Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

RailFans LIVE life to the fullest.

Full Site Search
  Full Site Search  
Just PNR - Post PNRs, Predict PNRs, Stats, ...
 
Thu Jul 7 00:24:30 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRPost BlogAdvanced Search
Medium; Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 2639867-0
Platform Pic; Large Station Board;
Entry# 3161489-0


MJ/Marwar Junction (4 PFs)
     मारवाड़ जंक्शन

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
State Highway 61, Marwar Junction, Dist. Pali - 306001
State: Rajasthan


Zone: NWR/North Western   Division: Ajmer

No Recent News for MJ/Marwar Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 4
Number of Halting Trains: 92
Number of Originating Trains: 3
Number of Terminating Trains: 3
2 Follows
Rating: 3.8/5 (66 votes)
cleanliness - excellent (9)
porters/escalators - average (7)
food - good (9)
transportation - good (9)
lodging - good (6)
railfanning - good (9)
sightseeing - good (9)
safety - good (8)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 100 News Items  next>>
Jul 04 (18:00) जोधपुर से पाली आया 43 करोड़ लीटर पानी, वाटर ट्रेन ने 200 फेरे किए पूरे, रेलवे ने कमाए साढ़े छह करोड़ (www.amarujala.com)
0 Followers
3809 views

News Entry# 491287  Blog Entry# 5400869   
  Past Edits
Jul 04 2022 (18:00)
Station Tag: Bhagat ki Kothi/BGKT added by Subhash/746156

Jul 04 2022 (18:00)
Station Tag: Marwar Junction/MJ added by Subhash/746156
पेयजल संकट से त्रस्त पाली मारवाड़ तक संचालित वाटर ट्रेन ने शनिवार को अपने 200 फेरे पूरे कर लिए। जोधपुर रेल मंडल के भगत की कोठी रेलवे स्टेशन से वॉटर ट्रेन के जरिए पाली पानी भेजी जा रही है। आठ हजार वैगन के जरिए अब तक 43.20 करोड़ लीटर पानी भिजवाया जा चुका है। जिससे वैगन किराया के रूप में रेलवे को करीब 6.50 करोड़ का राजस्व मिला है। विज्ञापन ...
more...
रेल मंत्रालय ने अपने कू हैंडल से इसकी जानकारी दी। बता दें कि राजस्थान का पाली जिला पिछले कई दशकों से पानी की समस्या से जूझ रहा है। जिले में जलस्तर काफी नीचे है। कई क्षेत्रों में पानी बिल्कुल खत्म हो गया है। पाली में पानी के संकट को देखते हुए ही वाटर स्पेशल ट्रेन का संचालन किया गया। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव की पहल पर रेलवे बोर्ड ने वाटर स्पेशल ट्रेन को मंजूरी दी। पेयजल की किल्लत वाले क्षेत्रों के लिए पानी पहुंचाने का कार्य किया गया। वाटर ट्रेन 17 अप्रैल को हुई थी शुरू जोधपुर से वाटर ट्रेन 17 अप्रैल को शुरू की गई थी। अब तक 200 फेरे पूरे हो चुके हैं। पानी की समस्या खत्म होने तक इसी तरह वाटर स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी। यह वाटर ट्रेन उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल के उपनगरीय भगत की कोठी रेलवे स्टेशन से भर कर भेजी जा रही है।  कुछ ऐसा है गणित  प्रत्येक ट्रेन में कुल वैगन- 40 वैगन की भराव क्षमता- 54 हजार लीटर 40 वैगन में कुल भराव- 21 लाख 60 हजार लीटर दो जुलाई तक फेरों की संख्या- 200 अब तक पेयजल की सप्लाई- 43 करोड़ 20 लाख लीटर एक फेरे से रेलवे का राजस्व- 3 लाख 27 हजार रुपये  200 फेरों से अब तक प्राप्त राजस्व- 6 करोड़ 53 लाख 16 हजार 600 रुपये  पहले भी भेजी जा चुकी है पानी 30 साल पहले पाली के जवाई बांध से नहर के जरिए जोधपुर तक पानी लाया जा रहा था। 20 साल में पहली बार इतने लंबे समय तक वाटर ट्रेन चलाई जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार ने अलग से बजट की भी घोषणा की है। करीब तीन महीने तक चलने वाली इस ट्रेन पर 16 करोड़ रुपये खर्च होंगे। पहले कब-कब चली वाटर स्पेशल ट्रेन 2002 में पहली वाटर ट्रेन पाली भेजी गई थी 2005 में दूसरी बार पाली के लिए जोधपुर से वाटर ट्रेन रवाना की गई थी 2009 में तीसरी बार ट्रेन चलाई गई 2016 में सभी तैयारी होने के बाद ट्रेन रोक ली गई 2019 में चौथी बार ट्रेन जोधपुर से पाली पहुंची 2021 में तैयारी के बाद बारिश आने से ट्रेन रोक ली गई 17 अप्रैल 2022 को जोधपुर से पाली जिले के लिए वाटर स्पेशल ट्रेन की शुरुआत की गई
Jul 04 (16:07) मुश्किल वक्त में रेलवे वाटर ट्रेन बनी प्यास बुझाने का जरिया, 200 फेरों में अब तक भिजवाया 43.20 करोड़ लीटर पानी (www.naidunia.com)
IR Affairs
NWR/North Western
0 Followers
5879 views

News Entry# 491283  Blog Entry# 5400812   
  Past Edits
Jul 04 2022 (16:07)
Station Tag: Marwar Junction/MJ removed by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 04 2022 (16:07)
Station Tag: Bhagat ki Kothi/BGKT added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 04 2022 (16:07)
Station Tag: Pali Marwar/PMY added by Adittyaa Sharma/1421836

Jul 04 2022 (16:07)
Station Tag: Marwar Junction/MJ added by Adittyaa Sharma/1421836
Rajasthan: पेयजल संकट से त्रस्त पाली मारवाड़ तक संचालित वाटर ट्रेन ने शनिवार को अपने 200 फेरे पूरे कर लिए। सूत्रों की मानें, तो जोधपुर रेल मंडल के भगत की कोठी रेलवे स्टेशन से वॉटर ट्रेन के 200 फेरों से आठ हजार वैगन के जरिए अब तक 43.20 करोड़ लीटर पानी भिजवाया जा चुका है, जिससे वैगन किराया के रूप में रेलवे को करीब 6.50 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ है। इसकी जानकारी देश के पहले बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कू ऐप के माध्यम से दी गई है। मिनिस्ट्री ऑफ रेलवेज़ ने अपने आधिकारिक हैंडल के माध्यम से कू करते हुए कहा है:
राजस्थान के पाली में जल संकट पर अंकुश लगाते हुए भारतीय रेलवे ने भगत की कोठी (जोधपुर) स्टेशन से पाली
...
more...
तक 200 फेरे पूरे कर 8000 वैगनों के माध्यम से 43 करोड़ 20 लाख लीटर पानी पहुँचाया है।
- Ministry of Railways (@RailMinIndia) 4 July 2022

इसके साथ ही प्रसार भारती न्यूज़ ने भी इसे कवर करते हुए कहा है:
राजस्थान: रेलवे वाटर ट्रेन ने भगत की कोठी (जोधपुर) स्टेशन से पाली तक अब तक 200 फेरे पूरे कर लिए हैं। इस ट्रेन के माध्यम से भारी जल संकट से जूझ रहे पाली को 8000 वैगनों के माध्यम से 43 करोड़ 20 लाख लीटर पानी पहुँचाया गया है।
- Prasar Bharati News Services (@pbns_india) 3 July 2022

राजस्थान का पाली जिला पिछले कई दशकों से पानी की समस्या से जूझ रहा है। पाली में जलस्तर काफी नीचे है। कई क्षेत्रों में पानी बिल्कुल खत्म हो गया है। पाली जिले में पानी के संकट को देखते हुए ही वाटर स्पेशल ट्रेन का संचालन किया गया। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव की पहल पर रेलवे बोर्ड द्वारा वाटर स्पेशल ट्रेन को मंजूरी दी गई। पेयजल की किल्लत वाले क्षेत्रों के लिए पानी पहुँचाने का सराहनीय कार्य किया गया है। पानी की समस्या खत्म होने तक इसी तरह वाटर स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी।
17 अप्रैल को शुरू हुई थी वाटर ट्रेन
पाली में गहराए जलसंकट के चलते जोधपुर से वाटर ट्रेन 17 अप्रैल को शुरू की गई थी। अब तक 200 फेरे पूरे हो चुके हैं। पानी की समस्या खत्म होने तक इसी तरह वाटर स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी। यह वाटर ट्रेन उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल के उपनगरीय भगत की कोठी रेलवे स्टेशन से भर कर भेजी जा रही है।
कुछ ऐसा है गणित







पहले भी पहुँचाया गया पानी
राज्य सरकार ने पाली जिले में पानी की किल्लत को देखते हुए रेलवे से ट्रेन की माँग की थी। रेलवे ने छुट्टियों के दिनों में भी रात-दिन काम करके ऑयल टैंक की सफाई की और उसे वाटर ट्रेन में तब्दील कर दिया। दूसरी तरफ, पीएचईडी विभाग के अधिकारियों तथा कर्मचारियों ने टीम लगाकर पानी की सप्लाई सहित ट्रेन के वैगन में पानी भरने को लेकर तमाम सुविधाएँ मुहैया कराईं।
बता दें कि 30 साल पहले पाली के जवाई बांध से नहर के जरिए जोधपुर तक पानी लाया जा रहा था। 20 साल में पहली बार इतने लंबे समय तक वाटर ट्रेन चलाई जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार ने अलग से बजट की भी घोषणा की है। करीब तीन महीने तक चलने वाली इस ट्रेन पर 16 करोड़ रुपये खर्च होंगे।
कब-कब चली वाटर स्पेशल ट्रेन?
रेलवे बोर्ड ने मावली-मारवाड़ परियोजना के 170 किमी आमान परिवर्तन की स्वीकृति के लिए डीपीआर बनवाने के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे को शीघ्र रिपोर्ट भेजने के लिए कहा है। सांसद दीया कुमारी ने कहा कि मावली-मारवाड़ ब्रॉडगेज लाइन एक महत्वाकांक्षी परियोजना है।

यह रेल लाइन क्षेत्र के लोगों के लिए लाइफ लाइन सिद्ध होगी। पीएम मोदी, केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव व रेलवे बोर्ड का आभार जताते हुए सांसद ने कहा कि लंबे अर्से और कड़ी मेहनत के बाद मावली-मारवाड़ आमान परिवर्तन परियोजना मूर्त रूप में आने की तैयारी में है। सांसद
...
more...
ने कहा कि मावली-मारवाड़ आमान परिवर्तन में आ रही सभी रुकावटों को दूर करते हुए रेलवे बोर्ड ने इस परियोजना को स्वीकृत करने के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे से रिपोर्ट मांगी है। अतिशीघ्र यह परियोजना स्वीकृत होकर धरातल पर दिखाई देगी। सांसद ने कहा कि इस परियोजना में काफी पेचीदगियां थी।

इस वजह से समय पर यह परियोजना स्वीकृति की ओर आगे नहीं बढ़ पाई, परंतु रेलवे के अधिकारियों के साथ निरंतर बैठकें एवं लोकसभा क्षेत्र के उद्यमियों से वार्ता कर इस परियोजना में माल भाड़े में सहयोग प्रदान करने पर सहमति बनी, जिससे रेलवे की आय में सुधार हो गया।

सांसद के सभी रुकावटों को दूर करने के प्रयास आखिरकार रंग लाए और रेलवे बोर्ड ने इस परियोजना के आमान परिवर्तन की स्वीकृति के लिए डीपीआर बनवाने के लिए उत्तर-पश्चिम रेलवे को शीघ्र रिपोर्ट भेजने के लिए कहा है। सांसद ने कहा कि मोदी सरकार का क्षेत्रवासियों एवं पूरे प्रदेश की तरफ से आभार व्यक्त करती हूं, जिन्होंने प्रदेशवासियों एवं क्षेत्रवासियों की परेशानियों को समझा और इस परियोजना को नए स्वरूप में धरातल पर लाने के लिए अपनी स्वीकृति दी।

Rail News
17533 views
Apr 04 (00:32)
ritzraj   1047 blog posts
Re# 5258725-1            Tags   Past Edits
Once again a ray of hope. This could be game changer for people of this relatively backward region. Also people of West Rajasthan including Jodhpur will have shortest route to connect to central and south east India.

7402 views
Apr 18 (00:09)
ritzraj   1047 blog posts
Re# 5258725-2            Tags   Past Edits
I have put a grievance once again on PG Portal. Lets see if there is any favourable revert this time.
Mar 29 (09:31) जोधपुर रेलवे के इतिहास में जुड़ा नया अध्याय:पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन पहुंची, जोधपुर से अहमदाबाद मुंबई ट्रेक हुआ इलेक्ट्रिक (www.bhaskar.com)
IR Affairs
NWR/North Western
0 Followers
28938 views

News Entry# 481706  Blog Entry# 5256653   
  Past Edits
Mar 29 2022 (10:13)
Station Tag: Marwar Junction/MJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Mar 29 2022 (10:13)
Station Tag: Jodhpur Junction/JU added by Adittyaa Sharma/1421836
सोमवार रात 9.55 पर जोधपुर के रेलवे स्टेशन पर नया इतिहास रचा गया। पहली बार इलेक्ट्रिक ट्रेन जोधपुर के स्टेशन तक पहुंची। कोयले से डीजल और अब डीजल से इलेक्ट्रिक युग की शुरुआत जोधपुर में हो चुकी है। ट्रेन की गति बढने से लेकर एक्स्ट्रा लोड और पर्यावरण के अनुकूल होने के चलते इलेक्ट्रिक ट्रेन का फायदा हर क्षेत्र में मिलेगा। उत्तर पश्चिमी रेलवे 104 किलोमीटर का यह रुट इलेक्ट्रिक होने से जोधपुर मारवाड़ जंक्शन होते हुए उसके आगे के सभी रूट से जोधपुर इलेक्ट्रिक माध्यम से जुड़ जाएगा। सोमवार रात मारवाड़ जंक्शन से पहली इलैक्ट्रिक ट्रेन जोधपुर पहुंचने से जोधपुर मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों व कर्मचारियों में खुशी की लहर दौड़ गई। इससे पहले रेलवे ने रेल इंजन का ट्रायल लिया था।
मारवाड़
...
more...
जंक्शन से जोधपुर 104 किलोमीटर रूट हुआ इलेक्ट्रिक
संरक्षा आयुक्त ने बारह घंटे से भी अधिक समय तक गहन निरीक्षण के बाद मारवाड़ जंक्शन से जोधपुर के बीच इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन का सफल संचालन किया । अब इस खंड पर रेल प्रशासन जल्द ही रुटीन में इलेक्ट्रिक ट्रेन शुरु कर देगा। पश्चिम क्षेत्र के संरक्षा आयुक्त आर के शर्मा ने सोमवार को पूरे दिन जोधपुर - मारवाड़ जंक्शन रेल खंड के 104 किलोमीटर रूट पर बारीकी से निरीक्षण कर रेलवे स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं का जायजा लेने के बाद इस खंड पर इलेक्ट्रिक संचालित की ।
स्पीड ट्रायल ट्रेन के संचालन के साथ ही जोधपुर मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों व कर्मचारियों में खुशी की लहर दौड़ गई। अब वह पल दूर नहीं जब जोधपुर से मारवाड़ जंक्शन तक पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन का संचालन किया जाएगा ।
मारवाड़ जंक्शन के रास्ते अहमदाबाद मुंबई व आगे के बड़े स्टेशनों से जुड़ाव
मंडल रेल प्रबंधक सुश्री गीतिका पांडेय ने जोधपुर मंडल में इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि अब उत्तर - पश्चिम रेलवे का जोधपुर मंडल भी इलेक्ट्रिक ट्रेन के माध्यम से मारवाड़ जंक्शन के रास्ते अहमदाबाद मुंबई व आगे के बड़े स्टेशनों से जुड़ जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक उपलब्धि है। सुश्री पांडेय ने कहा कि इससे न केवल यात्रियों को आवागमन में सुविधा मिलेगी अपितु पर्यावरण की दृष्टि से भी यह कार्य अनुकूल सिद्ध होगा इसके साथ ही व्यापारियों को भी अपना माल गंतव्य स्थल पर भेजना सुविधा हो जाएगी।
कड़ी मेहनत का नतीजा
उन्होंने दोहराया कि मंडल के अधिकारियों व विद्युतीकरण कार्य में लगे कर्मचारियों ने दिन-रात एक कर कड़ी मेहनत से युद्ध स्तर पर काम कर निर्धारित समयावधि में इस कार्य को पूरा किया है जिससे मंडल पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने का सपना साकार हुआ ।
इससे पूर्व संरक्षा आयुक्त शर्मा ने जोधपुर रेलवे स्टेशन पर विद्युतीकरण कार्यों का निरीक्षण किया और बाद में सीआरएस स्पेशल से जोधपुर- मारवाड़ जंक्शन खंड पर विद्युतीकरण कार्यों का निरीक्षण किया। मारवाड़ जंक्शन पहुंचने के बाद कुछ औपचारिकताएं पूरी कर उन्होंने इलेक्ट्रिक इंजन लगी सीआरएस स्पेशल में मारवाड़ जंक्शन से जोधपुर के बीच 104 किलोमीटर रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेन संचालित कर सफलतापूर्वक ट्रायल लिया।
इन स्टेशन के हुआ निरीक्षण
संरक्षा आयुक्त ने जोधपुर के साथ-साथ भगत की कोठी , बासनी- सालावास के मध्य गेट, लूणी यार्ड ,पाली - बोमादड़ा के मध्य ब्रिज ,बोमादड़ा -राजकियावास के मध्य एसएसपी सबस्टेशन व विभिन्न समपार फाटकों ,सुरक्षा मानकों व विद्युतीकरण कार्यों का बारीकी से निरीक्षण किया।

Rail News
27658 views
Mar 29 (09:33)
Fastst electrification award mst go to Jodhpur div
Jodhpur_Junction^~   111690 blog posts
Re# 5256653-1            Tags   Past Edits
CRS was very happy with work. Railway should reward all workers

21548 views
Mar 30 (00:23)
ritzraj   1047 blog posts
Re# 5256653-2            Tags   Past Edits
Yes, when will first train with Eloco start from Jodhpur. What about LHBfication of Suryanagari exp
Mar 27 (16:46) बधाई हो! पहली बार जोधपुर पहुंचा इलेक्ट्रिक इंजन:सफलतम ट्रायल के बाद बासनी स्टेशन पर रेलवे के अधिकारियों ने एक-दूजे का मुंह मीठा करवा दी बधाई (www.bhaskar.com)
New Facilities/Technology
NWR/North Western
0 Followers
50888 views

News Entry# 481572  Blog Entry# 5254996   
  Past Edits
Mar 27 2022 (16:46)
Station Tag: Bhagat ki Kothi/BGKT added by Special fare Flight Ticket available/45315

Mar 27 2022 (16:46)
Station Tag: Marwar Junction/MJ added by Special fare Flight Ticket available/45315

Mar 27 2022 (16:46)
Station Tag: Luni Junction/LUNI added by Special fare Flight Ticket available/45315

Mar 27 2022 (16:46)
Station Tag: Basni/BANE added by Special fare Flight Ticket available/45315

Mar 27 2022 (16:46)
Station Tag: Jodhpur Junction/JU added by Special fare Flight Ticket available/45315
जोधपुर शहर में पहली बार इलेक्ट्रिक रेल इंजन शनिवार रात पहुंचा। इसके साथ ही इलेक्ट्रिक लाइन का ट्रायल सफल रहा। बासनी स्टेशन पर इंजन पहुंचते ही मिठाइयां बांटी गई। इलेक्ट्रिक इंजन का लूणी से बासनी तक सफल ट्रायल किया गया। बासनी पहुंचे इलेक्ट्रिक इंजन में रेलवे के अधिकारी भी मौजूद थे।
सफलतम ट्रायल के बाद बासनी स्टेशन पर रेलवे के अधिकारियों ने एक-दूजे का मुंह मीठा करवा बधाई भी दी। 28 मार्च को संरक्षा आयुक्त आरके शर्मा लाइनों का प्रशिक्षण करेंगे उसके बाद इलेक्ट्रिक ट्रेनों का संचालन शुरू हो सकेगा।
सीनियर डीईईटीआरडी रमेशचंद्र
...
more...
ने बताया कि इससे पहले इलेक्ट्रिक इंजन का ट्रायल मारवाड़ जंक्शन से रोहट स्टेशन तक किया गया। इस दौरान इंजन को ट्रेक पर 111 की स्पीड में दौड़ाया गया था। दूसरा ट्रायल लूणी से बासनी स्टेशन के बीच हुआ।
जोधपुर मंडल डीआरएम गीतिका पांडेय ने बताया कि जोधपुर के लिए यह गर्व का पल है। अब जल्द ही जोधपुर के ट्रेक पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें दौड़ने लगेंगी। अब इलेक्ट्रिक इंजन से समय की बचत भी हेागी और पॉल्यूशन भी कम होगा।
Copyright © 2021-22 DB Corp ltd., All Rights Reserved
This website follows the DNPA Code of Ethics.

3 Public Posts - Sun Mar 27, 2022

4 Public Posts - Tue Mar 29, 2022

28763 views
Mar 29 (17:38)
Fastst electrification award mst go to Jodhpur div
Jodhpur_Junction^~   111690 blog posts
Re# 5254996-8            Tags   Past Edits
Agar yard ka wait karenge to may me milenge..

27920 views
Mar 29 (18:57)
Saurabh®
Saurabhdubey_86^~   27804 blog posts
Re# 5254996-9            Tags   Past Edits
Bina yard electrification ke loco reverse karke Park kaha karenge.. Bgkt nahi to ju junction kahi to ETS banana padega

27713 views
Mar 29 (19:06)
Fastst electrification award mst go to Jodhpur div
Jodhpur_Junction^~   111690 blog posts
Re# 5254996-10            Tags   Past Edits
Diesel loco leke chala jayega usko.. reversal is not a issue if number of trains are low.. yard electrify hone me 1 month lagega..

24453 views
Mar 29 (21:12)
Trainking
Jumbo65~   1927 blog posts
Re# 5254996-11            Tags   Past Edits
ETS bann rha hai BGKT par already.

23437 views
Mar 30 (00:30)
ritzraj   1047 blog posts
Re# 5254996-12            Tags   Past Edits
Trains like 22965/66 BGKT- BDTS, the loco reversal takes place on main line only. Yard line is not at all used. So everything is possible if planned properly. I think this will be first train to get Eloco on this route.
Page#    Showing 1 to 20 of 100 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy