Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

कोशी का प्रवेश द्वार — मानसी जं० - Prabhat Sharan

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Aug 3 09:46:16 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Platform Pic;
Entry# 2504682-0
Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 2504682-0

MGZ/Maharajganj (1 PFs)
مہاراج گنج     महाराजगंज

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Station Rd, Maharajganj, Siwan, 841238
State: Bihar

Elevation: 67 m above sea level
Zone: NER/North Eastern   Division: Varanasi

No Recent News for MGZ/Maharajganj
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 4
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 1.4/5 (8 votes)
cleanliness - poor (1)
porters/escalators - poor (1)
food - poor (1)
transportation - average (1)
lodging - poor (1)
railfanning - poor (1)
sightseeing - poor (1)
safety - poor (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 39 News Items  next>>
Mar 15 (19:36) पूर्व सीएम महामाया बाबू के नाम पर हाल्ट स्टेशन बनाई जाए (www.livehindustan.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
10391 views

News Entry# 445024  Blog Entry# 4908318   
  Past Edits
Mar 15 2021 (19:36)
Station Tag: Maharajganj/MGZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Maharajganj/MGZ  
पेज पांच के लिएसंसदसांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल ने सदन में उठाया मामलामहाराजगंज से पटना तक ट्रेन चलाने की आवाज उठाईमहाराजगंज। संवाद सूत्रप्रखंड के पटेढ़ी में पूर्व सीएम महामाया बाबू के नाम हाल्ट स्टेशन बनाने का मामला सोमवार को संसद में गूंजा। महाराजगंज के भाजपा सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल ने रेलवे संबंधी अनुदान मांग चर्चा में भाग लेते हुए अपने संसदीय क्षेत्र में रेल विकास से संबंधित कई मांगें रखी। सांसद ने पूर्व सीएम महामाया प्रसाद सिन्हा के नाम पर पटेढ़ी में हाल्ट स्टेशन बनाने की मांग रेलमंत्री से की है। उन्होंने सीवान जंक्शन से दरौंदा, महाराजगंज, मशरक होते हुए पटना तक जोड़ी डीएमयू चलाने की मांग की है। सांसद में संसद में महाराजगंज व चैनवा रेलवे स्टेशन के पास रेलवे की खाली पड़ी जमीन पर रैक यार्ड बनाने की मांग रेल मंत्री से की। उन्होंने लोकनायक जयप्रकाश की जन्मभूमि से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की कर्मभूमि तक रेल लाइन बनाने की मांग...
more...
की है। सांसद ने छपरा कचहरी से मशरक, महाराजगंज होते हुए दरौंदा तक एक जोड़ी डीएमयू चलाने की मांग रखी है। भाजपा सांसद ने एकमा स्टेशन पर पाटलिपुत्रा लखनऊ एक्सप्रेस ट्रेन, अवध असम एक्सप्रेस व आम्रपाली एक्सप्रेस के ठहराव की मांग रेल मंत्री से की है। उन्होंने शाम कौरिया स्टेशन पर गोरखपुर जंक्शन से पाटलिपुत्रा जानेवाली ट्रेन के ठहराव की मांग की है। सांसद ने राजापट्टी स्टेशन पर गोरखपुर से पाटलिपुत्रा व छपरा कचहरी से गोमतीनगर जानेवाली ट्रेन के ठहराव की मांग रखी है। सांसद ने छपरा वराणसी रेलखंड पर मांझी स्टेशन के पास भूमिगत ढाला बनाने की मांग की है। उन्होंने छपरा वराणसी रेलखंड के दोहरीकरण, विद्युतीकरण का कार्य व मांझी में सरयू नदी पर बन रहे रेल पुल का काम जल्द पूरा करवाकर रेल परिचालन शुरू कराने की मांग रेल मंत्री से की है।---------------------गलत बिजली बिल को लेकर किया प्रदर्शनमहाराजगंज। बिजली बिल में वयाप्त अनियमितता को लेकर उपभोक्ताओं ने सोमवार को बिजली कंपनी के कार्यालय पर जमकर प्रदर्शन किया। उपभोक्ता हमेशा गलत बिजली बिल आने से परेशान थे। उपभोक्ताओं ने बिजली कंपनी के एसडीओ के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उपभोक्ताओं ने बताया कि कंपनी हमेशा गलत बिजली बिल भेज रही है। वह कई बार इसकी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन कंपनी के अधिकारी बिल सुधार करने की बजाय कनेक्शन काटने में लगे हुए हैं। आवेदन देने के वावजूद बिल में सुधार नहीं हो रहा है और कनेक्शन काट दिया जा रहा है। उपभोक्ताओं ने आरोप लगाते हुए कहा कि बिजली एसडीओ जानबूझ कर समस्या का समाधान नहीं करते हैं। प्रदर्शन में जिगरावा पंचायत, भगवानपुर, इटहरी, वाजितपुर व गोरेयाकोठी पंचायत के ग्रामीण शामिल थे।
Jan 16 (22:11) दारौंदा-मशरख विद्युतीकरण का डीआरएम ने किया निरीक्षण (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
20532 views

News Entry# 433604  Blog Entry# 4847448   
  Past Edits
Jan 16 2021 (22:11)
Station Tag: Maharajganj/MGZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 16 2021 (22:11)
Station Tag: Mashrakh Junction/MHC added by Anupam Enosh Sarkar/401739
सिवान । डीआरएम विजय कुमार पंजियार एवं रेल संरक्षा आयुक्त मो. लतीफ ने शनिवार को दारौंदा-महाराजगंज-मशरख विद्युतीकरण कार्य का निरीक्षण किया। स्पेशल ट्रेन पर सवार दोनों अधिकारियों ने जगह-जगह रुक कर रेलखंड की गहराई से जांच की। इस दौरान सीआरएस ने बताया कि रेल विद्युतीकरण शुरू करने के लिए निरीक्षण किया जा रहा है। एक सप्ताह में रिपोर्ट रेल मंत्रालय को भेजी जाएगी। इसके स्वीकृति मिलने पर रेल खंड पर ट्रेन चलेगी। उन्होंने बताया कि दारौंदा-महाराजगंज-मशरख रेल खंड पर ट्रेन का परिचालन शीघ्र शुरू हो जाएगा। इसके बाद अधिकारी दारौंदा के बसवरिया टोला, उजांय, रामापाली आदि होते हुए महाराजगंज स्टेशन पहुंचे। निरीक्षण के दौरान मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार, चीफ इलेक्ट्रिकल इंजीनियर संतोष वैरवा, चीफ इंजीनियर निर्माण आशुतोष मिश्रा, सीनीयर डिविजनल इंजीनियर जितेंद्र कुमार, सीनियर सेक्शन इंजीनियर उपेंद्र सिंह, सीनियर सेक्शन इंजीनियर विपिन सिंह आदि उपस्थित थे।
दारौदा
...
more...
से मशरख तक की दूरी 42 किलोमीटर
संसू, दारौंदा (सिवान) : दारौंदा जंक्शन से मशरख तक की दूरी 42 किलोमीटर है। अब इस रेलखंड पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलने से करीब चार प्रखंड के करीब तीन सौ गांव के लोगों को सुविधा मिलेगी। पदाधिकारियों द्वारा इस रेलखंड का निरीक्षण किए जाने से लोगों में काफी उत्साह देखने को मिला।
अनुमति मिलने के बाद महाराजगंज- मशरख सवारी गाड़ी का होगा परिचालन
संस, महाराजगंज (सिवान) : छपरा-दरौंदा-सिवान-महाराजगंज-मशरख सवारी गाड़ी का परिचालन रेल मंत्रालय से स्वीकृति के बाद शुरू किया जाएगा। यह बातें डीआरएम विजय कुमार पंजियार ने महाराजगंज रेलवे स्टेशन पर पत्रकारों से कही। उन्होंने कहा कि कोविड-19 का वैक्सीन शुरू हो गया है। महाराजगंज-मशरख के बीच तीन क्रॉसिग स्टेशन बनाया गया है। इसका निरीक्षण रेल संरक्षा आयुक्त सहित अनेक इंजीनियरों की टीम द्वारा दारौंदा से मशरख तक विद्युतीकरण कार्य का निरीक्षण किया गया है। इसकी रिपोर्ट रेल मंत्रालय को सौंपी जाएगी। मंजूरी मिलने के बाद इस खंड पर इलेक्ट्रिक ट्रेन का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा।
Jan 03 (19:30) रेलवे के भी खेवनहार बनेंगे पीएम मोदी का सलाम पाए महराजगंज के रामगुलाब (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
20905 views

News Entry# 431572  Blog Entry# 4832865   
  Past Edits
Jan 03 2021 (19:30)
Station Tag: Maharajganj/MGZ added by Saurabh®/1294142

Jan 03 2021 (19:30)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Saurabh®/1294142
गोरखपुर, प्रेम नारायण द्विवेदी। किसानों को तरक्की की राह दिखाने वाले महराजगंज के रामगुलाब अब रेलवे के भी खेवनहार बनेंगे। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर आयोजित संवाद कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रशंसा पा चुके रामगुलाब से रेलवे ने संपर्क साधा है। रेलवे ने उनकी सुनहरी शकरकंद को गुजरात की मंडी तक सड़क मार्ग से कम समय में सुरक्षित पहुंचाने का भरोसा दिया है। रेलवे प्रशासन की इस पहल से न सिर्फ रामगुलाब व उनके साथ जुड़े सैकड़ों किसानों की पहुंच देश के बड़े बाजारों तक होगी, बल्कि रेलवे को अपनी आय बढ़ाने का एक जरिया भी बनेगा।
महराजगंज के वनग्राम बीट नर्सरी गांव स्थित शकरकंद के खेत में पहुंची रेलवे की टीम
लखनऊ
...
more...
मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अंबर प्रताप सिंह के मार्गदर्शन में मुख्य वाणिज्य निरीक्षक विशाल श्रीवास्तव, वाणिज्य निरीक्षक जितेंद्र कुमार और पार्सल इंचार्ज अजीत कुमार की टीम गोरखपुर से करीब 90 किमी दूर वनग्राम स्थित बीट नर्सरी गांव के शकरकंद के खेत में पहुंची जो रामगुलाब व अन्य किसानों को सहसा विश्वास नहीं हुआ। रामगुलाब ने बताया कि उन्होंने कृषक उत्पादक संगठन (एफपीओ) में 300 से अधिक किसानों को जोड़ा है। सब मिलकर सुनहरी शकरकंद की खेती कर रहे हैं।

गुजरात जाएगा महराजगंज का शकरकंद
फरवरी में उनकी फसल तैयार हो जाएगी। एक स्वयंसेवी संस्था के सहयोग से गुजरात के अहमदाबाद स्थित एक निजी फर्म से इस वर्ष 400 क्विंटल शकरकंद देने की वार्ता हुई है। फर्म ने उन्हें 25 रुपये प्रति किलो का मूल्य निर्धारित किया है। यहां फुटकर में भी 15 रुपये से अधिक कीमत नहीं मिल पा रही थी। एक तो उनका उत्पाद एक बार में ही बिक जाएगा, ऊपर से ऊंची कीमत भी मिल जाएगी। माल ढुलाई की बात आई तो किसान शांत हो गए। ऐसे में रेलकर्मियों ने किसानों के समक्ष ट्रेन से उनके उत्पाद को

किसानाें को दिया उत्पाद को समय से सुरक्षित गुजरात की मंडी तक पहुंचाने का भरोसा
अहमदाबाद तक भेजने का प्रस्ताव रखा। साथ ही नफा-नुकसान पर भी विस्तार से चर्चा की। दरअसल, पूर्वांचल के किसानों को सहूलियत प्रदान करने के लिए रेलवे बोर्ड ने सितंबर में गोरखपुर से पुणे के बीच किसान एक्सप्रेस चलाने की घोषणा की थी। लेकिन किसानों की उदासीनता और अविश्वास के चलते यह महत्वाकांक्षी ट्रेन एक माह में एक दिन भी नहीं चली। ऐसे में अब रेलवे प्रशासन ने किसान एक्सप्रेस चलाने से पहले किसानों को जागरूक करने की कवायद शुरू कर दी है।

कम खर्चे में 24 से 35 घंटे में रेलवे पहुंचाएगा किसानों का उत्पाद
जानकारों का कहना सड़क मार्ग से गुजरात तक उत्पाद पहुंचाने में पांच से सात दिन लग जाते हैं। जबकि रेलवे किसानों के उत्पादों को कम खर्चे में 24 से 35 घंटे में गुजरात की मंडियों में पहुंचा देगा। किराया भी 482 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित है। वहीं सड़क मार्ग से भेजने में करीब 800 रुपये प्रति क्विंटल पड़ जाएगा। हालांकि, ट्रेन से माल का लदान गोरखपुर या नजदीक के स्टेशन से ही होगा। खेत से स्टेशन तक माल पहुंचाने व ले जाने की जिम्मेदारी फर्म की रहेगी।

बस्ती, सिद्धार्थनगर और महराजगंज के किसानों से संपर्क साध रहा रेलवे
पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन औद्योगिक घरानों और व्यापारियों के ही नहीं बल्कि किसानों के दरवाजे पर भी पहुंचकर उनसे संपर्क साध रहा रहा है। लखनऊ मंडल के वाणिज्य निरीक्षकों की टीम बस्ती, सिद्धार्थनगर और महराजगंज के किसानों से मिलकर रेलवे की सुविधाओं के बारे में जानकारी दे रही है। दरअसल, कच्चामाल और रेलवे के पेचीदा कायदे-कानून के चलते किसान रेलवे से अपना उत्पाद भेजने का रिस्क नहीं उठाना चाहते। उत्पाद बुक करने में ही कई दिन लग जाते हैं। सामान बुक हो भी गया तो समय से गंतव्य पर उतरेगा कि नहीं कोई नहीं जानता। ऐसे में रेलवे किसानों को अपनी तरफ आकर्षित करने और विश्वास बढ़ाने के लिए अपने सिस्टम में लगातार बदलाव कर रहा है। इसके लिए रेलवे ने बिजनेस समूह तैयार किया है। समूह में गोरखपुर, सीतापुर, लखीमपुर, लखनऊ, बाराबंकी, गोंडा, बलरामपुर, अयोध्या, बहराइच, श्रावस्ती, बस्ती, संतकबीरनगर, सिद्धार्थनगर और महराजगंज सहित 14 जिले शामिल हैं।

दस किलाे से लगायत बोगी और ट्रेन भी कर सकते हैं आनलाइन बुक
अब तो रेलवे के हेल्पलाइन नंबर 139 पर भी पार्सल बुकिंग से संबंधित सारी जानकारियां मिल जा रही हैं। यही नहीं घर बैठे आनलाइन बुकिंग भी जा रही। रेल उपभोक्ता 10 किलो से लगायत 4 टन तक पार्सल की बुकिंग कर सकते हैं। उससे अधिक 20 टन तक बोगी और उससे अधिक पूरी पार्सल ट्रेन या मालगाड़ी भी बुक कर सकते हैं। फिलहाल, पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) के माध्यम से नौ पार्सल घर और नौ माल गोदाम को विकसित करने की योजना तैयार की है। फिलहाल, आनंदनगर में भी पार्सल घर खोल दिया गया है।
Jan 01 (09:32) सुविधा:महाराजगंज-मशरक रेलखंड पर जल्द चलने लगेगी इलेक्ट्रिक ट्रेन (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
21981 views

News Entry# 431252  Blog Entry# 4830221   
  Past Edits
Jan 01 2021 (09:32)
Station Tag: Mashrakh Junction/MHC added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 01 2021 (09:32)
Station Tag: Maharajganj/MGZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739
नये साल में दरौदा-महाराजगंज मशरक रेल खंड पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलेगी। इसके लिए रेलवे विभाग के अधिकारियों द्वारा युद्धस्तर पर काम कराया जा रहा है। दरौदा से मशरक तक 42 किलोमीटर की दूरी है। लगभग कार्य पूर्ण हो गया है। 30 दिसंबर को सीआरएस होना था लेकिन निर्माण कार्यों में कुछ कमी रहने की वजह से अब नये साल में सीआरएस होगा। सीआरएस कराने को लेकर अधिकारी से लेकर ठेकेदार तक सब कोई अंतिम रूप से अपने कार्यों में लगे हुए है।
क्या होगा फायदा: दरौंदा-मशरक रेलखंड के निर्माण हो जाने से रेलवे को एक और वैकल्पिक मार्ग मिल गया है। इस 42 किलोमीटर रेल मार्ग के निर्माण हो जाने से सीवान से मशरख की दूरी 30 किलोमीटर कम हो गई
...
more...
है। इस क्षेत्र की जनता को महानगरों में जाने के लिए अब सीवान या छपरा नहीं जाना पड़ेगा। उन्हें अपने निकटतम रेलवे स्टेशन से यात्रा करने की सुविधा मिलेगी। रेलवे प्रशासन के द्वारा महाराजगंज स्टेशन पर रेल यात्रियों की सुविधा के लिए दो नंबर प्लेटफाॅर्म पर जाने के लिए फुट ओवर ्रिज का निर्माण भी कराया जाएगा। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।
Oct 20 2020 (06:33) भिटौली में दौड़ी शौचालय एक्सप्रेस (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
0 Followers
16111 views

News Entry# 422004  Blog Entry# 4752850   
  Past Edits
Oct 20 2020 (06:33)
Station Tag: Maharajganj/MGZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Maharajganj/MGZ  
महराजगंज: स्वच्छता मिशन को आगे बढाने वाली शौचालय एक्सप्रेस ने भिटौली में दस्तक दे दी है। गांव में बिना टीसी व बिना टिकट वाले शौचालय एक्सप्रेस की दस्तक के बाद गांव का परिवेश बदल गया है। शौचालय एक्सप्रेस के रफ्तार भरते ही सड़कें चकाचक हो गईं हैं। ग्राम प्रधान ने अनूठी पहल कर गांव के सामुदायिक शौचालय को ट्रेन का लुक दिया।
सड़क, बिजली, स्वच्छ, पानी, आवास के अलावा घर-घर शौचालय व सार्वजनिक शौचालय से गांवों को स्वच्छ करने का भगीरथ प्रयास हो रहा है। सरकार की योजनाओं से जागरूक ग्राम प्रधान ग्रामीणों के जीवन स्तर को ऊंचा कर गांव के विकास को गति दे रहें हैं। गांव के विकास व स्वच्छता को लेकर ग्राम प्रधान की एक अनूठी पहल
...
more...
घुघली क्षेत्र के भिटौली में देखी जा रही है।
जहां ग्राम प्रधान शौचालय को ट्रेन का रूप देकर लोगों का ध्यान आकर्षित कर रही है। ग्रामीण कौतुहल वश इस शौचालय में जा रहे हैं और गांव के विकास को रफ्तार दे रहे हैं। शौचालय एक्सप्रेस चलने से गांव के चकरोड नहर व सड़कें चकाचक हो उठीं हैं हैं। घुघली क्षेत्र का भिटौली मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना में पहले स्थान पर चयनित हुआ है। गांव की ग्राम प्रधान सावित्री देवी ने शासन व प्रशासन के उम्मीदों पर खरा उतरते हुए बेहतर कार्य कर एक नजीर पेश की है। 15वें वित्त आयोग से 4.40 लाख की लागत से बेहतर शौचालय में हैंडवाश सेंटर, स्नानागार व पानी टंकी की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।
बीडीओ घुघली प्रवीण शुक्ल ने बताया कि घुघली ब्लाक के 82 गांवों में सामुदायिक शौचालय बनने हैं। भिटौली की ग्राम प्रधान ने लोगों को सामुदायिक शौचालय का उपयोग के लिए लोगों को जागरूक करने का बेहतर प्रयास किया है। यह शौचालय अन्य गांवों के लिए नजीर है।
Page#    Showing 1 to 20 of 39 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy