Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

हम उस देश के वासी हैं, जिस देश में Shiv Ganga दौड़ती है

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sun Jun 20 23:52:23 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Small Station Board;
Entry# 4616984-0

MIG/Midghat
     मिडघाट

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
Near Bhopal nagpur highway , district sehore
State: Madhya Pradesh

Elevation: 391 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for MIG/Midghat
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: n/a
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 18 of 18 News Items  
Jun 01 (21:03) రైలు పట్టాలపై ఆహారం.. 12 పులుల మృతి! (www.andhrajyothy.com)
Major Accidents/Disruptions
WCR/West Central
0 Followers
3536 views

News Entry# 454158  Blog Entry# 4974956   
  Past Edits
Jun 01 2021 (21:03)
Station Tag: Midghat/MIG added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐/1366147

Jun 01 2021 (21:03)
Station Tag: Choka/CHQ added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐/1366147

Jun 01 2021 (21:03)
Station Tag: Barkhera/BKA added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐/1366147

Jun 01 2021 (21:03)
Station Tag: Budni/BNI added by ⭐ ⭐ ⭐ Telangana Express Oops AP Express ⭐ ⭐ ⭐/1366147
Stations:  Budni/BNI   Barkhera/BKA   Choka/CHQ   Midghat/MIG  
రైళ్లలోని ప్యాంట్రీ కార్ల నిర్వాహకుల నిర్లక్ష్యం వల్ల గత ఐదేళ్లలో 100కు పైగా జంతువులు మృతి చెందాయని మధ్యప్రదేశ్ అటవీ విభాగం ఓ నివేదికను రూపొందించింది. రైళ్లలోని ప్యాంట్రీ కార్ల నిర్వాహకులు వ్యర్థ ఆహారాన్ని రైలు పట్టాలపై పారేస్తుండడం వల్ల వాటిని తినడానికి వచ్చిన దాదాపు 100కు పైగా జంతువులు గత ఐదేళ్లలో మృతి చెందాయని పేర్కొంది. వాటిల్లో 5 పులులు, 7 చిరుతలు కూడా ఉన్నాయని తెలిపింది. 
సెహోర్ జిల్లాలో ఉన్న రతపాని టైగర్ రిజర్వ్ స్టేషన్ వద్దే ఈ పులులు చనిపోయాయని నివేదికలో పేర్కొంది. ఈ అటవీ ప్రాంతం గుండా 20 కిలోమీటర్లు రైలు పట్టాలు ఉన్నాయి. రైలు పట్టాలపై పడి ఉండే ఆహారం కోతులను, ఇతర జంతువులను ఆకర్షిస్తోందని, వాటి కోసం పులులు కూడా అక్కడకు వస్తున్నాయని తెలిపింది. అలా రైళ్ల కింద పడి చనిపోతున్నాయని తెలిపింది.
देश में पहली बार बाघ-चीते सहित अन्य वन्य प्राणियों को रेलवे ट्रैक पर जाने से रोकने और उनके एक से दूसरी ओर आवागमन के लिए पटरियों के ऊपर पहाड़ियों के बीच 4 एनिमल ओवरपास बन रहे हैं। ये ओवरपास हबीबगंज से इटारसी के बीच बिछाई जा रही तीसरी रेल लाइन के बुदनी-बरखेड़ा सेक्शन में बन रहे हैं।
ऐसी 5 टनल होंगी
13 बड़े ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है इस सेक्शन में
54
...
more...
छोटे ब्रिज का निर्माण कार्य जारी है अभी।
06 डैम का निर्माण पूरा।
22 स्थानों पर अंडरपास का निर्माण
कुछ इस तरह बनेंगे 26.50 किमी में 4 ओवरपास
तीसरी लाइन के दो सेक्शन में काम पूरा
हबीबगंज-बरखेड़ा और बुदनी-इटारसी सेक्शन का काम पूरा हाे गया है। तीसरे सेक्शन बुदनी-बरखेड़ा में काम चल रहा है। इस काम को देख रहे रेल विकास निगम द्वारा इनका डिजाइन और जगह निर्धारित कर ली गई है। डीआरएम उदय बोरवणकर का कहना है कि पहाड़ों के ऊपर से वन्य प्राणियों को एक से दूसरी ओर आने जाने के लिए पहली बार ऐसी प्लानिंग की जा रही है।
बुदनी के मिडघाट सेक्शन में बाघ शावक की ट्रेन से कटकर हुई मौत के मामले में वन विभाग बेबस नजर आ रहा है। इसकी वजह- रातापानी सेंचुरी में चल रहे तीसरी रेलवे लाइन का काम है। काम पूरा होने के बाद वन्यप्राणियों की सुरक्षा के इंतजाम हो सकेंगा। वन विभाग के अधिकारियों का मानना है कि बुदनी से मिडघाट तक का क्षेत्र वन्यप्राणियों के लिए डेंजर डेथ पॉइंट बन रहा है।
इस जगह पर 2015 से 2021 तक 18 वन्यप्राणियों की मौत हो चुकी है। इनमें बाघ, तेंदुआ, भालू और मगरमच्छ शामिल हैं। अधिकारियों का कहना है कि तीसरी रेल लाइन और अप-डाउन ट्रैक पर वन्यप्राणियों के आने-जाने के लिए अंडर ब्रिज, दो ओवर ब्रिज और जालियां लगाने का काम पूरा होने
...
more...
में तकरीबन 3 साल लगेंगे। हालांकि मामले में वन विभाग में संबंधित क्षेत्र में 3 शिफ्ट में पेट्रोलिंग करने का निर्णय लिया है, ताकि वन्य प्राणियों के साथ होने वाले हादसों को रोका जा सके।
बरखेड़ा से बुदनी के बीच अप-डाउन के दो ट्रैक हैं। मिडघाट सेक्शन बुदनी रेंज में है। बुदनी रेंज से लगी रातापानी सेंचुरी है। रातापानी सेंचुरी में 56 बाघ और 300 तेंदुए हैं। रातापानी सेंचुरी के अधीक्षक पीके त्रिपाठी ने बताया कि बरखेड़ा- बुदनी के जंगल में शिकार और पानी की तलाश में बाघ मिडघाट सेक्शन में जाते हैं। सेक्शन के आगे झील है।
इसकी वजह से इस ट्रैक पर वन्यप्राणियों का आना-जाना रहता है और ये ट्रेन हादसे का शिकार होते हैं। उनका कहना है कि पूरे जंगल के रेलवे ट्रैक पर पेट्रोलिंग के लिए रेलवे के अधिकारियों से बातचीत चल रही है। प्रारंभिक बातचीत में यहां काम कर रही कंपनी के पास दिन की शिफ्ट में पेट्रोलिंग करने के लिए कर्मचारी है, लेकिन कंपनी के अधिकारियों ने रात को कर्मचारी देने से इंकार कर दिया है। उनका कहना है कि उनके पास इतने कर्मचारी नहीं हैं।
दावा- यदि रेलवे शॉर्ट टर्म प्लान पूरा कर लेता तो बच सकती थी जान
अधिकारियों ने बताया कि वन विभाग ने रेलवे को वन्यप्राणियों की सुरक्षा के लिए लॉन्ग टर्म और शॉर्ट टर्म एक्शन प्लान बनाकर दिया था। इसमें शॉर्ट टर्म एक्शन प्लान में ट्रेनें धीरे चलाने, हाॅर्न बजाने, पेट्रोलिंग करने और जाली लगाना शामिल था। वहीं लॉन्ग टर्म में वन्यप्राणियों के लिए अंडरपास, ओवर ब्रिज बनाना शामिल है। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि रेलवे ने शॉर्ट टर्म एक्शन प्लान ही पूरा नहीं किया। यदि यह पूरा हो जाता तो वन्यप्राणियों की जान बच सकती थी।
अब इस क्षेत्र में तीन शिफ्टों में बढ़ाई जाएगी पेट्रोलिंग^वन्यप्राणियों की सुरक्षा के लिए रेलवे के अधिकारियों से शॉर्ट टर्म एक्शन प्लान को लागू करने के लिए बातचीत चल रही है। इस क्षेत्र में तीन शिफ्ट में पेट्रोलिंग बढ़ाई जाएगी, ताकि वन्यप्राणियों पर नजर रखी जा सके। लॉन्ग टर्म एक्शन प्लान में जाली लगाने, 2 ओवर ब्रिज और अंडर पास बनाने काम चल रहा है।विजय कुमार, डीएफओ औबेदुल्लागंज वन डिवीजन

Rail News
5993 views
May 05 (18:12)
महाँकाल एक्सप्रेस
SmallTownTraveller^~   5624 blog posts
Re# 4954618-1            Tags   Past Edits
deewar banana chahiye ya underpass banaye jane chahiye
प्रदेश के रातापानी सेंचुरी के अंतर्गत आने वाले मिडघाट रेलवे ट्रैक पर वन्यप्राणियों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। शनिवार-रविवार की दरमियानी रात लगभग 2-3 बजे यहां ट्रेन की चपेट में आने से बाघ शावक की मौत हो गई।
बीते 2 साल में इस सेंचुरी के पास मरने वाले वन्यप्राणियों की संख्या 13 हो गई है। रातापानी सेंचुरी के अधीक्षक पीके त्रिपाठी ने बताया कि मरने वाले शावक की उम्र लगभग 10 महीने है। अभी तक इस सेंचुरी के पास सबसे अधिक मरने वाले वन्यप्राणियों में लेपर्ड और बाघ हैं।
May 03 (10:06) बाघ की माैत:होशंगााबाद मिडघाट के पास जंगल में ट्रेन की चपेट में आया बाघ (www.bhaskar.com)
Crime/Accidents
WCR/West Central
0 Followers
5706 views

News Entry# 450534  Blog Entry# 4952816   
  Past Edits
May 03 2021 (10:06)
Station Tag: Midghat/MIG added by ANIKET/1490219

May 03 2021 (10:06)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by ANIKET/1490219
Stations:  Hoshangabad/HBD   Midghat/MIG  
होशंगाबाद-हबीबगंज स्टेशन के बीच में मिडघाट के पास जंगल में ट्रेन की चपेट में आने से एक बाघ की मौत हो गई। घटना रविवार की बताई जा रही है। सूचना पर फारेस्ट विभाग, होशंगाबाद आरपीएफ चेक पोस्ट की टीम मौके पहुंची। बाघ के शरीर पर ट्रेन से कटने के निशान मिले। रेलवे ट्रैक से उठाकर उसका पोस्टमार्टम कराया गया। जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार वन विभाग की टीम ने किया।
जानकारी के अनुसार मृत नर बाघ की उम्र करीब एक साल बताई जा रही। होशंगाबाद-हबीबगंज के बीच में मिडघाट-चौका स्टेशन के मध्य अप ट्रैक पर खंबा नंबर 780/19 के पास बाघ ट्रेन की चपेट में आया। रेलवे के भाेपाल कंट्रोल से सूचना होशंगाबाद आरपीएफ चेक पोस्ट मिली। बुदनी के वन अधिकारी, आरपीएफ
...
more...
चेक पोस्ट प्रभारी धर्मेंद्र सिंह, आरक्षक मोहम्मद वसीम मौके पर पहुंचे। बाघ के शरीर पर ट्रेन के टकराने के निशान मिले।
Page#    Showing 1 to 18 of 18 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy