Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Feeling bored in the Train - talk to a RailFan. You'll WISH the train gets late.

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Thu Oct 21 20:25:28 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

PBE/Pilibhit Junction (4 PFs)
پیلی بھیت جنکشن     पीलीभीत जंक्शन
[Bansuri Nagri]

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Junction Point -SZP / MLN / BPR / TPU Near Maal Godam Rd, Ballabh Nagar Colony, Pilibhit, 262001
State: Uttar Pradesh


Zone: NER/North Eastern   Division: Izzatnagar

No Recent News for PBE/Pilibhit Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 4
Number of Halting Trains: 12
Number of Originating Trains: 11
Number of Terminating Trains: 11
Rating: 3.9/5 (93 votes)
cleanliness - good (12)
porters/escalators - good (12)
food - good (12)
transportation - good (12)
lodging - good (12)
railfanning - good (10)
sightseeing - excellent (11)
safety - good (12)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 1080 News Items  next>>
Tourism in Pilibhit: किसी भी देश की अर्थव्यवस्था में पर्यटन को बेहतर करने में बड़ा हाथ होता है. दुनिया में कई ऐसे देश हैं जो सिर्फ पर्यटन की मदद से फल-फूल रहे हैं. भारत सरकार भी कई तरह की योजनाएं के माध्यम से देश में टूरिज्म को बढ़ावा देने का काम कर रही है. हालांकि कोरोना के कारण इस प्रकिया में थोड़ी सुस्ती आई है. लेकिन लगातार कम होते मामले के बीच पर्यटन का क्षेत्र फिर से विकास की रफ्तार पक़ड़ रहा है.
 
उत्तर प्रदेश सरकार भी टूरिज्म सेक्टर के विकास को लेकर
...
more...
कई तरह की योजनाओं पर काम कर रही है. अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है, इसके अलावा प्रदेश के अन्य जिलों के प्रमुख और ऐतिहासिक जगहों का भी सुंदरीकरण किया जा रहा है. सरकार का मानना है कि जितना पर्यटन का क्षेत्र फलेगा-फूलेगा, प्रदेश की अर्थव्यवस्था उतनी ही बेहतर होगी.
पीलीभीत टाइगर रिजर्व वन्य प्रेमियों के लिए घूमने फिरने की एक अच्छी जगह मानी जाती है. सरकार जल्द से जल्द पीलीभीत को देशभर के मुख्य पर्यटन के मानचित्र पर लाना चाहती है. टाइगर रिजर्व की खूबसूरती का अधिक प्रचार-प्रसार हो सके ऐसे में स्टेशनों को इस तरह सजाना एक अच्छी पहल माना जा रही है.
पीलीभीत और मैलानी के बीच पड़ने वाली स्टेशन सेरामऊ ,दूधिया खुर्द व शाहगढ़ स्टेशन अब देखते ही बनते हैं, स्टेशनों पर बनी बिल्डिंग पर टाइगर, हाथी और अन्य वन्य जानवरों के चित्र कमाल के लगते हैं. यहां तक की सीढ़ियों और पेड़ों पर भी जानवरों का बेहतरीन चित्रण किया गया है.
फिलहाल पर्यटक अभी इन स्टेशनों का दीदार नहीं कर पाएंगे. अभी यहां ब्रॉड गेज का काम चल रहा है जिसके चलते बड़ी रेल लाइन बिछाई जा रही है. यही वजह है कि अभी यहां ट्रेनों का आना जाना बंद. लेकिन जब ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा तो यात्री इस प्राकृतिक नजारे का फ्री में लुत्फ उठा सकेंगे.
पीलीभीत स्टेशन ग्रामीण क्षेत्र से लगा हुआ. यहां हो रहे सुंदरीकरण को लेकर ग्रामीण काफी खुश और उत्साहित हैं. उनके लिए ये जगह सेल्फी प्वाइंट बन गए हैं. लोग सुबह शाम यहां टहलने आते हैं. जब तक ट्रेनों का आवागमन नही शुरू होता तब तक आस पास के रहने वाले लोग यहां आकर सुंदरता का आनन्द लेते रहेंगे.
इस सुंदरीकरण से पीलीभीत का विकास तो ही रहा है, साथ ही रोजगार का सृजन भी हो रहा है. कई सारे कलाकार और मजदूर इस काम में अपनी सेवाए दे रहे हैं. जहां कोरोना काल में लोग अपनी नौकरियां गंवा रहे हैं, उस समय सरकार का ये कदम उनके लिए राहत भरा रहा है.
एक बार यहां पर्यटकों के आने का सिलसिला शुरू हुआ तो ये शहर निश्चित ही विकास का एक नया केंद्र होगा. जिस तरह सरकार पीलीभीत के सुंदरीकरण पर जोर दे रही है, उसे देखकर लगता है कि आने वाले समय में ये जनपद का एक बड़ा पर्यटन हब बन सकता है.
Oct 16 (09:46) सत्रह अक्टूबर को बदले हुए समय पर रवाना होगी त्रिवेणी एक्सप्रेस (www.livehindustan.com)
0 Followers
13285 views

News Entry# 467648  Blog Entry# 5096297   
  Past Edits
Oct 16 2021 (09:47)
Station Tag: Shaktinagar (Terminal)/SKTN added by Boss/2098471

Oct 16 2021 (09:46)
Station Tag: Lal Kuan Junction/LKU added by Boss/2098471

Oct 16 2021 (09:46)
Station Tag: Kasganj Junction/KSJ added by Boss/2098471

Oct 16 2021 (09:46)
Station Tag: Tanakpur/TPU added by Boss/2098471

Oct 16 2021 (09:46)
Station Tag: Izzatnagar/IZN added by Boss/2098471

Oct 16 2021 (09:46)
Station Tag: Bareilly City/BC added by Boss/2098471

Oct 16 2021 (09:46)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Boss/2098471
बरेली सिटी और इज्जतनगर के बीच कुदेशिया फाटक के पास सत्रह अक्टूबर को छह घंटे के लिए जा रहे मेंटीनेंस कार्य के ब्लाक के चलते पीलीभीत से बरेली जाने वाली ट्रेनों के लिए शार्ट टर्मिनेशन/शार्ट ओरिजिनेशन व रि-शिड्यूलिंग जारी की गई है। ताकि यात्रियों को होने वाली किसी भी परेशानी से बचाया जा सके।
17 अक्टूबर को लिए गए ब्लाक के कारण त्रिवेणी एक्सप्रेस भी प्रभावित रहेगी। आगामी 17 अक्टूबर को 05076 टनकपुर-शक्तिनगर विशेष गाड़ी टनकपुर से 80 मिनट पुर्ननिर्धारित कर चलाई जाएगी। जिससे यह ट्रेन आगे के स्टेशनों पर अपने बदले हुए समय पर पहुंचेगी। हालांकि स्थानीय स्तर पर रेलवे स्टेशन को त्रिवेणी एक्सप्रेस का कोई टाइम नहीं भेजा गया है। इसके अलावा पीलीभीत- बरेली सिटी विशेष गाड़ी 05386 बरेली
...
more...
सिटी के स्थान पर इज्जतनगर तक ही जाएगी। पीलीभीत बरेली सिटी विशेष गाडी 05330 भी इज्जतनगर तक ही जाएगी। काशीपुर-कासगंज 05335 विशेष गाड़ी कासगंज के स्थान पर इज्जतनगर में शार्ट टर्मिनट होगी। कासगंज-लालकुआं 05369 विशेष गाड़ी लालकुंआ के स्थान पर बरेली में शार्ट टर्मिनट होगी। बरेली सिटी से टनकपुर डेमू 05321 विशेष गाड़ी बरेली सिटी के स्थान पर इज्जतनगर से चलाई जाएगी। बरेली सिटी-पीलीभीत 05329 विशेष गाड़ी बरेली सिटी के स्थान पर इज्जतनगर से गाड़ी संख्या 05386 के रेक के साथ चलाई जाएगी। बरेली सिटी-लालकुआं 05327 विशेष गाड़ी बरेली सिटी के स्थान पर इज्जतनगर से गाड़ी संख्या 05330 के रेक के साथ चलेगी। काशीपुर-कासगंज 05335 विशेष गाड़ी काशीपुर के स्थान पर बरेली से गाड़ी संख्या 05369 के रेक के साथ चलाई जाएगी। कासगंज- लालकुआं 05369 विशेष गाड़ी कासगंज के स्थान पर इज्जतनगर से गाड़ी संख्या 05335 के रेक के साथ चलाई जाएगी। आगामी17 अक्टूबर को टनकपुर-शक्तिनगर 05076 विशेष गाड़ी टनकपुर से 80 मिनट पुर्ननिर्धारित कर चलाई जाएगी। इज्जतनगर रेलवे मंडल के जनसंपर्क अधिकारी राजेंद्र सिंह ने बताया कि केवल यह शेडयूल 17 अक्टूबर को होने वाले कार्य के लिए हैं। अगले दिन से सभी ट्रेन पूर्ववत रहेंगी।
Oct 10 (20:04) पीलीभीत से एफसीआई का 2 हजार 655 मीट्रिक टन गेहूं लेकर बस्ती के लिए रवाना हुई मालगाड़ी, जानिए रेलवे को कितने का हुआ फायदा (www.jagran.com)
New Facilities/Technology
NER/North Eastern
0 Followers
9948 views

News Entry# 467214  Blog Entry# 5091770   
  Past Edits
Oct 10 2021 (20:04)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by न्यूज अच्छी है चलो इसपर वीडियो बना देता हु/1084688
Stations:  Pilibhit Junction/PBE  
बरेली, जेएनएन। Indian Railway Wheat Special Rack: पीलीभीत से भारतीय खाद्य निगम का 2 हजार 655 मीट्रिक टन गेहूं की रैक लेकर मालगाड़ी बस्ती जिले के लिए रवाना हुई है। इस गेहूं की ढुलाई से रेलवे को 16 लाख 16 हजार 338 रुपये के राजस्व की प्राप्ति हुई है। रेलवे लाइनें ब्राडगेज हो जाने के बाद से रेलवे माल ढुलाई के माध्यम से अच्छी आय प्राप्त कर रहा है।
पिछले दिनों बरखेड़ा स्थित बजाज हिंदुस्तान शुगर मिल से चीनी की रैक लोड करके बाहर भेजी गई थी।इसके बाद शाहजहांपुर होकर रेलवे की दो मालगाड़ियां बीसलपुर तक कोयला ला चुकी हैं। इसके अलावा पिछले दिनों भारतीय खाद्य निगम की ओर से गेहूं की रैक गोरखपुर के आनंदनगर भेजी गई थी और अब गेहूं की दूसरी रैक  बस्ती के लिए रवाना हुई। 
यहां रेलवे की लोडिंग अनलोडिंग का कार्य लगभग दो साल तक बंद रहा है। क्योंकि रेलवे लाइनों के आमान परिवर्तन कार्य के कारण ब्लाक ले लिया गया था। ऐसे में यात्री ट्रेनों के संचालन के साथ ही मालगाड़ियों का आवागमन भी बंद रहा।
...
more...

ब्राडगेज का कार्य पूर्ण होने के बाद कोविड जैसी महामारी के दौर में रेलवे ने माल ढुलाई के माध्यम से अपनी आय को बढ़ाने का कार्य शुरू कर दिया था। अब इसमें और तेजी आ रही है।पूर्वोत्तर रेलवे के इज्जतनगर मंडल के जनसंपर्क अधिकारी राजेंद्र सिंह के अनुसार एफसीआई ने बस्ती को गेहूं की रैक रवाना की है।
इससे रेलवे को लोडिंग के जरिए मुनाफा हुआ है। उन्होंने बकाया कि भारतीय खाद्य निगम की ओर से कुल 2655 हजार टन गेहूं 42 वैगन की एक रैक से भेजा गया है। इससे रेलवे को 16 लाख 16 हजार तीन सौ 38 रुपये के राजस्व की प्राप्ति हुई है। जनसंपर्क अधिकारी का कहना है कि माल ढुलाई के माध्यम से रेलवे लगातार अपना राजस्व बढ़ा रहा
Oct 07 (09:47) 427 करोड़ लागत... 84 किलोमीटर ट्रैक फिट फिर भी ट्रेनों के चलने का पता नहीं (www.amarujala.com)
0 Followers
13314 views

News Entry# 466908  Blog Entry# 5088648   
  Past Edits
Oct 07 2021 (09:47)
Station Tag: Bisalpur/BSUR added by Boss/2098471

Oct 07 2021 (09:47)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Boss/2098471

Oct 07 2021 (09:47)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Boss/2098471
पीलीभीत शाहजहांपुर रूट पर ट्रेन का सफर यात्रियों के लिए सिर्फ एक सपना बनकर रह गया है। 427 करोड़ की लागत से 84 किलोमीटर में 37 माह बीतने के बाद भी ट्रेन चलने की अभी कोई उम्मीद नहीं है। यह आलम तब है जब सीआरएस ने चार अगस्त को फाइनल निरीक्षण कर ट्रैक को ओके कर दिया है। मगर 60 दिन बाद भी इस रूट पर ट्रेन चलने की अभी तक कोई संभावना नहीं है। कभी मालगाड़ी का ट्रायल तो कभी कोयला भरी मालगाड़ी की आवाज सुनकर लोग ट्रेन जल्द ही चलने के कयास लगा रहे हैं। ...
more...
जनपद में ब्राडगेज का लंबे समय के इंतजार के बाद 2016 में पहली बार भोजीपुरा और पीलीभीत के बीच ट्रेनों का संचालन शुरू होने से जनपदवासियों में खुशी का ठिकाना न रहा है। पहली बार ब्राडगेज की ट्रेन जंक्शन पहुंची तो देखने के लिए भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी पड़ी। इसके बाद भोजीपुरा वाया पीलीभीत टनकपुर के लिए ब्राडगेज की ट्रेनों का संचालन होने लगा था। इसके बाद लखनऊ रूट पर मैलानी तक 67 किलोमीटर और शाहजहांपुर तक 84 किलोमीटर तक के लिए आमान परिवर्तन का काम शुरू करने के लिए 31 मई 2018 को एक साथ दोनों रूटों पर शाम छह बजे आखिरी मीटरगेज की ट्रेन रवाना करने के बाद हमेशा के लिए मीटरगेज की ट्रेनों को अलविदा कह दिया गया। इसके बाद शाहजहांपुर रूट पर 427 करोड़ की लागत से एक जून 2018 से आमान परिवर्तन का काम शुरू कर दिया गया। कुछ दिन तक काम तेजी के साथ हुआ। इसके बाद धीमी गति में चला गया। अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद काम में तेजी आई और बीसलपुर तक 37 किलोमीटर के बीच 20 माह में काम पूरा होने के बाद फरवरी 2020 में सीआरएस निरीक्षण हो गया। इसके बाद फरवरी 2020 से अक्तूबर 2020 में बीसलपुर और शहबाजनगर के बीच काम पूरा हो गया। नवंबर 2020 में निरीक्षण करने के बाद सीआरएस ने इसी माह में ट्रेन चलाने के लिए हरी झंडी दे दी। इसके बाद भी अफसरों इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। जबकि उस समय शहबाजनगर और शाहजहांपुर बीच पांच किलोमीटर में उत्तर और पूर्वोत्तर रेलवे की वजह से काम को रोक दिया गया था। इससे पीलीभीत-शहबाजनगर के बीच 79 किलोमीटर में ट्रेनों को चलाने की संभावना बताई जा रही थी। मगर अफसोस ट्रेनों को संचालन नहीं हो सका। संवाद सात माह में दूर हो सका उत्तर और पूर्वोत्तर रेलवे का रोड़ा पूर्वोत्तर रेलवे डिवीजन के तहत शहबाजनगर तक 79 किलोमीटर में तीन साल में काम पूरा कर लिया गया। इसके बाद शाहजहांपुर और शहबाजनगर के बीच काम शुरू किया गया था। पांच माह में पांच किलोमीटर का काम पूरा करने के बाद शाहजहांपुर स्टेशन पर नॉन इंटरलाकिंग के लिए काम रुक गया। दोनों डिवीजनों की सहमति के बाद 22 से 28 जुलाई 2021 में नॉन इंटरलॉकिंग का काम पूरा किया गया। चार अगस्त को रेल संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) ने निरीक्षण ट्रैक ओके कर दिया था। इससे जल्द ही इस रूट पर ट्रेनों के संचालन को लेकर रेलवे सूत्र बता रहे थे। मगर दो माह बीतने के बाद भी संचालन शुरू नहीं हो सका। जीएम भी कर चुके हैं स्पीड ट्रॉयल और विंडों निरीक्षण तीन अक्तूबर को पूर्वोत्तर रेलवे के जीएम विनय कुमार त्रिपाठी ने पीलीभीत पहुंचकर इस रेल खंड का पहले स्पीड ट्रॉयल किया था। इसके बाद विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण किया। रेल सूत्रों ने बताया कि तीन निरीक्षण के बाद ट्रेनों के संचालन की संभावना है। मगर अभी तक कोई तैयारी नहीं है। ट्रेनों के संचालन को लेकर भेजा जा चुका है प्रस्ताव शाहजहांपुर में उत्तर रेलवे के प्लेटफार्म पर एनआई (नॉन इंटरलाकिंग) का पूरा और सीआरएस निरीक्षण होने के बाद अगस्त में ही इज्जतनगर मंडल की ओर से ट्रेन के संचालन को लेकर प्रस्ताव मांग गया था। इसमें स्थानीय अधिकारियों ने दो ट्रेनों के संचालन का प्रस्ताव भेजा था। एक सुबह और एक दोपहर में पीलीभीत से जबकि एक दोपहर और एक शाम को शाहजहांपुर से रवाना होनी है। इसके बाद भी अभी तक कोई मंजूरी नहीं मिल सकी है। महाप्रबंधक ने निरीक्षण करने के बाद व्यवस्थाओं का जायजा लिया है। इसी माह ट्रेन चलाने की तैयारी है। रेलवे बोर्ड से झंडी मिलने के बाद संचालन शुरू करा दिया जाएगा। - राजेद्र सिंह, पीआरओ इज्जतनगर मंडल
Oct 06 (07:42) शाहजहांपुर रेलखंड पर प्वाइंट ब्रेकिंग चेक के लिए दौड़ाई मालगाड़ी (www.amarujala.com)
0 Followers
17378 views

News Entry# 466850  Blog Entry# 5087590   
  Past Edits
Oct 06 2021 (07:42)
Station Tag: Shahjahanpur/SZP added by Boss/2098471

Oct 06 2021 (07:42)
Station Tag: Bisalpur/BSUR added by Boss/2098471

Oct 06 2021 (07:42)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Boss/2098471
पीलीभीत। शाहजहांपुर रेलखंड पर स्टेशनों के प्वाइंट ब्रेकिंग चेक करने के लिए खाली मालगाड़ी दौड़ी। लूप लाइन में प्वाइंट ब्रेकिंग चेक के लिए 30 और मेन लाइन में मालगाड़ी की स्पीड पचास किलोमीटर प्रति घंटा रही। इसके बाद लोडिंग मालगाड़ी से भी ट्रायल किया जाएगा। मंगलवार को मालगाड़ी ने दो चक्कर लगाए। जल्द ही इस रेल खंड पर ट्रेनों का संचालन होने के कयास लगाए जा रहे। ...
more...
आमान परिवर्तन के लिए शाहजहांपुर रूट पर मई 2018 में मीटरगेज की ट्रेनों को संचालन हमेशा के लिए बंद कर दिया गया। इसके बाद ब्रॉडगेज का काम शुरू हुआ था। तीन साल में काम पूरा हो गया था। सिर्फ उत्तर और पूर्वोत्तर रेलवे के बीच एनआई (नान इंटरलॉकिंग) का काम बाकी रहा गया था। बाद में दोनों डिवीजनों के सहमति के बाद ब्लॉक लेकर काम को पूरा कर लिया गया था। सीआरएस निरीक्षण में भी यह 84 किलोमीटर लंबा रूट ओके कर दिया गया था। ओके होने के दो माह बाद भी ट्रेनों को संचालन नहीं हो सका। इससे इस रूट के यात्रियों को मायूसी मिली। इसी बीच तीन अक्तूबर को पूर्वोत्तर रेलवे के जीएम विनय कुमार त्रिपाठी ने स्पीड ट्रायल और विंडो निरीक्षण किया था। इससे फिर इस रूट पर जल्द ट्रेनों के संचालन की उम्मीद जागी है। मंगलवार को भोपतपुर, बीसलपुर, निगोही और शहबाजनगर स्टेशनों पर लूप लाइन के प्वाइंट चेक करने के लिए 53 डिब्बा लगी मालगाड़ी को दो बार दौड़ाया गया। मेन लाइन में 50 और लूप लाइन के प्वाइंट ब्रेकिंग चेक के लिए ट्रायल किया गया है। दोपहर बाद लोको पायलट रामकिशन मीना और सहायक पायलट अशोक कुमार डीजल इंजन से मालगाड़ी को लेकर रवाना हुए है। इस ट्रायल के बाद लोडिंग मालगाड़ी से ट्रायल किया जाएगा। सब कुछ ठीक रहा, तो जल्द ही इस रूट पर दो जोड़ी ट्रेनों के संचालन के कयास लगाए जा रहे है।
Page#    Showing 1 to 20 of 1080 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy