Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

WAP-7 - दिल तुझपे कुर्बान

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Jun 24 06:48:43 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 4616507-0

YDV/Yadvendranagar (1 PFs)
يادوےندرنگر     यादवेन्द्रनगर
[Keshavpur]

Track: Construction - Electric-Line Doubling

Show ALL Trains
Yadvendranagar,Dharmapur,Distt.-Jaunpur
State: Uttar Pradesh

Elevation: 88 m above sea level
Zone: NER/North Eastern   Division: Varanasi

No Recent News for YDV/Yadvendranagar
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 6
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 5 of 5 News Items  
जौनपुर। हिन्दुस्तान टीम
रेल मंडल प्रबंधक पूर्वोत्तर रेलवे (एनईआर) वीके पंजियान ने बुधवार को जौनपुर औड़िहार रेल लाइन के दोहरीकरण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने केराकत के पास बने अंडर पास में पानी भरे होने पर नाराजगी जतायी और सम्बंधित अधिकारी को तत्काल पंप लगाकर अंडर पास से पानी निकलवाने का निर्देश दिया। उनकी विशेष ट्रेन को रास्ते में रोककर लोगों ने समस्याओं से अवगत कराया।
रेल लाइन के दोहरीकरण का निरीक्षण करने के लिए डीआएम वीके पंजियान
विशेष
...
more...
सैलून से औड़िहार से जौनपुर जंक्शन बुधवार को दिन में11 बजे चले। जब वे केराकत के औरी अण्डर पाथवे की स्थिति को देखा तो नाराजगी जतायी।
उल्लेख्य है कि जौनपुर जंक्शन से लेकर औड़िहार रेलमार्ग के बीच रेल विभाग ने आधा दर्जन से अधिक रेलवे क्रासिंगों को बंद कर अडर-वे बनाया है ताकि ट्रेन के आवागमन में कोई बाधा न हो और दो पहिया, चार पहिया वाहन वाले यात्रियों को भी परेशानी न हो लेकिन बारिश का पानी भर जाने से यात्रियों की फजीहत हो गयी है।
केराकत स्थित औरी अण्डर पाथवे में पानी भर जाने से मुख्य मार्ग पर लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। इसके लिए केराकत क़े क्षेत्रीय विधायक दिनेश चौधरी ने केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात कर और पत्र लिखकर समस्या से समाधान की मांग की थी। मंत्री ने शीघ्र समाधान का आश्वासन दिया। आपके अपने हिन्दुस्तान अखबार ने पेज 6 पर बुधवार के अंक में इसे प्रकाशित किया था।
इसी संबंध में डीआएम ने दोहरीकरण और लोगों की समस्याओं को संज्ञान में लेते हुए निरीक्षण किया। उनका विशेष सैलून जौनपुर जंक्शन पर प्लेटफार्म पांच पर दोपहर साढ़े बारह बजे पहुंचा। विन्डो जांच के बाद वह 12:50 बजे औड़िहार के लिए वापस हो गए। जौनपुर जंक्शन पर एसएस जौनपुर यूके सिंह, यातायात निरीक्षक अरुण कुमार यादव, यातायात निरीक्षक पूर्वोत्तर रेलवे औड़िहार अरुण कुमार सिंह समेत अन्य अधिकारी रहे।
ग्रामीणों ने लाल झंडी दिखाकर रोकी ट्रेन, दिया ज्ञापन
.
गौराबादशाहपुर। जौनपुर-औड़िहार रेल प्रखंड पर धर्मापुर के एकौना सेवईनाला के पास बुधवार को ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान कुछमुछ लालजी यादव के नेतृत्व में डीआरएम औड़िहार का विशेष सैलून लाल झंडी दिखाकर रोक दिया। ग्रामीणों ने उन्हें एकौना के पास बने अंडर पास में पानी भरे होने से होने वाली समस्या से अवगत कराया। लोगों ने इस सम्बंध में उन्हें ज्ञापन भी दिया। डीआरएम ने ग्रामीणों की समस्या सुनकर शीघ्र ही समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। इस रेल लाइन पर एकौना अंडर पास के ऊपर रेल विभाग ने टीन शेड लगा रखा है। लेकिन बारिश होने पर अडर पास के दोनों तरफ की दीवारों से लगे खेतों का पानी अंडर पास में भर जाता है। इससे आवागमन में लोगों को परेशानी होती है। ग्रामीणों के लाल झंडी दिखाने पर जैसे ही ट्रेन रुकी, डीआरएम नीचे उतर गए और लोगं की समस्याएं सुनीं। इस मौके पर धर्मेन्द्र यादव, विरेन्द्र यादव, शिव प्रसाद, शैलेश यादव, हंसराज प्रजापति, मंगरू विश्वकर्मा, संतोष यादव, धीरेन्द्र यादव अन्य रहे।
Mar 16 2019 (12:05) बदतर रेलवे स्टेशन, मुसीबत में यात्री (m.jagran.com)
IR Affairs
NER/North Eastern
0 Followers
40889 views

News Entry# 378873  Blog Entry# 4262274   
  Past Edits
Mar 16 2019 (12:06)
Station Tag: Barsathi/BSY added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस~/1207464

Mar 16 2019 (12:06)
Station Tag: Janghai Junction/JNH added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस~/1207464

Mar 16 2019 (12:06)
Station Tag: Dobhi/DHE added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस~/1207464

Mar 16 2019 (12:06)
Station Tag: Yadvendranagar/YDV added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस~/1207464

Mar 16 2019 (12:06)
Station Tag: Kerakat/KCT added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस~/1207464

Mar 16 2019 (12:06)
Station Tag: Jaunpur Junction/JNU added by माँ शीतला धाम एक्सप्रेस~/1207464
जागरण संवाददाता, जौनपुर: रेलवे स्टेशनों की सूरत संवरने की बजाय बदरंग होती जा रही है। अधिकतर स्टेशनों पर मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। यात्रियों को बैठने, शौचालय तक की व्यवस्था नहीं। मंजूरी के बाद भी जौनपुर जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या पांच का अभी तक विस्तार नहीं हो सका। सिटी स्टेशन का भी हाल बुरा है। हाल ही में जंक्शन स्टेशन के निरीक्षण के दौरान उत्तर रेलवे के डीआरएफ ने व्यवस्थाओं को जल्द सुधारने का आश्वासन दिया था, लेकिन इस पर अमल नहीं हो सका।
जौनपुर जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या पांच का विस्तार आज तक नहीं हो सका है। मानक के मुताबिक प्लेटफार्म छोटा होने की वजह से उत्तर रेलवे की ट्रेनों के कई चार से पांच डिब्बे बाहर खड़े होते हैं,
...
more...
जिससे यात्रियों को ट्रेन में सवार होने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस अव्यवस्था की वजह से कई बार यात्री घायल हो चुके हैं। साथ ही रात के वक्त यात्रियों से लूटपाट की संभावना रहती है। प्लेटफार्म पर पेयजल की भी समुचित व्यवस्था नहीं है। किसी की टोटी टूटी है तो किसी में टोटी ही नदारद है। सांसद डा. केपी सिंह के हस्तक्षेत्र के बाद महीनों पहले प्लेटफार्म के विस्तार को मुख्यालय की ओर मंजूरी मिल चुकी है, बावजूद इसके निर्माण शुरू नहीं हो सका। इससे सबसे अधिक दिक्कत ठंड व बरसात के दिनों में होती है। सिटी स्टेशन का भी हाल बुरा है। स्टेशन पर बिजली की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने से यात्री परेशान हैं। रात के वक्त ट्रेन लेट होने पर स्थिति और खराब हो जाती है। जौनपुर-औड़िहार रेलमार्ग पर भी यात्रियों का बुरा हाल है। यादवेंद्र नगर स्टेशन अपनी पहचान खो रहा है। जौनपुर के राजा रहे यादवेंद्र दत्त दुबे के नाम पर बने इस स्टेशन पर मुसाफिरों को पानी तक नसीब नहीं होता। यहां लगी सभी लाइटें खराब हैं, जबकि बैठने के लिए बनी कुर्सियां टूट चुकी हैं। मुफ्तीगंज स्टेशन पर लगी अधिकतर स्ट्रीट लाईटें खराब हैं। रेलवे ब्रिज पर लगी अधिकांश लाइटें जलती ही नहीं। केराकत स्टेशन तहसील मुख्यालय का यह स्टेशन सबसे खराब स्थिति में है। यहां लगी सभी स्ट्रीट लाईटें खराब पड़ी है। शौचालय इस्तेमाल करने लायक नहीं है। यहां बने गोदाम पर अतिक्रमण हो चुका है। डोभी स्टेशन भी शाम होते ही अंधेरे में डूब जाता है। इन मांगों पर नहीं हुआ विचार
स्थानीय लोगों ने केराकत को स्टेशन का दर्जा दिलाने, रेल आरक्षण टिकट केंद्र खोलने, छपरा-दिल्ली एक्सप्रेस व सुहेलदेव एक्सप्रेस का ठहराव करने समेत अन्य मांगों को जनप्रतिनिधियों ने गंभीरता से नहीं लिया। उपेक्षा का दंश झेल रहे ये स्टेशन
बरसठी स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा को लेकर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया। ब्रिटिश जमाने के इस स्टेशन पर आज भी मुसाफिरों को पानी व शौचालय के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। स्टेशन को बेहतर बनाने को लेकर दावे कई बार हुए, लेकिन हकीकत में कुछ नहीं हो सका। यहां से पैंसेजर समेत कई एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन होता है, लेकिन यात्री सुविधाओं की चिता किसी को नहीं है।
जंघई स्टेशन भी यात्रियों की जरूरतों को पूरा नहीं करता। यहां से रोजाना तकरीबन एक हजार यात्री सफर करते हैं, लेकिन स्टेशन पर यात्रियों के लिए न तो बैठने की व्यवस्था है और न ही पानी की। इस बाबत यात्रियों की शिकायतों को भी कभी गंभीरता से नहीं लिया गया।

Rail News
34881 views
Mar 16 2019 (13:32)
Travel with Niket Karan on YouTube
TravelwithNiketKaran^~   9742 blog posts
Re# 4262274-1            Tags   Past Edits
8BG lines are facing deep trouble

Rail News
34471 views
Mar 16 2019 (14:10)
Bigg boss 13
PURVANCHALEXPRE~   2520 blog posts
Re# 4262274-2            Tags   Past Edits
anicent capital of india ka itna bura haal hai 50 lakh population 5 mla kaha gaye hai sab bakri chararahe hai kya .dukh hota hai yeh bate sunkar . isitara raha bullet train kaise aayega jaunpur .8bg line

34591 views
Mar 16 2019 (14:13)
Bigg boss 13
PURVANCHALEXPRE~   2520 blog posts
Re# 4262274-3            Tags   Past Edits
sorry bura lage to muff karna . khud hi soch lo 8 bg line ka kya kaam.50 lakh pop aur 5 mla ka kya kaam
Dec 04 2018 (15:05) ज्वलंत समस्याओं के दंश से कराह रही केराकत की जनता (m.jagran.com)
Politics
NER/North Eastern
0 Followers
44646 views

News Entry# 370768  Blog Entry# 4067767   
  Past Edits
Dec 04 2018 (15:08)
Station Tag: Gangauli/GNGL added by श्री काल भैरव~/1207464

Dec 04 2018 (15:08)
Station Tag: Dudhaunda/DDNA added by श्री काल भैरव~/1207464

Dec 04 2018 (15:08)
Station Tag: Faridaha Halt/FRDH added by श्री काल भैरव~/1207464

Dec 04 2018 (15:08)
Station Tag: Dobhi/DHE added by श्री काल भैरव~/1207464

Dec 04 2018 (15:07)
Station Tag: Yadvendranagar/YDV added by श्री काल भैरव~/1207464

Dec 04 2018 (15:07)
Station Tag: Muftiganj/MFJ added by श्री काल भैरव~/1207464

Dec 04 2018 (15:05)
Station Tag: Kerakat/KCT added by श्री काल भैरव~/1207464
जागरण संवाददाता, केराकत (जौनपुर): केराकत क्षेत्र में आज भी ज्वलंत समस्याओं के अंबार तले लोग कराहते हुए नजर आ रहे हैं। आजादी के बाद से आज भी कुछ ऐसी महत्वपूर्ण समस्याएं हैं जिन्हें लेकर समाधान कराने के हसीन सपने दिखाकर जनता के कीमती वोटों से अपनी खाली झोलियां भरने के बाद भूल जाना ही जनप्रतिनिधियों की नीयति ही बन चुकी है।
देखा जाए तो जौनपुर-गाजीपुर मार्ग पर पूर्वी छोर पर 30 किमी पर बसे केराकत तहसील मुख्यालय से आने जाने हेतु राजकीय यातायात साधन का घोर अभाव है। यही नहीं वर्ष 1903 में अंग्रेजी हुकूमत के दौरान जौनपुर-औड़िहार रेल लाइन का निर्माण किया गया था और केराकत को स्टेशन का दर्जा मिला था। इस रेल मार्ग का अमान परिवर्तन तो
...
more...
किया गया ¨कतु केराकत से स्टेशन का दर्जा छीन लिया गया। इस मार्ग पर मुफ्तीगंज व डोभी को स्टेशन का दर्जा मिल गया। आज देखा जाए तो केराकत में एक पैसेंजर व एक डेमू ट्रेन के साथ-साथ लंबी दूरी की संचालित ट्रेनों में सिर्फ गोदिया ट्रेन को छोड़ किसी भी ट्रेन का ठहराव सुनिश्चित नहीं हो सका। जनप्रतिधि सिर्फ झूठ बोलकर जनता से वादे-दर-वादे करते हुए बड़ी-बड़ी रेल यातायात-रेल यात्री सुविधाएं शीघ्र उपलब्ध करवाने के आश्वासन का घूंट पिलाते चले आ रहे हैं। संवरने के बजाए बदरंग होने लगी स्टेशनों की सूरत
जौनपुर-औड़िहार रेलमार्ग पर स्थित यादवेंद्र नगर, मुफ्तीगंज, गंगौली, केराकत, डोभी व दुधौड़ा(पतरहीं) स्टेशनों की दशा पर नजर डाली जाए तो संवरने को कौन कहे दिनोंदिन बद से बदतर स्थिति नजर आने लगी है। इन स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं का घोर अभाव है। अधिकांश लाइटें जलती नहीं हैं। एक दो को छोड़कर अधिकांश हैंडपंप बिगड़े पड़े हैं। यात्रियों को बैठने के लिए बेंच टूट चुकी हैं। शौचालयों की स्थिति अत्यन्त खराब है। स्टेशनों पर कूड़ों व घास-फूस झाड़ झंखाड़ का अंबार लगा हुआ है। बेकार पड़ी है बेरोजगारों की लंबी फौज
यहां शिक्षित बेरोजगारों की फौज तैयार हो चुकी है। ¨कतु काम के अभाव में हजारों नौजवान देश के बड़े महानगरों व विदेशों में नौकरी की तलाश में दर-दर की ठोकरें खाने पर विवश हैं। यहां एक भी कलकारखाना नहीं है। जिससे बेरोजगार युवक जुड़कर अपना जीवकोपार्जन कर सकें। बिजली की दु‌र्व्यवस्था का यह आलम है कि समुचित बिजली की आपूर्ति के अभाव में छोटे मझोले उद्योग धंधे दम तोड़ते नजर आ रहे हैं। व्यापार पर भी बुरा असर पड़ा है।
नगर में एक अर्से से राजकीय महिला डिग्री कालेज की मांग आज तक पूरी नहीं हो सकी। क्षेत्र के प्रमुख बाजारों में जल निकासी की समस्या नाली के अभाव में बनी हुई है। यही नहीं पेयजल संकट के निराकरण हेतु पानी टंकी की मांग पूरी नहीं हो सकी है। तहसील के मुफ्तीगंज के मई-पसेवां घाट व बीरमपुर-भड़ेहरी घाट पर निर्माणाधीन पक्का पुल काफी दिनों से धनाभाव के चलते ठप है। केराकत के सरोज बड़ेवर व गुलरा गाट पर पीपे पुल की मांग आज भी पूरी नहीं हो सकी। तहसील मुख्यालय पर मुंसिफ न्यायालय की मांग न जाने कब पूरी होगी। क्या कहते हैं सांसद
मछलीशहर सांसद राम चरित्र निषाद का कहना है कि केराकत में ¨सगल रेल लाइन होने के कारण इसे स्टेशन का दर्जा दिलाने में बड़ी बाधा है। यही नहीं लंबी दूरी के ट्रेनों का ठहराव एवं अन्य यात्री सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं हो पा रही हैं। ¨कतु डबल रेल लाइन का कार्य चल रहा है। इसके पूर्ण होने में कुछ माह में लगेंगे। कार्य पूर्ण होते ही स्टेशन का दर्जा व अन्य ट्रेनों का ठहराव आदि सुविधाएं शीघ्र उपलब्ध करा दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि डोभी में कई महत्वपूर्ण ट्रेनों का ठहराव करवा दिया गया है। केराकत क्षेत्र प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़कों का निर्माण चंदवक व केराकत में आधुनिक शौचालय का निर्माण कराया गया है। सभी प्रमुख स्थानों पर पानी की टंकी निर्माण, सैकड़ों सौर उर्जा की लाइटों के अलावा केंद्र सरकार की कई महत्वपूर्ण कल्याणकारी योजनाओं को सीधे जनता तक लाभ पहुंचाने का कार्य सम्पन्न कराया गया है। साथ ही किसानों की नेशनल हाइवे में अधिग्रहीत जमीनों का चार गुना मुआवजा भी दिलाने का सफल प्रयास किया है। क्या कहते हैं विधायक
क्षेत्रीय विधायक दिनेश चौधरी ने कहा कि महिला डिग्री कालेज, केराकत में रोडवेज बस डिपो, केराकत नगर के सुंदरीकरण व चौराहों पर महापुरुषों के प्रतिमाओं की स्थापना व सुंदरीकरण, पेयजल संकट के निराकरण हेतु पानी की टंकी, बाजारों में जलनिकासी की व्यवस्था, गोमती तट के पास एक सुंदर पार्क का निर्माण व क्षेत्र में एक स्टेडियम के साथ-साथ केराकत में मुंसफ कोर्ट की स्थापना जैसी समस्याओं का हल शीघ्र होगा।
May 10 2018 (17:20) संवरने की बजाए बदरंग हो रही स्टेशनों की सूरत (m.jagran.com)
IR Affairs
NR/Northern

News Entry# 336593   
  Past Edits
May 10 2018 (17:20)
Station Tag: Yadvendranagar/YDV added by श्री काल भैरव~/1207464

May 10 2018 (17:20)
Station Tag: Kerakat/KCT added by श्री काल भैरव~/1207464

May 10 2018 (17:20)
Station Tag: Barsathi/BSY added by श्री काल भैरव~/1207464

May 10 2018 (17:20)
Station Tag: Janghai Junction/JNH added by श्री काल भैरव~/1207464
संवरने की बजाए बदरंग हो रही स्टेशनों की सूरत
Publish Date:Wed, 09 May 2018 06:06 PM (IST)
जागरण संवाददाता, जौनपुर: रेलवे स्टेशनों की सूरत संवरने की बजाय बदरंग होती जा रही है।...
जागरण संवाददाता, जौनपुर: रेलवे स्टेशनों की सूरत संवरने की बजाय बदरंग होती जा रही है। अधिकतर स्टेशनों पर मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। रेलवे यात्रियों को बैठने, शौचालय तक की व्यवस्था नहीं।
...
more...
सूखे पड़े नलों की वजह से यात्रियों को पानी खरीद कर पीना पड़ रहा है। जहां एक ओर जौनपुर जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या पांच का आज तक विस्तार नहीं हो सका, वहीं दूसरी ओर सिटी स्टेशन का भी हाल बुरा है।
जौनपुर जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या पांच का विस्तार आज तक नहीं हो सका है। मानक के मुताबिक प्लेटफार्म छोटा होने की वजह से एक्सप्रेस ट्रेनों के चार से पांच डिब्बे बाहर खड़े होते हैं, जिससे यात्रियों को ट्रेन में सवार होने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सबसे अधिक परेशानी ठंड-बरसात के दिनों में होती है। सिटी स्टेशन का भी हाल बुरा है। स्टेशन पर बिजली की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होने से यात्री परेशान हैं। रात के वक्त ट्रेन लेट होने पर स्थिति और खराब हो जाती है।
हफ्तेभर से लापता युवक का सुराग नहीं, थाने का घेराव
यह भी पढ़ें
जौनपुर-औड़िहार रेलमार्ग पर भी यात्रियों का बुरा हाल है। यादवेंद्र नगर स्टेशन खुद की पहचान ही खो रहा है। जौनपुर के राजा रहे यादवेंद्र दत्त दुबे के नाम पर बनाए गए इस स्टेशन पर मुसाफिरों को पानी तक नसीब नहीं होता। यहां लगी सभी लाइटें खराब हैं, जबकि बैठने के लिए बनी कुर्सियां टूट चुकी हैं। मुफ्तीगंज स्टेशन पर लगी 20 स्ट्रीट लाइटों में अधिकतर खराब हैं। रेलवे ब्रिज पर लगी अधिकांश लाइटें जलती ही नहीं। इससे यात्रियों को भारी परेशानियों को सामना करना पड़ता है। छह हैंडपंपों में दो खराब हैं। केराकत स्टेशन तहसील मुख्यालय का यह स्टेशन सबसे खराब स्थिति में है। स्टेशन का दर्जा छीनकर इसे हाल्ट स्टेशन बना दिया गया है, जिसे लेकर स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है। यहां लगी सभी स्ट्रीट लाइटें खराब पड़ी हैं। शौचालय इस्तेमाल करने लायक नहीं है। यहां बने गोदाम पर अतिक्रमण हो चुका है। डोभी स्टेशन शाम होते ही अंधेरे में डूब जाता है।
इन मांगों पर नहीं हुआ विचार
स्थानीय लोगों ने केराकत को स्टेशन का दर्जा दिलाने, रेल आरक्षण टिकट केंद्र खोलने, छपरा-दिल्ली एक्सप्रेस व सुहेलदेव एक्सप्रेस का ठहराव करने समेत अन्य मांगों को जनप्रतिनिधियों ने गंभीरता से नहीं लिया।
ठेकेदारों की तैयार की जा रही कुंडली
यह भी पढ़ें
उपेक्षा का दंश झेल रह बरसठी स्टेशन
बरसठी स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा को लेकर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया। ब्रिटिश जमाने के इस स्टेशन पर आज भी मुसाफिरों को पानी व शौचालय के लिए भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। स्टेशन को बेहतर बनाने को लेकर दावे कई बार हुए, लेकिन हकीकत में कुछ नहीं हो सका। यहां से पैंसेजर समेत कई एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन होता है, लेकिन यात्री सुविधाओं की ¨चता किसी को नहीं है।
जंघई स्टेशन
जंघई स्टेशन भी यात्रियों की जरूरतों को पूरा नहीं करता। यहां से रोजाना तकरीबन एक हजार यात्री सफर करते हैं, लेकिन स्टेशन पर यात्रियों के लिए न तो बैठने की व्यवस्था है और न ही पानी की। इस बाबत यात्रियों की शिकायतों को भी कभी गंभीरता से नहीं लिया गया।
Aug 05 2016 (10:45) केराकत तहसील के सभी रेलवे स्टेशन बदरंग हो चले (m.jagran.com)
IR Affairs
NER/North Eastern

News Entry# 276048   
  Past Edits
Aug 05 2016 (10:45AM)
Station Tag: Muftiganj/MFJ added by Saurabh Singh Rajpoot~/1207464

Aug 05 2016 (10:45AM)
Station Tag: Dobhi/DHE added by Saurabh Singh Rajpoot~/1207464

Aug 05 2016 (10:45AM)
Station Tag: Yadvendranagar/YDV added by Saurabh Singh Rajpoot~/1207464

Aug 05 2016 (10:45AM)
Station Tag: Gangauli/GNGL added by Saurabh Singh Rajpoot~/1207464

Aug 05 2016 (10:45AM)
Station Tag: Kirakat/KCT added by Saurabh Singh Rajpoot~/1207464
बदरंग हो चली रेलवे स्टेशनों की तस्वीर
केराकत (जौनपुर): यात्री सुविधाओं को लेकर रेलवे महकमा गंभीर है। समय-समय पर उच्चाधिकारी निरीक्षण करने
केराकत (जौनपुर): यात्री सुविधाओं को लेकर रेलवे महकमा गंभीर है। समय-समय पर उच्चाधिकारी निरीक्षण करने आते हैं और प्रस्ताव व निर्देश देकर चले जाते हैं, ¨कतु हकीकत इससे इतर दिखाई पड़ती है। औड़िहार-जौनपुर मार्ग के 5 रेलवे स्टेशनों की सूरत संवरने की बजाए बदरंग होती जा रही है। इन स्टेशनों पर व्याप्त अव्यवस्था ही पहचान बनती जा रही है। स्ट्रीट लाइट खराब होने से अंधेरा छाया रहता है। हैंडपंप खराब होने
...
more...
से यात्री पानी के लिए भटकते हैं। इतना ही नहीं प्लेटफार्म पर गंदगी ही दिखाई पड़ती है। आश्चर्य तो तब होता है जब निरीक्षण करने आने वाले जिमेदारों की नजर इधर नहीं पड़ती है। जिसका खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ता है।
पहचान खोता यादवेंद्र नगर
यह रेलवे स्टेशन अपनी पहचान खोता हुआ न•ार आ रहा है। जौनपुर के राजा यादवेंद्र दत्त दुबे के नाम पर बना यादवेंद्र नगर स्टेशन की हालत बद से बदतर है। इस स्टेशन पर लगे इंडिया मार्का दो हैंडपंप में अरसे से बिगड़े पड़े हैं। वहीं एक दर्जन लगी स्ट्रीट लाइटें खराब हो चली है। यहां यात्रियों के बैठने हेतु बेंच पर लगी दो छ्तरियों में से एक को अवांछनीय तत्व उखाड़ ले गए। स्टेशन पर एक मात्र बना शौचालय गंदगी में डूबा हुआ है, जहां लघु शंका अथवा दीर्घशंका का निवारण करने को कौन कहे जानवर भी निवारण करने से कतराते है।
बदरंग है मुफ्तीगंज स्टेशन
मुफ्तीगंज स्टेशन की सूरत दिनों दिन संवरने की बजाय बदरंग होती जा रही है। प्लेटफार्म पर लगी 20 स्ट्रीट लाइटें खराब हो चुकी हैं। रेलवे ओवरब्रिज की सभी लाइटें खराब हैं। जिसके चलते यात्रियों को अंधेरे का समना करना पड़ता है। जिसका फायदा उठाकर उचक्के व मनचले अपनी बेजा हरकतों में सफल हो जाया करते हैं। इस स्टेशन पर लगी बेंचों पर चार छतरियों में एक को अवांछनीय तत्व उखाड़ कर गायब कर दिए हैं जबकि शेष तीन छतरियां टूट चुकी हैं। वहीं स्टेशन पर लगी छ: हैंडपंपों में तीन बिगड़े पड़े है।
दुर्दशाग्रस्त केराकत रेलवे स्टेशन
तहसील मुख्यालय का स्टेशन इस समय अपनी बदकिस्मती पर आंसू बहा रहा है। स्टेशन दर्जा से हाल्ट स्टेशन बन चुके इस स्टेशन पर समस्याओं का अंबार है। यहां लगी सभी स्ट्रीट लाइटें बिगड़ी हुई है। एक मात्र हैंडपंप ही इस समय यात्रियों की कितनी प्यास बुझा पाता होगा, इसे आसानी से समझा जा सकता है। हैरत तो यह होती है कि स्टेशन के पश्चिम तरफ परिसर पर कुछ ग्रामीण महिलाएं उपली पाथते हुए न•ार आ जाती है। एक मात्र शौचालय उपयोग करने योग्य नहीं रह गया है। दो छतरियों में एक टूटकर समाप्त हो गई है।सांसद दावा करते है कि इसे आदर्श स्टेशन का दर्जा दिया गया है जबकि एेसा कुछ नही है|
नाम का गंगौली स्टेशन
मुफ्तीगंज-केराकत के मध्य स्थित गंगौली स्टेशन सिर्फ नाम का स्टेशन है। यहां यात्रियों को कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है। स्टेशन पर लगी हैंडपंप बिगड़ चुकी है। यात्रियों को बैठने के लिए बने सीमेंटेड शेड टूट चुका है। वहीं स्टेशन पर एक भी स्ट्रीट लाईट नहीं लगी है।
गंदगी से घिरा डोभी स्टेशन
डोभी स्टेशन पर लगी 28 स्ट्रीट लाइटों से 23 खराब हो चुकी है। जबकि 6 हैंडपंपों में एक बिना मुंडी व हत्थे का है, बाकी सभी पांच हैंडपंपों से पानी के जगह बालू निकलता है। तीन छतरी में एक टूटी-फूटी अवस्था में है। ओवरब्रिज पर कोई लाइट नहीं जलती तथा शौचालय में ताला लगा रहता है। स्टेशन पर घास-फूस का साम्राज्य छाया हुआ है।
रेल कर्मचारियों का आशियाना बना खंडहर
यादवेंद्र नगर व मुफ्तीगंज स्टेशन के कर्मचारियों को रहने के लिये बाबा आदम के जमाने का बना सरकारी आवास खंडहर मे तब्दील हो चुका है। जिसमें रहने से रेल कर्मी घबराते है।
Page#    Showing 1 to 5 of 5 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy