Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Everyone knows if a train is running late, ONLY RailFans know WHY it is late

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Oct 28 22:20:40 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 1895778-0
Close-up; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 2361017-0


SUW/Sukhisewaniyan (3 PFs)
     सूखी सेवनियाँ

Track: Triple Electric-Line

Show ALL Trains
Sukhi Sewaniyan, Bhopal
State: Madhya Pradesh

Elevation: 507 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.1/5 (34 votes)
cleanliness - excellent (5)
porters/escalators - good (3)
food - good (4)
transportation - good (4)
lodging - average (4)
railfanning - excellent (5)
sightseeing - excellent (4)
safety - good (5)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 20 News Items  
Yesterday (15:28) Bhopal Railway News: भोपाल रेल मंडल ने कबाड़ से कमाए 34.76 करोड़ रुपये (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
6460 views

News Entry# 468628  Blog Entry# 5104479   
  Past Edits
Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Sukhisewaniyan/SUW added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Kalhar/KAH added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Sorai/SORI added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Powarkheda/PRKD added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Nishatpura Junction Cabin/NSZ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Budni/BNI added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Barkhera/BKA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Misrod/MSO added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Sant Hirdaram Nagar/SHRN added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Vidisha/BHS added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: HabibGanj/HBJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 27 2021 (15:28)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल रेल मंडल ने अनुपयोगी सामग्री बेचने में जागरुकता दिखाई है। बीते एक वर्ष में मंडल ने कबाड़ बेचकर 34.76 करोड़ रुपये कमाए हैं। इस राशि से मंडल के भोपाल, हबीबगंज समेत सभी स्टेशनों पर यात्री सुविधा बढ़ाई जाएगी।
भोपाल रेल मंडल के अधिकारियों ने बताया कि मंडल के स्टेशनों, गोदामों, रेलवे ट्रैक के किनारे, कोचिंग डिपो और कार्यालयों में पुराने, उपयोगहीन उपकरण वर्षों से रखे थे। इनमें कोच से निकलने वाला स्क्रैप बढ़ी मात्रा में था, जिसे नियमानुसार बेच दिया गया है।
कबाड़ बेचने के फायदे
-
...
more...
भोपाल रेल मंडल के दफ्तर, गोदाम में जहां स्क्रैप रखा था वह जगह बेकार पड़ी थी। उसका सदुपयोग नहीं हो पा रहा था। कबाड़ से स्थानीय स्तर पर काम करने वाले रेलकर्मियों को खतरा भी था। अब जगह खाली हो गई है, रेलवे का उसका दूसरे क्षेत्र में उपयोग करने की योजना बना रहा है।
- स्थानीय स्तर पर काम करने वाले रेलकर्मियों को भी खतरा नहीं होगा, क्योंकि कबाड़ हटा दिया गया है।
कबाड़ से मिले राजस्व से बढ़ाई जाएंगी ये यात्री सुविधाएं
रेलवे ट्रैक के सुधार कार्यों में गति आएगी। रेलवे स्टेशनों पर पेयजल व्यवस्था में सुधार होगा। नालियों का सुधार किया जाएगा। कवर्ड नालियों के निर्माण से स्टेशन व रेलवे कालोनियों में मच्छरों का प्रकोप कम होगा। निशातपुरा रेलवे स्टेशन को पुन: विकसित किया जाएगा। इसका काम चल रहा है। इस काम में तेजी लाई जाएगी। भोपाल, विदिशा, होशंगाबाद, बीना, इटारसी, संत हिरदाराम नगर क्षेत्रों से गुजरने वाले रेलवे ट्रैक को बाउंड्रीवाल बनाकर कवर्ड किया जाएगा। आने वाले समय में मिसरोद, बरखेड़ा, बुधनी, पवारखेड़ा, पवई, सौराई, कल्हार, सूखीसेवनिया जैसे छोटे स्टेशनों पर बैठक व्यवस्था और शेड का विस्तार किया जाएगा। इन स्टेशनों पर और भी यात्री सुविधाओं को बढ़ाया जाएगा।
Oct 26 (17:15) Bhopal Railway News: कोरोना काल में बंद एक भी पैसेंजर ट्रेनें नहीं चलाई, छोटे स्‍टेशनों के रहवासी निराश (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
5190 views

News Entry# 468565  Blog Entry# 5103824   
  Past Edits
Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Sukhisewaniyan/SUW added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Budni/BNI added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Barkhera/BKA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Powarkheda/PRKD added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Obaidulla Ganj/ODG added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Mandideep/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Nishatpura Junction Cabin/NSZ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 26 2021 (17:15)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। पिछले साल मार्च में कोरोना की दस्‍तक के बाद बंद की गई एक भी पैसेंजर ट्रेन को रेलवे ने अब तक बहाल नहीं किया है। इसके कारण मजदूर, किसान और निम्न आय वाले लोगों का गांवों व कस्बों से शहरों तक आना-जाना मुश्किल हो गया है। खासकर किसान, मजदूर वर्ग के लोग शहरों से कटे हुए हैं या फिर निजी बसों व साधनों से अधिक रुपये खर्च कर शहर पहुंच रहे हैं। कोरोना संक्रमण के चलते मार्च 2020 में मेल, एक्सप्रेस व पैसेंजर ट्रेनों को एक साथ बंद कर दिया था। इसमें से रेलवे ने मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों को तो बहाल कर दिया है, लेकिन भोपाल मंडल से गुजरने वाली 25 से अधिक पैसेंजर ट्रेनों को चालू नहीं किया है। ये वे ट्रेनें थी जो छोटे-छोटे स्टेशनों पर ठहराव लेकर चलती थीं। इनका किराया मामूली था, इनमें निम्न आय वर्ग के यात्री सफर करते थे। अप-डाउनरों के...
more...
लिए ये ट्रेनें वरदान थीं, जिन्हें रेलवे चालू नहीं कर रहा है।
मेल-एक्सप्रेस चालू की, लेकिन छोटे स्टेशनों पर नहीं ठहरती
रेलवे ने कोरोना संक्रमण के दौरान बंद की मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों को तो चालू कर दिया है, लेकिन इनमें से एक भी ट्रेन निशातपुरा, मंडीदीप, मिसरोद, औबेदुल्लागंज, पवारखेड़ा, बरखेड़ा, बुधनी, सूखीसेवनिया जैसे स्टेशनों पर नहीं ठहरती हैं। ये ऐसे स्टेशन हैं जहां से रोजाना दर्जनों लोग शहरों के तक आना-जाना करते थे। इनका नुकसान हो गया है।
अप-डाउनर्स पर ज्यादा मार
पैसेंजर ट्रेनों में किराया कम होता था। ये प्रत्येक छोटे स्टेशन पर ठहराव लेकर चलती थीं। इसलिए इनमें अप-डाउनर बड़ी संख्या में सफर करते थे। ये गरीबों की ट्रेनें कहलाती थीं, क्योंकि किराया सबसे कम लगता था। अप-डाउनर एसोसिएशन के उपाध्यक्ष अरुण अवस्थी का कहना है कि रेलवे के अधिकारियों को सभी समस्याएं बार-बार बता चुके हैं। कोई सुनवाई करने के लिए तैयार ही नहीं है। पैसेंजर जैसी ट्रेनों को बंद करके रखा है।
इन मार्गों पर चलती थी पैसेंजर ट्रेनें
भोपाल से उज्जैन, इंदौर, दिल्ली, नागपुर, इटारसी, भुसावल, पिपरिया के लिए पैसेंजर ट्रेनें मिलती थीं। कोरोना के पहले तक इनकी संख्या 25 से अधिक थी। ये भोपाल मंडल के संबंधित स्टेशनों से होकर गुजरती थीं।
रेलवे का तर्क
रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि पैसेंजर ट्रेनों की जगह मेमू ट्रेनें चलाईं जाएंगी। ये ट्रेनें अधिक गति से चलेंगी, जो छोटे-छोटे स्टेशनों पर कम समय में ठहरेंगी और जल्द गति पकड़ लेंगी। इन्हें मंडल के एक से दूसरे स्टेशनों के बीच चलाया जाएगा। एक मंडल से दूसरे मंडल के बीच भी ये ट्रेन चलाई जा सकती है। आम यात्रियों का कहना है कि मेमू ट्रेन से काम नहीं चलने वाला है, क्योंकि ये कम दूरी के लिए होंगी। जबकि पैसेंजर ट्रेनें लंबी दूरी तक चलती थीं।
Jul 25 (12:34) Jabalpur Railway News: रेल संचालन में कई महत्वपूर्ण कार्यों को कर सुरक्षित रेल संचालन को दिया बढ़ावा (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
48448 views

News Entry# 460253  Blog Entry# 5024299   
  Past Edits
Jul 25 2021 (12:39)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Salhana/SLHA added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Obaidulla Ganj/ODG added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Mandideep/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Bhadbhadaghat/BVB added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Sukhisewaniyan/SUW added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Bheraghat/BRGT added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Kachhpura/KEQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Khurai/KYE added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Katangi Khurd/KTKD added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Singrauli/SGRL added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: New Katni Junction/NKJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 25 2021 (12:34)
Station Tag: Bina Malkhedi Junction/MAKR added by Adittyaa Sharma/1421836
जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। सुरक्षित रेल संचालन के लिए पश्चिम मध्य रेल अहम भूमिका निभाता है। कोरोना महामारी की दूसरी लहर की कठिन चुनौतियों के बावजूद पश्चिम मध्य रेल यातायात संचालन में यात्री गाड़ी और मालगाड़ी की क्षमता को बढ़ाने के लिए सरंक्षा से संबंधित कई महत्वपूर्ण कार्यों पर अधिक ध्यान दिया है। पश्चिम मध्य रेल द्वारा माह जून 2021 में रेलवे संचालन की सरंक्षा को बढ़ावा देने के लिए कई महत्वपूर्ण कार्य को तेज गति से पूरा किया है।
यह किए गए कार्य : पमरे ने जून माह में 3 मनाव सहित एलसी गेटों को बंद किया। इस प्रकार पमरे ने अप्रैल माह से जून माह तक 8 एलसी गेटों को बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही कोटा मंडल पर
...
more...
2 एलसी गेटों पर मैकेनिकल लिफ्टिंग को बदलकर पॉवर ऑपरेटेड लिफ्टिंग बैरियर लगाया गया है। जिससे सेक्शन की क्षमता बढ़ेगी और रेल संचालन में सरंक्षा के साथ गति में वृद्धि होगी। साथ ही साथ सरंक्षा को गति प्रदान करते हुए जून माह में जबलपुर और भोपाल मंडल ने एक-एक रोड अंडर ब्रिज का निर्माण कार्य पूरा किया गया है। इस साल पमरे ने अभी तक 3 रोड अंडर ब्रिज बनाकर कार्य पूरा किया है। वहीं पुराने ब्रिजों को रखरखाव या बदलते हुए जबलपुर मंडल ने जून में एक ब्रिज का कार्य किया। इस प्रकार पमरे ने अब तक अप्रैल से जून तक 11 ब्रिजों का रिहैबिलिटेशन किया है।
इलेक्ट्रानिक इंटरलॉकिंग का कार्य : नई आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए जून माह में 3 स्टेशनों पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग का कार्य किया गया है। कटनी-सिंगरौली रेल खंड में दोहरीकरण कार्य के दौरान 63 रुटों पर कटंगी खुर्द स्टेशन और न्यू कटनी जंक्शन में यार्ड रिमॉडलिंग को जोड़ने के लिए आरआरआई इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग कार्य पूर्ण किया। इसी प्रकार मालखेड़ी-खुरई के बीच तीसरी लाइन के कार्य को मालखेड़ी स्टेशन से जोड़ने के लिए इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग कर पूरा किया गया। ट्रेक के संचालन की विश्वनीयता को बढ़ाने के लिए पमरे ने इस साल अभी तक 8 ब्लॉक सेक्शनों पर ड्यूल बीपीएसी, एक्सल काउंटर का कार्य पूरा कर लिया है।
सिंगल लाइन में ड्यूल बीपीएसी भोपाल मंडल के शिवपुरी-कुरलसी सेक्शन रेलखंड पर और इसके साथ डबल लाइन में भी ड्यूल बीपीएसी जबलपुर मंडल के जैतवारा-सगमा आईबीएस सेक्शन कछपुरा-भेड़ाघाट, आईबीएस सेक्शन और भोपाल मंडल के सुखी सेवाईया-भदभदाघाट आईबीएस सेक्शन एवं मण्डीदीप-ओबेदुल्लागंज, आईबीएस सेक्शन में लगाकर ट्रेक की क्षमता को बढ़ाया गया। इसके अलावा रेल संचालन में सरंक्षा के लिए फायर अलार्म सिस्टम का प्रावधान बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा है। इस प्रकार पमरे ने इस वर्ष अभी तक 07 फायर अलार्म सिस्टम लगा दिया है। जबलपुर मण्डल में कटंगीखुर्द-सल्हाना और कटंगी खुर्द स्टेशन पर सेंट्रल एवं बी केबिन में प्रावधान किया गया है।
Jul 13 (17:52) Bhopal Railway News: निशातपुरा रेलवे स्टेशन पर अगले एक साल में बढ़ेंगी यात्री सुविधाएं (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
16384 views

News Entry# 459050  Blog Entry# 5013310   
  Past Edits
Jul 13 2021 (17:52)
Station Tag: Misrod/MSO added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 13 2021 (17:52)
Station Tag: Sukhisewaniyan/SUW added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 13 2021 (17:52)
Station Tag: Sant Hirdaram Nagar/SHRN added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 13 2021 (17:52)
Station Tag: HabibGanj/HBJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 13 2021 (17:52)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 13 2021 (17:52)
Station Tag: Nishatpura Junction Cabin/NSZ added by Adittyaa Sharma/1421836
Bhopal Railway News: भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी में भोपाल, हबीबगंज और संत हिरदाराम नगर स्टेशन के बाद निशातपुरा चौथा बड़ा स्टेशन होगा। यहां अगले एक साल में यात्री सुविधाएं बढ़ा दी जाएंगी। अभी प्लेटफार्म के विस्तार का काम चल रहा है। इसके बाद दोनों तरफ मुख्य सड़क तक पहुंचने के लिए एप्रोच रोड तैयार होंगी। परिसर में रात्रिकालीन प्रकाश व्यवस्था को और मजबूत किया जाएगा। सबसे बड़ा काम फुट ओवरब्रिज बनाने का होगा। अभी स्टेशन पर फुट ओवरब्रिज नहीं है। इस वजह से यात्री एक से दूसरी ओर आने—जाने में जान जोखिम में डालते हैं। रेलवे ने पहले ही काम शुरू कर दिया था, लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से प्रभावित हुआ है। अब स्थिति सामान्य हो रही है, इसलिए काम की रफ्तार बढ़ाने करने की योजना है। आने वाले समय में निशातपुरा रेलवे स्टेशन का महत्व बढ़ेगा। यह मुख्य स्टेशनों में गिना जाएगा।
निशातपुरा
...
more...
को जल्द विकसित करना इसलिए जरूरी
निशातपुरा एक तरह से जंक्शन है, लेकिन रेलवे ने अभी जंक्शन का दर्जा नहीं दिया है। असल में इस स्टेशन से उज्जैन, बीना और भोपाल के लिए ट्रेनें गुजरती हैं। मतलब इस स्टेशन से तीन दिशाओं में ट्रेनें चलाई जा रही हैं। नई दिल्ली, गोरखुपर, प्रयागराज से बीना होकर आने वाली जो ट्रेनें भोपाल नहीं आती, उन्हें सीधे निशातपुरा से होकर उज्जैन-इंदौर के रास्ते चलाया जा रहा है। लेकिन कुछ ट्रेनें ऐसी भी हैं, जिनका स्टॉपेज भोपाल स्टेशन पर है इसलिए ऐसी ट्रेनों को पहले भोपाल लाना पड़ता है। फिर यहां इंजन बदले जाते हैं और ट्रेनें फिर वापस निशातपुरा से होकर इंदौर-उज्जैन के रास्ते आगे के लिए चलती हैं। इसी तरह इंदौर-उज्जैन के रास्ते बीना होकर अन्य दिशाओं में जाने वाली कुछ ट्रेनों को निशातपुरा से सीधे निकाल दिया जाता है, लेकिन जिन ट्रेनों का भोपाल स्टेशन पर ठहराव है, उन्हें भोपाल लाना पड़ता है। फिर इंजन बदलकर निशातपुरा के रास्ते चलाना पड़ता है।
अधिकारियों की मानें तो ट्रेनों के इंजन बदलने की प्रक्रिया में 30 से 45 मिनट लगते हैं। तब तक इंजनों के मूवमेंट से भोपाल स्टेशन की लूप लाइनें व मेन लाइनें व्यस्त हो जाती हैं। जिन ट्रेनों के इंजन बदले जाते हैं, वे तो प्रभावित होती ही हैं लेकिन उस दौरान जो ट्रेनें भोपाल से होकर गुजरती हैं उन्हें भी कई बार रोकना पड़ता है। इस तरह हजारों यात्री प्रभावित होते हैं। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि इस प्रभाव से यात्रियों को बचाने के लिए निशातपुरा रेलवे स्टेशन को विकसित करना बहुत जरूरी हो गया है। अधिकारियों का कहना है कि इस स्टेशन को विकसित करने के बाद इंदौर से बीना और बीना से इंदौर रेल मार्ग पर निशातपुरा जाने वाली उन ट्रेनों को भोपाल लाने के बजाय निशातपुरा में ही ठहराव देंगे। ऐसा करने से यात्रियों का भी समय बचेगा और रेलवे की परेशानी भी कम होगी।
इन स्टेशनों को भी विकसित करने की जरूरत
मिसरोद : यह हबीबगंज से पांच किलोमीटर दूर इटारसी रेल मार्ग पर है। यह स्‍टेशन होशंगाबाद रोड, कटारा हिल्स, एम्स, बीयू, बागसेवनिया, 11 मील, शाहपुरा क्षेत्र के रहवासियों के लिए नजदीक पड़ता है। आने वाले समय में इस स्टेशन को विकसित कर यहां कुछ ट्रेनों का ठहराव किया जा सकता है।
सूखीसेवनिया : यह निशातपुरा से आगे बीना रेल मार्ग पर है। आने वाले समय में यह बड़ा मिनी स्टेशन बनेगा। नई आबादी वाले हिस्सों को इसका फायदा मिलेगा।
मंडीदीप स्टेशन : आने वाले समय में मंडीदीप को और विकसित करने की जरूरत पड़ेगी। यात्रियों का कहना है कि मंडीदीप औद्योगिक क्षेत्र होने के साथ-साथ नई आबादी वाला क्षेत्र बन रहा है। आने वाले समय में यहां व्यवसायिक गतिविधियां बढ़ेंगी।
Mar 03 (16:51) Bhopal Railway News: रेल दुर्घटना मॉकड्रिल... सूखी सेवनिया में पटरी से उतरे ट्रेन के दो डिब्बे, 12 यात्री घायल (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
13437 views

News Entry# 442064  Blog Entry# 4894810   
  Past Edits
Mar 03 2021 (16:51)
Station Tag: Sukhisewaniyan/SUW added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 03 2021 (16:51)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। भोपाल के सूखीसेवनिया स्टेशन के पास मंगलवार को एक यात्री ट्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने की खबर आई। बताया गया कि ट्रेन के दो डिब्बे पटरी से उतर गए। दुर्घटना में 12 से अधिक यात्रियों को चोटें आईं। यह जानकारी मिलते ही डीआरएम उदय बोरवणकर, एडीआरएम गौरव सिंह समेत रेलवे के सभी अधिकारी अलर्ट हो गए और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया। दरअसल, यह सबकुछ मॉकड्रिल का हिस्सा था। ट्रेन दुर्घटना के दौरान विभागीय तत्परता की जांच के लिए रेलवे ने यह मॉकड्रिल की।
रेल अधिकारियों के मुताबिक भोपाल स्टेशन पर सुबह 10.55 बजे उस समय खलबली मच गई, जब अचानक यह सूचना आई कि निशातपुरा के आगे सूखी सेवनिया स्टेशन पर एक यात्री ट्रेन पटरी से उतर
...
more...
गई है। सूचना के बाद भोपाल स्टेशन पर दुर्घटना सायरन बजने लगे। विशेषज्ञों के साथ रेलवे का दुर्घटना राहत यान और नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ), 108 एंबुलेंस, कोच को हटाने वाली क्रेन, जिला अस्पताल के डॉक्टर की एक टीम मौके के लिए रवाना की गई। बचाव दल ने सूखीसेवनिया में राहत व बचाव का काम शुरू किया।
ट्रेन दुर्घटना का पूरा क्रिएशन सूखी सेवनिया स्टेशन पर किया गया था। घटना में एसी कोच को डीरेल किया गया था, जबकि एसएलआर कोच को भी पलटा दिया गया था। यहां ट्रेन के कोच में यात्रियों की जगह रेलवे की सिविल डिफेंस एवं सांस्कृतिक अकादमी के सदस्यों को बैठाया गया।
एआरटी और एनडीआरएफ दोनों ने दिखाया हुनर
प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में पुलिस बल, 108 एंबुलेंस, जेपी हॉस्पिटल की एंबुलेंस भी घटना स्थल पर पहुंची। एनडीआरएफ और रेलवे की दुर्घटना राहत यान के विशेषज्ञों ने अपनी-अपनी विशेषज्ञता दिखाई। एआरटी ट्रेन के कोच को काटने व कांच तोड़कर यात्रियों को निकाला। उन्हें सावधानी पूर्वक हटाने जैसे कार्यों को कुशलता से किया।
Page#    Showing 1 to 20 of 20 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy