Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

WAM 4 - Father of the Nation for RailFans - Vikas Kumar

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Wed Aug 10 17:52:10 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRPost BlogAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 867530-0

MDS/Mandsor (2 PFs)
     मन्दसौर

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Railway Station Rd, Mandsaur
State: Madhya Pradesh

Elevation: 436 m above sea level
Zone: WR/Western   Division: Ratlam

No Recent News for MDS/Mandsor
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 40
Number of Originating Trains: 3
Number of Terminating Trains: 3
0 Follows
Rating: 3.8/5 (41 votes)
cleanliness - good (6)
porters/escalators - good (4)
food - good (6)
transportation - good (5)
lodging - good (5)
railfanning - good (5)
sightseeing - good (5)
safety - good (5)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 185 News Items  next>>
Jul 18 (22:34) रतलाम-दाहौद रेलखंड बंद, मंदसौर से होकर निकली कई ट्रेन (www.naidunia.com)
Major Accidents/Disruptions
WR/Western
0 Followers
14349 views

News Entry# 492653  Blog Entry# 5417701   
  Past Edits
Jul 18 2022 (22:35)
Station Tag: Shamgarh/SGZ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 18 2022 (22:34)
Station Tag: Dahod/DHD added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 18 2022 (22:34)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 18 2022 (22:34)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Adittyaa Sharma/1421836
अहमदाबाद, अजमेर, चित्तौड़गढ़, मंदसौर होकर रतलाम गई
मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर स्थित रतलाम रेल मंडल के मंगलमोड़ी व लीमखेड़ा स्टेशन के बीच मालगाड़ी के डिब्बे पटरी से उतरने के कारण अप व डाउन लाइन प्रभावित हुई हैं। इससे रेल यातायात भी प्रभावित हो रहा हैं। सोमवार को भी कई ट्रेन रतलाम से मंदसौर, चित्तौ ड़, अजमेर, पालनपुर अहमदाबाद होकर मुंबई की तरफ गई। वहीं मुंबई की तरफ से आने वाली ट्रेने भी इसी रुट से वापस आई। इसके चलते मंदसौर रेलवे स्टेशन पर भी कई यात्री ट्रेन आती रही और जाती रही। सोमवार को मुंबई-दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस, निजामुद्दीन-मुंबई अगस्त क्रांति सहित अन्य एक्सप्रेस ट्रेन रतलाम से मंदसौर, चित्तौड़गढ़, अजमेर, पालनपुर, अहमदाबाद होते हुए बड़ोदरा पहुंचकर दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर पहुंची। ट्रेनों
...
more...
की आवाजाही के चलते यहां कई ट्रेने रतलाम से अजमेर के बीच सिंगल ट्रेक होने से विभिन्ना स्टेशन पर खड़ी भी रही।
शामगढ़। दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग के रतलाम-लीमखेड़ा के बीच यातायात बंद होने से सोमवार को इस रूट पर परिचालन प्रभावित रहा। जिसके चलते कोटा, जयपुर, दिल्ली की तरफ जाने वाली एक भी ट्रेन नागदा-शामगढ़-कोटा रेल मार्ग पर नहीं चली। सभी ट्रेनों को दूसरे रेलमार्ग पर भेजा गया। जयपुर-मुंबई गणगौर एक्सप्रेस, पश्चिम एक्स प्रेस, अवध एक्सप्रेस, बड़ोदरा-कोटा लोकल, रतलाम-कोटा ट्रेन नहीं आने से यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। स्टेशन अधीक्षक बलवानसहाय मीणा ने बताया कि इस रुट पर केवल दिल्ली सरायरोहिल्ला्‌-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस व कोटा-नागदा मेला गाड़ी ही चली। बाकि सभी ट्रेनें अन्य मार्ग से चलाई गई।
मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल अंतर्गत मंदसौर होकर गुजरने वाली दो ग्रीष्मकालीन विशेष ट्रेनों के फेरे बढ़ाए गए हैं। इससे मंदसौर-नीमच क्षेत्र के यात्रियों को विशेष सुविधा मिलेगी। उदयपुर-बांद्रा टर्मिनस स्पेशल ट्रेन अब 25 जुलाई तक चलेगी। वही भिवानी-बांद्रा टर्मिनस ट्रेन 29 जुलाई तक चलेगी।
रतलाम मंडल जनसंपर्क अधिकारी खेमराज मीणा ने बताया कि रतलाम मंडल से परिचालित की जा रही पांच जोड़ी स्पेशल ट्रेनों के फेरों को बढ़ाया गया है। इनमें मंदसौर-नीमच, चित्तौड़ होकर गुजरने वाली दो ट्रेन भी शामिल हैं। ट्रेन 09067 बांद्रा टर्मिनस-उदयपुर सिटी एक्सप्रेस अब 25 जुलाई तक प्रति सोमवार बांद्रा टर्मिनस से चलेगी। वहीं ट्रेन 09068 उदयपुर सिटी-बांद्रा टर्मिनस स्पेशल एक्सप्रेस 26 जुलाई तक प्रति मंगलवार उदयपुर सिटी से चलेगी। ट्रेन 09185
...
more...
मुंबई सेंट्रल-छपरा स्पेशल एक्सप्रेस 30 जुलाई तक प्रति शनिवार मुंबई सेंट्रल से चलेगी। ट्रेन 09186 छपरा-मुंबई सेंट्रल स्पेशल एक्सप्रेस 31 जुलाई तक प्रति रविवार को छपरा से चलेगी। ट्रेन 09013 ऊधना-बनारस स्पेशल एक्सप्रेस 26 जुलाई तक प्रति मंगलवार को ऊधना से चलेगी। ट्रेन 09014 बनारस-ऊधना स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन 27 जुलाई तक प्रति बुधवार बनारस से चलेगी। ट्रेन 09117 सूरत-सूबेदारगंज स्पेशल एक्सप्रेस 26 अगस्त तक प्रति शुक्रवार सूरत से चलेगी। ट्रेन 09118 सूबेदारगंज-सूरत स्पेशल एक्सप्रेस 27 अगस्त तक प्रति शनिवार सूबेदारगंज से चलेगी। ट्रेन 09007 बांद्रा टर्मिनस-भिवानी स्पेशल एक्सप्रेस 28 जुलाई तक प्रति गुरुवार को बांद्रा टर्मिनस से चलेगी। ट्रेन 09008 भिवानी-बोरीवली स्पेशल एक्सप्रेस 29 जुलाई तक प्रति शुक्रवार भिवानी से चलेगी। ट्रेन 09185-09186 मुंबई सेंट्रल-छपरा-मुंबई सेंट्रल में अब तीन के स्थान पर चार थर्ड एसी एवं एक सेकंड एसी का कोच लगेगा। यह सुविधा 2 जुलाई से लागू हो गई है।
Jun 28 (20:46) सीतामऊ रोड पर रेलवे लाइन के पार नहीं पहुंचा पानी (www.naidunia.com)
Other News
WR/Western
0 Followers
7692 views

News Entry# 490756  Blog Entry# 5393736   
  Past Edits
Jun 28 2022 (20:46)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Mandsor/MDS  
वार्ड-26 (पशुपतिनाथ वार्ड)
कुएं से सप्लाय हो रहा गंदा पानी
अवैध कालोनी होने से सीतामऊ रोड, बसंत विहार में नहीं बनी सड़कें
मंदसौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। श्री पशुपतिनाथ महादेव मंदिर से लेकर श्री ओखाबावजी मंदिर, जैन तीर्थंकर व श्री लाभमुनि नेत्र चिकित्सासलय सहित अन्या स्था नों को खुद में समेटे वार्ड 26 क्षेत्रफल में काफी बड़ा हैं। चंद्रपुरा, सीतामऊ रोड पर रेलवे लाइन के बाद
...
more...
वाले क्षेत्र को नगर पालिका की सीमा में आए बरसों हो चुके हैं लेकिन अभी भी क्षेत्र में पेयजल की समस्या का समाधान नहीं हुआ है। सीतामऊ रोड पर पटरी पार क्षेत्र में नगरपालिका अब तक पेयजल लाइन नहीं पहुंचा पाई है। जबकि चंबल से आने वाली पेयजल लाइन इसी क्षेत्र से आ रही हैं। सरकारी कुएं से गंदा पानी सप्लाय हो रहा हैं और लोग परेशान होकर पीने के पानी को भी दूर-दूर से लेकर आ रहे हैं। सीतामऊ रोड पर पटरी पर वाले क्षेत्र में अवैध कालोनियों में सड़कें भी नहीं बनी है। बसंत विहार में भी सड़कें नहीं है।
वार्ड 26 को पशुपतिनाथ वार्ड के नाम से ही जाना जाता है। शहर में मूलभूत सुविधाओं के लिए कालोनियों व अन्य वार्डों में जितनी तेजी से काम हुए हैं उतनी तेजी से काम वार्ड 26 में नहीं हुए है। आजादी के 75 साल बीतने के बाद भी सीतामऊ रोड पर पटरी पार क्षेत्र में नपा पेयजल नहीं पहुंचा पाई है। यहां पर कुएं से पेयजल सप्लाई होता है। रहवासियों का कहना है कि कुएं का पानी खराब है इसका उपयोग हम पीने में नहीं कर पाते हैं। पीने का पानी आसपास के ही क्षेत्रों से लाना पड़ रहा है। कई लोग मोटर साइकल से पानी लेने लिए जाते हैं। सीतामऊ फाटक क्षेत्र में बालाजी मंदिर के पीछे सड़कें कच्ची है। वर्षा होते ही यह क्षेत्र परेशानियों से भर जाता है। पेयजल और सड़क की यहां की प्रमुख समस्याएं है। चंद्रपुरा के बसंत विहार में सड़कें नहीं है इसके कारण रहवासी बहुत परेशान है। इस क्षेत्र में भी पेयजल को लेकर परेशानियां है।
एक नजर
वार्ड - 26 (पशुपतिनाथ वार्ड)
कुल मतदाता - 3311(पुरुष 1642, महिला 1669)
वार्ड के क्षेत्र -सीतामऊ रोड पर टोड़ी भाग एक व दो, श्रीनाथ रेसीडेंसी, भोईवाड़ा, खत्री मोहल्ला, माली नगर, बसंत विहार, सुदर्शन कालोनी, पशुपतिनाथ परिसर, चंद्रपुरा, बावड़ीकला, तीर्थंकर जैन मंदिर, सोंधनी, महू-नीमच राजमार्ग पर मेनपुरिया चौराहे से शिवना पुल तक, आदित्य विहार कालोनी, नवरत्न विहार कालोनी, हरि वाटिका, लाभमुनि चिकित्सालय।
-सीतामऊ फाटक क्षेत्र में मूलभूत सुविधाओं की कमी है। सड़कें खराब है वर्षा होते ही परेशानियां बढ़ जाती है। सड़क बनाने के लिए कई बार मांग की है लेकिन अब तक समस्या का समाधान नहीं हुआ है।
-विक्रम माली, सीतामऊ फाटक
-हमारे क्षेत्र में सबसे बड़ी समस्या पेयजल की है। कुएं से पानी सप्लाई होता है इसमें गंदा पानी आता है। इस कारण पीने में उपयोग नहीं कर पाते हैं। पीने के लिए दूर-दूर से पानी लाना पड़ रहा है। पेयजल समस्या का स्थाई समाधान होना चाहिए।
-रोहिणी सेन, टोड़ी
-बसंत विहार में सड़कें नहीं है इस कारण वाहन चालक, रहवासी सभी परेशान हो रहे हैं। हमारे क्षेत्र में पेयजल संकट भी बना हुआ है। नल से पर्याप्त पानी नहीं मिलने के कारण दिक्कते होती है। नदी किनारे क्षेत्र होने के बावजूद पानी के लिये परेशानी हो रही है।
-उमाशंकर राव, चंद्रपुरा
आमने-सामने
पेयजल व सड़कों की समस्या का निदान नहीं
-वार्ड में जितने विकास के कार्य होना चाहिए थे वह नहीं हो पाए है। पेयजल समस्या और सड़कों की समस्या प्रमुख है इन दोनों ही समस्याओं का समाधान अब तक नहीं हुआ है। इस कारण जनता को परेशानी हो रही है। जनता को विकास कार्यों की जितनी उम्मीद रहती है वह पूरी होना चाहिए।
- राधिका किशोर शास्त्री, पिछले चुनाव में पराजित प्रत्याशी
पेयजल हेतु 56 लाख के टेंडर हुए, परिषद की बैठक का इंतजार
-सीतामऊ फाटक पार क्षेत्र की पेयजल समस्या के स्थायी निराकरण हेतु 56 लाख रुपये में पेयजल लाइन के लिये टेंडर हो चुके हैं। स्वीकृति के लिए परिषद की बैठक का इंतजार है। इस कारण देरी हो रही है। छह माह में क्षेत्र में पेयजल पहुंचने लगेगा। सीतामऊ फाटक पार क्षेत्र में अवैध कालोनी होने के कारण विकास कार्यों में देरी होती है। सड़क बनाने के लिए हमने कोशिश की है अब सड़कें बन जाएगी। बसंत विहार में भी सड़कों के निर्माण के लिए प्रयासरत हैं।
-संगीता शैलेंद्र गोस्वामी, पूर्व पार्षद
Jun 26 (21:21) Breaking News मध्यप्रदेश में बनेंगे 6 नए रेलवे स्टेशन (www.patrika.com)
WR/Western
0 Followers
13158 views

News Entry# 490586  Blog Entry# 5391751   
  Past Edits
Jun 26 2022 (21:21)
Station Tag: Jaora/JAO added by RF SHANKU/1438110

Jun 26 2022 (21:21)
Station Tag: Mandsor/MDS added by RF SHANKU/1438110
Stations:  Jaora/JAO   Mandsor/MDS  
भारतीय रेलवे मध्यप्रदेश में 6 नए रेलवे स्टेशन का निर्माण करने जा रही है। इसके लिए टेंडर की मंजूरी के बाद अब नए रेलवे स्टेशन के निर्माण के लिए ड्राइंग बनाने का काम शुरू कर दिया गया है।
लंबे समय से नीमच - रतलाम रेल सेक्शन में दौहरीकरण काम की शुरुआत होने का इंतजार हो रहा है। रेलवे ने इसके टेंडर को मंजूरी दे दी है। अब मंदसौर और जावरा सहित छह नए स्टेशन बनाने के लिए नक्शे की शुरुआत होने वाली है। अगले तीन से चार माह में निर्माण कार्य की शुरुआत कर दी जाएगी। नीमच - रतलाम-नीमच रेल सेक्शन में 266 किमी के रेल मार्ग में पहली बार इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल लगाए जाएंगे।
पेनल
...
more...
सिग्नल प्रणाली
मंडल रेल प्रबंधक विनीत गुप्ता ने शनिवार को रेल मंडल के वाणिज्य, परिचालन, निर्माण कार्य सहित अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ करीब सात घंटे तक बैठक की है। इस बैठक में ही पूरे निर्माण कार्य को लेकर विस्तार से योजना बनी है। रेलवे अधिकारियों के अनुसार इस समय नीमच से लेकर रतलाम के धोंसवास तक पेनल सिग्नल प्रणाली है।
पहले जाने पूरी योजना
रेलवे ने कोटा-चित्तौडग़ढ़-मंदसौर-रतलाम-इंदौर-खंडवा तक के लिए रेलवे लाइन दौहरीकरण की योजना बनाई थी। इसमे नीमच - रतलाम - नीमच तक के करीब 266 किमी के रेल मार्ग पर अब तक दौहरी रेल लाइन नहीं है। इसके चलते आमने - सामने की ट्रेन होने पर एक ट्रेन को रेलवे स्टेशन पर अधिक समय तक ठहरना होता है। रेलवे ने जो योजना बनाई थी, वो 931 करोड़ रुपए की थी, जो 2018 में बनी थी। इस योजना की मंजूरी की घोषणा 2021 में सितंबर माह में केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने की। अब इस योजना में 25 हजार करोड़ रुपए की राशि मंजूर हुई है।
इसलिए पेनल बदलना जरूरी
रेल मंडल के नीमच से लेकर रतलाम के पूर्व धोंसवास रेलवे स्टेशन तक पेनल सिग्नल प्रणाली है। अब इनमे मंदसौर, जावरा सहित कुल छह स्टेशन ऐसे है, जहां पेनल बदलने के साथ - साथ स्टेशन का पूरा भवन ही नया बनाया जाएगा। इसी योजना की निविदा मंजूर होने के बाद अब शनिवार को नक्शे बनाने के काम को मंजूरी हो गई है।
इन मामलों पर भी हुई बात
दिनभर हुई बैठक में रेलवे को वर्ष २०२१ के मुकाबले २०२२ के शुरू के तीन माह क्रमश: अप्रेल, मई और जून माह में राजस्व के मामले में वृद्धि पर भी बात की गई। अधिकारियों के मुताबिक पार्सल लोडिंग में 35 प्रतिशत तो यात्री सहित अन्य आय में 70 प्रतिशत की वृद्धि पिछले वर्ष के मुकाबले हुई है। इसके अलावा समीक्षा बैठक में यात्री सुविधा, संरक्षा और सुरक्षा के मुद्दों सहित ट्रेन की गति बढ़ाने के बारे में भी बात की गई है।
नक्शे बनाने का काम शुरू होगा
रेल मंडल में मंदसौर, जावरा सहित छह नए स्टेशन नीमच - रतलाम के बीच बनना मंजूर हुआ है। दौहरीकरण की योजना में टेंडर हो गए है। अब योजना अंतर्गत नक्शे बनाने के काम की शुरुआत होगी।
- विनीत गुप्ता, मंडल रेल प्रबंधक
Jun 26 (12:36) Breaking News मध्यप्रदेश में बनेंगे 6 नए रेलवे स्टेशन (www-patrika-com.cdn.ampproject.org)
0 Followers
10931 views

News Entry# 490545  Blog Entry# 5391167   
  Past Edits
Jun 26 2022 (12:36)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by भारतीय/778285

Jun 26 2022 (12:36)
Station Tag: Nimach/NMH added by भारतीय/778285

Jun 26 2022 (12:36)
Station Tag: Mandsor/MDS added by भारतीय/778285
Stations:  Ratlam Junction/RTM   Nimach/NMH   Mandsor/MDS  
भारतीय रेलवे मध्यप्रदेश में 6 नए रेलवे स्टेशन का निर्माण करने जा रही है। इसके लिए टेंडर की मंजूरी के बाद अब नए रेलवे स्टेशन के निर्माण के लिए ड्राइंग बनाने का काम शुरू कर दिया गया है।
भारतीय रेलवे मध्यप्रदेश में 6 नए रेलवे स्टेशन का निर्माण करने जा रही है। इसके लिए टेंडर की मंजूरी के बाद अब नए रेलवे स्टेशन के निर्माण के लिए ड्राइंग बनाने का काम शुरू कर दिया गया है।
लंबे समय से नीमच - रतलाम रेल सेक्शन में दौहरीकरण काम की शुरुआत होने का इंतजार हो
...
more...
रहा है। रेलवे ने इसके टेंडर को मंजूरी दे दी है। अब मंदसौर और जावरा सहित छह नए स्टेशन बनाने के लिए नक्शे की शुरुआत होने वाली है। अगले तीन से चार माह में निर्माण कार्य की शुरुआत कर दी जाएगी। नीमच - रतलाम-नीमच रेल सेक्शन में 266 किमी के रेल मार्ग में पहली बार इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल लगाए जाएंगे।
पेनल सिग्नल प्रणाली
मंडल रेल प्रबंधक विनीत गुप्ता ने शनिवार को रेल मंडल के वाणिज्य, परिचालन, निर्माण कार्य सहित अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ करीब सात घंटे तक बैठक की है। इस बैठक में ही पूरे निर्माण कार्य को लेकर विस्तार से योजना बनी है। रेलवे अधिकारियों के अनुसार इस समय नीमच से लेकर रतलाम के धोंसवास तक पेनल सिग्नल प्रणाली है।
पहले जाने पूरी योजना
रेलवे ने कोटा-चित्तौडग़ढ़-मंदसौर-रतलाम-इंदौर-खंडवा तक के लिए रेलवे लाइन दौहरीकरण की योजना बनाई थी। इसमे नीमच - रतलाम - नीमच तक के करीब 266 किमी के रेल मार्ग पर अब तक दौहरी रेल लाइन नहीं है। इसके चलते आमने - सामने की ट्रेन होने पर एक ट्रेन को रेलवे स्टेशन पर अधिक समय तक ठहरना होता है। रेलवे ने जो योजना बनाई थी, वो 931 करोड़ रुपए की थी, जो 2018 में बनी थी। इस योजना की मंजूरी की घोषणा 2021 में सितंबर माह में केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने की। अब इस योजना में 25 हजार करोड़ रुपए की राशि मंजूर हुई है।
इसलिए पेनल बदलना जरूरी
रेल मंडल के नीमच से लेकर रतलाम के पूर्व धोंसवास रेलवे स्टेशन तक पेनल सिग्नल प्रणाली है। अब इनमे मंदसौर, जावरा सहित कुल छह स्टेशन ऐसे है, जहां पेनल बदलने के साथ - साथ स्टेशन का पूरा भवन ही नया बनाया जाएगा। इसी योजना की निविदा मंजूर होने के बाद अब शनिवार को नक्शे बनाने के काम को मंजूरी हो गई है।
इन मामलों पर भी हुई बात
दिनभर हुई बैठक में रेलवे को वर्ष २०२१ के मुकाबले २०२२ के शुरू के तीन माह क्रमश: अप्रेल, मई और जून माह में राजस्व के मामले में वृद्धि पर भी बात की गई। अधिकारियों के मुताबिक पार्सल लोडिंग में 35 प्रतिशत तो यात्री सहित अन्य आय में 70 प्रतिशत की वृद्धि पिछले वर्ष के मुकाबले हुई है। इसके अलावा समीक्षा बैठक में यात्री सुविधा, संरक्षा और सुरक्षा के मुद्दों सहित ट्रेन की गति बढ़ाने के बारे में भी बात की गई है।
नक्शे बनाने का काम शुरू होगा
रेल मंडल में मंदसौर, जावरा सहित छह नए स्टेशन नीमच - रतलाम के बीच बनना मंजूर हुआ है। दौहरीकरण की योजना में टेंडर हो गए है। अब योजना अंतर्गत नक्शे बनाने के काम की शुरुआत होगी।
- विनीत गुप्ता, मंडल रेल प्रबंधक
Page#    Showing 1 to 20 of 185 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy