Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

अपनी संपूर्ण क्रांति, राजधानी से कम है के 🔥- Arjun Rai

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu May 13 18:00:59 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

HBD/Hoshangabad (2 PFs)
     होशंगाबाद
[Narmadapuram]

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
SH-15, Gwaltoli, Hoshangabad , PIN - 461001
State: Madhya Pradesh

Elevation: 309 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for HBD/Hoshangabad
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 60
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.4/5 (40 votes)
cleanliness - good (5)
porters/escalators - good (5)
food - average (5)
transportation - good (5)
lodging - good (5)
railfanning - good (5)
sightseeing - good (5)
safety - average (5)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 110 News Items  next>>
May 03 (10:06) बाघ की माैत:होशंगााबाद मिडघाट के पास जंगल में ट्रेन की चपेट में आया बाघ (www.bhaskar.com)
Crime/Accidents
WCR/West Central
0 Followers
860 views

News Entry# 450534  Blog Entry# 4952816   
  Past Edits
May 03 2021 (10:06)
Station Tag: Midghat/MIG added by ANIKET/1490219

May 03 2021 (10:06)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by ANIKET/1490219
Stations:  Hoshangabad/HBD   Midghat/MIG  
होशंगाबाद-हबीबगंज स्टेशन के बीच में मिडघाट के पास जंगल में ट्रेन की चपेट में आने से एक बाघ की मौत हो गई। घटना रविवार की बताई जा रही है। सूचना पर फारेस्ट विभाग, होशंगाबाद आरपीएफ चेक पोस्ट की टीम मौके पहुंची। बाघ के शरीर पर ट्रेन से कटने के निशान मिले। रेलवे ट्रैक से उठाकर उसका पोस्टमार्टम कराया गया। जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार वन विभाग की टीम ने किया।
जानकारी के अनुसार मृत नर बाघ की उम्र करीब एक साल बताई जा रही। होशंगाबाद-हबीबगंज के बीच में मिडघाट-चौका स्टेशन के मध्य अप ट्रैक पर खंबा नंबर 780/19 के पास बाघ ट्रेन की चपेट में आया। रेलवे के भाेपाल कंट्रोल से सूचना होशंगाबाद आरपीएफ चेक पोस्ट मिली। बुदनी के वन अधिकारी, आरपीएफ
...
more...
चेक पोस्ट प्रभारी धर्मेंद्र सिंह, आरक्षक मोहम्मद वसीम मौके पर पहुंचे। बाघ के शरीर पर ट्रेन के टकराने के निशान मिले।
Apr 29 (12:56) सुविधा:स्टेशन पर पुराने स्थान पर बनेगा नया एफओबी, 2.5 मीटर ज्यादा चौड़ा हाेगा (www.bhaskar.com)
New Facilities/Technology
WCR/West Central
0 Followers
2205 views

News Entry# 450151  Blog Entry# 4950016   
  Past Edits
Apr 29 2021 (12:56)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by Saurabh®/1294142
Stations:  Hoshangabad/HBD  
रेलवे स्टेशन पर पुराने फुटओवर ब्रिज के स्थान पर अब फिर से नया एमओबी बनाने की तैयारी शुरू हो गई है। पश्चिम मध्य रेल मंडल ने फुटओवर ब्रिज(एफओबी) के डिजाइन का ड्राइंग, अप्रूवल स्टीमेट मांगे थे। जिसे स्थानीय रेलवे अधिकारियाे ने तैयार करके मंडल कार्यालय भेज दिए हैं। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक मंडल से मांगी गई जानकारी भेज दी गई है।
जल्द ही यह पास हाेता है ताे रेल यात्रियों के साथ स्थानीय लाेगाें की शहर व ग्वालटाेली आवागमन की समस्या खत्म हाे जाएगी। गाैर तलब है कि 17 मई 2020 काे एफओबी काे ताेड़ दिया गया था। एफओबी टूटने के कारण आम जनता के आवागमन के रास्ते के मुद्दे काे दैनिक भास्कर ने प्राथमिकता से प्रकाशित किया था। भास्कर ने रेलवे
...
more...
अधिकारियाें सहित जनप्रतिनिधियाें काे भी इस समस्या से अवगत करवाया था।पैदल निकलने वालाें काे हाेगी सुविधायात्रियाें के साथ एफओबी से ग्वालटाेली की ओर आवाजाही करने वालाें काे भी नए एफओबी सुविधा मिलेगी। नया एफओबी से पैदल निकलने वाली आम जनता के लिए पिछले एफओबी से 2.5 मीटर ज्यादा चौड़ा बनाया जाएगा। पिछले एफओबी की चौड़ाई केवल 2.5 मीटर ही थी, जिससे यात्रियों और शहर के आम नागरिकों को आवागमन में असुविधा होती थी। पुराने ब्रिज के टूटने के बाद लाेगाें ने इसे बनाने के लिए मांग की थी।17 मई 2020 काे ताेड़ा था एफओबीवर्ष 2020 में भोपाल रेलवे स्टेशन पर हुई एफओबी टूटने की घटना के बाद मंडल ने 50 साल पुराने हो चुके सभी एफओबी तोड़ने के आदेश दिए थे। होशंगाबाद रेलवे स्टेशन पर बने एफओबी को 17 मई को तोड़ दिया गया। इसके टूटने से ग्वालटोली और शहर के लोगों को आवागमन के लिए आधा किलो मीटर का रास्ता तय करना पड़ता था। वहीं स्टेशन पर प्लेट फार्म बदलने के लिए नए एफओबी के लिए अभी लोगों को काफी चलना पड़ता था। अब नया एफओबी प्लेटफार्म सहित बाहर की ओर भी रास्ता निकाला जाएगा।
कोरोना संक्रमण के बीच ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए देशभर में भारतीय रेलवे ऑक्सीजन एक्सप्रेस चला रही है। रेलवे ट्रैक पर ग्रीन कॉरिडोर कर कम समय में ऑक्सीजन के टैंकर पहुंचा रही है। पश्चिम मध्य रेलवे का भोपाल भी प्राण वायु पहुंचाने में पीछे नहीं है। भोपाल मंडल ने भी 10 डब्बों की ऑक्सीजन एक्सप्रेस तैयार की है। जो ऑक्सीजन टैंकर के लिए जरूरत पड़ने पर रवाना होगी। मंडल के इटारसी रेलवे यार्ड में ऑक्सीजन टैंकर लोडिंग के लिए 10 डब्बों की मालगाड़ी तैयार की गई है। जैसे की जरूरत होगी। मालगाड़ी रवाना की जाएगी।
रेलवे सूत्रों के अनुसार अभी आधिकाारिक आदेश नहीं आया है। जैसे ही रेलवे की ओर से कोविड महामारी में ऑक्सीजन पहुंचानने की अग्रिम तैयारी
...
more...
कर ली है। 25 अप्रैल की शाम को इटारसी यार्ड में 30 डब्बों की मालगाड़ी आई। ऑक्सीजन टैंकर लोडिंग करने के लिए 10 डब्बों की गाड़ी तैयार की है। पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर मुख्यालय ने बोकारो से मंडीदीप (भोपाल) के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस की योजना तैयार की है। जरूरत पड़ने पर यह गाड़ी ऑक्सीजन टैंकर के लिए रवाना होगी। उल्लेखनीय है कि रेलवे कोरोना को ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस चला रही है। मप्र में ऑक्सीजन एक्सप्रेस को बोकारो से 6 टैंकरों को लोड कर मंडीदीप तक ले जाने की योजना है।
मप्र के लिए पहली बार 6 टैंकर लेकर आएगी ऑक्सीजन एक्सप्रेस
मप्र के लिए पहली बार ऑक्सीजन एक्सप्रेस झारखंड के बोकारो से मंगलवार सुबह 5.30 बजे रवाना हुई। ऑक्सीजन एक्सप्रेस में 6 टैंकर लोड किए है। जिनमें लगभग 64 टल ऑक्सीजन भरी है। यह ऑक्सीजन मप्र के लिए प्राणवायु का काम करेंगी।
नॉन स्टाप ट्रेन कोटशिला,, झारसगुदा, बिलासपुर, नई कटनी, जबलपुर होते हुए भोपाल मंडीदीप पहुंचेगी। भारतीय रेल ने ग्रीन कॉरिडोर का विशेष प्रबंध किया है। अनुमान है कि यह गाड़ी सोमवार देर रात जबलपुर और बुधवार दिन में भोपाल पहुंचेगी।
कोरोना की दूसरी लहर ने लॉकडाउन के डर से एक बार फिर से रोजगार के लिए महाराष्ट्र, मुंबई पहुंचे मजदूरों को गांव लौटने पर मजबूर कर दिया है। लोग ट्रेनों के माध्यम से गांव लौट रहे हैं। स्थिति यह है कि ट्रेनों के कोचों में क्षमता से दोगुनी, तिगुनी यात्री बैठकर यात्रा कर रहे। पिछले 15 दिनों से महाराष्ट्र से यूपी, बिहार जाने वाली ट्रेनें यात्रियों से खचाखच भरा कर जा रही है।
मंगलवार दोपहर होशंगाबाद स्टेशन पर एलटीटी गोरखपुर कुशीनगर ट्रेन जनरल और स्लीपर कोच सभी में एक जैसी स्थिति नजर आई। एक बर्थ पर 6,7 यात्री बैठे थे। साथ ही टॉयलेट और दरवाजे के पास बैठे यात्रा करने को यात्री मजबुर है।
ट्रेन
...
more...
बंद होने और पैदल चलने का डर, इसलिए कंफर्म टिकट के बगैर यात्रा
मंगलवार दोपहर 1.30 बजे होशंगाबाद पहुंची स्पेशल एलटीटी गोरखपुर काशी एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में मुंबई से बस्ती जा रहे यात्री धर्मेंद्र चौधरी ने बताया कि टिकट कन्फर्म नहीं है। लेकिन डर है कि पिछले साल जैसी ट्रेनें बंद न हो जाएं, इसलिए पहले ही ट्रेन से घर जा रहे है।
मुंबई में कोरोना की बेकार स्थिति है। पिछले साल जैसा देशभर में पूर्ण लॉक डाउन लगा और ट्रेन बंद हुई तो बेकार हम लोगों की बेकार स्थिति हो जाएगी। पिछले साल महाराष्ट्र से यूपी बस्ती जाने कई किमी की यात्रा पैदल करना पड़ा था।
स्टेशन पर आने जाने वालों की नहीं हो रही जांच
इधर, होशंगाबाद शहर में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहे हैं। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू लागू है। लेकिन रेलवे स्टेशन पर प्रशासन अलर्ट नहीं है। रेलवे स्टेशन पर आने जाने वाले यात्रियों को लेकर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अलर्ट नहीं है। स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग का स्टाफ बैठन बंद हो गया है। जिससे आने - जाने वाले यात्रियों के स्वास्थ्य की जांच और जानकारी का रिकार्ड नहीं रखा जा रहा।
Apr 22 (12:13) डर ने याद दिलाया घर.. मुंबई टू UP ट्रेन से:​​​​​​​कंफर्म टिकट के नियम के बावजूद कोच में तीन गुना यात्री; होशंगाबाद में प्लेट फॉर्म पर उतरने वालों की कोविड जांच बंद (dainik-b.in)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
7641 views

News Entry# 449326  Blog Entry# 4945060   
  Past Edits
Apr 22 2021 (12:13)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688

Apr 22 2021 (12:13)
Train Tag: Kushinagar SF Special/02538 added by महाँकाल एक्सप्रेस/1084688
Stations:  Hoshangabad/HBD  
कोरोना की दूसरी लहर ने लॉकडाउन के डर से एक बार फिर से रोजगार के लिए महाराष्ट्र, मुंबई पहुंचे मजदूरों को गांव लौटने पर मजबूर कर दिया है। लोग ट्रेनों के माध्यम से गांव लौट रहे हैं। स्थिति यह है कि ट्रेनों के कोचों में क्षमता से दोगुनी, तिगुनी यात्री बैठकर यात्रा कर रहे। पिछले 15 दिनों से महाराष्ट्र से यूपी, बिहार जाने वाली ट्रेनें यात्रियों से खचाखच भरा कर जा रही है।
मंगलवार दोपहर होशंगाबाद स्टेशन पर एलटीटी गोरखपुर कुशीनगर ट्रेन जनरल और स्लीपर कोच सभी में एक जैसी स्थिति नजर आई। एक बर्थ पर 6,7 यात्री बैठे थे। साथ ही टॉयलेट और दरवाजे के पास बैठे यात्रा करने को यात्री मजबुर है।
ट्रेन
...
more...
बंद होने और पैदल चलने का डर, इसलिए कंफर्म टिकट के बगैर यात्रा
मंगलवार दोपहर 1.30 बजे होशंगाबाद पहुंची स्पेशल एलटीटी गोरखपुर काशी एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में मुंबई से बस्ती जा रहे यात्री धर्मेंद्र चौधरी ने बताया कि टिकट कन्फर्म नहीं है। लेकिन डर है कि पिछले साल जैसी ट्रेनें बंद न हो जाएं, इसलिए पहले ही ट्रेन से घर जा रहे है।
मुंबई में कोरोना की बेकार स्थिति है। पिछले साल जैसा देशभर में पूर्ण लॉक डाउन लगा और ट्रेन बंद हुई तो बेकार हम लोगों की बेकार स्थिति हो जाएगी। पिछले साल महाराष्ट्र से यूपी बस्ती जाने कई किमी की यात्रा पैदल करना पड़ा था।
स्टेशन पर आने जाने वालों की नहीं हो रही जांच
इधर, होशंगाबाद शहर में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहे हैं। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू लागू है। लेकिन रेलवे स्टेशन पर प्रशासन अलर्ट नहीं है। रेलवे स्टेशन पर आने जाने वाले यात्रियों को लेकर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अलर्ट नहीं है। स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग का स्टाफ बैठन बंद हो गया है। जिससे आने - जाने वाले यात्रियों के स्वास्थ्य की जांच और जानकारी का रिकार्ड नहीं रखा जा रहा।
पूर्व उप मुख्यमंत्री के बेटे, बहू और पोती की हत्या: छोटे भाई ने कब्जा ली थी संपत्ति, बड़े भाई ने सालों के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट; आरोपी की पत्नी ने अपने भाई के साथ मिलकर रची थी साजिश
मौसम ने ली करवट, द्रोणिका का असर: राजधानी में छाए बादल, कई जगह बूंदाबांदी; प्रदेश के कई इलाकों में धूल भरी आंधी के साथ हल्की बारिश
शिवराज ने अब मंत्रियों को मैदान में उतारा: गोपाल भार्गव को ऑक्सीजन प्लांट निर्माण की जिम्मेदारी, होम आइसोलेटेड को मेडिसिन किट बांटेने की मॉनिटरिंग विजय शाह करेंगे
Page#    Showing 1 to 20 of 110 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy