Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Everyone is a gangster (Rajdhani, Shatabdi, Tejas) until the real Gangsta (Vande Bharat) walks in 😂 - Mushfique Khalid

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sun Oct 17 19:17:48 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 2129536-158

KAT/Khatauli (2 PFs)
کھتولی     खतौली

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Shyambazaar,Mubinagar, Khatauli
State: Uttar Pradesh

Elevation: 242 m above sea level
Zone: NR/Northern   Division: Delhi

No Recent News for KAT/Khatauli
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 43
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.0/5 (7 votes)
cleanliness - good (2)
porters/escalators - good (1)
food - poor (1)
transportation - average (2)
lodging - n/a (0)
railfanning - good (1)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 76 News Items  next>>
Feb 03 (00:21) ट्रेनों में यात्री कम, प्लेटफार्म पर ट्रेन गुजरते ही सन्नाटा (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
18107 views

News Entry# 436609  Blog Entry# 4865018   
  Past Edits
Feb 03 2021 (00:21)
Station Tag: Muzaffarnagar/MOZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Feb 03 2021 (00:21)
Station Tag: Khatauli/KAT added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Muzaffarnagar/MOZ   Khatauli/KAT  
जेएनएन, मुजफ्फरनगर। दिल्ली-देहरादून रूट पर कुछ ट्रेनों का संचालन सुचारु होने पर रेलवे स्टेशन पर यात्री पहुंचने लगे हैं, लेकिन पहले जैसी स्थिति का ट्रेनों के अंदर से लेकर प्लेटफार्म तक अभाव नजर आ रहा है। सुबह की पैसेंजर ट्रेनें न होने से यात्री रोडवेज का ही सफर कर रहे हैं। प्लेटफार्म पर चाय और खाने के स्टाल भी एक-दो ही चलने पर वेंडर्स ट्रेनों में चाय लेकर पहुंच रहे हैं।
मुजफ्फरनगर से होते हुए दिल्ली-देहरादून और पंजाब की ओर जाने वाली ट्रेनों की संख्या 24 से अधिक है, जो लाकडाउन में बंद हो गई थी। जनवरी में इस रूट पर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, जनशताब्दी, शताब्दी एक्सप्रेस, पुरी, अहमदाबाद सहित कुछ अन्य एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन सुचारु होने के बाद भी बड़ी
...
more...
संख्या में यात्रियों का अभाव है। सुबह और शाम के समय ड्यूटी पर आने-जाने वाले यात्री ही सामान्य टिकट लेकर इन ट्रेनों में यात्रा कर रहे हैं। इसके अलावा इन एक्सप्रेस ट्रेनों में रिजर्वेशन टिकट पर ही यात्री अधिक हैं। गिने-चुने वेंडर्स प्लेटफार्म और ट्रेनों के कोच में चाय उपलब्ध करा रहे हैं। स्टाल संचालक कोरोना के पूर्ण रूप से खत्म होने के इंतजार में है। वहीं कम यात्रियों के चलते टिकट खिड़कियों पर शारीरिक दूरी बनाकर टिकट लिए जा रहे हैं। प्लेटफार्म पर भी यात्री शारीरिक दूरी बनाकर बैठ रहे हैं। स्टेशन पर तैनात पुलिसकर्मी यात्रियों व वेंडर्स से मास्क का पालन करा रहे है, जिसके डर से बिना मास्क के स्टेशन पर यात्रियों की भी एंट्री नहीं हो रही है।
इन्होंने कहा..
दिल्ली-देहरादून और अंबाला रूट पर एक्सप्रेस ट्रेनें चलने से यात्री पहुंचने लगे हैं, लेकिन 20 प्रतिशत ही यात्री है। रिजर्वेशन वाले यात्री ही ट्रेनों में अधिक यात्रा कर रहे हैं। स्टेशन पर वेंडर्स और यात्रियों से मास्क और शारीरिक दूरी का भी पालन कराया जा रहा है। प्लेटफार्म पर भीड़ कम है।
- विपिन त्यागी, स्टेशन अधीक्षक
न गूंजता चाय..चाय का शोर, न दिखता किताबों का ठिकाना
जेएनएन, मुजफ्फरनगर। कोरोना काल रेलवे स्टेशन की रौनक छीन ले गया। देशभर में अनलाक हो चुका है, लेकिन पूर्ण रूप से ट्रेन पटरियों पर दौड़ती नहीं दिखी है। रेलवे स्टेशन पर न चाय-चाय की आवाज गूंज रही है, न ही किताबों का ठिकाना नजर आता है। दिल्ली-देहरादून के बीच स्पेशल ट्रेनों का संचालन हो रहा है। मगर यात्रियों को पैसेंजर ट्रेन का इंतजार है।
खतौली रेलवे स्टेशन से एक्सप्रेस और पैसेंजर समेत करीब 50 ट्रेनों का आवागमन होता है। 22 मार्च से पैसेंजर ट्रेनों का संचालन पूरी तरह से बंद है। अनलाक होने के बाद रेल मंत्रालय ने एक-एक कर पांच स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया है। खतौली स्टेशन पर नौचंदी एक्सप्रेस, छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, इंटरसिटी एक्सप्रेस और अहमदाबाद मेल का स्टाप रखा गया है।
दूर तक सन्नाटा ही सन्नाटा
ट्रेनों के गुजरने के बाद रेलवे स्टेशन परिसर पर सन्नाटा हो जाता है। लाकडाउन से पहले स्टेशन पर किताबों, अखबार की बिक्री वाले वेंडर रहते थे, लेकिन पिछले दस माह से यात्रियों के अभाव के बीच इनकी आवाज भी गुम हो गई है। स्टेशन की कुर्सियों पर आराम करने के लिए ग्रामीण और लोग ठहरते है, लेकिन यात्री खिड़की पर ताला पड़ा है। स्पेशल ट्रेनों में आरक्षण व्यवस्था लागू है।
Nov 03 2020 (00:33) रेलवे ट्रैक के किनारे गन्ने से परेशानी, सामग्री उतारने में समस्या (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
18383 views

News Entry# 423608  Blog Entry# 4765640   
  Past Edits
Nov 03 2020 (00:33)
Station Tag: Khatauli/KAT added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 03 2020 (00:33)
Station Tag: Muzaffarnagar/MOZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Muzaffarnagar/MOZ   Khatauli/KAT  
मुजफ्फरनगर, जेएनएन। रेलवे की महापरियोजना के कार्य में गन्ना मुसीबत बन रहा है। रेलवे ट्रैक के किनारे खड़े गन्ने के चलते निर्माण सामग्री और मशीन नहीं पहुंच पा रही है। जिस कारण कार्य करने में व्यवधान पैदा हो गया है। इसको लेकर डीएफसीसी के इंचार्ज ने डीसीओ से मिलकर समस्या बताई है। रेलवे ट्रैक किनारे गन्ना उगाने वाले किसानों को प्राथमिक रूप से गन्ना पर्चिंयां देने का आग्रह किया है।
दिल्ली-सहारनपुर वाया मेरठ-सहारनपुर रेल मंडल की लाइन के निकट से ही मुंबई से लुधियाना तक डेडीकेट फ्रंट कोरिडोर का कार्य किया जा रहा है। निर्माण कार्य खतौली, मंसूरपुर क्षेत्र में तेज गति से हो रहा है। रेलवे ट्रैक के निकट निर्माण सामग्री उतारने और मशीनें खड़ी करने के लिए किसानों की
...
more...
भूमि का अधिग्रहण किया जा रहा है। ट्रैक के किनारे ही कर्मचारियों का बसेरा भी रखा गया है। इन दिनों खतौली और मंसूरपुर क्षेत्र में निर्माण सामग्री को रखने के लिए रेलवे ट्रैक किनारे खड़ा गन्ना मुसीबत बना हुआ है। सोमवार को डीएफसीसी के इंचार्ज एसके सिंह ने जिला गन्ना अधिकारी डा. आरडी द्विवेदी से मिलकर समस्या बताई है। उन्होंने डीसीओ से रेलवे ट्रैक किनारे गन्ना उगाने वाले किसानों को प्राथमिक रूप से गन्ना पर्चिंयां जारी करने का आग्रह किया है। जिससे भूमि जल्द खाली हो सके और डीएफसीसी कार्य में आ रही बाधाएं दूर हो सके। यहां बुधवार तक खुर्जा से सामग्री पहुंचना प्रारंभ होगी।
इन्होंने कहा
डीएफसीसी के अधिकारी मिले थे। उन्होंने मंसूरपुर क्षेत्र में रेलवे ट्रैक के निकट गन्ना हटवाए जाने की मांग रखी है। इसके लिए संबंधित गन्ना समिति को निर्देशित किया गया है। रेलवे का यह निर्माण कार्य भी महत्वपूर्ण है।
-डा. आरडी द्विवेदी, डीसीओ, मुजफ्फरनगर।
Jul 12 2020 (18:17) 2017 Utkal Express Accident: GRP Files Chargesheet Against 5 Railway Officials (odishabytes.com)
Crime/Accidents
NR/Northern
0 Followers
117716 views

News Entry# 413995  Blog Entry# 4667667   
  Past Edits
Jul 12 2020 (18:17)
Station Tag: Khatauli/KAT added by 𝐁𝐡𝐚𝐫𝐭𝐢𝐲𝐚 𝐑𝐚𝐢𝐥/1476716

Jul 12 2020 (18:17)
Train Tag: Kalinga Utkal Express/18478 added by 𝐁𝐡𝐚𝐫𝐭𝐢𝐲𝐚 𝐑𝐚𝐢𝐥/1476716

Jul 12 2020 (18:17)
Train Tag: Kalinga Utkal Express/18477 added by 𝐁𝐡𝐚𝐫𝐭𝐢𝐲𝐚 𝐑𝐚𝐢𝐥/1476716
Muzaffarnagar: The Government Railway Police (GRP) has filed a chargesheet against five railway officials in connection with the derailment of Kalinga Utkal Express in 2017, officials said on Sunday. The accident, which took place at Khatauli in UP’s Muzaffarnagar district, resulted in 23 deaths while over 100 people sustained injuries.
GRP Deputy Superintendent of Police Ramesh Chandra said that an investigation found these officials responsible for the accident, reported PTI.
The chargesheet was filed against then Senior Section Engineer Inderjit Singh, then Junior Engineer Pradeep Kumar, then Station Master Prakash Chand, then Section
...
more...
Controller P V Taneja and hammer man Jitendra under sections 304A (causing death by negligence), 147, 337, 338, 427 and 279 of the Indian Penal Code.
Departmental action had earlier been taken against some officials. Pradeep Kumar was dismissed from service, P.V. Taneja and Prakash Chand were retired, and a warning was issued to Inderjit Singh.
Fourteen coaches of the train got derailed at Khatauli on August 19, 2017 while the train was on way from Odisha’s temple city Puri in to Haridwar. The then Railway Minister Suresh Prabhu had ordered an inquiry and announced Rs 3.5 lakh compensation to the next of kin of the dead, Rs 50,000 to the grievously injured and Rs 25,000 to those with minor injuries.
Sep 28 2019 (03:39) रेलवे कर्मचारियों ने रातभर बदले ट्रैक के स्लीपर (www.amarujala.com)
IR Affairs
NR/Northern
0 Followers
17846 views

News Entry# 392169  Blog Entry# 4440691   
  Past Edits
Sep 28 2019 (03:39)
Station Tag: Khatauli/KAT added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Sep 28 2019 (03:39)
Station Tag: Muzaffarnagar/MOZ added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Muzaffarnagar/MOZ   Khatauli/KAT  
खतौली (मुजफ्फरनगर)। रेलवे कर्मचारियों की ओर से पुराने स्लीपर बदलने का काम बृहस्पतिवार को रातभर चला। कर्मचारियों ने रात में करीब 1100 स्लीपर बदल दिए। रात में चार घंटे का ब्लॉक लिया गया। जिसकी वजह से रात में छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस ट्रेन आधा घंटा लेट पहुंची।विज्ञापनबता दें कि रेलवे स्टेशन से लेकर मुजफ्फरनगर रेलवे स्टेशन तक रेलवे लाइन के पुराने स्लीपर बदलने जाने हैं। हालांकि इन पुराने स्लीपर से ट्रेनों के संचालन में कोई असुविधा नहीं थी। रेलवे विभाग की ओर से कर्मचारियों को इन पुराने स्लीपरों को बदलवाने के आदेश दिए हैं। पिछले तीन दिनों से इन पुराने स्लीपरों को बदलने का काम चल रहा है। स्लीपर बदलने को लेकर बृहस्पतिवार को बुआड़ा फाटक को भी बंद कर दिया गया था। कर्मचारियों ने बृहस्पतिवार की रात में 9.40 से लेकर 1.40 बजे तक स्लीपर बदलने को लेकर ब्लॉक लिया। कर्मचारियों ने रात में ट्रैक रिनीवल सिस्टम मशीन से करीब 1100 स्लीपर...
more...
बदल डाले। ब्लॉक लेने को लेकर अमृतसर से आने वाली छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस ट्रेन करीब आधा लेट रही। जबकि अन्य ट्रेनों का संचालन यथावत होता रहा। शुक्रवार की सुबह बंद किए गए बुआड़ा फाटक को सुबह 6 बजे खोल दिया गया था। इस फाटक के खुलने से ग्रामीणों ने राहत की सांस महसूस की।.
Aug 20 2019 (13:26) उत्कल हादसे की बरसी पर मृतकों को श्रद्धांजलि (www.jagran.com)
Other News
NR/Northern
0 Followers
22786 views

News Entry# 389065  Blog Entry# 4405918   
  Past Edits
Aug 20 2019 (13:26)
Station Tag: Khatauli/KAT added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948

Aug 20 2019 (13:26)
Train Tag: Kalinga Utkal Express/18477 added by 12649⭐️ KSK ⭐️12650^~/1203948
Stations:  Khatauli/KAT  
मुजफ्फरनगर, जेएनएन। उत्कल एक्सप्रेस के हादसे की दूसरी बरसी पर सोमवार को यहां इस हादसे में मारे गए 26 लोगों की आत्मा की शांति की प्रार्थना की। लोगों ने मृतकों को श्रद्धांजलि दी।
2017 तिथि 19 अगस्त, समय शाम करीब साढ़े पांच बजे। पुरी से हरिद्वार जाने वाली उत्कल कलिग एक्सप्रेस लाइन पर थी। उसे खतौली स्टेशन से बिना रुके गुजरना था। चंद मिनट पूर्व रेलवे के इंजीनियरिग विभाग के जेई व कर्मियों ने ब्लाक लिए बिना व ट्रेन को रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाए बिना रेलवे लाइन को काटकर अलग कर दिया था। इस पर ट्रेन के गुजरते ही 13 डिब्बे पटरियों से उतरे और बड़ा हादसा हुआ। जिसमें 26 लोगों की मौत हुई व सैकड़ों लोग घायल
...
more...
हुए थे। रेलवे के अफसरों ने ट्रेन के क्षतिग्रस्त डिब्बों को तहसील व तिलकराम इंटर कालेज के सामने रेलवे ट्रैक के पास क्रेनों की मदद से डलवा दिया था। 20 मार्च को एक डिब्बे को कोचिग डिपो भेजा गया, जबकि अन्य डिब्बों को पास में डाल दिया गया था। इन डिब्बों से 21 ट्यूबलर बैट्रियां चोरी हुईं। लाखों का अन्य सामान भी चुरा लिया गया। जगत कालोनी, नई आबादी व भूड़ क्षेत्र के लोगों ने कई कार डिब्बों को वहां से उठाने की मांग की थी। डबल ट्रैक बिछने के चलते डिब्बों को हटवा दिया गया था। सोमवार को उत्कल हादसे की दूसरी बरसी पर सोमवार को अनुज सहरावत, कुलदीप तोमर, मनोज बालियान, पंकज बालियान, रिकू गुप्ता, अंकुर सिघल, पप्पू, बाबू, अनुज, प्रदीप आदि ने हादसे में मारे गए लोगों की दो मिनट का मौन रखा और दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की।
======================
सीआरएस के खौफ से हटे थे डिब्बे
कमिश्नर रेलवे सेफ्टी शैलेश पाठक के निरीक्षण के चलते डीआरएम एसके सिंह ने रेलवे ट्रैक का जायजा लिया। उन्होंने उत्कल एक्सप्रेस के क्षतिग्रस्त डिब्बे न उठने पर नाराजगी जताई थी। सीआरएस के खौफ के चलते क्षतिग्रस्त डिब्बों को हटवा दिया गया था।
============
चोरी हुआ सामान नहीं हो सका बरामद
उत्कल एक्सप्रेस के क्षतिग्रस्त डिब्बों से कीमती सामान चुरा लिया गया था, लेकिन अभी तक चोरी हुआ सामान बरामद नहीं हो सका। रेलवे विभाग ने क्षतिग्रस्त डिब्बों को हटने के बाद चोरी हुए सामान के मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया है।
Page#    Showing 1 to 20 of 76 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy