Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Champaran HumSafar Express : इन अजनबी सी राहों में, जो तू मेरा हमसफ़र हो जाये, बीत जाए पल भर में ये वक़्त, और हसीन सफ़र हो जाये. - Piyush Singh

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Aug 3 20:57:45 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 1351064-0
Medium; Night Pic; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 3982524-0


NGP/Nagpur Junction (8 PFs)
नागपूर जंक्शन     नागपुर जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Jn. Pt. BD/G/ET/CWA/NAB, Near State Bank of India,Jai Stambh Chowk,Off Central Avenue Rd, Sitabuldi, Nagpur, PIN - 440001
State: Maharashtra

Elevation: 308 m above sea level
Zone: CR/Central   Division: Nagpur

Type of Station: Junction
Number of Platforms: 8
Number of Halting Trains: 424
Number of Originating Trains: 28
Number of Terminating Trains: 28
Rating: 3.9/5 (460 votes)
cleanliness - good (61)
porters/escalators - good (58)
food - good (56)
transportation - good (59)
lodging - good (54)
railfanning - excellent (58)
sightseeing - good (55)
safety - good (59)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 1274 News Items  next>>
जबलपुर। दक्षिण-पूर्व मध्य रेल का जबलपुर-नैनपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज टै्रक चौबीस साल में जैसे-तैसे तैयार हो गया है, लेकिन यात्रियों का नियमित रेल सफर का इंतजार अभी समाप्त नहीं हुआ है। परियोजना की बुनियाद रखने से लेकर ट्रैक के उद्घाटन के मौके पर इसे उत्तर और दक्षिण भारत के लिए महत्वपूर्ण रेललाइन होने का दावा किया गया था। दोनों छोर को जोडऩे वाले इस सबसे कम दूरी के ट्रैक से सुपरफास्ट और एक्सप्रेस टे्रन दौड़ाने की बात हो रही है। लेकिन, कोरोना काल की मार में इस रेलमार्ग पर नई ट्रेनें चलाने का मामला उलझ गया।नियमित ट्रेन नहीं होने से बस के महंगे सफर में हल्की हो रही यात्रियों की जेबउत्तर से दक्षिण भारत के दो छोर के बीच सप्ताह में सिर्फ एक दिन एक ट्रेन चल रही है। रीवा से आकर जबलपुर होकर नागपुर के लिए सप्ताह में तीन दिन एक एक्सप्रेस चल रही है। नैनपुर-बालाघाट के रास्ते इस रेलमार्ग से रायपुर,...
more...
नागपुर और बल्लारहशाह की दूरी सवा सौ से पौने तीन सौ किमी तक कम है। इसके बावजूद प्रतिदिन सुपरफास्ट-एक्सप्रेस ट्रेन तो दूर एक अदद पैसेंजर/लोकल टे्रन अभी तक शुरूनहीं की गई है। ट्रेन नहीं होने से बस के सफर में यात्रियों की जेब हल्की हो रही है।  ट्रायल पर ट्रायल, लेकिन तारीख नहीं: सतपुड़ा नैरोगेज के ब्रॉडगेज बनने के बाद इस रूट पर सबसे ज्यादा इंतजार लोकल/पैसेंजर ट्रेन चलने का हो रहा है। विद्युतीकृत रेलमार्ग होने के कारण पैसेंजर की जगह मेमू टे्रन चलाने का प्रस्ताव है। मेमू का एक रैक कई महीने से नैनपुर स्टेशन पर खड़ा है। इसे गोंदिया से गढ़ा (जबलपुर) और मंडला-नैनपुर-बालाघाट-कटंगी-तिरोड़ी के बीच दौड़ाकर ट्रायल भी लिया जा चुका है। दक्षिण पूर्व मध्य रेल के अधिकारी कई बार ट्रैक का जायजा भी ले चुके हैं। लेकिन, अभी तक मेमू टे्रन चलाने पर निर्णय नहीं हो सका।पहले चलने वाली ये दो ट्रेन भी बंद: बालाघाट-नैनपुर के ब्रॉडगेज निर्माण कार्य होने के दौरान रेलवे जबलपुर-नैनपुर-चिरईडोंगरी तक प्रतिदिन पैसेंजर ट्रेन का संचालन कर रहा था। जबलपुर-गोंदिया ब्रॉडगेज बनने के बाद मैमू सेवा शुरु करने का प्रस्ताव देकर जबलपुर-चिरईडोंगरी का संचालन बंद कर दिया गया। इस टे्रन के समय पर कुछ दिन बाद जबलपुर से चांदाफोर्ट के लिए सुपरफास्ट चलाई गई, लेकिन कोरोना बढऩे पर बंद की गई ये ट्रेन शुरूनहीं हो पाई है।
Today (11:24) रेल मंत्री से मिले सांसद अनिल फिरोजिया:उज्जैन से रामेश्वरम् के लिए साप्ताहिक ट्रेन वीर भूमि को पुराने समय पर चलवाया जाए (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WR/Western
0 Followers
4212 views

News Entry# 460960  Blog Entry# 5031809   
  Past Edits
Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Khachrod/KUH added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Tarana Road/TAN added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Vikramgarh Alot/VMA added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Nagda Junction/NAD added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Indore Junction/INDB added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Fatehabad Chandrawatiganj Junction/FTD added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Tirupati/TPTY added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Nagpur Junction/NGP added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Rameswaram/RMM added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Aug 03 2021 (11:24)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
उज्जैन-चितौड़गढ़ के बीच चलने वाली वीर भूमि ट्रेन को पुराने समय पर चलवाएं। इंदौर से फतेहाबाद, उज्जैन, नागपुर, तिरुपति होकर रामेश्वरम् के लिए एक साप्ताहिक ट्रेन का संचालन भी शुरू करवाएं। सांसद अनिल फिरोजिया ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात कर उज्जैन सहित संसदीय क्षेत्र के विभिन्न स्टेशन के लिए दो दर्जन से अधिक ट्रेन के ठहराव के लिए चर्चा की है।सांसद ने बताया है रामेश्वम् के लिए ट्रेन चलने से महाकालेश्वर, ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग से सीधा संपर्क हो जाएगा। तिरुपति देवस्थान भी मां अहिल्या और श्रीकृष्ण के सांदीपनि आश्रम से जुड़ जाएंगे।
उज्जैन-फतेहाबाद-इंदौर के बीच मेमू ट्रेन चलाने के लिए भी पत्र दिया है। इस ट्रेन के चलने से उज्जैन इंदौर में पढ़ाई और कारोबार के लिए आने जाने वालों को
...
more...
सुविधा होगी। नागदा स्टेशन पर राजधानी एक्सप्रेस के स्टापेज के लिए भी रेल मंत्री से चर्चा की है। सोमनाथ जबलपुर एक्सप्रेस का तराना रोड स्टेशन पर, इंदौर-पुणे के खाचरौद रेलवे स्टेशन पर स्टापेज करने की मांग भी की है।
विक्रमगढ़ आलोट व महिदपुर रोड पर पहले की तरह रुके ट्रेनविक्रमगढ़ आलोट के पास जैन तीर्थ नागेश्वर पार्श्वनाथ का हवाला देते हुए सांसद ने रेल मंत्री को बताया यहां जयपुर मैसूर एक्सप्रेस, जयपुर चैन्नई, जयपुर कोयंबटूर, जोधपुर पुरी, जयपुर सिकंदराबाद, भगत की कोठी, बीकानेर बिलासपुर बांद्रा से माता वैष्णो देवी, हापा से वैष्णवदेवी, बांद्रा दरभंगा का स्टाॅपेज शुरू करें। महिदपुर रोड पर इंदौर नई दिल्ली, जोधपुर इंदौर, बांद्रा हरिद्वार देहरादून एक्सप्रेस, बांद्रा दरभंगा अवध एक्सप्रेस का स्टापेज रहे। हमसफर एक्सप्रेस को उज्जैन होकर चलाएं। सांसद ने रेल मंत्री से कहा इंदौर पूरी और अजमेर रामेश्वरम हमसफर एक्सप्रेस को वाया उज्जैन होकर चलाया जाना चाहिए।
-सतपुड़ा नैरोगेज के ब्रॉडगेज में बदलने के बाद भी बेहतर रेल सुविधा से लोग वंचित-दो रेल जोन के झमेले में मप्र, छग, महाराष्ट्र के बीच नहीं बन पा रही रेल कनेक्टिविटीजबलपुर। कहने को तो जबलपुर से नैनपुर-गोंदिया के रास्ते रायपुर और नागपुर तक आठ संसदीय संसदीय क्षेत्र हैं। ये सभी सांसद केंद्र में सत्तारूढ़ दल के हैं। इनमें दो केंद्रीय मंत्री भी हैं। इसके बाद भी जबलपुर-नैनपुर-गोंदिया रेलमार्ग गुड्स ट्रेन ट्रैक बनकर रह गया है। लम्बे इंतजार के बाद भी इस रेल रूट पर यात्री ट्रेनें नहीं दौड़ रही हैं। रेलवे ने कई शहरों के बीच नई स्पेशल ट्रेनें शुरूकी है। लेकिन, आदिवासी अंचल को जोडऩे वाले सतपुड़ा नैरोगेज के ब्रॉडगेज में बदलने के बाद भी इसका स्थानीय लोगों को फायदा नहीं मिल पाया। उत्तर भारत से दक्षिण के प्रदेशों की दूरी घटाने वाले इस रेलमार्ग पर परियोजना पूरी होने के बाद लगभग एक साल बाद भी दो साप्तहिक यात्री ट्रेन...
more...
ही चल रही हैं। दो रेल जोन के झमेले में इस मार्ग के जरिए मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के बीच बेहतर रेल कनेक्टिविटी नहीं बन पा रही।ये हैं सांसदसंसदीय क्षेत्र: सांसदजबलपुर : राकेश सिंहमंडला : फग्गन सिंह कुलस्तेबालाघाट : ढालसिंह बिसेनगोंदिया-भंडारा : सुनील बाबूरावनागपुर - नितिन गडकरीराजनांदगांव - संतोष पांडेदुर्ग- विजय बघेलरायपुर- सुनील कुमार सोनीबिलासपुर- अरुण सावछह साल से परेशान है बड़ी आबादी- वर्ष 2015 में जबलपुर-बालाघाट और मंडला के बीच नैरोगेज बंद की गई थी।- वर्ष 2019 तक नैनपुर तक ब्रॉडगेज का काम पूरा। पैसेंजर टे्रन चलने लगी थी।- वर्ष 2020 में बालाघाट तक ब्रॉडगेज बनाने का काम लगभग पूरा हो गया था।- वर्ष 2021 को ब्रॉडगेज के नए रेलवे ट्रैक पर टे्रनों का संचालन शुरूहो गया था।- वर्ष 2021 में दो साप्ताहिक टे्रन चल रही है। एक लोकल ट्रेन तक अभी नहीं है।ट्रैक की स्थिति-236 किमी लम्बा है जबलपुर-नैनपुर-गोंदिया रेलमार्ग।- 32 के लगभग छोटे-बड़े स्टेशन हैं इस रेलमार्ग पर।- 01 ट्रेन (गया-चेन्नई) सप्ताह में एक दिन गुजरती है।- 01 ट्रेन (रीवा-इतवारी) सप्ताह में तीन दिन चलती है।- 01 ट्रेन (जबलपुर-चांदाफोर्ट) साप्ताहिक बंद है।यात्री बस की भी बेहतर सुविधा नहींजबलपुर-गोंदिया के साथ ही नैनपुर-मंडला और बालाघाट-तिरोड़ी तक ब्रॉडगेज बन चुका है। इस रेलमार्ग से जुड़ा कुछ क्षेत्र अभी ऐसा है, जहां यात्री बस की भी बेहतर सुविधा नहीं है। कुछ बसें चल भी रही हैं, तो ग्रामीणों को जबलपुर, बालाघाट, गोंदिया, नागपुर, रायपुर तक जाने में ज्यादा किराया चुकाना पड़ रहा है। रेल सुविधा नहीं होने से बस संचालक मनमाना किराया वसूल रहे हैं। जबलपुर से जुड़ा यह रेलवे ट्रैक दक्षिण-पूर्व मध्य रेल के नागपुर मंडल के अधीन है। सूत्रों की मानें, तो दपूमरे के अधिकारी जबलपुर-गोंदिया रेलवे ट्रैक में ज्यादा दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। रेलमार्ग से जुड़े संसदीय क्षेत्र के जनप्रतिनिधि भी ध्यान नहीं दे रहे हैं। इसके कारण ट्रैक से चलाने के लिए दिए गए कुछ ट्रेनों के प्रस्ताव भी रेल कार्यालय तक जाकर अटक गए हैं। रेल मंत्रालय पैसेंजर ट्रेनों के संचालन की अनुमति दे चुका है। दपूमर रेल कोरोना काल में बंद की गई कई पैसेंजर ट्रेन शुरूकर चुका है। लेकिन, गोंदिया-जबलपुर के लिए प्रस्तावित मेमू टे्रन का एक रैक कई महीने नैनपुर स्टेशन पर शोपीस बनकर खड़ा है।हैरानी वाली बात-जबलपुर से नैनपुर-गोंदिया के रास्ते रायपुर और नागपुर तक आठ संसदीय संसदीय क्षेत्र हैं। ये सभी सांसद केंद्र में सत्तारूढ़ दल के नेता हैं। दो केंद्रीय मंत्री हैं।-ट्रैक के एक छोर जबलपुर में स्थित पश्चिम मध्य रेल के महाप्रबंधक के पास ही वर्तमान में दक्षिण-पूर्व मध्य रेल (बिलासपुर जोन) के महाप्रबंधक का प्रभार है।-शहर को छत्तीसगढ़ की राजधानी, महाराष्ट्र की उपराजधानी नागपुर और दक्षिण भारत के रेल द्वार बल्लारशाह तक जोडऩे वाला सबसे कम दूरी का रेलमार्ग है।- दुर्ग-भोपाल के बीच चलने वाली सुपरफास्ट हमेशा फुल रहती है। ये ही जबलपुर से रायपुर जाने के लिए एकमात्र ट्रेन है। गोंदिया तक भी अभी प्रतिदिन ट्रेन नहीं है।- रायगढ़-गोंदिया (02069/70) स्पेशल को आगे बढ़ाकर जबलपुर तक लाया जा सकता है। इससे रायपुर के साथ ही बिलासपुर की यात्रा आसान होगी।- रेलमार्ग में जबलपुर से गोंदिया तक इलेक्ट्रिफिकेशन का कार्य पूरा हो चुका है। पूरा रेलमार्ग विद्युतीकृत है। बीच में पावर (इंजन) बदलने का झंझट नहीं है।इन ट्रेनों के प्रस्ताव और जरूरत भी- जबलपुर-नागपुर इंटरसिटी एक्स.- जबलपुर-रायपुर ओवरनाइट एक्स.- रायपुर-जबलपुर इंटरसिटी एक्स.- जबलपुर-यशवंतपुर स्पेशल- गोंदिया-नैनपुर-जबलपुर मैमू ट्रेन- मंडला-नैनपुर-बालाघाट-तिरोड़ी मैमू(नोट: इनमें ज्यादातर प्रस्ताव पर दपूमरे की सहमति नहीं मिल पा रही है। गोंदिया-दुर्ग के बीच व्यस्त ट्रैक और सिंगल लाइन सहित अन्य वजह से प्रस्ताव अटक गए हैं।)
Aug 01 (04:36) जूम मीटिंग के माध्यम से कई प्रस्ताव कराए शामिल (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
6363 views

News Entry# 460755  Blog Entry# 5030070   
  Past Edits
Aug 01 2021 (04:36)
Station Tag: Nagpur Junction/NGP added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 01 2021 (04:36)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 01 2021 (04:36)
Station Tag: Mandla Fort/MFR added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 01 2021 (04:36)
Station Tag: Nainpur Junction/NIR added by Adittyaa Sharma/1421836
नैनपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण के चलते देश में लाकडाउन की स्थिति बनी थी। जिसमें यात्री ट्रेनों का परिचालन पूर्णता बंद किया गया था। जिसका दंश मंडला जिले की जनता आज दिनांक तक झेल रही है। मंडला जिले का यह दुर्भाग्य है की जिले में दो सांसद जिसमें एक केंद्र सरकार में मंत्री है। उसके बावजूद भी मंडला जिले की जनता निराश और हताश दिखाई देती है। नगर में आपदा को अवसर बनाकर बस मालिकों ने बस का किराया बढ़ा दिया है। जिसकी वजह से जिले की जनता आर्थिक परेशानी का सामना कर रही है। लेकिन नगर के जनप्रतिनिधि एवं मंडला जिले के राजनेता इस गंभीर विषय पर किसी भी तरह की प्रक्रिया करते नहीं दिखाई दे रहे। लेकिन जनता के दर्द को समझते हुए नगर के जागरूक समाजसेवी भारतीय जनता पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ता एवं रेलवे बोर्ड के सदस्य अखिलेश शुक्ला दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे नागपुर डिवीजन की जूम मीटिंग...
more...
में शामिल हुए। जिसमें उन्होंने कई विषयों को प्रस्ताव में शामिल कराया।
इन प्रस्ताव को शामिल कराया गया
मंडला से जबलपुरए मंडला से नागपुर, मंडला से भोपालए गाड़ी शीघ्र चलाई जाए। नैनपुर के खेल प्रतिभाओं के प्रोत्साहन के लिए जेआरसी मैदान को इंडोर आउटडोर स्टेडियम के रूप में विकसित कर व्यवसाय कांपलेक्स निर्माण कराया जाए।10 एकड़ में फैले तालाब के ऊपर म्यूजियम में चलने वाली नैरोगेज की गाड़ी को चलाया जाए एवं तालाब का सौंदर्यीकरण किया जाए। नैनपुर के बीचों बीच रेलवे कॉलोनी एवं स्टेशन के चारों ओर रिंग रोड बनाकर व्यावसायिक काम्प्लेक्स बनाया जाए। जिससे शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार एवं रेलवे की राजस्व वृद्धि हो सके। इनके अलावा अन्य मुद्दों पर भी बैठक में विस्तार से चर्चा हुई। बैठक में सभी 22 सदस्यों के एजेंडा शामिल किए गए। इसके अलावा भी सुझाव लिए गए। बैठक में मुख्य रूप से नागपुर डिवीजन के प्रबंधक मनिंदर उप्पल एवं सीनियर डीसीएम विकास कश्यप आदि शामिल हुए। नैनपुर के सुझावों से प्रभावित होकर सीनियर डीसीएम रविवार को इन विषयों पर विस्तार से चर्चा हेतु नैनपुर पधार रहे हैं और विशेष चर्चा करेंगे ऐसा आश्वासन उन्होंने दिया है।
Jul 28 (00:17) नागपुर तक सीधी ट्रेन नहीं, बिलासपुर में 22 घंटे रुकती है नर्मदा एक्सप्रेस, विस्तार की उठी मांग (www.google.com)
SECR/South East Central
0 Followers
8981 views

News Entry# 460405  Blog Entry# 5026352   
  Past Edits
Jul 28 2021 (00:17)
Station Tag: Shahdol/SDL added by LHB GR🤩waiting 🙃🙂/886143

Jul 28 2021 (00:17)
Station Tag: Nagpur Junction/NGP added by LHB GR🤩waiting 🙃🙂/886143

Jul 28 2021 (00:17)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by LHB GR🤩waiting 🙃🙂/886143

Jul 28 2021 (00:17)
Train Tag: Narmada Express Special/08234 added by LHB GR🤩waiting 🙃🙂/886143

Jul 28 2021 (00:17)
Train Tag: Narmada Express Special/08233 added by LHB GR🤩waiting 🙃🙂/886143
शहडोल. संभाग से नागपुर तक सीधी ट्रेन के लिए लम्बे समय से मांग की जा रही है। एक दशक से ज्यादा समय से उठ रही इस मांग को लेकर अब तक कोई नतीजा नहीं निकला है। जनप्रतिनिधि भी कई वर्षों से इस मुद्दे को उठा रहे हैं लेकिन कमजोर नेतृत्व की वजह से सफलता नहीं मिल रही है। कटनी-बिलासपुर के बीच नागपुर तक सीधी ट्रेन न होने का मुद्दा एक बार फिर जनप्रतिनिधियों ने उठाया है। इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री व सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते और शहडोल सांसद हिमाद्री सिंह ने रेल मंत्री को पत्र लिखा है। उन्होने कटनी-बिलासपुर के बीच से नागपुर तक सीधी ट्रेन की मांग की है। जनप्रतिनिधियों ने रेल मंत्री को पत्राचार कर कहा है कि इंदौर से बिलासपुर तक चलने वाली नर्मदा एक्सप्रेस ट्रेन शहडोल संभाग से गुजरते हुए बिलासपुर पहुंचती है। यहां पर 22 घंटे तक नर्मदा एक्सप्रेस ट्रेन ठहरती है। इस ट्रेन...
more...
को नागपुर तक विस्तारित किया जा सकता है।नागपुर बड़ा चिकित्सा सेंटर, नहीं है सीधी ट्रेन इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते और सांसद शहडोल हिमाद्री सिंह ने कहा है कि नागपुर चिकित्सा के लिए बड़ा सेंटर है। शहडोल सहित आसपास के जिलों से अक्सर मरीज यहां पर इलाज कराने के लिए जाते हैं। सीधी ट्रेन न होने की वजह से लोगों को असुविधा होती है।कई वर्षों से संभाग के लोग उठा रहे आवाजशहडोल संभाग के अलावा आसपास के जिलों से नागपुर के लिए सीधी ट्रेन नहीं है। लंबे समय से यहां के लोग मुद्दा उठा रहे हैं। आंदोलन के साथ कई बड़े प्रदर्शन भी हो चुके हैं। इसके साथ ही जनप्रतिनिधि भी लगातार पत्राचार कर रहे हैं। कई बार रेल मंत्रालय को पत्राचार भी किया जा चुका है लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल रहा है। लोग प्राइवेट वाहनों के माध्यम से नागपुर तक इलाज के लिए जाते हैं।नागपुर और इतवारी स्टेशन तक विस्तार की मांगजनप्रतिनिधियों ने पत्राचार करते हुए विकल्प भी बताया है। उन्होने कहा कि 22 घंटे ठहराव के समय का उपयोग करते हुए इंदौर बिलासपुर ट्रेन को नागपुर या फिर इतवारी रेलवे स्टेशन तक के लिए विस्तार किया जा सकता है।
Page#    Showing 1 to 20 of 1274 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy