Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

इस मंज़िल पर मिलने वाले, उस मंज़िल पर दोस्त बन जाते हैं

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Sep 28 17:14:25 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

JU/Jodhpur Junction (5 PFs)
     जोधपुर जंक्शन

Track: Construction - Double-Line Electrification

Show ALL Trains
Maharaja Umaid Singh Statue Circle, Station Rd, Ratanada, Jodhpur, 342001
State: Rajasthan


Zone: NWR/North Western   Division: Jodhpur

No Recent News for JU/Jodhpur Junction
Nearby Stations in the News
Type of Station: Junction
Number of Platforms: 5
Number of Halting Trains: 104
Number of Originating Trains: 62
Number of Terminating Trains: 62
Rating: 4.0/5 (180 votes)
cleanliness - good (25)
porters/escalators - good (21)
food - good (24)
transportation - good (22)
lodging - good (22)
railfanning - good (24)
sightseeing - excellent (21)
safety - excellent (21)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 586 News Items  next>>
जोधपुर रेल मंडल पर जारी गहन टिकट जांच में बिना टिकट यात्रा करने, बिना मॉस्क व अन्य अनाधिकृत कृत्यों के लिये अगस्त माह में 11362 रेल यात्रियों से 46 लाख 75 हजार 565 रुपये जुर्माने के रुप में वसूले। वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी गोपाल शर्मा के अनुसार जोधपुर मंड़ल पर जारी गहन व निरन्तर टिकट जॉच, बिना मॉस्क, गंदगी फैलाने तथा धुम्रपान करने वालों के विरुद्ध अभियान चलाकर रेलवे परिसर में व्यवस्थायें बनाये रखने का प्रयास किया जा रहा है। मंडल रेल प्रबन्धक गीतिका पाण्डेय के निर्देशन में रेलवे राजस्व प्राप्त करने, कोरोना की रोकथाम हेतु मॉस्क लगाने के नियम की पालना करने, रेलवे परिसर को स्वच्छ बनाये रखने तथा बिना बुक कराये निर्धारित मात्रा से अधिक सामान लेकर यात्रा करने इत्यादे के लिये सघन जांच अभियान चलाया जा रहा है।
इस
...
more...
सघन जॉच अभियान में माह अगस्त 2021 में जोधपुर रेल मंड़ल पर कुल 11362 प्रकरण बिना टिकट तथा अनियमितता के मामले पकडे गये तथा जिनसे किराया राशि तथा जुर्माना राशि के 4675565 रुपये वसूल किये गये । वरिष्ठ मंड़ल वाणिज्य प्रबन्धक श्री धीरुमल ने बताया कि जोधपुर मंडल पर अगस्त माह में बिना टिकट तथा अनाधिकृत यात्रा के कोल 9856 मामले पकड़े गये जिन से 20 लाख 12 हजार 053 रुपये किराया राशि तथा 24 लाख 94 हजार 542 रुपये सहित कुल 45 लाख 06 हजार 595 रुपये का रेलवे राजस्व वसूला गया।
कोरोना गाइडलाइन के अनुसार 1293 यात्रियों को बिना मॉस्क पाये जाने पर उन पर जुर्माना लगाते हुए 1 लाख 43 हजार 100 रुपये वसूले गये।इसके अतिरिक्त 185 यात्रियों से गंदगी फैलाने, 27 यात्रियों से प्रतिबन्धित क्षेत्र में धुम्रपान करने तथा एक यात्री से निर्धारित मात्रा से अधिक सामान ले जाने के लिये 25870 रुपये जुर्माना लगाया गया। रेलवे प्रशासन द्वारा यह अभियान लगातार जारी है। यात्रियों से अपील की गई है कि वे उचित यात्रा टिकट तथा मूल फोटो आई. डी. लेकर यात्रा करें, मॉस्क लगाये रखे, गंदगी नही फैलाये तथा कम सामान लेकर सुरक्षित यात्रा करें।
Sep 04 (21:34) Electric traction to Ashram, Mandore, Pooja and Shalimar Express (railtracker.in)
New Facilities/Technology
NWR/North Western
0 Followers
27969 views

News Entry# 463970  Blog Entry# 5059116   
  Past Edits
Sep 04 2021 (21:37)
Station Tag: Jaisalmer/JSM added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:37)
Station Tag: Barmer/BME added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:37)
Train Tag: Jaisalmer - Jammu Tawi Special/04645 added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:37)
Train Tag: Barmer - Jammu Tawi Special/04661 added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Delhi Sarai Rohilla/DEE removed by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Old Delhi Junction/DLI added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: New Delhi/NDLS removed by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Jaipur Junction/JP added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Ahmedabad Junction/ADI added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Delhi Sarai Rohilla/DEE added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Jodhpur Junction/JU added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Station Tag: Ajmer Junction/AII added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Train Tag: Pooja SF Special Fare Special/02421 added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Train Tag: Mandore Superfast Special/09457 added by jigyasusingh47/2056059

Sep 04 2021 (21:35)
Train Tag: Ashram Special/02915 added by jigyasusingh47/2056059
Jodhpur Railway Station: जोधपुर रेलवे स्टेशन को उच्चतम 90 अंकों के साथ प्लेटिनम रेटेड ग्रीन रेलवे स्टेशन बनने वाले भारत के पहले रेलवे स्टेशन के रूप में सम्मानित किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी गोपाल शर्मा के अनुसार, जोधपुर रेलवे स्टेशन को प्लेटिनम रेटिंग हासिल करने के लिए अधिकतम 90 अंक मिले जो किसी भी रेलवे के लिए भारत में अब तक का पहला स्टेशन है। यह इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल - उद्योग परिसंघ (आईजीबीसी-सीआईआई) द्वारा दिया गया है। भारतीय रेलवे के पर्यावरण निदेशालय के सहयोग से आईजीबीसी-सीआईआई ने मौजूदा रेलवे स्टेशनों को पर्यावरण के अनुकूल स्टेशनों में बदलने की सुविधा के लिए ग्रीन रेलवे स्टेशनों की रेटिंग प्रणाली विकसित की है। रेटिंग प्रणाली वास्तव में जल संरक्षण, कचरे से निपटने, ऊर्जा दक्षता, जीवाश्म ईंधन के कम उपयोग, मूल्यवान सामग्रियों के उपयोग पर कम निर्भरता और रहने वालों के स्वास्थ्य और कल्याण जैसी राष्ट्रीय प्राथमिकताओं को संबोधित...
more...
करती है।
जोधपुर मंडल रेल प्रबन्धक गीतिका पांडेय के निर्देशन में तथा अपर मंडल रेल प्रबन्धक(ओ पी) मनोज जैन के मार्गदर्शन में एवं सीनियर डीएमई/ईएनएचएम एवं पावर अरुण कुमार, जोधपुर रेलवे स्टेशन निदेशक नारायण लाल, एईएनएचएम अनिल कुमार एवं सभी अधिकारियों एवम कर्मचारियों के प्रयासों से जोधपुर रेलवे स्टेशन को प्लेटिनम रेटिंग हासिल हुई है।
Jodhpur Railway Station: जानिए जोधपुर रेलवे स्टेशन की खूबियां
जोधपुर रेलवे स्टेशन को सूर्य की रोशनी 90% से अधिक मिले इस तरह डिजाइन किया गया है, प्रत्येक कार्यालय क्षेत्र, बुकिंग क्षेत्र में जाली आदि का उपयोग किया है। मुख्य प्लेटफॉर्म में बफर जोन वाले पर्यावरण वास्तुशिल्प डिजाइन हैं ।स्टेशन को अधिक हवादार बनाने के लिए खुला क्षेत्र है और पर्याप्त दिन का प्रकाश प्रदान करता है। जोधपुर रेलवे ने प्लेटफार्म क्षेत्रों में हर जगह सभी पेड़ों को संरक्षित किया और वर्टिकल गार्डन स्थापित किए गये हैं। जोधपुर रेलवे स्टेशन की टीम 100% एलईडी लाइटिंग का उपयोग कर रही है, बीईई स्टार रेटेड उपकरण, सुपर कुशल एचवीएलएस पंखे, नवीकरणीय सौर ऊर्जा पूरे छत पर स्थापित किया गया है और कुल क्षमता 870 किलोवॉट है जो रेलवे स्टेशन की कुल बिजली खपत का 43% बचा रहा है। जोधपुर स्टेशन कुल 45% ऊर्जा और पानी की बचत कर रहा है जिसकी लागत लगभग 20 लाख प्रति वर्ष है। रेलवे टीम ने बायोगैस जनरेटर स्थापित किया जहां भोजन और परिदृश्य अपशिष्ट ऊर्जा में परिवर्तित और रसोई और प्रकाश व्यवस्था में बायोगैस के रूप में उपयोग किया जा रहा है जिससे प्रति वर्ष लगभग 6.5 लाख की बचत हो रही है।
जोधपुर रेलवे स्टेशन पर 3 लाख लीटर प्रतिदिन की क्षमता वाला सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट, गीले और सूखे कचरे के लिए केंद्रीय अपशिष्ट संग्रह की उपलब्धता, स्वच्छता और रखरखाव के लिए प्रमाणित हरित उत्पाद, ऊर्जा और जल लेखा ऑडिट जैसी कई हरित पहल चल रही हैं। जो हर तीन साल में एक बार किया जाता है।
रसोई के क्षेत्रों में सौर गर्म पानी (1400 लीटर प्रति दिन) का उपयोग करते हुए, और ऊर्जा और पानी के उपयोग के लिए उप-मीटरिंग का उपयोग करते हुए, एसी वेटिंग हॉल और ताजी हवा के पंखे के साथ एकीकृत प्रतीक्षा कक्षों में सी ओ 2 सेंसर प्रदान किए गए है ।
इसके अतिरिक्त, रेलवे स्टेशन 100 प्रतिशत डिजिटल कैशलेस भुगतान, यात्रियों के लिए मुफ्त हाई स्पीड वाईफाई सुविधा, बैठने की जगह, मोबाइल और लैपटॉप चार्जिंग स्टेशन, कियोस्क, एटीवीएम मशीन, सीसीटीवी निगरानी, प्री-पेड ऑटो / टैक्सी स्टैंड के रूप में स्मार्ट यात्री सेवाएं प्रदान करता है। जोधपुर रेलवे स्टेशन की टीम ने कई नवाचारों पर काम किया जैसे आईएसओ प्रमाणन, स्थानीय और राजस्थानी सांस्कृतिक उत्पादों के लिए वोकल को प्रोत्साहित करना, स्वचालित कोच फिलिंग स्काडा सिस्टम जो काफ़ी पानी बचाता है, बोतल क्रशिंग मशीन रीसाइक्लिंग और प्लास्टिक फ्लेक्स का पुन: उपयोग करता है। स्टेशन परिसर में हर जगह ताजी हवा के प्रावधान के साथ वातानुकूलित कमरे उपलब्ध कराए गए।
कॉनकोर्स क्षेत्र में एचवीएलएस पंखे हैं जो यात्रियों के लिए आराम के साथ-साथ समग्र ऊर्जा बचत प्रदान करते हैं। टीम ने लो फ्लो वाटर फिक्स्चर, वाटरलेस यूरिनल और डुअल फ्लश सिस्टम स्थापित किया जो 20% की जल दक्षता की पुष्टि करता है। स्वचालित कोच वाशिंग प्लांट से 60% तक पानी की बचत हो रही है और टीम ईटीपी प्लांट के पानी का पुन: उपयोग कर रही है। रेलवे स्टेशन को दिव्यांगों के लिए अच्छी तरह से डिजाइन किया गया है और टीम ने इन-हाउस स्क्रैप सामग्री का उपयोग करके ट्रेनों तक आसान पहुंच के लिए फोल्डेबल रैंप डिजाइन किया है। जोधपुर रेलवे स्टेशन छत पर सौर पैनलों के साथ कवर किया गया है और गर्मी प्रभाव को कम करने के लिए पेवर ब्लॉकों का इस्तेमाल किया गया है।

Rail News
10903 views
Sep 03 (23:28)
ritzraj   995 blog posts
Re# 5057079-1            Tags   Past Edits
That's superb performance by officials and workers of JU station. They have made us proud again.
Sep 02 (13:20) जोधपुर रेलवे स्टेशन: ग्रीन स्टैण्डर्ड उतरा खरा, मिली प्लेटिनम रेटिंग (www.patrika.com)
New Facilities/Technology
NWR/North Western
0 Followers
7645 views

News Entry# 463697  Blog Entry# 5057012   
  Past Edits
Sep 02 2021 (13:20)
Station Tag: Jodhpur Junction/JU added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
Stations:  Jodhpur Junction/JU  
जोधपुर।उत्तर पश्चिम रेलवे के जोधपुर रेलवे स्टेशन को एक बड़ी उपलब्ध हासिल हुई है। पर्यावरण, जल और ऊर्जा संरक्षण के क्षेत्र में बेहतरीन काम करने के लिए इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (आईजीबीसी) ने जोधपुर रेलवे स्टेशन को ग्रीन रेलवे स्टेशन के मानकों पर पूरी तरह खरा उतरने के लिए प्लेटिनम रेटिंग दी है। यह रेटिंग जोधपुर रेलवे स्टेशन को यात्रियों के लिए सुविधाएं और पर्यावरण को लेकर किए गए कार्यो के लिए दी गई है।उत्तर पश्चिम रेलवे व जोधपुर रेल मण्डल के अधिकारियों की ओर से किए गए प्रयासों के बाद इस स्टेशन पर इतने बड़े पैमाने पर सुधार कार्य किए गए कि जोधपुर रेलवे स्टेशन को गोल्ड नहीं बल्कि सीधे प्लेटिनम रेटिंग मिल गई।----इन सुविधाओं के लिए मिली रेटिंग- यात्री के अनुकूल सुविधाएं- स्वास्थ्य, स्वच्छता और स्वच्छता पहल- ऊर्जा और जल संरक्षण के कुशल उपाय- स्टेशन पर सौर ऊर्जा का ज्यादा इस्तेमाल- स्टेशन परिसर में एलईडी लाइटिंग- जल संरक्षण से...
more...
पानी की बचत- इलेक्ट्रिक चार्जिंग पॉइंट- सोलर हीटर का इस्तेमाल। इनके अलावा पर्यावरण संरक्षण के लिए कई कदम उठाएं।---हर वर्ष सर्वेइंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल हर वर्ष भारतीय रेलवे स्टेशनों का सर्वे करता है। कुछ निर्धारित मापदण्ड़ों के आधार पर रेलवे स्टेशनों को अंक देता है, ये अंक 100 में से दिए जाते है। काउंसिल की ओर से रेलवे स्टेशनों को दी जाने वाली ये रेटिंग्स रेलवे स्टेशनों को पर्यावरण को बिना नुकसान पहुंचाए कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करती है।-ग्रीन कांसेप्ट को ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल में लानाकाउंसिल के सर्वे का एकमात्र उद्देश्य रेलवे स्टेशनों पर ज्यादा से ज्यादा ग्रीन कांसेप्ट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाना है, ताकि पर्यावरण को होने वाले नुकसान को कम किया जा सके
Sep 02 (13:18) तीन साल से अटका एच आकार ओवरब्रिज का रास्ता खुला, जेडीए-सेना में एमओयू (www.patrika.com)
New Facilities/Technology
NWR/North Western
0 Followers
7567 views

News Entry# 463695  Blog Entry# 5057010   
  Past Edits
Sep 02 2021 (13:18)
Station Tag: Jodhpur Junction/JU added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
जोधपुर।शहर का पहला एच आकार ओवरब्रिज जो कि रेलवे क्रॉसिंग सी-168 आरटीओ फाटक पर बनना है उसकी तीन साल से चली आ रही अड़चनें आखिकार दूर हो गई। जोधपुर विकास प्राधिकरण और सेना के बीच जिस जमीन को लेकर विवाद था वह सुलझ गया है और बुधवार को इस पर एमओयू हस्ताक्षरित कर दिए गए हैं। अब जेडीए को वह विवादित जमीन लाइसेंस बेसिस पर मिलेगी। जिससे रुका हुआ ओवरब्रिज का निर्माण कार्य शुरू हो सकेगा।फैक्ट फाइल- 3 साल से अटका है एच आकार ओवरब्रिज- 75 करोड़ है इसकी लागत- 750 मीटर है कुल ओवरब्रिज की लम्बाई- 18425 वर्ग मीटर जमीन को लेकर था विवाद- 3455808 लाइसेंस फीस इस भूमि के लिए जेडीए ने जमा करवाई है- 7 करोड़ का काम होने के बाद बंद हो गया था निर्माण- 2023 तक निर्माण पूरा करने का दावा है-------यह थी अड़चनजेडीए ने आरटीओ फाटक पर एच आकार ओवरब्रिज का निर्माण जब जुलाई 2018...
more...
में शुरू किया तो उसका एक भाग मुख्य जयपुर मार्ग पर भी बनना प्रस्तावित था। सैन्य जमीन नजदीक होने के कारण रक्षा मंत्रालय की ओर से इस पर आपत्ति की गई। इसके बाद कुछ पिलर आधे खड़े करने के बाद काम को रोक दिया गया। जिस पर विवाद था उस पर सेना ने अपना दावा ठोका तो जेडीए ने इसे सरकारी जमीन बताया।ऐसे अटक गया मामला- जुलाई 2018 में सबसे पहले सेना ने कार्य रुकवाया- कुछ समझाइश के बाद फिर शुरू हुआ तो सितम्बर 2018 में दूसरी बार रुकवाया गया।- इस जमीन पर सेना ने अपना कब्जा व अधिकार बताया।- राजस्व रेकर्ड में बदलाव कर यह जमीन सरकार के नाम दर्ज की गई।- लेकिन सेना ने यह मानने से इनकार कर दिया।- नवम्बर 2019 को तीसरी बार सेना ने इसका काम रुकवाया।- सितम्बर 2020 को लाइसेंस बेसिस पर लेने के लिए प्रस्ताव भेजा गया।- जनवरी 2021 में सेना की ओर से लाइसेंस वर्किंग परमिशन दी गई।- 34 लाख 55 हजार 808 रपुए लाइसेंस फीस के रूप में जून 2021 को स्थानांतरण किए गए।- 1 सितम्बर 2021 को अब हस्तांकरण व टेकनओवर एमओयू हस्ताक्षरित होकर आगे निर्माण का रास्ता खुला।यह निकला रास्ताइस जमीन पर फिलहाल मालिकाना हक सेना का ही रहेगा। जेडीए को यह जमीन लाइसेंस बेस यानि किराये के रूप में मिली है। 18425 वर्ग मीटर की जमीन का वार्षिक 18425 रुपए किराया देना होगा। बुधवार को जेडीए की ओर से सचिव हरभान मीणा और सेना की ओर से स्टेशन कमांडर ब्रिगेडियर एम.एस यारनल की उपस्थिति में लाइसेंस पर दिए जाने का एमओयू हस्ताक्षरित हुआ।
Page#    Showing 1 to 20 of 586 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy