Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

शिव की जटाओं से बहती है शिव गंगा - Divyanshu

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sat Dec 4 18:07:47 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRAdvanced Search

SCI/Sanchi (2 PFs)
     साँची

Track: Triple Electric-Line

Show ALL Trains
Sanchi,District Raisen, Pin ;- 464661
State: Madhya Pradesh

Elevation: 427 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for SCI/Sanchi
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 22
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.2/5 (24 votes)
cleanliness - excellent (3)
porters/escalators - average (3)
food - good (3)
transportation - good (3)
lodging - excellent (3)
railfanning - excellent (3)
sightseeing - excellent (3)
safety - good (3)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 22 News Items  next>>
Nov 28 (20:07) यात्रियों को सुविधा होगी:छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस आज सांची में रुकेगी, सुविधा 2 दिन (www.bhaskar.com)
Temporary Stops
SECR/South East Central
0 Followers
9301 views

News Entry# 471132  Blog Entry# 5147641   
  Past Edits
Nov 28 2021 (20:07)
Station Tag: Sanchi/SCI added by Saurabh®/1294142

Nov 28 2021 (20:07)
Train Tag: Chhattisgarh Express/18238 added by Saurabh®/1294142

Nov 28 2021 (20:07)
Train Tag: Chhattisgarh Express/18237 added by Saurabh®/1294142
भोपाल मंडल के अंतर्गत सांची में बुद्ध मेले के अवसर पर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस काे अस्थायी स्टापेज दिया गया है। यह ट्रेन 28 नवंबर को सांची में रुकेगी। कोरबा-अमृतसर तक चलने वाली इस ट्रेन के स्टापेज से यात्रियों को सुविधा होगी। हालांकि यह सुविधा केवल दो दिनों के लिए है। बाकी दिनों में यात्री भोपाल से उतरकर सड़क मार्ग या लोकल ट्रेन से सांची पहुंच सकते हैं। अमृतसर से आने वाली छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को शुक्रवार को वहां स्टापेज दिया गया था। यह ट्रेन सांची रेलवे स्टेशन में शाम को 5.19 बजे पहुंची। कई यात्री वहां उतरे और बुद्ध मेलाछत्तीसगढ़ एक्स. आज सांची में रुकेगी, सुविधा 2 दिन में शामिल हुए।
Copyright © 2021-22 DB Corp ltd., All Rights Reserved
This
...
more...
website follows the DNPA Code of Ethics.
Nov 27 (11:33) बुद्ध मेला, सांची स्टेशन में छत्तीसगढ़ ट्रेन का अस्थाई ठहराव (www.naidunia.com)
Temporary Stops
WCR/West Central
0 Followers
7170 views

News Entry# 471006  Blog Entry# 5146244   
  Past Edits
Nov 27 2021 (11:33)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836

Nov 27 2021 (11:33)
Station Tag: Sanchi/SCI added by Adittyaa Sharma/1421836
बिलासपुर। पश्चिम मध्य रेलवे के भोपाल रेल मंडल अंतर्गत सांची में बुद्ध मेला के अवसर पर कुछ रेलवे की ट्रेनों का सांची रेलवे स्टेशन में अस्थायी ठहराव देने का निर्णय लिया गया है। इसमें बिलासपुर रेल मंडल 18237/18238 कोरबा-अमृतसर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस भी शामिल है। यह ट्रेन 27 व 28 नवंबर को ठहरेगी। रेलवे के अनुसार कोरबा -अमृतसर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस सांची रेलवे स्टेशन में 06.44 बजे पहुंचकर 06.45 बजे रवाना होगी।
इसी तरह अमृतसर-कोरबा छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस का सांची में 17.19 बजे पहुंचकर 17.20 बजे रवाना होगी। यात्रियों को दो दिन ही यह सुविधा मिलेगी। दोनों दिशा में ट्रेन एक-एक मिनट ठहरेगी। इसके बाद रवाना हो जाएगी। अन्य स्टेशनों में आगमन व प्रस्थान का समय यथावत रहेगा।
अतिरिक्त
...
more...
स्लीपर कोच के साथ छूटेगी यशवंतपुर व कोचुवेली एक्सप्रेस
रेलवे प्रशासन द्वारा यात्रियों की बेहतर सुविधा व अधिकाधिक यात्रियों को कंफ़र्म बर्थ उपलब्ध करने के लिए दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से चलने वाली कोरबा - यशवंतपुर एक्सप्रेस व कोरबा - कोचुवेली एक्सप्रेस में अतिरिक्त कोच की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। इस सुविधा की उपलब्धता से यात्री लाभान्वित होंगे।
12252 कोरबा - यशवंतपुर एक्सप्रेस में एक अतिरिक्त स्लीपर कोच की सुविधा कोरबा से 28 नवंबर को और 22647 कोरबा-कोचुवेली एक्सप्रेस में कोरबा से 27 नवंबर को अतिरिक्त कोच के साथ छूटेगी। दोनों ही ट्रेन अभी बर्थ को लेकर मारामारी है। प्रतीक्षा सूची भी बढ़ गई है। इसे देखते हुए ही रेलवे यह सुविधा उपलब्ध कर रहा है, ताकि यात्रियों को परेशानी न हो और सुरक्षित व आराम से गंतव्य तक पहुंच सके।
Aug 12 (11:54) डिजिटल डिस्प्ले से यात्रियों को मिली राहत:पमरे ने जोन के 43 स्टेशनों पर डिजिटल यात्री गाड़ी सूचना बोर्ड और 34 स्टेशनों पर ट्रेन एट ए ग्लांस बोर्ड लगाए गए (www.bhaskar.com)
New Facilities/Technology
WCR/West Central
0 Followers
72164 views

News Entry# 461715  Blog Entry# 5039792   
  Past Edits
Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Mandi Bamora/MABA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Ashok Nagar/ASKN added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Ganj Basoda/BAQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Harda/HD added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Sant Hirdaram Nagar/SHRN added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Sanchi/SCI added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Vidisha/BHS added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: HabibGanj/HBJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Gadarwara/GAR added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Katni South/KTES added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Katni Murwara/KMZ added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Saugor/SGO added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Damoh/DMO added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Rewa (Terminal)/REWA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Satna Junction/STA added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Maihar/MYR added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Sihora Road/SHR added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Madan Mahal/MML added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Narsinghpur/NU added by Adittyaa Sharma/1421836

Aug 12 2021 (11:59)
Station Tag: Pipariya/PPI added by Adittyaa Sharma/1421836
रेलवे स्टेशन पर कौन सी ट्रेन किस प्लेटफार्म पर आ रही है। प्लेटफार्म पर ट्रेन इंजन से डिब्बों संख्या कैसी होगी। कौन से कोच कहां लगेंगे। अक्सर इसका पता लगाने में ही यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ती थी। कई बार भागदौड़ लगानी पड़ती थी। पर पश्चिम मध्य रेलवे (पमरे) ने डिजिटल डिस्प्ले लगाकर यात्रियों को बड़ी राहत दी है। जोन के 43 स्टेशनों पर यात्री गाड़ी सूचना बोर्ड और 34 स्टेशनों पर ट्रेन एट ए ग्लांस बोर्ड लगाए हैं।
पमरे ने जबलपुर मण्डल के 14, भोपाल मण्डल के 12 और कोटा मण्डल के 17 स्टेशनों पर डिजिटल यात्री गाड़ी सूचना बोर्ड लगाई है। इसकी मदद से यात्री प्लेटफार्म पर प्रवेश करते ही ये जान सकते हैं कि अमुक गाड़ी इस समय पर
...
more...
फला प्लेटफार्म पर आ रही है। यह जानकारी लगातार रंगीन डिजिटल डिस्पले पर चलती रहती है। इससे यात्रियों को बेवजह पूछताछ के लिए परेशान नहीं होना पड़ रहा।
वहीं ट्रेन एट ए ग्लान्स बोर्ड जबलपुर मण्डल के 06, भोपाल मण्डल के 08 और कोटा मण्डल के 20 स्टेशनों पर लगाए गए हैं। इससे यात्रियों को ट्रेन के कोचों की इंजन से स्थिति की जानकारी प्राप्त होती है। हर कोच कहां पर लगेगा, ये डिस्पले पहले से ही दर्शाने लगता है। इसका फायदा ये है कि यात्रियों को बेवजह कोच आगे-पीछे होने की चिंता नहीं रहती और आखिरी समय में प्लेटफार्म पर भगदड़ जैसे हालात नहीं बनते।
जबलपुर-भोपाल मंडल में यहां लगे हैं डिजिटल बोर्ड
जबलपुर मण्डल (14 स्टेशनों):- पिपरिया, नरसिंहपुर, मदन महल, जबलपुर, सिहोरा, कटनी, मैहर, सतना, रीवा, दमोह, सागर, कटनी मुड़वारा, कटनी साउथ व गाडरवारा स्टेशनों पर डिजिटल बोर्ड लगाया गया है।
भोपाल मण्डल (12 स्टेशनों):- भोपाल, हबीबगंज, इटारसी, विदिशा, सांची, संत हिरदाराम नगर, गुना, हरदा, गंजबासौदा, अशोक नगर, शिवपुरी व मंडी बामोरा स्टेशनों पर डिजिटल बोर्ड लगाया गया है।
जबलपुर-भोपाल मंडल में यहां लगे हैं ट्रेन एट ए ग्लान्स बोर्ड
जबलपुर मण्डल (06 स्टेशनों):- जबलपुर, पिपरिया, मदन महल, सतना, सागर व मैहर स्टेशनों पर लगे हैं।
भोपाल मण्डल (08 स्टेशनों):- भोपाल, बीना, इटारसी, विदिशा, होशंगाबाद, गुना, संत हिरदाराम नगर व हरदा स्टेशनों पर लगे हैं।
डिजिटल बोर्ड से यात्रियों को ये फायदा
इस डिजिटल प्रणाली से यात्रियों को गाड़ियों की पूरी जानकारी प्राप्त हो रही है।
यात्रियों को स्टेशन के पूछताछ काउंटर पर भीड़ से निजात मिलती है।
डिजिटल प्रणाली कलरयुक्त लाईट होने से यात्रियों को दिखने में सुविधाजनक होती है।
पश्चिम मध्य रेलवे इस प्रणाली को अन्य स्टेशनों पर भी स्थापित करने जा रहा है।
Jul 04 (16:31) Rail Museum of Sanchi: सांची में मध्य प्रदेश के पहले रेल संग्रहालय का शुभारंभ (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
9121 views

News Entry# 458204  Blog Entry# 5004535   
  Past Edits
Jul 04 2021 (16:31)
Station Tag: Sanchi/SCI added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Sanchi/SCI  
Rail Museum of Sanchi: रायसेन, सांची (नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश का पहला रेलवे संग्रहालय सांची स्टेशन पर शनिवार को शुरू किया गया है। भोपाल मंडल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर ने महिला कर्मचारी के हाथों से फीता कटवाकर संग्रहालय में प्रवेश किया। डीआरएम बोरवणकर ने बताया कि मध्य प्रदेश में रेलवे की प्राचीन स्मृतियों को याद करने के उद्देश्य से यह संग्रहालय खोला गया है। इसमें वर्ष 1893 से लेकर आजादी से पूर्व तक की रेलवे के विकास की यादें समाहित करने का प्रयास किया गया है।
देश के विभिन्ना प्रांतों में रेलवे के संग्रहालय हैं, लेकिन सांची स्टेशन पर आरंभ किया गया मध्य प्रदेश का यह पहला रेल संग्रहालय है। सांची विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। देश-विदेश के पर्यटक यहां आते हैं।
...
more...
सांची स्टेशन पर रेल संग्रहालय को देखने पर्यटक भी पहुंचेंगे। इस संग्रहालय के माध्यम से दुनिया के लोगों को पता चलेगा कि भारत में रेलवे ने 1893 से किस प्रकार कार्य किया और निरंतर विकास करते हुए आज आधुनिक तकनीक से काम हो रहा है। भाप का इंजन भी तेज गति से चलता था, लेकिन उसमें मेहनत बहुत लगती थी। मेंटेनेंस भी ज्यादा था। अब आधुनिक तकनीक व एसी वाले इंजन बन गए हैं। यहां रेल संग्रहालय में भाप का इंजन, पुरानी टेनिस, स्टोप पंप की लाइट, पुराने औजार, टेलीफोन इत्यादि रखे हुए हैं।
हालात सामान्य होने पर सभी ट्रेनें चलेंगी
रेल मंडल प्रबंधक बोरवणकर ने संग्रहालय का अवलोकन करने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि जैसे-जैसे कोरोना संक्रमण से राहत मिल रही है उसी अनुसार सरकार ट्रेनें चलाने का काम कर रही है। इस सप्ताह कई ट्रेनों को चालू किया गया है। हालात सामान्य होने पर सभी ट्रेनें चलने लगेंगी। सरकार ने जिन रेल के जिन डिब्बों को क्वारंटाइन सेंटर के रूप में उपयोग किया था, वे भी अब खाली हो गए हैं। सरकार जब भी यह निर्देशित करेगी कि क्वारंटाइन सेंटर बनाई गई बोगियों की अब आवश्यकता नहीं है तो उनकी साफ-सफाई, सैनिटाइज कराने के बाद ट्रेनों में उपयोग किया जाने लगेगा।
Jul 04 (14:26) लालटेन दिखाकर देते थे लाइन क्लीयर होने का संकेत, भाप से दौड़ते थे इंजन (www.patrika.com)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
6206 views

News Entry# 458190  Blog Entry# 5004448   
  Past Edits
Jul 04 2021 (14:26)
Station Tag: Sanchi/SCI added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
Stations:  Sanchi/SCI  
रायसेन/सांची. इलेक्ट्रिक आधारित रेल संचालन व्यवस्था आने से पहले किस तरह ट्रेनों का सफल संचालन किया जाता था, इसमें किस तरह के उपकरण उपयोग में लाए जाते थे। यह जानना और देखना है तो सांची स्टेशन जाइये, यहां पुराने जमाने के हर तरह के रेलवे के उपकरण एक संग्रहालय में सजाकर रखे गए हैं। इस संग्रहालय का शनिवार को डीआरएम उदय बोरवणकर ने शुभारंभ किया। सांची स्टेशन पर बनाए गए इस संग्रहालय में बिना टिकट प्रवेश मिलेगा। यह संग्रहालय खासतौर से विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए खोला गया है। ताकि भारत की पुरानी तकनीक विदेशियों को देखने मिले और वो अंग्रेजों के जमाने से अब तक भारतीय रेल में आए परिवर्तन और आधुनिकीकरण को जान सकें। पहले पटरी पर दौड़ रही ट्रेन को लालटेन दिखाकर लाइन क्लीयर होने का संकेत दिया जाता था। अब यह व्यवस्था सिग्रल आधारित हो गई है। छुक-छुक कर दौड़ते भाप वाले इंजनों की जगह...
more...
बिजली चलित इंजनों ने ले ली है। युवा पीढ़ी ने रेलवे की पुरानी तकनीक और उपकरणों को नहीं देखा है, ऐेसे लोगों के लिए सांची स्टेशन पर संग्रहालय बनाया गया है। जिसमें पुराने समय के तमाम उपकरण सजाकर रखे गए हैं। संग्रहालय का शुभारंभ करते हुए मंडल रेल प्रबंधक उदय बोरवणकर ने बताया कि पहले इंजन कोयला से चलते थे और उन्हें चलाने में अधिक स्टाफ की आवश्यकता होती थी, अब केवल 2 लोग ही ट्रेन में चालक के रूप में उपलब्ध रहते हैं। स्टेशन अधीक्षक आरबी ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में किसी स्टेशन पर इस तरह का संग्रहालय नहीं है। डीआरएम के निर्देश पर तीन दिन में ही संग्रहालय तैयार किया गया।ठाकुर ने बताया कि सांची विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है यहां देशी विदेशी पर्यटक आते हैं। इसलिए सांची में यह संग्रहालय बनाया गया है। पुराने उपकरणों और उन के उपयोग की तकनीक के बारे में बताते हुए डीआरएम ने नगर के लोगों से भी बात की। उन्होंने कहा कि सांची स्टेशन पर जो सवारी ट्रेन नहीं रुक रही हैं, उन्हें जल्द रोकने की तैयारी है। इस मौके पर स्टेशन अधीक्षक आरबी ठाकुर एवं रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी मौजूद थे।भगवती बाई ने काटा रिबनरेलवे संग्रहालय का शुभारंभ सांची स्टेशन पर पदस्थ चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भगवती बाई ने रिबन काटकर किया। डीआरएम वोरवणकर ने विभाग की महिला कर्मचारियों को सम्मान देते हुए प्रदेश के पहले संग्रहालय का शुभारंभ उनके हाथों कराया।
Page#    Showing 1 to 20 of 22 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy