Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Once upon a time, there was a great king called Vikramaditya - the WAM-4 - Shashank

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Fri Jan 22 02:21:35 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

BNY/Barhni (3 PFs)
بڑھنی     बढ़नी

Track: Single Diesel-Line

Show ALL Trains
Dudhwaniya Dhanaura,Badhni
State: Uttar Pradesh


Zone: NER/North Eastern   Division: Lucknow NER

No Recent News for BNY/Barhni
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 22
Number of Originating Trains: 2
Number of Terminating Trains: 2
Rating: 3.3/5 (39 votes)
cleanliness - good (5)
porters/escalators - poor (4)
food - average (5)
transportation - good (5)
lodging - average (5)
railfanning - good (5)
sightseeing - excellent (5)
safety - good (5)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 414 News Items  next>>
Jan 07 (09:14) North Eastern Railway की लूप लाइनों पर भी दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेनें, मार्च तक पूरा हो जाएगा विद्युतीकरण का कार्य (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
27950 views

News Entry# 432201  Blog Entry# 4836573   
  Past Edits
Jan 07 2021 (09:14)
Station Tag: Nakaha Jungle/JEA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 07 2021 (09:14)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 07 2021 (09:14)
Station Tag: Barhni/BNY added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 07 2021 (09:14)
Station Tag: Nautanwa/NTV added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 07 2021 (09:14)
Station Tag: Anand Nagar Junction/ANDN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 07 2021 (09:14)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Anupam Enosh Sarkar/401739
North Eastern Railway की लूप लाइनों पर शीघ्र ही इलेक्ट्रिक ट्रेनें दौड़ेंगी। गोरखपुर-आनंदनगर-नौतनवां का विद्युतीकरण 31 मार्च तक तथा आनंदनगर-बढ़नी-गोंडा रेलमार्ग का विद्युतीकरण 31 दिसंबर तक पूरा हो जाएगा। फरवरी में गोरखपुर-नकहा जंगल तक इलेक्ट्रिक ट्रेनें चलने लगेंगी।
गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे के लूप (साइड वाली रेल लाइनें) लाइनों पर भी इलेक्ट्रिक इंजनों से ट्रेनें दौड़ेंगी। मुख्य मार्ग बाराबंकी-गोरखपुर-छपरा, गोरखपुर-भटनी-वाराणसी, गोरखपुर-कप्तानगंज-नरकिटयागंज और छपरा-बलिया-वाराणसी रेलमार्ग पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें चलाने के बाद रेलवे प्रशासन ने लूप लाइनों का भी विद्युतीकरण शुरू कर दिया है।
गोरखपुर-आनंदनगर-नौतनवा और आनंदनगर-बढ़नी-गोंडा कुल 261 किलोमीटर रेल लाइन पर विद्युतीकरण
...
more...
तेजी के साथ शुरू है। गोरखपुर-आनंदनगर-नौतनवां का विद्युतीकरण 31 मार्च तक तथा आनंदनगर-बढ़नी-गोंडा रेलमार्ग का विद्युतीकरण 31 दिसंबर तक पूरा हो जाएगा। फरवरी में गोरखपुर-नकहा जंगल तक इलेक्ट्रिक ट्रेनें चलने लगेंगी।
प्रथम चरण में गोरखपुर-आनंदनगर-नौतनवां रेलमार्ग पर फाउंडेशन के बाद खंभे लगने शुरू हो गए हैं। इस मार्ग पर गोरखपुर-नकहा जंगल तक का विद्युतीकरण तो जनवरी में ही पूरा कर लिया जाएगा। गोरखपुर-नौतनवां का कार्य पूरा हो जाने के बाद द्वितीय चरण में आनंदनगर-बढ़नी-गोंडा रूट पर कार्य में तेजी आएगी। हालांकि, इस मार्ग पर भी सर्वे के बाद फाउंडेशन का कार्य शुरू हो गया है। दरअसल, रेलवे बोर्ड ने पूर्वोत्तर रेलवे की सभी रेल लाइनों के विद्युतीकरण की संस्तुति प्रदान कर दी है।
कोरोना काल में भी 282 किमी मार्ग का विद्युतीकरण पूरा
कोरोना काल में भी विद्युतीकरण कार्य तेजी के साथ चलता रहा। भटनी-औंड़िहार सहित 282 किमी रेलमार्ग पर इलेक्ट्रिक इंजनों से ट्रेनें चलने लगी हैं। मार्च 2020 से पहले 1967 किमी रेल लाइन का विद्युतीकरण पूरा हो गया था। जानकारों के अनुसार वर्ष 2016-17 में 159.20 किमी, 2017-18 में 167.14 किमी तथा 2018-19 में 431.23 किमी रेल खण्ड का विद्युतीकरण कार्य पूरा हुआ। अभी तक 2250 किमी रेललाइन का विद्युतीकरण पूरा हो चुका है। करीब 3100 रुट किमी रेल लाइन है।
गोरखपुर के एसी शेड में शुरू है इलेक्ट्रिक इंजनों की मरम्मत
गोरखपुर में सौ लोको क्षमता वाला एसी शेड में इलेक्ट्रिक इंजनों की मरम्मत शुरू है। पूर्वोत्तर रेलवे रूट पर चलने वाले इलेक्ट्रिक इंजनों को मरम्मत और रखरखाव आदि के लिए दूसरे जोन में नहीं भेजना पड़ रहा है। इस शेड में मरम्मत होने वाले इलेक्ट्रिक इंजनों पर गोरखपुर का नाम अंकित हो रहा है। वर्ष 2007-08 में तत्कालीन रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव ने पूर्वोत्तर रेलवे में इलेक्ट्रिफिकेशन और इलेक्ट्रिक शेड की घोषणा की थी।
नई रेललाइन के साथ ही बिछने लगेंगे बिजली के तार
अब नई रेल लाइनों के साथ बिजली के तार भी बिछने लगेंगे। यानी, नई रेल लाइनों पर भी ट्रेनें इलेक्ट्रिक इंजनों से ही चलनी शुरू होंगी। नए रेलमार्ग खलीलाबाद- मेहदावल-बांसी-डुमरियागंज-उतरौला-बलराम-श्रावस्ती-भिंगा-बहराइच लगभग 240 किमी के विद्युतीकरण की भी स्वीकृति मिल गई है। करीब 270 करोड़ रुपये बजट भी आवंटित है। सहजनवां-दोहरीघाट 80 किमी और आमान परिवर्तित मार्ग इंदारा-दोहरीघाट 35 किमी के विद्युतीकरण भी स्वीकृति मिल चुकी है। इन दोनों रेलमार्गों के लिए करीब 125 करोड़ का बजट प्रस्तावित है।
इन लूप लाइनों पर पूरा हो गया है विद्युतीकरण
औंड़िहार-तरावं-नंदगंज, सीतापुर-लखीमपुर, डालीगंज-सीतापुर, गोंडा-सुभागपुर, कछवारोड से माधोसिंह, बरेली सिटी से कासगंज, मनकापुर-कटरा-अयोध्या, जलालपुर-थावे, थावे-राजपट्टी, मेंडू-कासंगंज-दरियावगंज-फर्रुखाबाद, कन्नौज से कल्याणपुर।
विद्युतीकरण के फायदे
रेलवे के खर्चों में आएगी कमी।
समय की बचत होगी, ट्रेनें बढ़ेंगी।
स्टेशनों पर बिजली की व्यवस्था।
तेल से संभावित दुर्घटनाएं खत्म।
पर्यावरण में प्रदूषण नहीं फैलेगा।
पूर्वोत्तर रेलवे में तेजी के साथ विद्युतीकरण का कार्य हो रहा है। विद्युतीकरण से जहां डीजल पर हमारी निर्भरता कम होगी और राजस्व की बचत होगी, वहीं पर्यावरण के लिए भी यह लाभकारी होगा।
- पंकज कुमार सिंह, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, पूर्वोत्तर रेलवे- गोरखपुर।

3 Public Posts - Thu Jan 07, 2021

15702 views
Jan 07 (16:51)
Rang De Basanti^   46198 blog posts
Re# 4836573-4            Tags   Past Edits
for which all locos?

14772 views
Jan 07 (17:00)
Guest: 856508ef   show all posts
Re# 4836573-5            Tags   Past Edits
रामपुर से काठगोदाम और मुरादाबाद से राम नगर लाइन पर विद्युतीकरण हो रहा है या NER इन रूटों को भूल गई शायद

11665 views
Jan 08 (01:35)
Pankaj
Pankaj0915~   409 blog posts
Re# 4836573-6            Tags   Past Edits
I don't know..but yes...now major maintenance of locos is easily done in gkp shed

9558 views
Jan 08 (11:31)
GKP LKO Section 120kmph Sucessful Trail Done
Piyush~   6821 blog posts
Re# 4836573-7            Tags   Past Edits
Yes, but abhi WAG7 hold kar rah

Rail News
8288 views
Jan 08 (11:32)
GKP LKO Section 120kmph Sucessful Trail Done
Piyush~   6821 blog posts
Re# 4836573-8            Tags   Past Edits
Good news 😍😍👍
Dec 22 2020 (19:39) बढ़नी में रेल यात्रियों के लिए बना एक करोड़ का भवन बेकार (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
4822 views

News Entry# 429550  Blog Entry# 4820379   
  Past Edits
Dec 22 2020 (19:39)
Station Tag: Barhni/BNY added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Barhni/BNY  
सिद्धार्थनगर: रेल विभाग की उदासीनता के कारण यात्रियों को सुविधा के लिए अभी भी बढ़नी स्टेशन के बाहर जाना पड़ रहा है। क्योंकि यहां एक करोड़ के ऊपर की लागत से बने मल्टीफंक्शनल कांप्लेक्स (एमएफसी) के संचालन में कोई भी रुचि नहीं ली जा रही है। एमएफसी भवन वर्षों से धूल फांक रहा है। यात्री सुविधाओं के लिए किए गए बड़े-बड़े वादे अब झूठे लगने लगे हैं।
सांसद जगदंबिका पाल के प्रयास से 2014 में तत्कालीन रेलमंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे ने गोरखपुर-गोंडा रेल खंड के बढ़नी रेलवे स्टेशन पर एक करोड़ सात लाख की लागत से मल्टीफंक्शन कांप्लेक्स का शिलान्यास किया था। स्टेशन के निकट एक ही छत के नीचे कई सुविधाएं मुहैया कराने का वादा भी किया गया। 2016 में कांप्लेक्स
...
more...
बनकर तैयार हो गया। इसमें पांच कमरे एक हाल, शौचालय, स्नानघर, फूड स्टाल, रेस्त्रां, बुक स्टाल, एटीएम, मेडिसिन, पार्किंग स्पेस आदि की व्यवस्था की गई, लेकिन संचालन न होने से भवन जर्जर होता जा रहा है। ऐसा नहीं है कि रेलवे द्वारा निविदा नहीं निकाला गया। कांप्लेक्स बनने के बाद ही जून 2016 में रेलवे के द्वारा निविदा निकाला गया था। कितु शुरुआती रेट बहुत अधिक होने के कारण किसी के द्वारा निविदा नहीं डाला गया। इसके बाद आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने बढ़नी में व्यापारियों के साथ बैठक की गई। बैठक में भी रेट को लेकर बात नहीं बन सकी। तब से लेकर आज तक रेलवे के द्वारा कोई निविदा नहीं निकाली गई। कुछ इच्छुक लोगों ने लखनऊ व अन्य जगह संपर्क कर निविदा निकालने की बात भी कही। तब भी रेलवे की तरफ से इसको लेकर उदासीनता ही बरती जा रही है। नेपाल के सांसद अभिषेक प्रताप शाह, कृष्णानगर के मेयर रजत शाह ,भाजपा नेता राजू शाही, सुनील अग्रहरी, संजय जयसवाल, राजकुमार अग्रहरि आदि ने कांप्लेक्स को जल्द से जल्द चालू कराने की मांग की है। उच्च अधिकारियों से बात किए बिना कांप्लेक्स को चालू कराने के संबंध में कुछ बता पाना संभव नहीं है।
महेश गुप्ता, जनसंपर्क अधिकारी पूर्वोत्तर रेलवे बढ़नी में मल्टीफंक्शनल मेरे प्रयास से बना था। इसका संचालन रेल अधिकारियों को कराना चाहिए। इसके लिए रेल मंत्री से वार्ता करुंगा और यथाशीघ्र इसके संचालन की व्यवस्था कराई जाएगी।
जगदंबिका पाल, सांसद डुमरियागंज
Dec 22 2020 (12:39) गोरखपुर खिचड़ी मेला के लिए चलेंगी आधा दर्जन स्पेशल पैसेंजर ट्रेनें Gorakhpur News (www.jagran.com)
New/Special Trains
NER/North Eastern
0 Followers
15876 views

News Entry# 429521  Blog Entry# 4819954   
  Past Edits
Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Deoria Sadar/DEOS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Kaptanganj Junction/CPJ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Basti/BST added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Barhni/BNY added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Nautanwa/NTV added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Nakaha Jungle/JEA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Dec 22 2020 (12:40)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Anupam Enosh Sarkar/401739
खिचड़ी मेला के लिए गोरखपुर और नकहा से नौतनवां बढऩी बस्ती कप्तानगंज और देवरिया रेलमार्ग पर आधा दर्जन स्पेशल पैसेंजर ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। स्टेशन प्रबंधन ने ट्रेनों का प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय को भेज दिया है।
गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर के खिचड़ी मेला में गोरक्षनाथ मंदिर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए राहत भरी खबर है। गोरखपुर और नकहा से नौतनवां, बढऩी, बस्ती, कप्तानगंज और देवरिया रेलमार्ग पर आधा दर्जन स्पेशल पैसेंजर ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। स्टेशन प्रबंधन ने ट्रेनों का प्रस्ताव तैयार कर मुख्यालय को भेज दिया है। रेलवे प्रशासन की हरी झंडी मिलते ही स्टेशन प्रबंधन ट्रेनों के संचालन को लेकर तैयारी शुरू कर देगा। स्पेशल ट्रेनें कोविड-19 प्रोटोकाल के तहत ही चलेंगी।
गोरखपुर
...
more...
और नकहा से नौतनवां, बढऩी व बस्ती रूट पर चलाई जाएंगी ट्रेनें
स्टेशन डायरेक्टर आशुतोष गुप्ता ने वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक को पत्र लिखकर खिचड़ी मेला ही नहीं मौनी अमावस्या, बसंत पंचमी और महाशिवरात्रि पर्व पर नौतनवां-गोरखपुर, बलरामपुर-बढऩी- गोरखपुर, बेतिया- कप्तानगंज- गोरखपुर, छपरा- देवरिया- गोरखपुर और गोंडा- बस्ती- सहजनवां रूट पर स्पेशल के रूप में पैसेंजर ट्रेनों को संचालित करने का अनुरोध किया है। जानकारों के अनुसार ट्रेनों को चलाने की अनुमति मिलने के बाद जनरल टिकटों की बिक्री और निर्धारित स्टेशनों के काउंटरों को खोलने की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाएगी। जनरल टिकटों की बिक्री के लिए पहले से ही सिस्टम तैयार है। हालांकि, रेलवे बोर्ड ने अभी भारतीय रेलवे स्तर पर पैसेंजर ट्रेनों को चलाने और जनरल टिकटों की बुकिंग पर रोक लगाई हुई है।
अभी बंद है पैसेंजर ट्रेनों का संचालन
दरअसल, कोरोना काल में नौतनवां, बढऩी, बस्ती, कप्तानगंज और देवरिया रूट पर पैसेंजर और डेमू ट्रेनों का संचालन बंद हैं। इन मार्गों पर स्पेशल के नाम पर गिनती की लंबी दूरी की ट्रेनें ही चल रही हैं। यह ट्रेनें भी छोटे स्टेशनों और हाल्टों पर नहीं रुकती हैं। ऐसे में प्रत्येक वर्ष खिचड़ी पर्व पर बाबा गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाने वाले लाखों श्रद्धालुओं की परेशानी बढ़ गई है। उनकी समझ में नहीं आ रहा कि इसबार बाबा को खिचड़ी कैसे चढ़ेगी। खैर, पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए लोकल रूट पर चलने वाली पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।
रेलवे स्टेशनों पर स्थापित होगी हेल्प डेस्क और हेल्थ बूथ
श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए गोरखपुर और नकहा स्टेशन पर अतिरिक्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। ट्रेनों और अन्य साधनों की जानकारी के लिए हेल्प डेस्क तथा हेल्थ बूथ स्थापित होगी। दोनों स्टेशनों पर अतिरिक्त टिकट काउंटर खोले जाएंगे। गोरखपुर में उत्तरी द्वार का टिकट काउंटर भी खुल जाएगा। स्टेशनों पर यात्रियों को ट्रेनों के अलावा अन्य आवश्यक सूचनाएं मिलती रहेंगी। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए दिशा-निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाएगा। इसके लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की जाएगी।
किसान आंदोलन के चलते निरस्त रहेगी जननायक स्पेशल
पंजाब में चल रहे किसान आंदोलन के चलते जननायक एक्सप्रेस दो दिन और निरस्त रहेगी। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार 22 दिसंबर को चलने वाली 05211 दरभंगा-अमृतसर तथा 24 दिसंबर को चलने वाली 05212 अमृतसर-दरभंगा स्पेशल एक्सप्रेस नहीं चलेगी। इसके अलावा कुछ ट्रेनों का मार्ग परिवर्तन भी किया गया है।
Dec 13 2020 (08:16) Indian Railways: अधूरी रह गई काठमांडू तक पहली ट्रेन चलाने की हसरत (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
3997 views

News Entry# 428281  Blog Entry# 4811298   
  Past Edits
Dec 13 2020 (08:16)
Station Tag: Barhni/BNY added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Barhni/BNY  
गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे की काठमांडू तक पहली ट्रेन चलाने की हसरत अधूरी रह गई। रेल बजट में घोषणा के बाद भी बढ़नी से काठमांडू तक सर्वे कार्य पूरा नहीं हो पाया। सर्वे कार्य भारतीय क्षेत्र की सीमा में ही सिमट कर रह गया। पड़ोसी मुल्क नेपाल में भारतीय ट्रेन चलाने की योजना में पूर्व मध्य रेलवे ने बाजी मारी ली है। भारत सरकार की पहल पर नेपाल ने रक्सौल से काठमांडू तक 136 किमी रेल लाइन बिछाने की अनुमति प्रदान कर दी है। जिसमें 42 किमी रेललाइन भूमिगत बनेगी।
चीन भी नेपाल में चलाना चाहता है अपनी ट्रेन
नेपाल
...
more...
सरकार के संबंधित अधिकारियों ने रेल लाइन बिछाने के लिए भारत को डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने के लिए भी अनुमति प्रदान कर दी है। कोंकण रेलवे को सर्वे और रेल लाइन बिछाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। दरअसल, चीन नेपाल में रेल लाइनों का जाल बिछाना चाह रहा था। इसके लिए वह नेपाल सरकार पर लगातार दबाव बनाता रहा है। लेकिन भारत सरकार ने उसकी कोशिशों को कम करते हुए नेपाल से रिश्तों को और प्रगाढ़ करने की नींव तैयार कर दी है। जानकारों का कहना है कि चीन की रेल लाइन तकनीकी भारतीय रेलवे को नेपाल में ट्रेन चलाने का रास्ता खोल दिया है। चीन की रेल लाइन की चौड़ाई 1435 एमएम होती है। जबकि भारतीय रेल लाइन की चौड़ाई 1676 एमएम होती है। जो पहाड़ी क्षेत्रों में चीन के मुकाबले काफी मजबूत और सुरक्षित साबित होगी। फिलहाल, रक्सौल से काठमांडू के बीच ट्रेन चलाने के पहले सरकार ने जयनगर से नेपाल के जनकपुर के बीच डेमू ट्रेन चलाने की योजना तैयार कर ली है। रेल मंत्रालय ने एक डेमू ट्रेन नेपाल सरकार को सौंप दी है।
2015 में हुई थी बढ़नी से काठमांडू के बीच सर्वे के लिए हुई थी घोषणा
वर्ष 2015-16 के रेल बजट में तत्कालीन रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के बढ़नी स्टेशन से काठमांडू के बीच 359 किमी रेल लाइन बिछाने के लिए सर्वे कार्य की घोषणा की थी। इसके लिए उन्होंने 0.54 करोड़ रुपये का बजट भी स्वीकृत किया था। वर्ष 2016 में पूर्वोत्तर रेलवे के इंजीनियरों ने बढ़नी से नेपाल सीमा तक भारतीय क्षेत्र का सर्वे पूरा कर लिया। रिपोर्ट रेलवे बोर्ड को भेज दी गई। साथ ही रेलवे प्रशासन ने सर्वे कार्य की अनुमति के लिए 16 मई 2016 से 26 जुलाई 2018 तक छह बार नेपाल सरकार को पत्र लिखा। लेकिन नेपाल ने कोई रुचि नहीं दिखाई। रेलवे बोर्ड से भी हरी झंडी नहीं मिली। इसी बीच वर्ष 2018 में भारत और नेपाल सरकार ने रक्सौल से काठमांडू के बीच रेल लाइन बिछाने के लिए वार्ता शुरू कर दी। जानकारों का कहना है कि रक्सौल से काठमांडू के बीच ट्रेन संचालन शुरू होने के बाद दूसरे चरण में बढ़नी से काठमांडू रूट पर भी रेल लाइन बिछाई जा सकती है। फिलहाल, बढ़नी-काठमांडू सर्वे कार्य की योजना ठंडे बस्ते में है।
सर्वे से आगे नहीं बढ़ पाईं सोनौली, भैरहवा व नेपालगंज रेल लाइन योजना
भारत सरकार सत्तर के दशक से ही नेपाल को रेल लाइन से जोड़ने की योजना बना रहा है। लेकिन योजनाएं कागजों से बाहर नहीं निकल पा रहीं। अप्रैल 1978 में नौतनवा से सोनौली और सोनौली से भैरहवा तक रेल लाइन बिछाने की घोषणा की। योजना सर्वे से आगे नहीं बढ़ पाई। सरकार ने वर्ष 2006 में फिर से भारत और नेपाल में स्थित नेपालगंज को जोड़ने के लिए 12 किमी रेल लाइन तथा नौतनवा से भैरहवा तक 15 किमी रेल लाइन बिछाने की योजना तैयार की। बजट भी स्वीकृत कर दी गई। लेकिन यह योजना भी सर्वे तक ही सिमट कर रह गई। जानकारों के अनुसार यह योजना रेट आफ रिटर्न्स (आरओओ) में फंसकर रह गई।
Nov 04 2020 (11:23) सख्‍त होगी रेलवे स्‍टेशनों की सुरक्षा, NER के 25 स्टेशनों का तैयार हुआ सिक्योरिटी प्लान (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
60787 views

News Entry# 423789  Blog Entry# 4766843   
  Past Edits
Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Mailani Junction/MLN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Nanpara Junction/NNP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Bahraich/BRK added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Barhni/BNY added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Nautanwa/NTV added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Anand Nagar Junction/ANDN added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Lakhimpur/LMP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Aishbagh/ASH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Sitapur Junction/STP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Badshahnagar/BNZ added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Manikpur Junction/MKP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Nov 04 2020 (11:27)
Station Tag: Gorakhpur Junction/GKP added by Anupam Enosh Sarkar/401739
रेलवे स्‍टेशनों की सुरक्षा व्‍यवस्‍था सख्‍त होने जा रही है। NER के मानिकपुर बादशाहनगर सीतापुर ऐशबाग लखीमपुर में सीसी कैमरे लगाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आनंद नगर नौतनवां बढऩी बहराइच बलरामपुर नानपारा और मैलानी में भी कैमरे लगाने की योजना है।
गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे के स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था और चाकचौबंद होगी। चारों तरफ दीवार चलाकर सुरक्षित किया जाएगा। यात्रियों का प्रवेश सिर्फ गेट से ही होगा। जहां एक से अधिक गेट हैं, उन्हें बंद किया जाएग। सीसी कैमरों से एक-एक यात्रियों पर नजर रखी जाएगी। इसके लिए रेलवे सुरक्षा बल ने स्टेशन सिक्योरिटी प्लान तैयार किया है। लखनऊ मंडल ने गोरखपुर और लखनऊ सहित 25 स्टेशनों की सूची तैयार कर ली है। स्टेशनों के चारो तरफ चलेंगी
...
more...
दीवारें, सिर्फ गेट से मिलेगा प्रवेश गोरखपुर और लखनऊ जंक्शन पर पहले से ही एकीकृत सुरक्षा प्रणाली लागू है। गोरखपुर में 67 और लखनऊ में 49 सीसी कैमरे लगे हैं। गेटों पर मेटल डिटेक्टर और बैगेज स्कैनर लगाए गए हैं। गोंडा में 40, बस्ती में 37 व खलीलाबाद में 31 कैमरे लगे हैं। मानिकपुर, बादशाहनगर, सीतापुर, ऐशबाग, लखीमपुर में सीसी कैमरे लगाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आनंद नगर, नौतनवां, बढऩी, बहराइच, बलरामपुर, नानपारा और मैलानी में भी कैमरे लगाने की योजना है। इन स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था एकदम पुख्ता होगी। स्टेशन यार्ड के खुले भाग पर बाउंड्रीवाल चलाई जाएगी। ताकि अनधिकृत यात्रियों और पशुओं के प्रवेश पर अंकुश लग सके। गोरखपुर जंक्शन को भी धर्मशाला और असुरन चौराहा की तरफ दीवार चलाकर पूरी तरह बंद कर दिया जाएगा। इसके लिए प्रस्ताव भी तैयार हो चुका है। महिला यात्रियों को सुरक्षा का भरोसा दिला रही मेरी सहेली दीपावली और छठ पर्व में अकेले रेल यात्रा करने वाली महिलाओं के लिए राहत भरी खबर है। महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए रेलवे सुरक्षा बल ने मेरी सहेली नाम की सुरक्षा टीम बनाई है। यह गोरखपुर से बनकर चलने वाली गोरखधाम, कोचीन और कुशीनगर व इस रूट से होकर गुजरने वाली वैशाली, सप्तक्रांति और बिहार संपर्क क्रांति सहित सभी प्रमुख ट्रेनों में महिला यात्रियों से संपर्क कर रही है, सुरक्षा का भरोसा भी दिला रही है। टीम सुरक्षा से संबंधित हेल्प लाइन नंबर 182 का कार्ड भी उपलब्ध करा रही है।  सहायक सुरक्षा आयुक्त रवि शंकर ङ्क्षसह के अनुसार छठ पर्व तक यह अभियान चलाया जाएगा।
ड्रोन कैमरे से होगी गोरखपुर, गोंडा और लखनऊ जंक्शन की निगरानी
गोरखपुर, गोंडा और लखनऊ जंक्शन की निगरानी अब ड्रोन कैमरे से होगी। रेलवे सुरक्षा बल लखनऊ मंडल ने सुरक्षा को और पुख्ता करने के लिए ड्रोन कैमरों का प्रस्ताव और बजट तैयार कर लिया है। मुख्यालय गोरखपुर ने भी अपनी संस्तुति प्रदान कर दी है।
स्टेशन सिक्योरिटी प्लान तैयार किया गया है। प्लान पर कार्य शुरू है। स्थिति सामान्य होने तक सभी प्रमुख रेलवे स्टेशन पूरी तरह सुरक्षित कर दिए जाएंगे। 
- अमित प्रकाश मिश्रा, सीनियर कमांडेंट
- रेलवे सुरक्षा बल
Page#    Showing 1 to 20 of 414 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy