्रतिशत किराया लिया जा रहा था। लेकिन नई व्यवस्था के तहत उनसे सामान्य किराया ही लिया जाएगा। ऐसे में 02801 पुरी नई दिल्ली पुरुषोत्तम एक्सप्रेस से सफर करने वाले यात्रियों को अब टाटानगर से दिल्ली तक के सफर के लिए स्लीपर क्लास में 605 रुपये के बजाए 425 रुपये, थर्ड एसी में 1595 रुपये के बजाए 1116 रुपये, सेकेंड एसी के लिए 2280 रुपये के बजाए 1596 रुपये और फर्स्ट क्लास एसी के लिए 3865 रुपये के बजाए 2705 रुपये के लगभग देना होगा। 'आपके अधिकार-आपकी सरकार-आपके द्वार' में यह भी पढ़ें इन ट्रेनों के लिए इतना लगेगा किराया हावड़ी से मुंबई जाने के लिए 02810 हावडा सीएसटी ट्रेन में स्लीपर क्लास में 780 रुपये के बजाए 546 रुपये, थर्ड एसी में 2035 रुपये के बजाए 1425 रुपये और सेकेंड एसी में 2935 रुपये के बजाए 2054 रुपये लगेगा। इसी तरह बिहार जाने वाली ट्रेनों के लिए 13287 दुर्ग से चलकर भाया टाटानगर होते हुए राजेंद्र नगर टर्मिनल को जाने वाली ट्रेनों मे टाटानगर से पहटना के लिए अब स्लीपर में 295 रुपये, थर्ड एसी में 790 रुपये और सेकेंड एसी के 1120 रुपये लगेगा। Edited By: Jitendra Singh
जमशेदपुर : कोविड 19 काल में भारतीय रेल मंत्रालय कई ट्रेनों को स्पेशल ट्रेन के रूप में चला रही थी। इसके लिए यात्रियों को सामान्य किराए से 30 प्रतिशत अधिक किराया देना पड़ रहा था। लेकिन स्थिति सामान्य होने के बाद रेल मंत्रालय ने सभी ट्रेनों को सामान्य रूप से चलाने और किराया कम करने का निर्णय लिया है।
दक्षिण पूर्व रेलवे में 162 पैसेंजर ट्रेन होती हैं संचालित
दक्षिण पूर्व रेलवे से 90 मेल, 48 हाई स्पीड ट्रेन और 24 पैसेंजर और मेमू ट्रेनों का संचालित होता है। ये कुल 162 ट्रेनें हैं जिनके किराए में कटौती हो रही है। ऐसे में यदि आप कहीं यात्रा करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह आपके लिए अच्छी खबर है क्योंकि अब आपको यात्रा करने के दौरान अतिरिक्त किराया नहीं देना होगा। साथ ही ट्रेनों में अब यात्रियों को आरक्षण, यात्रा के किराए में रियायत का भी लाभ मिलेगा।

कम होगा 30 प्रतिशत किराया
वर्तमान में सभी कोविड स्पेशल और फेस्टिवल स्पेशल के नाम से चलाए जा रहे ट्रेनों के लिए यात्रियों को 130 प्रतिशत किराया लिया जा रहा था। लेकिन नई व्यवस्था के तहत उनसे सामान्य किराया ही लिया जाएगा।
ऐसे में 02801 पुरी नई दिल्ली पुरुषोत्तम एक्सप्रेस से सफर करने वाले यात्रियों को अब टाटानगर से दिल्ली तक के सफर के लिए स्लीपर क्लास में 605 रुपये के बजाए 425 रुपये, थर्ड एसी में 1595 रुपये के बजाए 1116 रुपये, सेकेंड एसी के लिए 2280 रुपये के बजाए 1596 रुपये और फर्स्ट क्लास एसी के लिए 3865 रुपये के बजाए 2705 रुपये के लगभग देना होगा।

इन ट्रेनों के लिए इतना लगेगा किराया
हावड़ी से मुंबई जाने के लिए 02810 हावडा सीएसटी ट्रेन में स्लीपर क्लास में 780 रुपये के बजाए 546 रुपये, थर्ड एसी में 2035 रुपये के बजाए 1425 रुपये और सेकेंड एसी में 2935 रुपये के बजाए 2054 रुपये लगेगा।
इसी तरह बिहार जाने वाली ट्रेनों के लिए 13287 दुर्ग से चलकर भाया टाटानगर होते हुए राजेंद्र नगर टर्मिनल को जाने वाली ट्रेनों मे टाटानगर से पहटना के लिए अब स्लीपर में 295 रुपये, थर्ड एसी में 790 रुपये और सेकेंड एसी के 1120 रुपये लगेगा।
Copyright © 2021 Jagran Prakashan Limited.
Page#    66 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy