Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Uttarbanga Exp: উত্তরের আত্মার আত্মীয় - Avinaba Bose

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Mon Oct 25 23:23:43 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

BAQ/Ganj Basoda (4 PFs)
گنج باسودا     गंज बासौदा
[VasuDev Nagar]

Track: Triple Electric-Line

Show ALL Trains
Ganj Basoda, District Vidisha
State: Madhya Pradesh

Elevation: 417 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for BAQ/Ganj Basoda
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 4
Number of Halting Trains: 106
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 4.5/5 (48 votes)
cleanliness - excellent (6)
porters/escalators - excellent (6)
food - good (6)
transportation - excellent (6)
lodging - good (6)
railfanning - excellent (6)
sightseeing - good (6)
safety - excellent (6)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 63 News Items  next>>
रेलवे ने देश में शुरू की गई डिजिटल इंडिया अभियान के तहत रेलवे स्टेशन के टिकट विंडाें काे अपडेट कर दिया है। लेकिन जागरूकता की कमी और समय अवधि के कारण डिजीटल पेमेंट में लाेगाें की रूचि अब तक दिखाई नहीं दे रही है। शहर के रेलवे स्टेशन पर प्लेट फार्म क्रमांक 1 पर बनी रिजर्वेशन विंडाें में पिछले दाे साल में केबल 20 टिकट ही डिजीटल पेमेंट से बनाई गई हैं।
डिजीटल पेमेंट नहीं करने के पीछ मुख्य वजह समय की है। नगद पेमेंट प्रणाली से एक टिकट में 2 से 3 मिनट का समय लगता है। जबकि डिजीटल पेमेंट में 10 से 15 मीनट का समय लगता है। इसके कारण लाेगाें की कम रूची है। दूसरा कारण यह भी है
...
more...
कि लाेग स्वेप मशीन का उपयाेग करने से ज्यादा नगद पेमेंट करने में ज्यादा भराेसा रखते हैं।
जबकि रेलवे ने रेल यात्रा करने वाल उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए सभी भुगतान डिजिटल प्लेटफार्म से शुरू कर दिए हैं। पश्चिम मध्य रेलवे के भोपाल रेल मंडल ने कैश लेस भुगतान को बढ़ावा देने के लिए मंडल के प्रमुख रेलवे स्टेशनों हरदा, इटारसी, होशंगाबाद, हबीबगंज, भोपाल, संत हिरदाराम नगर, विदिशा, गंजबासौदा, बीना, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी स्टेशनाें पर स्थित आरक्षण काउंटरों पर प्लेटफार्म टिकट एवं आरक्षण टिकट का भुगतान करने के लिए पीओएस मशीनें लगाई गई हैं। इन मशीनों के माध्यम से यात्री प्लेटफॉर्म एवं आरक्षण टिकट का भुगतान डेबिट-क्रेडिट कार्ड से कर सकते हैं।
इसके अतिरिक्त मंडल के सभी आरक्षण कार्यालयों एवं खिड़कियों पर यूपीआई (यूपीआई) के माध्यम से भी आरक्षण टिकट का भुगतान किया जा सकता है। वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबन्धक विजय प्रकाश नें बताया कि इस सुविधा के उपयोग करने से यात्री को अपने पास नगद राशि रखने की झंझट से मुक्ति मिलेगी।
इस सुविधा से कोविड संक्रमण से बचने में भी मदद मिलेगी। रेलवे यात्रियों से अपील करता है कि वह प्लेटफॉर्म टिकट अथवा आरक्षण टिकट खरीदते समय नगद भुगतान करने से बचें। भुगतान के लिए काउन्टरों पर उपलब्ध पीओएस मशीन एवं यूपीआई (यूपीआई) माध्यमों का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें।
Oct 18 (22:56) रेलवे ने प्याऊ तोड़ने की तैयारी की, समाजसेवियों ने चर्चा के बाद रुकवाया काम (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
2501 views

News Entry# 467854  Blog Entry# 5098277   
  Past Edits
Oct 18 2021 (22:56)
Station Tag: Ganj Basoda/BAQ added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Ganj Basoda/BAQ  
गंजबासौदा (नवदुनिया न्यूज)। वर्ष 2008 में शहर के ओसवाल परिवार द्वारा गंजबासौदा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म एक पर रेल यात्रियों के लिए जल सेवा के लिए प्याऊ का निर्माण कराया गया था। जिसे अब रेलवे विभाग द्वारा तोड़ने की तैयारी की जा रही थी। इसकेलिए सोमवार को विभाग के कर्मचारियों द्वारा उक्त प्याऊ को तोड़ने के लिए सामग्री रख दी गई थी। लेकिन जैसे ही प्याऊ को जमीदोज करने की जानाकारी ओसवाल परिवार को लगी तो उन्होंने भोपाल से आए अधिकारी और स्टेशन प्रबंधक सुरेश पाल से मिलकर शहर के समाजसेवीयों ने चर्चा की काफी देर तक चली चर्चा के बाद यहा निराकरण निकला की अब ओसवाल परिवार उक्त प्याऊ का सुधार कार्य कर नल कनेक्शन लेकर दोबारा से प्याऊ को चालू कराएगा जिससे की रेल यात्रियों को पीने के लिए ठंडा पानी मिल सके।
सोमवार
...
more...
को शहर के समाजसेवियों ने रेवले स्टेशन पहुंचकर भोपाल से आए आईओडब्लू के अधिकारी दिनेश नरवरिय और सटेशन प्रबंधक सुरेश पाल से चर्चा की। इस दौरान बताया गया कि यह प्याऊ वर्ष 2008 में रेल यात्रियों को निश्शुल्क ठंडे पेयजल के लिए बनवाई थी। प्याऊ में वाटर कूलर भी लगवाया गया था। लेकिन कुछ सालों से प्याऊ बंद थी और क्षतिग्रस्त भी हो गई थी। समाजसेवियों ने रेलवे अधिकारी से मांग की है कि इस प्याऊ का जमीदेज न किया जाए क्योंकि गर्मी के दिनों में इस प्याऊ से कई लोगों को पीने का पानी मिलता है। चर्चा के दौरान सभी ने मंडल डीआरएम से भी चर्चा की और प्याऊ को नहीं तोड़ने का निवेदन किया। जिस पर विभाग के अधिकारियों ने आश्वासन दिया की प्याऊ को अब नहीं तोड़ा जाएगा। जानकारी देते हुए सुनील बाबू पिंगले ने बताया कि अधिकारियों के मिले आश्वासन के बाद फिलहाल प्याऊ को तोड़ने से अधिकारियों ने मना कर दिया है। वहीं ओसवाल परिवार द्वारा अब प्याऊ का सुधार कराया जाएगा और अलग से नल कनेक्शन लेकर पानी की व्यावस्था की जाएगी। इस चर्चा के दौरान डॉ लक्ष्‌मीकांत मरखेड़कर, हरिबाबू अग्रवाल, सौदान सिंह यादव, महेन्द्र सयूवंशी, विमलचंद ओसवाल सहित कई लोग मौजूद थे।
नवीन टीनशेड के बीच में आ रही प्याऊ
मालूम हो कि रेलवे विभाग ने कोरोना काल के समय स्टेशन के प्लेटफार्म एक पर टीनशेड का विस्तार किया है। यहां प्याऊ नवीन टीनशेड के बीच में है। काफी दिनों से बंद होने के कारण विभाग को लगा की प्याऊ अनउपयोगी हो गई है। इसलिए विभाग ने इस प्याऊ को तोड़ने की तैयारी कर ली थी। मजदूरों को भी बुला लिया गया था लेकिन ऐन वक्त पर प्याऊ का निर्माण करने वाले ओसवाल परिवार और शहर के समाज सेवियों ने पहुंचकर विभाग के अधिकारियों से निवेदन किया उसके बाद प्याऊ को तोड़ने का काम रोक दिया गया है।
Oct 17 (08:24) भोपाल से दमोह और दमोह से भोपाल फिर हुआ आसान:2 साल से बंद राज्यरानी ट्रेन शनिवार से दोबारा हुई शुरू, भोपाल से मंत्री पटेल ने दिखाई हरी झंडी (www.bhaskar.com)
New/Special Trains
WCR/West Central
0 Followers
14508 views

News Entry# 467708  Blog Entry# 5097068   
  Past Edits
Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Makronia/MKRN added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Patharia/PHA added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Mandi Bamora/MABA added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Ganj Basoda/BAQ added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: GaneshGanj/GAJ added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Khurai/KYE added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Saugor/SGO added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Vidisha/BHS added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Damoh/DMO added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Train Tag: Damoh - Bhopal Rajya Rani SF Special/01162 added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688

Oct 17 2021 (08:24)
Train Tag: Bhopal - Damoh Rajya Rani SF Special/01161 added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
दमोह से भोपाल और भोपाल से दमोह आने-जाने के लिए 2 साल से बंद राज्यरानी ट्रेन अब एक बार फिर शुरू होने जा रही है। शनिवार से इसका संचालन शुरू हो जाएगा और दमोह के लोगों को फिर से इसका फायदा मिलने लगेगा। शक्रवार शाम केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं जल शक्ति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने भोपाल स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर इसे रवाना करेंगे।
दमोह वासियों के लिए सबसे बेहतर सुविधाप्रदेश की राजधानी पहुंचने के लिए दमोह वासियों के लिए राज्यरानी ट्रेन सबसे बेहतर सुविधा थी। लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण सभी ट्रेनों के साथ इसे भी बंद कर दिया गया था। जब इस ट्रेन को शुरू किया गया था तो दमोह के लोगों के लिए भोपाल आने-जाने और
...
more...
शासकीय कार्यालयों के समय अनुसार पहुंचने के लिए एक बेहतर सुविधा थी। लेकिन 2 साल से यहां के लोगों को काफी परेशानी हो रही थी। अब फिर से यह ट्रेन शुरू हो गई है और यहां के लोगों के लिए फिर से एक बेहतर सुविधा उपलब्ध हो जाएगी। दमोह से यह ट्रेन सुबह 5:30 बजे रवाना होती है जो सुबह 10:35 बजे भोपाल पहुंच जाती है और शाम को 5:55 पर यह ट्रेन भोपाल से रवाना होती है और 10:45 पर दमोह पहुंच जाती है।
यह है राज्यरानी ट्रेन का रूट चार्टराज्यरानी ट्रेन आज शाम 5.55 पर भोपाल से रवाना होते हुए विदिशा, गंजबासौदा, मंडी बामोरा, बीना, खुरई, सागर, मकरोनिया, गणेशगंज, पथरिया होते हुए रात 10.45 पर दमोह पहुंचेगी। सुबह दमोह से 5.30 बजे इसी रूट से ट्रेन चलकर सुबह 10.35 बजे भोपाल पहुंचेगी।

Rail News
11052 views
Oct 17 (12:35)
Atmathew80   98 blog posts
Re# 5097068-1            Tags   Past Edits
Rajya Rani Express can be extended from Damoh upto Singrauli via Katni as an overnight daily train to Bhopal. Now there is no daily express train from Singrauli to Bhopal except the bi weekly Superfast express train

11099 views
Oct 17 (13:22)
Anonymous
Jordan~   5530 blog posts
Re# 5097068-2            Tags   Past Edits
Corona k baad sirf resume hi to ho rahi. Isme aisa kya hai jo mantri jhandi dikhaenge?

8495 views
Oct 17 (16:18)
anupsinghbr   384 blog posts
Re# 5097068-3            Tags   Past Edits
Kab extend hogi Varanasi tak
Oct 12 (22:38) रेलवे ने लिया सुरक्षा तैयारियों का जायजा, अधिकारियों ने मॉक ड्रिल कराकर परखी तैयारियां (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
6207 views

News Entry# 467373  Blog Entry# 5093600   
  Past Edits
Oct 12 2021 (22:38)
Station Tag: Bareth/BET added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (22:38)
Station Tag: Ganj Basoda/BAQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (22:38)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by Adittyaa Sharma/1421836
बीना (नवदुनिया न्यूज)। रेल दुर्घटना के दौरान राहत और बचाव कार्य के लिए रेलवे की क्या तैयारियां हैं। इसका जायजा लेने के लिए रेलवे ने मॉक ड्रिल कराकर तैयारियों का जायजा लिया। सुबह करीब 11ः30 बजे हूटर बजाकर संदेश दिया गया गंजबासौदा-बरेठ रेल खंड के बीच ट्रेन दुर्घटना हो गई है। सूचना मिलते ही घटना स्थल के लिए बीना से 12 मिनट में दुर्घटना राहत यान रवाना किया गया। बाद में पता चला कि यह रेल दुर्घटना नहीं है, बल्कि सुरक्षा मानकों को परखने के लिए कराई गई मॉक ड्रिल है।
बीना स्टेशन प्रबंधक एसके जैन ने बताया कि सुबह 11ः30 बजे पांच बार हूटर बार हूटर बजा था। हूटर की आवाज सुनकर डॉक्टर सहित सभी विभागों के अधिकारी 10 मिनट में
...
more...
दुर्घटना राहत यान के पास पहुंच गए। नियमानुसार हूटर बजने के 15 मिनट के अंदर दुर्घटना राहत यान रवाना करना पड़ता है। लेकिन घटना की गंभरती को देखते हुए दुर्घटना राहत यान 12 मिनट में मौके के लिए रवाना कर दिया गया था। इसमे वाणिज्य, इंजीनियरिंग, परिचालन, संरक्षा, संकेत एवं दूर संचार और विद्युत विभागों के अधिकारी सवार थे। इसके अलावा घायलों का इलाज करने के लिए डॉक्टरों की टीम भी शामिल थी। लेकिन जैसे ही दुर्घटना राहत यान मौके पर पहुंचा तो पता चला कि यह मौक ड्रिल थी। इसके चलते दुर्घटना राहत यान वापस बीना रवाना कर दिया गया। रेलवे की इन तैयारियों को देखकर मंडल रेल प्रबंधक सौरभ बंदोपाध्याय ने संतुष्टि जाहिर की है।
यह दिया गया था संदेश
सीनियर डीसीएम विजय प्रकाश ने बताया कि सुरक्षा को लेकर सतर्कता और मुस्तैदी परखने के लिए रेले समय-समय पर मॉक ड्रिल का आयोजन किया जाता है। सोमवार को मैसेज दिया गया था कि गंजबासौदा-बरेठ सेक्शन में रेलवे कॉसिंग नंबर 290 पर फाटक के डाउन हाइट गेज से एक ट्रेक्टर-ट्रॉली टकरा गई है। इसमें सवार 10-12 मजदूर घायल हुए हैं। सूचना को गंभीरता से लेते हुए भोपाल, बीना सहित स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए।
Oct 12 (18:05) Bhopal Railway News: रेलवे की अनदेखी से हजारों अप-डाउनर्स को गंवाना पड़ा रोजगार (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
13667 views

News Entry# 467357  Blog Entry# 5093353   
  Past Edits
Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: GulabGanj/GLG added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Mandi Bamora/MABA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Ganj Basoda/BAQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Ghoradongri/GDYA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Pipariya/PPI added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Sehore/SEH added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Harda/HD added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Betul/BZU added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Vidisha/BHS added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Bina Junction/BINA added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 12 2021 (18:05)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
Bhopal Railway News: भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। ट्रेनों में मासिक सीजन टिकट (एमएसटी) और जनरल टिकट बंद होने से कामकाज के सिलसिले में डेली अप-डाउन करने वाले हजारों लोगों को रोजगार खोना पड़ा है। अब ऐसे लोग छोटा-मोटा व्यवसाय कर रहे हैं। कुछ तो अभी भी बेरोजगार हैं। ये अप-डाउनर् हैं जो बीना, विदिशा, होशंगाबाद, हरदा, बैतूल, पिपरिया, सीहोर समेत आसपास के क्षेत्रों से ट्रेनों के जरिए भोपाल आते थे। यहां छोटी-मोटी नौकरी करते थे और शाम को दूसरी ट्रेनों से वापस लौट जाते थे।
पिछले साल मार्च में कोरोना की दस्‍तक से पहले तक इनका कामकाज ठीक चल रहा था। जब कोरोना में ट्रेनें बंद की गईं तो इनका आना-जाना भी बंद हो गया। रेलवे ने धीरे-धीरे ट्रेनों को पुन: शुरू कर
...
more...
दिया, लेकिन अनेक पैसेंजर ट्रेनें अभी भी शुरू नहीं की गई हैं। इतना ही नहीं, ट्रेनों में सफर के लिए मासिक सीजन टिकट की बिक्री शुरू नहीं की है। जिसके कारण इन्हें ट्रेनों में चढ़ने नहीं दिया जा रहा है। चढ़ते हैं तो मूल किराया से कई गुना अधिक जुर्माना लग जाता है। यहां तक की ट्रेनों में सामान्य टिकट की बिक्री भी बंद कर दी है, रिजर्वेशन कराना पड़ता है जो अपडाउनरों के लिए रोज-रोज करा पाना आसान नहीं है। मासिक सीजन टिकट की तुलना में रिजर्वेशन कराना काफी महंगा भी पड़ता है। ज्यादातर अपडाउनर पैसेंजर ट्रेनों से आते-जाते थे जिन्हें कोरोना में बंद करने के बाद अब तक चालू नहीं किया गया है। जिसके कारण इन अप-डाउनर्स का शहर तक आना पूरी तरह बंद हो गया है। इनमें किसान, मजदूर, नौकरीपेशा से जुड़े लोग शामिल हैं।
रेलवे अप-डाउनर्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष अरुण अवस्थी ने बताया कि विदिशा और बीना क्षेत्र से रोजाना 10 हजार से अधिक अप-डाउनर्स भोपाल आते थे। यहां नौकरी करते थे। इसमें वे खुद भी शामिल है। वे सुबह लैब से नमूने लेकर आते थे। शाम को जांच कराने के बाद वापस लौट जाते थे। इस तरह उनके सैंकड़ों परिचित दुकानों, कारखानों में काम करने के लिए भोपाल आते थे, जो कि ट्रेनों में एमएसटी बंद करने, पैसेंजर ट्रेनों का संचालन बंद करने के कारण नहीं आ पा रहे हैं। वे बताते हैं कि इस तरह होशंगाबाद, इटारसी, पिपरिया, हरदा, बैतूल क्षेत्र से भी रोजाना आठ से दस हजार अप-डाउनर विभिन्न ट्रेनों में बैठकर भोपाल आते थे। एसोसिएशन प्रतिनिधियों ने अनुमान जताया कि भोपाल से रोजाना 25 हजार से अधिक लोग नौकरी करने के लिए बीना, गुना, विदिशा, बैतूल, हरदा, होशंगाबाद, सीहोर, पिपरिया, इटारसी, घोड़ाडोंगरी, गंजबासौदा, मंडीबामोरा, गुलाबगंज जाते थे। ये लगभग सभी शासकीय नौकरी में हैं जो अब निजी साधनों से जा रहे हैं। कुछ तो मकान किराए से लेकर नौकरी स्थल या आसपास के जिला मुख्यालयों पर ही रहने लगे हैं। जबकि गांव, कस्बे व जिलों से भोपाल आने वाले अप-डाउनर निजी काम धंधे करते थे या प्राइवेट नौकरी में थे, जो निजी बसों का किराया वहन नहीं कर पा रहे हैं। मजबूरन उन्हें भोपाल में काम-धंधा छोड़ना पड़ा है। अरुण अवस्थी का कहना है कि इस तरह मप्र के सभी क्षेत्रों के अप-डाउनर्स को काउंट किया जाए तो हजारों की संख्या में लोग प्रभावित हुए हैं। बता दें कि एसोसिएशन के प्रतिनिधि इन सभी बातों को केंद्रीय रेल राज्यमंत्री, स्थानीय जनप्रतिनिधि और रेलवे के अधिकारियों के पास रख चुके हैं।
Page#    Showing 1 to 20 of 63 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy