Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Tamil Nadu Express - தங்களை அன்புடன் வரவேற்கிறது - Swaroop Kutti

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sat Jun 12 23:09:05 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Post PNRAdvanced Search

CNA/Chanderiya (3 PFs)
     चन्देरिया

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
National Highway 79, Chittaurgarh
State: Rajasthan


Zone: WR/Western   Division: Ratlam

No Recent News for CNA/Chanderiya
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 3
Number of Halting Trains: 26
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.9/5 (16 votes)
cleanliness - excellent (2)
porters/escalators - average (2)
food - good (2)
transportation - excellent (2)
lodging - good (2)
railfanning - average (2)
sightseeing - excellent (2)
safety - good (2)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 36 News Items  next>>
चित्तौड़गढ़ के चंदेरिया रेलवे स्टेशन से अफीम की ट्रेन रविवार शाम 4:30 बजे गाजीपुर के लिए रवाना हो गई। ट्रेन की कई बोगियों में 113 टन से ज्यादा अफीम भरी है। नारकोटिक्स विभाग की ओर अफीम से भरी बोगियों के आगे और पीछे दो बोगियों में सुरक्षा के लिए सशस्त्र जवान तैनात किए गए हैं। इसके अलावा रास्ते में आने वाले सभी थानों को अलर्ट कर दिया गया है। इस दौरान आर्म्स गार्ड के 1-4 की दो टुकड़ी और नारकोटिक्स विभाग के 15 जवान ट्रेन में भेजे गए हैं। करीब 15.50 करोड़ रुपए की अफीम का संकलन चित्तौड़गढ़ के विभिन्न खंडों के किसानों से किया गया है।
नारकोटिक्स विभाग के गोदामों में जमा हुई अफीम को रविवार सुबह ट्रकों में लोड करके
...
more...
चंदेरिया रेलवे स्टेशन ले जाया गया। इन ट्रकों में चित्तौड़गढ़ के प्रथम खंड, तृतीय खंड और भीलवाड़ा खंड की अफीम कंटेनर लोड किए गए। विभाग के द्वारा करीब लगभग 40 ट्रकों से अफीम कंटेनर को चंदेरिया के स्टेशन भिजवाया गया। जहां ट्रेन की बोगियों में लोड कर कंटेनर को गाजीपुर के लिए ट्रांसफर किया गया। इस बार लगभग तीनों खंडों की कुल 113.0811 टन अफीम 15142 कंटेनरों में एकत्रित किया गया है। इसके लिए किसानों को करीब 14 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। अभी शेष 10 प्रतिशत राशि ग्रेडिंग के बाद किसानों को दी जानी है। यानी नारकोटिक्स विभााग के अनुसार इसकी कीमत करीब साढ़े 15 करोड़ रुपए के आसपास है।
7 अप्रैल से शुरू हुई थी तौल
सात अप्रैल से शुरू हुई अफीम तुलाई का कार्य 25 व 26 अप्रैल को खत्म हुआ। शुरू में यह तौल ओवन पद्धति से की जा रही थी, लेकिन 20 अप्रैल से कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए हस्त पद्धति से करके तारीख को जल्दी खत्म किया गया। इस दौरान जिला मुख्यालय में प्रथम खंड व द्वितीय खंड का तौल हुआ। वहीं, निंबाहेड़ा में तृतीय खंड का तौल हुआ। तृतीय खंड से जमा अफीम को नीमच फैक्ट्री भेज दिया गया, जबकि प्रथम और द्वितीय खंड के अफीम को ऑफिस परिसर में बनाए गए सेंट्रल गोदाम में रखा गया। वहीं, चित्तौड़ से कुछ तहसीलों के अफीम का तोल भीलवाड़ा खंड में किया गया था।
देश का एकमात्र केंद्र
देश में चित्तौडगढ ही ऐसा केंद्र है, जहां से अफीम रेलगाडी से लंबी दूरी तय कर गाजीपुर भेजी जाती है। विभाग की गाजीपुर फैक्ट्री में ले जाने के लिए रेलवे से स्पेशल मालगाड़ी बुक की जाती है। इस बार बुक की गई ट्रेन में 22 डिब्बे हैं। इसमें पहली बार इलेक्ट्रिक इंजन काे लगाया गया है। प्रथम खंड को सात, द्वितीय खण्ड को सात व भीलवाड़ा खण्ड को 8 बोगी अलॉट की गई। इसी के अनुसार रविवार अल सुबह से गोदाम में रखे अफीम से भरे कंटेनर ट्रकों में लोड किए गए।। इन्हे ट्रक से चंदेरिया स्टेशन पर खड़ी इस मालगाड़ी में बोगियों में लोड किया गया।
एक बोगी में 700 कंटेनर किए लोड
बताया गया कि नारकोटिक्स विभाग ने इस ट्रेन में प्रत्येक खंड को 8 बोगी में कंटेनर रखने के लिए कहा। वहां, एक बोगी में करीब 700 कंटेनर लोड किए जा रहे हैं। गाजीपुर फैक्ट्री में पहुंचने के बाद वहां कंटेनरों में रखी अफीम को निकाल कर लैब में मुख्य परीक्षण किया जाएगा। फाइनल रिपोर्ट आने पर किसानों को शेष दस प्रतिशत भुगतान किया जाएगा।
30 लाख से अधिक आया ट्रेन का खर्च
अफीम ले जा रही ट्रेन को 30 लाख 232 रुपए में बुक किया गया है। डेमरेज चार्ज अलग से 6600 से अधिक लगे। रेलवे की और से गाड़ी यदि 2 बजे रवाना नहीं होती तो हर घण्टे के हिसाब से एक डिब्बे पर 150 रुपए का चार्ज लगाया जाता है। ट्रेन करीब 4:30 बजे चंदेरिया स्टेशन से रवाना हुई।
ऐसा है ट्रेन का सुरक्षा चक्र
काला सोना भरी अफीम के आगे, पीछे व बीच के कोच में सशस्त्र जवान तैनात किए गए हैं। रूट के सभी स्टेशन, पुलिस थाने, चौकियां अलर्ट कर दिया गया है। चालक व टीटी भी सुरक्षा घेरे में हैं। इससे पहले नारकोटिक्स कार्यालय से स्टेशन तक भी जगह जगह पुलिस व नारकोटिक्स विभाग के जवान तैनात रहे।
नारकोटिक्स विभाग की ओर से सोमवार को अफीम तुलाई के दूसरे खंड का काम पूरा हो गया। जबकि पहले खंड की तुलाई मंगलवार को पूरी होगी। अब तक तौली गई अफीम को सेंट्रल गोदाम में रख दिया गया। पिछले कई दिनों से यह कार्य चल रहा है।
द्वितीय खंड में सोमवार को 29 किसानों की अफीम की तौल गई। इसमें लगभग 145 किलो अफीम विभाग को सौंपी गई है। सोमवार को 29 किसानों को 2 लाख 72 हजार 900 रुपए का भुगतान किया गया।
अब तक हुई 66 हजार 260 अफीम तुलाई
प्रथम
...
more...
खंड में अभी तक 4540 काश्तकारों ने 30260 किलो अफीम तुलवाई। इस अफीम के बदले विभाग ने उन्हें 5 करोड़ 34 लाख 25 हजार 600 रुपए किसानों को दिए। इसी तरह द्वितीय खंड में रविवार तक 4446 किसान केंद्र पर आए और 36 हजार अफीम तुलवाने का कार्य किया। वहीं, उन्हें इसके बदले में पांच करोड़ 49 लाख 93 हजार 400 रुपए दिए गए।
2 मई को भेजी जाएगी गाजीपुर
दोनों खंडों और भीलवाड़ा खंड की अफीम दो मई को गाजीपुर फैक्ट्री भिजवाई जाएगी। इसके लिए रेल बुकिंग का प्रस्ताव रखा गया है। आर्म्स गार्ड के साथ सुबह सात बजे 10 ट्रकों में अफीम चंदेरिया स्टेशन भेजी जाएगी, जहां से इसे गाजीपुर के लिए रवाना किया जाएगा। वहीं, तृतीय खंड के अफीम को नीमच फैक्ट्री में रखा गया है।
Apr 02 (15:50) Railway News: अब डब्ल्यूसीआर जोन में नहीं घुलेगा डीजल के जलने से निकलने वाला धुआं (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
69608 views

News Entry# 447620  Blog Entry# 4927471   
  Past Edits
Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Chanderiya/CNA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Gurla Junction/GQL added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Shivpuri/SVPI added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Mahdeiya/MHDA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Maksi Junction/MKC added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:51)
Station Tag: Pachor Road/PFR added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Majhaoli/MZHL added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Rewa (Terminal)/REWA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Satna Junction/STA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Badarwas/BDWS added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Guna Junction/GUNA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Chachaura Binaganj/CBK added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Vijay Pur/VJP added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Khanna Banjari/KHBJ added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Manikpur Junction/MKP added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Sagma/SAGM added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Katni Junction/KTE added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Pipariya/PPI added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836

Apr 02 2021 (15:50)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। अब पश्चिम मध्य रेलवे (डब्ल्यूसीआर) की प्राणवायु में सालाना 100 करोड़ रुपये के डीजल के जलने से निकलने वाला धुआं नहीं घुलेगा। इस जोन की सभी रेलवे लाइनें विद्युतीकृत हो गई हैं। मतलब जोन के रेलवे ट्रैक 100 फीसद विद्युतीकरण वाले हो गए हैं। यह उपलब्धि 29 मार्च को हासिल की है। भारतीय रेल ने 2017 में रेलवे ट्रैकों का 100 फीसद विद्युतीकरण करने का लक्ष्य तय किया था, जिसे डब्ल्यूसीआर ने सबसे पहले पूरा किया है। इस जोन में भोपाल, जबलपुर और कोटा रेल मंडल आते हैं। तीनों को मिलाकर 3012 किलोमीटर लंबा रेलवे ट्रैक है, जो कई हिस्सों में बंटा है। 2017 तक 1695 किलोमीटर रेलवे ट्रैक ही विद्युतीकृत था, बाकी 1317 किलोमीटर के ट्रैक पर डीजल इंजन लगाकर ट्रेनें चलानी पड़ती थी। एक अनुमान के मुताबिक इससे हर साल डीजल पर 100 करोड़ रुपये खर्च होते थे। डीजल के जलने से जहरीला धुआं निकलता था,...
more...
जो वायु को प्रदूषित करता था।
आम नागरिकों को ये फायदें होंगे
राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड मप्र के सदस्य सचिव एए मिश्रा बताते हैं कि पेट्रोल-डीजल जैसे ईंधनों के जलने से कार्बन मोनोऑक्साइड उत्पन्न होती है। यह एक विषैली गैस है, जो रुधिर में ऑक्सीजन-वाहक क्षमता को घटा देती है। डीजल का उपयोग नहीं होने से ये प्रदूषित कण हवा में नहीं मिलेंगे। हवा की सेहत पर डीजल इंजनों के चलने से जो विपरीत असर पड़ता था, वह नहीं होगा। आम नागरिकों व पर्यावरण को इससे फायदा होगा।
ऐसे पूर्ण विद्युतीकृत हुआ डब्ल्यूसीआर
- 2017 में भारतीय रेलवे ने 100 फीसद विद्युतीकरण का लक्ष्य तय किया था।
- 1695 रूट किलोमीटर ही विद्युतीकृत था।
- 29 मार्च 2021 को डब्ल्यूसीआर 100 फीसद विद्युतीकृत जोन बन गया।
- 3012 किलोमीटर रूट क्षेत्र में विद्युत इंजन वाली ट्रेनें दौड़ सकेंगी।
- 178 किलोमीटर रूट 2017-18 में विद्युतीकृत किया।
- 296 किलोमीटर रूट 2018-19 में विद्युतीकृत किया।
- 357 किलोमीटर रूट का विद्युतीकरण 2019-20 में किया।
- 486 किलोमीटर रूट का विद्युतीकरण 2020-21 में पूरा किया।
विद्युतीकरण पर कब कितना खर्च
- 254.71 करोड़ रुपये 2017-18 में।
- 423.58 करोड़ रुपये 2018-19 में।
- 510.87 करोड़ रुपये 2019-20 में।
- 695.47 करोड़ रुपये 2020-21 में।
इन रेलखंडों में पूरा हुआ विद्युतीकरण
पिपरिया-जबलपुर के बीच 178 किमी में 2017-18 में, जबलपुर-कटनी, सगमा-मानिकपुर, कटनी-खन्‍नबंजारी, विजयपुर-चाचौड़ा बीना गंज एवं गुना-बदरवास के बीच 296 किमी में 2018-19 में, सतना-सगमा, सतना-रीवा, खन्‍नबंजारी-मझौली, पाचोर रोड-चाचौड़ा बीनागंज एवं बदरवास-शिवपुरी खंड के बीच 357 किमी में 2019-20 में, कटनी-सतना, पाचोर रोड-मक्सी, मझौली-मेहदीया, शिवपुरी-ग्वालियर, गुर्ला-चंदेरिया के बीच 486 किमी में 2020-21 में विद्युतीकरण किया गया।

रेलवे बोर्ड के लक्ष्य के अनुरूप डब्ल्यूसीआर जोन ने ट्रैक विद्युतीकरण का काम तेजी से पूरा किया है। इसमें भोपाल, जबलपुर, कोटा मंडल ने बड़ी सक्रियता दिखाई है। सभी अधिकारियों ने समय-समय पर इस काम को प्राथमिकता में लिया और समीक्षा की थी। जरूरत पड़ने पर मैदानी स्तर पर जाकर जायजा भी लेते रहे। काम करने में जहां जो दिक्कतें आ रही थीं, उन्हें कम समय में सुलझाया गया और 29 मार्च को डब्लूसीआर पूरी तरह विद्युतीकृत हो गया है। इसमें प्रत्येक रेल अधिकारी और कर्मचारियों की सक्रिय भूमिका रही है। इससे डीजल पर खर्च होने वाली राशि बचेगी। पर्यावरण भी बचेगा।
- शैलेंद्र कुमार सिंह, पश्चिम मध्य रेलवे
Mar 28 (17:56) रेल सुविधा:एक साल बाद 12 कोच वाली कोटा-मंदसौर ट्रेन एक अप्रैल से, छोटे स्टेशनों पर नहीं होगा ठहराव (www.bhaskar.com)
New/Special Trains
WCR/West Central
0 Followers
46418 views

News Entry# 447267  Blog Entry# 4922284   
  Past Edits
Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Mandal Garh/MLGH added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Bundi/BUDI added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Chanderiya/CNA added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Nimach/NMH added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Train Tag: Mandsor - Kota InterCity Special/09815 added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (17:56)
Train Tag: Kota - Mandsor InterCity Special/09816 added by Siddharth Jain/720659
रेलवे ने कोरोनाकाल के एक साल बाद मंदसौर से वाया चित्तौड़गढ़ कोटा ट्रेन को भी बहाल कर दिया है। जबलपुर मंडल द्वारा इसे स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन के रूप में एक अप्रैल से चलाया जा रहा है। यानी इसमें रिवर्जवेशन कराकर ही सफर किया जा सकेगा, वहीं छोटे स्टेशनों पर ठहराव नहीं होगा।
यह ट्रेन कोटा से सुबह 4.45 बजे रवाना होकर 7.50 चित्तौड़गढ़ और 10.30 बजे मंदसौर पहुंचेगी। वापसी में सुबह 11.45 बजे मंदसौर से रवाना होकर दोपहर 01.15 बजे चित्तौड़गढ़ और शाम 5 बजे कोटा पहुंचेगी। सड़क मार्ग से सफर करना मजबूरी बना हुआ था। अब पश्चिम मध्य रेलवे जबलपुर मंडल ने कोटा-मंदसौर स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन को मंजूरी दी है। इसका संचालन 1 अप्रैल को कोटा से शुरू होगा। पूर्व में
...
more...
यह रात में पैसेंजर ट्रेन के रूप में चलती थी। अब स्पेशल ट्रेन के रूप में सुबह के समय चल रही है। ताकि अधिकतम यात्री सफर कर सकें। हालांकि यह कई छोटे स्टेशनों पर नहीं रुकेगी और सभी श्रेणियों में पूर्व रिजर्वेशन भी जरूरी होगा।
परेशानी: इन स्टेशनों पर नहीं होगा ठहराव, नीमच का किराया 45 रुपए लगेगा, जनरल कोच में भी आरक्षण करवाना होगा... कोटा-मंदसौर स्पेशल ट्रेन का चित्तौड़गढ़ से नीमच के बीच शंभुपूरा, गंभीरी रोड, जावद, बिसलवाकलां तथा नीमच-मंदसौर के बीच हर्कियाखाल, मल्हारगढ़, पिपिलयामंडी जैसे स्टेशन पर ठहराव नहीं होगा। ट्रेन में 4-4 जनरल व स्लीपर सहित कुल 12 कोच रहेंगे। जनरल के दो-दो कोच आगे पीछे रहेंगे। चित्तौड़गढ़-नीमच का किराया 45 रुपए रहेगा। कोटा रुट पर कोरोनाकाल के पहले दो पैंसेजर व एक एक्सप्रेस ट्रेन चलती थी। जो अभी बंद है। पैसेंजर ट्रेन में मंदसौर-नीमच के बीच 15 रुपए में सफर होता था। अब 30 रुपए अधिक देना पड़ेंगे।
यह रहेगा शेड्यूल : ट्रेन संख्या 09816 कोटा- मंदसौर स्पेशल... कोटा से सुबह 4.45 बजे रवाना होकर 5.30 बजे बूंदी, 6.18बजे श्यामपुर, 6.36 बजे मांडलगढ़, 6.58 बजे पारसोली, 7.18 बजे बस्सी, 7.45 बजे चंदेरिया पासिंग, 7.50 बजे चित्तौड़गढ़, 8.26 बजे निंबाहेड़ा, 8.47 बजे नीमच होते हुए 10.30 बजे मंदसौर पहुंचेगी।
ट्रेन संख्या 09815 मंदसौर-कोटा स्पेशलमंदसौर से सुबह 11.15 बजे रवाना होकर 12.10 नीमच, 12.44 निंबाहेड़ा, 1.15 चित्तौड़गढ़, 2.10 चंदेरिया पासिंग, 2.31 बस्सी, 2.46 पारसोली, 3.07 बजे मांडलगढ़, 3.25 बजे श्यामपुरा, 4.13 बजे बूंदी होते हुए शाम 5 बजे कोटा पहुंचेगी।
कोटा के यात्रियों की इंटरसिटी से कनेक्टविटीकोटा से यह ट्रेन सुबह 7.50 बजे चित्तौड़गढ़ पहुंचेंगी। इससे इसमें आने वाले यात्रियों को उदयपुर-जयपुर इंटरसिटी स्पेशल ट्रेन से कनेक्टिविटी मिल जाएगी। इसी तरह कोटा से यमुनाब्रिज ट्रेन की कनेक्टिविटी मिलेगी।

Rail News
41448 views
Mar 28 (19:27)
aniket
aniket~   203 blog posts
Re# 4922284-1            Tags   Past Edits
Diesel loco hoga ya eloco?

42149 views
Mar 28 (19:43)
Siddharth Jain
RamganjMandi^~   6777 blog posts
Re# 4922284-2            Tags   Past Edits
Abhi CRS hua nhi to Dloco mention kiya notification me. 30.3 ko CRS hai
To ho skta first run se eloco se chale.

39985 views
Mar 28 (20:04)
Mewar RF
Love114~   1403 blog posts
Re# 4922284-3            Tags   Past Edits
Mewar ke bad ise Eloco milega
Mar 28 (11:43) ट्रेनों की रफ्तार 160 किमी करने पर 2664 करोड़ खर्च होंगे (www.patrika.com)
WCR/West Central
0 Followers
46138 views

News Entry# 447250  Blog Entry# 4922051   
  Past Edits
Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Chanderiya/CNA added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Junakhera/JNKHR added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Jhalawar City/JLWC added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Sawai Madhopur Junction/SWM added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Mathura Junction/MTJ added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Nagda Junction/NAD added by Siddharth Jain/720659

Mar 28 2021 (11:43)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Siddharth Jain/720659
कोटा. रेलवे की मिशन रफ्तार परियोजना के तहत दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर वाया कोटा होकर ट्रेनों की रफ्तार 160 किमी प्रतिघंटे करने के लिए राशि स्वीकृत हो गई है। इस योजना पर 2664.14 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सबसे ज्यादा ट्रेक को अपडग्रेड करने के कार्य पर 1311.19 करोड़ रुपए खर्च होंगे। विद्युत कार्य पर 874.21 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सिग्नल और टेलीकॉल से जुड़े कार्यों पर 428.26 करोड़ रुपए खर्च होंगे। यांत्रिक विभाग के कार्यों पर 50.48 करोड़ रुपए खर्च होंगे। कई जगह ट्रेक के घुमाव को दुरुस्त किया जाएगा।कोटा के डीआरएम पंकज शर्मा ने बताया कि निकट भविष्य में दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर 160 किमी की रफ्तार से ट्रेनें चलेंगी। अभी हाल ही में नागदा-कोटा-सवाईमाधोपुर रेलखंड में 180 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से कोच और इंजन का परीक्षण सफ लतापूर्वक किया गया है। डीआरएम ने बताया कि कोटा मंडल में यात्री ट्रेनों की पहले अधिकतम 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार थी,...
more...
जिसे बढ़ाकर 130 प्रतिघंटे कर दिया है। करीब 90 प्रतिशत मेल, एक्सप्रेस ट्रेनों की रफ्तार में इजाफा किया गया है। अब मथुरा-नागदा रेलखंड में सभी एलएचबी कोच वाली ट्रेनों की रफ्तार 130 किमी प्रति घंटे है। इसके अलावा मालगाडिय़ों की औसत रफ्तार में भी इजाफा हुआ है। पहले 36.9 किमी प्रति घंटे की औसत रफ्तार से मालगाडिय़ों का संचालन होता था, अब 57.21 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से मालगाडिय़ों का संचालन हो रहा है।24.75 किमी लाइन विद्युतीकृतडीआरएम ने बताया कि रामगंजमण्डी-भोपाल रेलखंड में झालावाड़ सिटी-झालरापाटन-जूनाखेड़ा रेलखंड में 24.75 किलोमीटर के नए रेलवे ट्रेक को विद्युतीकृत कर दिया है। इसके अलावा गुड़ला से चन्देरिया रेलखंड में एक छोटे से हिस्से में स्वीकृति मिलनी बाकी है। अभी इस रेलखंड में मालगाडिय़ां विद्युत इंजन से चलाई जा रही हैं, बहुत जल्दी ही सम्पूर्ण रेलखंड में यात्री गाडिय़ां भी विद्युत इंजन से चलने लगेंगे। डीआरएम पंकज शर्मा ने बताया कि कोटा-बीना रेलखण्ड में भी दोहरीकरण का कार्य तेज गति से चल रहा है। वित्तीय वर्ष 2021-22 में यह कार्य पूरा कर लिया जाएगा।ग्रीन ऊर्जा पर जोरडीआरएम शर्मा ने बताया कि ग्रीन एनर्जी की दिशा में कार्य करते हुए कोटा मंडल में सोलर पावर प्लांट लगाने से लगभग 10 लाख रुपए से भी ज्यादा की बचत हो रही है। अभी पहले चरण में 11 रेलवे स्टेशनों पर बिजली सिस्टम को सिग्नलिंग सिस्टम से जोड़ दिया गया है। जिससे अनावश्यक बिजली की खपत को रोकने में मदद मिली है ।
Page#    Showing 1 to 20 of 36 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy