Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

NZM-Kota Jan Shatabdi: एवरेज स्पीड में नंबर वन, जिसमें नहीं है सवारियों का टोटा, यह है आपणी जनशताब्दी From कोटा - Madan Mohan Meena

Full Site Search
  Full Site Search  
Just PNR - Post PNRs, Predict PNRs, Stats, ...
 
Sun Aug 14 03:16:14 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRPost BlogAdvanced Search

LTG/Lataguri (1 PFs)
লাটাগুড়ি     लाटागुड़ी

Track: Single Diesel-Line

Show ALL Trains
Malbazar - Maynaguri Road (NH 31) , Lataguri , Near the main entrance of GORUMARA NATIONAL FOREST , Pin - 735219, Dist - Jalpaiguri
State: West Bengal

Elevation: 102 m above sea level
Zone: NFR/Northeast Frontier   Division: Alipur Duar

No Recent News for LTG/Lataguri
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
0 Follows
Rating: 4.6/5 (12 votes)
cleanliness - excellent (2)
porters/escalators - average (1)
food - n/a (0)
transportation - excellent (2)
lodging - excellent (1)
railfanning - good (2)
sightseeing - excellent (2)
safety - excellent (2)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 2 of 2 News Items  
Sep 21 2017 (22:58) ইঞ্জিন বিকল, লাটাগুড়ি স্টেশনে আটকে ডিএমইউ (uttarbangasambad.com)
Major Accidents/Disruptions
NFR/Northeast Frontier

News Entry# 317682   
  Past Edits
Sep 21 2017 (22:58)
Station Tag: Lataguri Junction/LTG added by ▶ER01⭐ हावड़ा राजधानी एक्सप्रेस ⭐ 02ER◽◀~/1777975
Stations:  Lataguri/LTG  
লাটাগুড়ি, ২১ সেপ্টেম্বরঃ ইঞ্জিন বিকল হয়ে লাটাগুড়ি স্টেশনে আটকে রইল ডাউন ডিএমইউ প্যাসেঞ্জার ট্রেন। শুক্রবার সন্ধ্যা ৭টা ৪০ মিনিট নাগাদ ট্রেনটি লাটাগুড়ি স্টেশনে প্রবেশ করে। তারপরই বিকল হয়ে যায় ট্রেনটির ইঞ্জিন। রেল দপ্তর সূত্রে খবর, ঘটনার খবর পাওয়া মাত্রই গোপালপুর স্টেশন থেকে অন্য একটি ইঞ্জিন এনে ট্রেনটিকে নিউ কোচবিহার স্টেশনে পাঠানোর প্রক্রিয়া শুরু হয়েছে। রাত ১০টা ৯ মিনিটে ছেড়ে দেয় ট্রেনটি।
Jun 08 2014 (13:16) क्या वाकई बढ़ रही तेंदुओं की तादाद! (www.jagran.com)
Tourism
NFR/Northeast Frontier

News Entry# 179423   
  Past Edits
Jun 08 2014 (1:16PM)
Station Tag: Ramshai/RMS added by KIR walking on the lines of DNR/61515

Jun 08 2014 (1:16PM)
Station Tag: Lataguri Junction/LTG added by KIR walking on the lines of DNR/61515

Jun 08 2014 (1:16PM)
Station Tag: New Mal Junction/NMZ added by KIR walking on the lines of DNR/61515
संवाद सूत्र, मालबाजार : चाय बागान इलाकों में जंगल से राह भटक आए तेंदुओं की आवाजाही आम लोगों के साथ चाय बागानों की चिंता बढ़ गई है। आए दिन वन विभाग के पिंजड़ों में तेंदुए फंस रहे हैं। यह सिलसिला लगातार चल रहा है। इसलिए आवाज उठने लगी है कि तेंदुओं की वास्तविक तादाद जानने के लिए सर्वे किया जाना चाहिए। बुधवार को तड़के माल प्रखंड के गुरजंगझोड़ा चाय बागान में एक वयस्क नर तेंदुआ पिंजड़े में पकड़ा गया। वन मंत्री विनय कृष्ण बर्मन ने बताया कि वे विभागीय वरिष्ठ अधिकारियों से सर्वे के बारे में बातचीत कर निर्णय लेंगे।
जानकारी अनुसार माल शहर से पांच किमी दूर गुरजंगझोड़ा चाय बागान में तेंदुओं का आगमन अक्सर होता रहता है जिससे वहां का
...
more...
काम प्रभावित हो रहा है। हाल ही में बागान के सुखानीझोड़ा के निकट एक मृत तेंदुआ मिला था। सोमवार की सुबह बागान के सहायक मैनेजर संजय साहा, अशोक दे की मौजूदगी में चायपत्ती तोड़ने का काम चल रहा था कि उसी समय एक तेंदुआ वहां आ पहुंचा। बाद में शोरगुल के बाद वह झाड़ियों में गुम हो गया। मैनेजर आलोक बनर्जी ने बताया कि वन्य प्राणी डिवीजन से उन्होंने अनुरोध कर मंगलवार को ही पिंजड़ा लगवाया था। बागान के 14-15 नंबर सेक्शन में लगाए गए पिंजड़े में तेंदुआ अगले तड़के फंस गया। बागान के चौकीदार रामधर नायक ने देखा कि तेंदुआ गर्जन कर रहा है। उसकी नाक सूजकर लाल हो गई थी।
गोरुमारा वन्य प्राणी डिवीजन की डीएफओ सुमिता घटक ने बताया कि वयस्क नर तेंदुए को स्वस्थ हालत में गोरुमारा राष्ट्रीय उद्यान में छोड़ा गया है। तेंदुआ पकड़े जाने के बावजूद वहीं पर फिर से पिंजड़ा लगाया गया है। हाल ही में निदाम, गुडहोप, वाशाबाड़ी जैसे चाय बागानों में तेंदुआ पकड़ने के लिए पिंजड़े लगाए गए हैं। जानकारों का मानना है कि चाय बागान की घनी झाड़ियां तेंदुओं की मनपसंद जगह है जहां मादा तेंदुआ अक्सर शावकों को जन्म देती हैं। बागान में उन्हें खरगोश और पशु पक्षी जैसे शिकार आसानी से मिल जाते हैं। हाल के दिनों में चाय बागानों में तेंदुओं के पकड़े जाने की घटना में वृद्धि से सवाल उठने लगे हैं कि क्या वाकई तेंदुओं की आबादी बढ़ रही है या भोजन की कमी से वे रिहाइशी इलाकों की ओर रुख कर रहे हैं। हिमालयन नेचर एंड एडवेंचर फाउंडेशन (नैफ) के संयोजक अनिमेष बसु ने कहा कि उनका संगठन काफी दिनों से चाय बागानों में तेंदुओं की संख्या का सर्वे करने की मांग करते आ रहा है। एक प्रश्न के उत्तर में डीएफओ सुमिता घटक ने कहा कि तेंदुओं के आवासीय क्षेत्र और उनकी संख्या का सर्वे किए बिना यह कहना मुश्किल है कि तेंदुओं की संख्या वाकई बढ़ रही है या नहीं। यह सर्वविदित है कि जमाने से चाय बागान इन वन्य पशुओं के पसंदीदा इलाके रहे हैं।
Page#    Showing 1 to 2 of 2 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy