Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Shan-e-Bhopal - तेरी खूबसूरती से नजर नही हटती, नजारे हम क्या देखें - ललितपुरी रेलफैन

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Mon Jun 21 04:34:07 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

DWX/Dewas Junction (2 PFs)
دیواس جنکشن     देवास जंक्शन

Track: Construction - Electric-Line Doubling

Show ALL Trains
Jn. Point - INDB,MKC ,UJN. Itawa, Dewas - 455001
State: Madhya Pradesh


Zone: WR/Western   Division: Ratlam

No Recent News for DWX/Dewas Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 81
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.6/5 (56 votes)
cleanliness - good (7)
porters/escalators - average (7)
food - good (7)
transportation - good (7)
lodging - good (7)
railfanning - good (7)
sightseeing - good (7)
safety - good (7)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 114 News Items  next>>
Jun 12 (18:07) Indore Puri Train: पुरी हमसफर ट्रेन को उज्जैन होकर लंबे रास्ते सेे चलानेे की कवायद (www.naidunia.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
25991 views

News Entry# 455895  Blog Entry# 4983925   
  Past Edits
Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Mumbai Central/MMCT added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Maksi Junction/MKC added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Dewas Junction/DWX added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Puri/PURI added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 12 2021 (18:07)
Station Tag: Indore Junction/INDB added by Adittyaa Sharma/1421836
इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Indore Puri Train। इंदौर को हमेशा हाशिए पर रखने वाले रेल अधिकारी एक बार फिर शहर केे यात्रियों के हितों को ताक पर रखकर एक फैसला करवाने की तैयारी कर रहेे हैं। ताजा मामला साप्ताहिक इंदौर-जगन्नाथपुरी हमसफर एक्सप्रेेस ट्रेन का है। शुरुआत से यह ट्रेन देवास-मक्सी होकर गुजरती है, लेकिन अब पश्चिम रेलवे इस ट्रेन को उज्जैन होकर चलाने की तैयारी कर रहे हैं। इसका प्रस्ताव पश्चिम रेलवे के मुंबई मुख्यालय नेे नई दिल्ली स्थित रेलवे बोर्ड को भेज दिया है।
विचित्र बात यह है कि पुरी हमसफर ट्रेन का रूट बदलने का सुझाव खुद रतलाम रेेल मंडल दे रहा है। इंदौर के लिए यह चिंता का विषय इसलिए है, क्योंकि देवास-मक्सी होकर भोपाल या गुना की तरफ
...
more...
आना-जाना कम दूरी वाला रास्ता है, जबकि कोई ट्रेन यदि उज्जैन होकर भोपाल या गुना की तरफ जाती है, तो उसका यात्रा समय, दूरी और किराया, सभी बढ़ जातेे हैं। इससे इंदौर के यात्रियों को जबरन उज्जैन होकर सफर करना पड़ता है। इससे उनका समय और धन, दोनों बर्बाद होते हैं। जानकार भी मानते हैं कि पहले ही ज्यादातर ट्रेन उज्जैन होकर चलाई जाती हैं और गिनी-चुनी ट्रेन ही देवास-मक्सी रूट से चलती हैं। ऐसे में उन ट्रेेनों को बंद करना इंदौर के साथ बड़ा अन्याय है।
यह समय सुझाया है बोर्ड को
- पश्चिम रेलवे के रतलाम रेल मंडल ने इंदौर-पुरी वाया उज्जैन का जो टाइम टेबल बनाया है, उसके अनुसार ट्रेन हर मंगलवार दोपहर 12.40 बजे इंदौर से रवाना होगी। दोपहर 1.25 बजेे यह देवास पहुंचेगी। वहां से दो मिनट बाद चलकर ट्रेेन दोपहर 2.15 बजे उज्जैन पहुंचेेगी। उज्जैन सेे दोपहर 2.40 बजे (25 मिनट का ठहराव) ट्रेन मक्सी होते हुए पुरी की ओर रवाना होगी। वापसी में ट्रेन पुरी से शुक्रवार सुबह 9.25 बजे उज्जैन आएगी और 25 मिनट बाद 9.50 बजे देवास व इंदौर की ओर रवाना होगी।
34 किमी का अतिरिक्त सफर करना होगा, आपत्ति लेे रहे हैं
रेलवे मामलों के वरिष्ठ जानकार नागेश नामजोशी के अनुसार इंदौर-पुरी हमसफर ट्रेन को देेवास-मक्सी होकर ही चलाया जाना चाहिए। इससेे यात्रियों का समय और किराया बचता है। उज्जैन होकर ट्रेन चलेगी तो न केेवल 34 किमी का सफर बढ़ेेगा, बल्कि उज्जैन में 25 मिनट के ठहराव के कारण ट्रेन की उपयोगिता कम हो जाएगी। इस संबंध में पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन मंत्री के समक्ष आपत्ति दर्ज कराएंगी।
पुराना प्रस्ताव होगा
जहां तक मेरी जानकारी है, उसके हिसाब से पिछले कुछ दिन से पुरी हमसफर का रूट बदलने संबंधी कोई प्रस्ताव नहीं भेजा गया है। इस संबंध में आपरेशन विभाग से जानकारी लेेकर ही कुछ कह सकूंगा।
- विनीत कुमार, मंडल रेल प्रबंधक, रतलाम

1 Public Posts - Sun Jun 13, 2021

17625 views
Jun 13 (08:35)
Saurabh®
Saurabhdubey_86^~   25451 blog posts
Re# 4983925-2            Tags   Past Edits
Rtm division has done this in a bid to increase its occupancy but this and its rsa partner indb lpi HS both should be converted to M/E instead of increasing the already extra run time.

16902 views
Jun 13 (08:58)
a2z
A2Z~   17178 blog posts
Re# 4983925-3            Tags   Past Edits
** Creating a new brand of trains with much fanfare by various RMs and treating them as their babies has already hurt IR and passengers a lot. This H/S is also an unwanted baby of the then RM. A SF train was required.

16830 views
Jun 13 (09:03)
a2z
A2Z~   17178 blog posts
Re# 4983925-4            Tags   Past Edits
** Creation of 3 brands i.e. Rajhdhani(1969), Shatabdi(1988), Superfast(1970s) class of trains, were totally justified over the age old existing M/E & Passenger (incl.EMU/MEMU/DEMU) class of trains.
** Since last 3-4 decades, every RM tried to create its own brand on whimsical grounds and become immortal.
** This journey began with creation of Janshatabdi & Sampark Kranti brand of trains, which were supposed to bring faster travel to non ac chaircar, & IISleeper classes. This appeared justified at that point of time.
**
...
more...
Since then every RM indiscriminately tried to create new brand of trains

16354 views
Jun 13 (09:16)
a2z
A2Z~   17178 blog posts
Re# 4983925-5            Tags   Past Edits
** This is high time for IR to dismantle the unwanted brands. This has been done in the past by abolishing Jayanti Janta trains. Changes are required to be made in the current brands. Following are my likings for future
-
** LHB coaches with AC + non AC coaches 130kmph max speed
Yuva- should be converted all ac Rajdhani or SF intercity
...
more...

Humsafar- converted into Intercity with enough AC coaches
GR-Intercity with enough AC coaches
ACDD-attaching AC DD coaches to existing trains like Shatabdi, intercity etc trains.
Fully AC Duronto- to be converted into Rajdhani with justified stops
non AC Duronto- Intercity SF
Janshatabdi- should be converted into Shatabdi with LHB coaches.
Sampark Kranti- can be operated with LHB rakes as non ac rajdhani with high priority & aggressive schedules like Rajdhani.
-
** LHB coaches with only AC coaches 160/200kmph max speed
Rajdhanis/Shatabdies should be using Tejas rake with 160/200kmph rake which will soon be operable on Delhi-Mumbai/HWH routes and later on other trunk routes. Low fare ACDD & ACIII-Econ coaches shall help proliferate such trains.

Rail News
12448 views
Jun 13 (13:07)
IR के पंखे
Sklakecity~   24 blog posts
Re# 4983925-6            Tags   Past Edits
sahi hai vese bhi bhopal mai jaldi aane par outer par khadi rahti thi.
Jun 05 (07:57) साल के अंत तक कड़छा से देवास रेल रूट का दोहरीकरण का काम, 100 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद (www.naidunia.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
5664 views

News Entry# 454685  Blog Entry# 4977337   
  Past Edits
Jun 05 2021 (07:57)
Station Tag: Karchha/KDHA added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 05 2021 (07:57)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 05 2021 (07:57)
Station Tag: Dewas Junction/DWX added by Adittyaa Sharma/1421836

Jun 05 2021 (07:57)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by Adittyaa Sharma/1421836
उज्जैन (नईदुनिया प्रतिनिधि)। उज्जैन-देवास-इंदौर रेल मार्ग दोहरीकरण काम को एक बार फिर से गति मिलने की उम्मीद है। रेलवे ने कड़छा से देवास के बिजाना स्टेशन तक दोहरीकरण का काम पूरा करने का लक्ष्‌य रखा है। इसके लिए मुख्यालय से 100 करोड़ रुपये मांगे हैं। एक-दो दिन में इसकी अनुमति मिलने की उम्मीद है।
बता दें कि हाल में पश्चिम रेलवे के जीएम आलोक कंसल ने रेलवे बोर्ड को इस काम को विजन 2024 में शामिल करने के लिए पत्र लिखा है। अधिकारियों का कहना है कि मुख्यालय से इस संबंध में अच्छे संकेत मिले हैं। वहीं ठेकेदार ने भी इस मार्ग पर पुल-पुलिया का काम चालू कर रखा है। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2016-17 के वार्षिक बजट में रेल मंत्रालय ने
...
more...
इंदौर-उज्जैन मार्ग के दोहरीकरण की घोषणा की थी। 650 करोड़ रुपये की लागत से होने वाले काम में सिविल वर्क्स के अलावा सिग्नलिंग विभाग, टीआरडी विभाग, इलेक्ट्रिक पावर विभाग तथा अन्य विभागों के खर्च को शामिल किया गया था। वर्ष 2017-18 में काम की शुरुआत हुई थी। दिसंबर 2020 में उज्जैन से कड़छा के बीच 15 किलोमीटर का काम पूरा हो गया था। इसका कमिश्नर रेलवे सेफ्टी (सीएसआर) ने निरीक्षण कर ट्रेनों के संचालन की अनुमति दे दी थी। इस वर्ष बजट में उज्जैन-देवास-इंदौर रेल मार्ग के लिए मात्र एक हजार रुपये जारी किए गए। इसके बाद कड़छा से देवास के बीच चल रहे काम को ठेकेदार ने रोक दिया था। हालांकि पुल-पुलिया का काम फिर भी जारी था। कड़छा से देवास के बीच 65 किलोमीटर का काम ही बचा है।
रेलवे बोर्ड को पत्र
रेलवे ने विजन 2024 नाम से एक रोड मैप तैयार किया है। इसमें 10 चरणों को पूरा किया जाना है। उज्जैन-देवास-इंदौर रेल मार्ग दोहरीकरण काम को रेलवे के महत्वपूर्ण काम के रूप में विजन 2024 में शामिल करने के लिए पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आलोक कंसल ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को पत्र लिखा है। जीएम का कहना है कि उज्जैन-देवास-इंदौर खंड के दोहरीकरण का कार्य भी अति महत्वपूर्ण कार्य है। इसके पूरा होने से रेलवे को काफी फायदा होगा। उज्जैन-इंदौर खंड अत्यधिक उपयोग करने वाला खंड है। इसमें मांगलिया गांव, लक्ष्‌मीबाई नगर और देवास के सबसे व्यस्त व्यवसायिक क्षेत्र शामिल हैं। उज्जैन-इंदौर रेल खंड दो मार्गों भोपाल-उज्जैन-नागदा तथा डा. आंबेडकर नगर-इंदौर-रतलाम से जुड़ा हुआ है। इस मार्ग पर 32 जोड़ी यात्री गाड़ियां और 11 जोड़ी मालगाड़ी भारत के विभिन्नाा क्षेत्रों से रोजाना शुरू और खत्म होती है। लाइन क्षमता का उपयोग 148 फीसद है। इस कारण इस मार्ग को दोहरीकरण के लिए स्वीकृत किया गया था। सीजन के दौरान माल ढुलाई अधिक होती है।
रेलवे ने कड़छा से देवास के बिजाना स्टेशन तक दोहरीकरण काम को पूरा करने के लिए दिसंबर 2021 का टारगेट रखा है। इस काम के लिए मुख्यालय से 100 करोड़ रुपये मांगे हैं। अनुमति मिलने के संकेत मिले हैं।
विनित गुप्ता, डीआरएम, रतलाम मंडल
May 21 (01:36) इंदौर-देवास-उज्जैन खंड का दोहरीकरण शीघ्र (www.naidunia.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
19407 views

News Entry# 452030  Blog Entry# 4965883   
  Past Edits
May 21 2021 (01:36)
Station Tag: Indore Junction/INDB added by Adittyaa Sharma/1421836

May 21 2021 (01:36)
Station Tag: Dewas Junction/DWX added by Adittyaa Sharma/1421836

May 21 2021 (01:36)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by Adittyaa Sharma/1421836

May 21 2021 (01:36)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Adittyaa Sharma/1421836
रतलाम। पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के इंदौर-देवास-उज्जैन खंड के दोहरीकरण कार्य को शीघ्रता से पूर्ण करने के लिए परे महाप्रबंधक आलोक कंसल ने रेलवे बोर्ड को पत्र लिखा है। पत्र में इस कार्य को विजन-2024 में शामिल करने की अनुशंसा की गई है।
मंडल रेल प्रवक्ता जेके जयंत ने बताया कि ट्रेनों की गति बढ़ाने तथा अधिक ट्रेनों का परिचालन आरंभ करने के लिए रेलवे लाइनों का दोहरीकरण जैसे अधोसंरचनात्मक कार्य को शीघ्रता से किया जाना जरूरी है। इस प्रकार के कार्यों को प्राथमिकता देते हुए महाप्रबंधक द्वारा लगातार अवलोकन कर उचित कदम उठाए जा रहे हैं। मंडल रेल प्रबंधक विनीत गुप्ता के अनुसार भारतीय रेलवे द्वारा वर्ष 2024 तक रेलवे से की जाने वाली लोडिंग को 2024 मीट्रिक टन का लक्ष्‌य
...
more...
निर्धारित किया गया है। इसके लिए दोहरीकरण, नई लाइन, आमान परिवर्तन, विद्युतीकरण सहित सिग्नलिंग सिस्टम में सुधार प्रोजेक्ट आदि को उपयोगिता के अनुसार शीघ्रता से पूरा करना जरूरी है। विजन-2024 नाम से एक रोड मैप तैयार किया गया है। इसमें विभिन्ना श्रेणियों में प्रोजेक्ट्स को रखा गया है।
पश्चिम रेल के लिए रतलाम मंडल के इंदौर-देवास-उज्जैन खंड के दोहरीकरण कार्य का बहुत महत्व है। इंदौर-देवास-उज्जैन खंड का दोहरीकरण नहीं होने से ट्रेनों की गति प्रभावित होने के साथ ही साथ विभिन्ना शहरों के लिए नई ट्रेनों के संचालन में भी बाधा उत्पन्ना हो रही है। इस कार्य को शीघ्रता से पूरा करने के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा विशेष आग्रह रहता है। इंदौर सांसद के साथ हुई बैठक में भी इस विषय पर लंबी चर्चा हुई थी। परे महाप्रबंधक द्वारा इंदौर-रतलाम खंड के वार्षिक निरीक्षण के दौरान इंदौर में सांसद और मीडिया द्वारा इस पर सवाल किए गए थे। इस पर कंसल द्वारा कहा गया था कि हम इस कार्य को पूर्ण कराने के लिए बोर्ड स्तर पर बात करेंगे तथा अतिरिक्त धन उपलब्ध कराने की सिफारिश करेंगे। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए महाप्रबंधक पश्चिम रेलवे द्वारा रेलवे बोर्ड को पत्र लिखकर इस कार्य को विजन-2024 में शामिल करने की अनुशंसा की गई है।
May 20 (14:38) इंदौर-उज्जैन रेल लाइन दोहरीकरण को विजन-2024 में करें शामिल (www.naidunia.com)
IR Affairs
WR/Western
0 Followers
13889 views

News Entry# 451955  Blog Entry# 4965381   
  Past Edits
May 20 2021 (14:38)
Station Tag: Dewas Junction/DWX added by Adittyaa Sharma/1421836

May 20 2021 (14:38)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by Adittyaa Sharma/1421836

May 20 2021 (14:38)
Station Tag: Indore Junction/INDB added by Adittyaa Sharma/1421836
इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक (जीएम) आलोक कंसल ने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन सुनीत शर्मा से आग्रह किया है कि इंदौर- देवास-उज्जैन रेल लाइन दोहरीकरण परियोजना को अत्यंत महत्वपूर्ण मानते हुए उसे विजन-2024 में शामिल किया जाए। विजन-2024 में उन प्रोजेक्टों को शामिल किया गया है, जिन्हें सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए उनके काम 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह प्रोजेक्ट कई मायनों में महत्वपूर्ण है, क्योंकि नागरिक और जनप्रतिनिधि तो समय-समय पर इसकी मांग उठाते रहते हैं, लेकिन रेलवे जोन के मुखिया ने पहली बार इंदौर-देवास-उज्जैन रेल लाइन के दोहरीकरण को जल्द पूरा करने की पैरोकारी की है। जीएम ने विभिन्न ठोस तर्कों के साथ चेयरमैन के समक्ष दोहरीकरण को प्राथमिकता सूची में शामिल करने पर बल दिया है। रेलवे मामलों के वरिष्ठ जानकार नागेश नामजोशी बताते हैं पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने भी इस योजना को तेजी से पूरा करने की मांग...
more...
की थी। रेलवे को इंदौर-दाहोद नई लाइन और महू-खंडवा बड़ी लाइन प्रोजेक्ट का ठप काम भी जल्द शुरू करना चाहिए।
148 प्रतिशत आक्यूपेंसी के साथ अतिव्यस्त रूट
- जीएम ने चेयरमैन को बताया है 79 किमी लंबी इंदौर-देवास-उज्जैन रेल लाइन की आक्यूपेंसी 148 प्रतिशत है। इस तरह यह अति व्यस्त और महत्वपूर्ण रूट है। इस लाइन पर मांगलिया गांव, लक्ष्मीबाई नगर और देवास माल गोदाम हैं। इंदौर-उज्जैन लाइन भोपाल-उज्जैन-नागदा और महू-इंदौर-रतलाम रेल लाइन से जुड़ी है।
- इंदौर-उज्जैन रेल लाइन पर रोज 32 जोड़ी यात्री व 11 मालगाड़ियां गुजरती हैं। इंदौर के पास टीही स्टेशन से हर महीने मालगाड़ियों के 20 रैक देश के विभिन्न हिस्सों में जाते हैं।
- इस लाइन के आसपास महाकालेश्वर और ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग हैं, जहां हर साल बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। इनमें से ज्यादातर इंदौर से ही दोनों तरफ आना-जाना करते हैं।
- इंदौर मध्यप्रदेश का न केवल शैक्षणिक, बल्कि औद्योगिक हब भी है। इंदौर से नई ट्रेनें चलाने और ट्रेनों के फेरे बढ़ाने की मांगें लगातार होती हैं।
एक हजार रुपये देकर हाशिए पर रख दी थी योजना
- वर्ष 2021-22 के रेल बजट में इंदौर-देवास-उज्जैन रेल लाइन के दोहरीकरण के लिए महज एक हजार रुपये आवंटित कर रेलवे ने इस प्रोजेक्ट को हाशिए पर रख दिया था। तब से इसका काम बंद है।
- अब तक उज्जैन से कड़छा तक 15 किमी हिस्से में दोहरीकृत लाइन बिछाई जा चुकी है। अब पश्चिम रेलवे कड़छा से देवास होते हुए इंदौर तक का काम प्राथमिकता से करना चाहता है।
May 03 (21:28) महामारी का बढ़ता असर:10 दिन में दो सेक्शन बंद, देवास-रनायला जसमिया-मक्सी रेल खंड की एकमात्र यात्री ट्रेन भी रविवार से डायवर्ट होगी (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WR/Western
0 Followers
10349 views

News Entry# 450602  Blog Entry# 4953280   
  Past Edits
May 03 2021 (21:28)
Station Tag: Dewas Junction/DWX added by Saurabh®/1294142

May 03 2021 (21:28)
Station Tag: Maksi Junction/MKC added by Saurabh®/1294142

May 03 2021 (21:28)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Saurabh®/1294142
संक्रमण बढ़ने और यात्री संख्या घटने की रफ्तार के चलते दस दिन में रेलवे को दूसरा रेल खंड देवास-रनायला जसमिया-मक्सी भी बंद करना पड़ा है। इस सेक्शन में चल रही चार स्पेशल एक्सप्रेस गाड़ियों को पहले ही निरस्त किया जा चुका है।
इसके बाद चल रही एकमात्र यात्री ट्रेन 02291/02292 इंदौर-जबलपुर-इंदौर स्पेशल एक्सप्रेस रविवार से देवास-उज्जैन-मक्सी होकर डायवर्ट कर दिया है। इसके साथ ही मालगाड़ियों का संचालन भी रोक दिया गया है। इससे पहले रेलवे ने 23 अप्रैल से रतलाम-फतेहाबाद-इंदौर सेक्शन में पैसेंजर और गुड्स ट्रेन का रेल यातायात रोका रखा है।
बंद
...
more...
होता जा रहा है रेलवे ट्रैफिक
दूसरी लहर का असर रेलवे पर भारी पड़ता जा रहा है। इस कारण रेलवे ट्रैफिक बंद होता जा रहा है। पिछले साल 25 अप्रैल को हुए देशव्यापी लॉकडाउन के बाद बंद हुई ट्रेनों में से रेलवे अब तक 75 प्रतिशत ही चालू कर पाया था। अब 15 दिन में फिर 48 ट्रेनें निरस्त करना पड़ी हैं।
दिल्ली-मुंबई राजधानी रूट, रतलाम-चित्तौड़गढ़, रतलाम-उज्जैन-भोपाल सहित अन्य सेक्शन में भी अब लगभग 62 नियमित और साप्ताहिक गाड़ियां ही चल रही हैं। इनमें से भी अधिकांश में यात्री संख्या 45 फीसदी से कम हो गई है। ऐसी गाड़ियों की सूची बनकर तैयार है। बताया जा रहा है कि आंकड़ा 25 से 30 फीसद तक आते ही रेलवे ट्रेनों को बंद कर देगा।
मंडल के रेल खंड में यात्री लोड
रतलाम-चित्तौड़गढ़ (अप-डाउन) 45 से 48 फीसद रतलाम-भोपाल (अप-डाउन) 50 फीसद के आसपास दिल्ली-मुंबई (अप) 40-42 फीसद से भी कम मुंबई-दिल्ली (डाउन) 35 से 40 फीसद इंदौर-देवास-उज्जैन-मक्सी 35 से 40 फीसद
शुक्रवार को सेक्शन की निरस्त की गईं गाड़ियां
डॉ. आंबेडकर नगर-नगर-भोपाल स्पेशल एक्सप्रेस
इंदौर-अमृतसर स्पेशल एक्सप्रेस
डॉ. आंबेडकर नगर -नागपुर स्पेशल एक्सप्रेस
इंदौर-पुरी एक्सप्रेस
देवास-रनायला जसमिया-मक्सी सेक्शन में एक ही ट्रेन इंदौर-जबलपुर चल रही थी। इसे भी रविवार से देवास-उज्जैन होकर डायवर्ट करके सेक्शन बंद कर दिया गया है। अन्य सेक्शन में भी यात्रियों की संख्या कम होती जा रही है।जेके जयंत, पीआरओ
Page#    Showing 1 to 20 of 114 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy