Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

संपूर्ण क्रान्ति है तो जहां है

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat May 15 04:39:01 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Medium; Large Station Board;
Entry# 4604187-0

LYD/Layabad (1 PFs)
     लयाबाद

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Katrash road, Loyabad - 828101
State: Jharkhand

Elevation: 191 m above sea level
Zone: SER/South Eastern   Division: Adra

No Recent News for LYD/Layabad
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 7 of 7 News Items  
Jul 21 2019 (06:30) भूमिगत आग से डीसी लाइन को खतरा तो नहीं (m.jagran.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
14892 views

News Entry# 387182  Blog Entry# 4383641   
  Past Edits
Jul 21 2019 (06:30)
Station Tag: Layabad/LYD added by Adittyaa Sharma^~/1421836

Jul 21 2019 (06:30)
Station Tag: Katrasgarh/KTH added by Adittyaa Sharma^~/1421836
Stations:  Katrasgarh/KTH   Layabad/LYD  
संवाद सहयोगी, कतरास/लोयाबाद: सुप्रीम कोर्ट के अदालत मित्र गौरव अग्रवाल अधिवक्ता शुक्रवार को डीसी लाइन व उसके आसपास में लगी जमीनी आग को देखा। आग बुझाने को लेकर प्रबंधन द्वारा किए जा रहे बचाव कार्य की जानकारी ली। कोल अधिकारियों से यह भी जानना चाहा कि कब तक भूमिगत आग पर नियंत्रण हो पाएगा। इतना ही नहीं अग्नि प्रभावित इलाके में रह रहे लोगों के पुनर्वास के बारे में पूछताछ की। उनके साथ कतरास क्षेत्र के महाप्रबंधक जितेंद्र मल्लिक, सिजुआ क्षेत्र के अपर महाप्रबंधक केआर सत्यार्थी सहित कई अधिकारी थे।
पहले वे डीसी लाईन के बगल कतरास क्षेत्र के लिलटेन अंगारपथरा पहुंचे। यहां जमीनी आग से रेलमार्ग को खतरा है कि नहीं इसके बारे में कोल अधिकारियों से जानकारी ली।
...
more...
डीसी लाईन से करीब 50 फीट दूरी पर आग बुझाने के हो रहे प्रयासों की जानकारी ली तथा आगामी योजना से अवगत हुए। उन्होंने डीसी रेल लाइन बंद होने तथा चालू होने से संबंधित कई बिदुओं पर पूछताछ की। उन्होंने कहा कि नजदीक में आग रहने के बावजूद रेलवे लाइन चालू है, क्या कभी इससे प्रभावित नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि बीसीसीएल प्रबंधन आग को काबू करने की दिशा में कितना कारगर पहल कर रहा है। क्या रेलवे लाइन सुरक्षित है। इसपर अधिकारियों ने कहा कि डीजीएमएस के निर्देशानुसार ट्रेंच कटिग कर डीसी लाइन को सुरक्षित कर दिया गया है। सिफर के सुझाव पर बोर होल करके आग की स्थिति की जानकारी ली जा रही है। आग में जल रहे कोयले को बचाने से संबंधित भावी योजना से संबंधित बातें जानी। उन्होंने अग्नि प्रभावित इलाके का तस्वीर मोबाइल के कैमरे में कैद किया। लिलटेन अंगारपथरा अग्नि प्रभावित इलाके में कराए गये बोर से धुआं व गैस के निकलते भी दिखाया गया।
इसके बाद वे सिजुआ क्षेत्र के बांसजोड़ा पहुंचे। यहां डीसी लाइन व उसके बगल की खनन परियोजना को व्यू प्वांइट से देखा। परियोजना में धधक रही आग व उत्पादन कार्य को देखा। कोल अधिकारियों से परियोजना में लगी आग और किस तरह से अग्नि प्रभावित जोन में की जा रही कोयला उत्पादन के बारे में जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने नक्शे का अवलोकन किया तथा आसपास की आबादी को हटाने की योजना पर चर्चा की।
कोल अधिकारियों ने डीसी लाइन के बांसजोड़ा रेलवे स्टेशन के समीप उस स्थान को भी दिखाया जहां अक्सर जमीन धंस जाती और रेलवे द्वारा उसकी भराई की जाती है। कोल अधिकारियों ने उन्हें रियल मॉनीटरिग सिस्टम के बारे में भी बताया। वे करीब पंद्रह बीस मिनट तक बांसजोड़ा में रुके और अधिकारियों से जानकारी ली। पत्रकारों से कहा कि वे तो अभी जायजा ही ले रहे हैं। जरेडा के अधिकारियों से मिलने जा रहे हैं। इस मौके पर पीओ जेके जायसवाल, पर्यावरण पदाधिकारी रितेश कुमार, सर्वेयर एमपी चौधरी, एके मिश्रा आदि शामिल थे।
अदालत मित्र गौरव अग्रवाल अग्नि प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेने के दौरान वे अपने मोबाइल से फोटो भी ले रहे थे। एक अधिकारी ने आग के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि यदि परियोजना में लगी आग की वास्तविक स्थिति को देखना है तो रात में निरीक्षण करें।
------------------
प्रबंधन ने नहीं लगाया रियल मनीटरिग सिस्टम
कोलियरी प्रबंधन द्वारा जमीनी हलचल की जानकारी देने वाला रियल मानीटरिग सिस्टम नहीं लगाया गया था। जो जमीन के आग से होने वाली हलचल के पल पल की जानकारी देता था। डीसी लाइन बंद हो जाने के बाद अपराधियों ने उक्त मशीन की चोरी कर ली। डीसी लाइन चालू हो गया, लेकिन कोलियरी प्रबंधन द्वारा आज तक इस मशीन को नहीं लगाया गया है।
Feb 20 2019 (08:58) डीआरएम ने किया कतरासगढ़ व बांसजोड़ा स्टेशन का निरीक्षण (m.jagran.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
13586 views

News Entry# 376966  Blog Entry# 4236909   
  Past Edits
Feb 20 2019 (08:58)
Station Tag: Bansjora/BZS added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836

Feb 20 2019 (08:58)
Station Tag: Layabad/LYD added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836

Feb 20 2019 (08:58)
Station Tag: Katrasgarh/KTH added by Coca Cola Tu Shola Shola Tu😍😘^~/1421836
Stations:  Katrasgarh/KTH   Layabad/LYD   Bansjora/BZS  
संवाद सहयोगी, कतरास-लोयाबाद : धनबाद-चंद्रपुरा रेलमार्ग पर यात्री ट्रेनों के परिचालन को लेकर तैयारी जोर-शोर से चल रही है। सोमवार को डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा ने कतरासगढ़ व बांसजोड़ा स्टेशन का निरीक्षण किया। कतरासगढ़ स्टेशन पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि 24 फरवरी से यात्री ट्रेनों का परिचालन शुरू होगा। एलेप्पी ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर सांसद पीएन ¨सह व रवींद्र कुमार पांडेय रवाना करेंगे। बांसजोड़ा व सिजुआ स्टेशन को हाल्ट बनाया जाएगा। कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा की जा रही है।
उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ कतरासगढ़ स्टेशन के सामने प्रस्तावित कार्यक्रम स्थल को देखा तथा अधिकारियों को कई दिशा निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि 24 फरवरी को कतरासगढ स्टेशन के सामने कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। डीसी
...
more...
लाइन पर पड़ने वाले सभी स्टेशन व हाल्ट पर सफाई कराई जा रही है।
पहले उन ट्रेनों का परिचालन होगा जो गोमो होकर चल रही हैं। इन्हें भाया कतरासगढ़ होकर चलाया जाएगा। एक-दो माह के अंदर अन्य ट्रेनों का भी परिचालन शुरू करा दिया जाएगा।
डीआरएम सहित अन्य अधिकारियों ने बांसजोड़ा व सिजुआ स्टेशन का मुआयना किया। बांसजोड़ा में अग्नि प्रभावित इलाके का अद्यतन जानकारी ली। बांसजोड़ा से लेकर चंद्रपुरा स्टेशन तक के रेललाइन की स्थिति का जायजा लिया। स्टेशनों पर पानी, बिजली व सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित कराने की बात कही।
उनके साथ सीनियर डीएससी अर¨वद कुमार राय, सीनियर डीसीएम कोडिनेशन बीके ¨सह, सीनियर डीएसटी अजीत कुमार राय, सीनियर डीआरडी भजन लाल, एस प्रसाद, यार्ड मास्टर पीके ¨सह, जे नंदी आदि थे। परवेज इकबाल, शौकत खान, मो अख्तर, अजय ¨सह, नरेश दास, ललित ¨सह, सोनू कुमार, विकास कुमार राम, राजा खान, नसीरुद्दीन खान, मो हसन, जमील अंसारी, दिनेश गुप्ता, किशन पंडित, डा. रामकुमार शर्मा, शंकर कुमार, विनोद विश्वकर्मा आदि थे।
Jan 25 2019 (06:33) डीसी लाइन की मरम्मत पूरी, निरीक्षण आज (m.jagran.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
7914 views

News Entry# 374762  Blog Entry# 4206889   
  Past Edits
Jan 25 2019 (06:33)
Station Tag: Katrasgarh/KTH added by Adittyaa Sharma^~/1421836

Jan 25 2019 (06:33)
Station Tag: Layabad/LYD added by Adittyaa Sharma^~/1421836

Jan 25 2019 (06:33)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Adittyaa Sharma^~/1421836
संस, लोयाबाद-कतरास : सीसीआरएस-डीजीएमएस के निरीक्षण से एक दिन पहले मंगलवार को रेलवे की स्थानीय टीम ने डीसी लाइन का निरीक्षण किया। टीम ने बांसजोड़ा, सिजुआ, अंगारपथरा, कतरासगढ़ सहित आसपास के ट्रैक का अवलोकन किया। नेतृत्व कर रहे विभाग के सहायक मंडल अभियंता दो शत्रुघ्न प्रसाद ने प्रसाद ने कहा कि विभाग की ओर से मिले निर्देश के बाद निरीक्षण करने पहुंचे हैं। रेललाइन की मरम्मत पूरी हो गई है। डीजीएमएस की हरी झंडी मिलते ही ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा। टीम में वरीय अुनभाग अभियंता (कार्य) विवेकानंद बसु, वरीय अनुभाग अभियंता (रेल पथ) जे. नंदी सहित अन्य अधिकारी शामिल थे।
इधर, डीसी लाइन के आंदोलनकारियों ने बांसजोड़ा कोलियरी प्रबंधन से जमीनी हलचल बताने वाली रीयल टाइम मॉनीट¨रग सिस्टम
...
more...
लगाने की मांग की है। आंदोलनकारियों के साथ कांग्रेस नेता राजकुमार महतो भी थे।
Jan 20 2019 (08:25) डीजीएमसएस और सीसीएसआर की मुहर लगते ही बंद पड़ी डीसी लाइन पर दौडे़गी ट्रेन (m.jagran.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
10598 views

News Entry# 374361  Blog Entry# 4202229   
  Past Edits
Jan 20 2019 (08:26)
Station Tag: Layabad/LYD added by Adittyaa Sharma^~/1421836

Jan 20 2019 (08:26)
Station Tag: Katrasgarh/KTH added by Adittyaa Sharma^~/1421836
Stations:  Katrasgarh/KTH   Layabad/LYD  
[टीम जागरण, कतरास/लोयाबाद/नावागढ़]: डेढ़ सालों से बंद धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन पर परिचालन शुरू करने की संभावना तलाशने के रेलमंत्री पीयूष गोयल से मिले निर्देश के बाद गुरुवार को डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा ने धनबाद से चंद्रपुरा तक मोटर ट्रॉली से रेललाइन का निरीक्षण किया। उनके साथ सीनियर डीईएन को-ऑर्डिनेशन बीके सिंह और सीनियर डीएसटीई अजीत कुमार व अन्य विभागीय अधिकारी भी शामिल थे। धनबाद के प्लेटफॉर्म सात से दौड़ी ट्रॉली सुबह 8.30 पर डीआरएम पूरी टीम के साथ ट्रॉली पर सवार हुए जहां प्लेटफॉर्म सात से उनका काफिला आगे बढ़ा।बांसजोड़ा, लिलटेन अंगारपथरा, कतरासगढ़, साउथ गो¨वदपुर साइ¨डग, सोनारडीह व फुलारीटांड़ स्टेशन के साथ पूरे रेल मार्ग का जायजा लिया। खुद खड़े होकर तैयार करायी संयुक्त निरीक्षण रिपोर्ट रेल अधिकारियों ने कतरासगढ़ स्टेशन के पूर्व व पश्चिमी केबिन के अलावा सिग्नल लाइन, पटरी तथा स्टेशन की व्यवस्था को देखा। डीआरएम ने डायमंड क्रा¨सग के समक्ष अपने अधीनस्थ अधिकारियों को कई निर्देश दिये। अन्य...
more...
तकनीकी बाधाओं से रूबरू हुए और ऑन स्पॉट संयुक्त निरीक्षण रिपोर्ट तैयार करायी।
"डीजीएमएस के महानिदेशक फिलहाल बाहर हैं। उनके आने पर सीसीआरएस के साथ संयुक्त रूप से निरीक्षण होगा। उम्मीद है उनकी निरीक्षण रिपोर्ट सकारात्मक रहेगी और डीसी लाइन चालू हो सकेगी।"- अनिल कुमार मिश्रा, डीआरएम
लिलटेन अंगारपथरा में आग की स्थिति का लिया जायजा: डीआरएम ने अग्नि प्रभावित लिलटेन अंगारपथरा पैच को देखा और आग की अद्यतन स्थिति का जायजा लिया। 14 नंबर की भराई के बाद दो मीटर पत्थर के नीचे 13 नंबर सिम के बारे में जानकारी लेने के बाद ट्रेंच कटिंग कर पानी देने की बात कही। आग के फैलने के स्रोत का भी जानकारी ली।ओवरमैन ने कहा, नहीं है रेलवे ट्रैक धंसने की संभावना: लिलटेन अंगारपथरा में निरीक्षण के दौरान कार्यस्थल पर तैनात ओवरमैन जयदेव पांडेय ने बताया कि रेल पटरी ठोस स्तर पर है और उसके नीचे आग नहीं है। इसलिये पटरी धंसने की संभावना नहीं है। इस दौरान साउथ गोविंदपुर साइडिंग के समीप अग्नि प्रभावित स्थल का भी मुआयना किया गया।बांसजोड़ा में धंसी मिली रेलवे ट्रैक, दिया दुरुस्त करने का निर्देश लोयाबाद: बांसजोड़ा स्टेशन का निरीक्षण कर रहे डीआरएम ने कई जगहों पर ट्रैक में धंसान पाया। पूर्वी केबिन के पास पटरी थोड़ी दबी हुई थी। डीआरएम ने स्टेशन प्रबंधक एसके सिंह से भी इसकी जानकारी ली। संबंधित विभाग को तत्काल सुधार का निर्देश दिया। बीसीसीएल निर्मित बोरहोल का किया मुआयना बांसजोड़ा में आग पर काबू पाने के लिए पानी डालने के बीसीसीएल के द्वारा बनाया गये बोरहाल के हर पहलू की बारीकी से जांच की।बताया गया कि सेंद्रा बांसजोड़ा कोलियरी प्रबंधन ने डीसी लाइन बंद हो जाने के बाद लाइन के दूसरी ओर ओबीआर गिराने के लिए रेलवे लाइन पर बनाया गया नया क्रा¨सग सड़क को बंद कर दिया है।फुलारीटांड़ स्टेशन मास्टर से ली सुविधाओं की जानकारी: फुलारीटांड़ स्टेशन पहुंचे डीआरएम ने स्टेशन मास्टर से रेल परिचालन में असुविधा, यात्री सुविधा, बिजली, पानी, आवास, शौचालय सहित टिकट बिक्री की जानकारी ली।
Sep 26 2018 (08:49) Financial centre at BKC bullet train site to be 96m tall (timesofindia.indiatimes.com)
New Facilities/Technology
BULT/Bullet Train
0 Followers
9473 views

News Entry# 360738  Blog Entry# 3841429   
  Past Edits
Sep 26 2018 (08:49)
Station Tag: Lokmanya Tilak Terminus/LTT added by a2z~/1674352

Sep 26 2018 (08:49)
Station Tag: Layabad/LYD added by a2z~/1674352
MUMBAI: The International Financial Services Centre (IFSC) proposed above the underground bullet train terminus site at Bandra-Kurla Complex will now be 96 metres tall instead of 61m planned earlier. The Mumbai Metropolitan Region Development Authority (MMDRA) and the National High Speed Rail Corporation (NHSRC) recently resolved the issue of the financial centre’s height.
Currently, the height of buildings in BKC is capped at 61m. MMRDA had sought a relaxation in the cap to allow for more floors in the IFSC, to maximize revenue generation.
In August, MMRDA had asked the state government
...
more...
to pitch for raising the height ceiling for IFSC. The issue came up in a review meeting of railway projects, attended by railway minister Piyush Goyal and chief minister Devendra Fadnavis.
Goyal had asked both MMRDA and NHSRC to resolve the issue without impacting the project timeline. Following this, a series of meetings was held between the two bodies.
Metropolitan commissioner R A Rajeev said, “We have found a solution. Our consultants will design the foundation, which will allow us to construct a 96m building.”
NHSRC, which is executing the Mumbai-Ahmedabad bullet train project, had expressed fears that any changes in design at this stage would affect the project timeline. Also, it had made it clear that the underground tracks cannot go below 25m if the foundation has to be dug deeper. Rajeev said, “Japanese consultants had come up with a floating design, which means the roof of the terminus would have to made a lot thicker if a 96m tall building was planned above it. However, we explained to them that this was not necessary and offered a solution which was agreeable to both.”
An NHSRC official said, “The issue has been resolved. Instead of a floating design where the building was to be constructed above the bullet train’s roof, it will now come up on an integrated pillar common to the IFSC building as well as the terminus. We had prepared the floating design because the MMRDA has not yet finalized its design for the IFSC building.”
Page#    Showing 1 to 7 of 7 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy