Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Maitree Express: মৈত্রী এক্সপ্রেস - দুই বাংলার সংস্কৃতি ও ভাতৃত্বের মেলবন্ধন - Joydeep Roy

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Fri Dec 3 01:40:46 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 955852-0

DHWS/Dhosawas (2 PFs)
     धौसवास

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
Jaora Road,Ratlam
State: Madhya Pradesh


Zone: WR/Western   Division: Ratlam

No Recent News for DHWS/Dhosawas
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: NaN/5 (0 votes)
cleanliness - n/a (0)
porters/escalators - n/a (0)
food - n/a (0)
transportation - n/a (0)
lodging - n/a (0)
railfanning - n/a (0)
sightseeing - n/a (0)
safety - n/a (0)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 4 of 4 News Items  
धौंसवास स्टेशन के पास बने नए गुड्स शेड को लेकर उद्योग विभाग (डीआईसी) ने रेलवे को नोटिस जारी कर दिया है। इसमें आपत्ति के बावजूद औद्योगिक क्षेत्र की दोनों सड़कों पर लोहे के बड़े पिलर बनाकर लोहे के गेट लगा दिए हैं। इन्हें हटाने के लिए डीआईसी ने रेलवे को तीन दिन का समय दिया है। इस समय सीमा में भी रेलवे ने गेट नहीं हटाए तो सोमवार को डीआईसी कलेक्टर की अनुमति लेकर खुद गेट हटा देगा। इससे मार्च से गुड्स शेड चालू करने की जुगत लगाकर बैठे रेलवे को तगड़ा झटका लगा है। ट्रेडर्स एसोसिएशन पहले ही कवर शेड नहीं बनने तक माल की लोडिंग-अनलोडिंग शुरू नहीं करने का जवाब दे चुका है। रेलवे के अधिकारी अब समझौते की पतली गली तलाशने में जुट गए हैं।
उद्योग
...
more...
विभाग को इन कामों पर भी एतराज
इंडस्ट्रियल एरिया और गुड्स शेड के बीच लगाई बाउंड्रीवाॅल
रोड को मिलाकर बनाया गया प्लेटफॉर्म, डीआईसी ने 10 मीटर जमीन दी थी। रेलवे ने प्लेटफॉर्म व रोड अलग-अलग न बनाते हुए ट्रैक से इंडस्ट्रियल एरिया तक एक समान सीसी कर दिया।
शेड को सीधे महू-नीमच रोड से जोड़ने वाले उद्योग विभाग की रोड पर लगे निकासी द्वार से लेकर शेड बिल्डिंग तक भी रेलवे ने लोहे की जाली लगा दी है, इससे आगे की जमीन और खेतों पर आने-जाने का रास्ता बंद हो गया है।
पुताई केे ठेकेदार को दिया शेड का काम
काम तो चालू हो गया है लेकिन शेड के 700 मीटर लंबे प्लेटफॉर्म पर कवर शेड बनने में 5 से 6 माह लगना तय है। इसकी दो प्रमुख वजह है, पहली रेलवे ने पुताई करवाने वाले ठेकेदार को लोहे के कवर शेड बनाने का ठेका दे दिया है। उसने यह काम पेटी कांट्रेक्ट में किसी और को दे दिया है। नतीजा डेढ़ माह में सिर्फ पांच पिलर पर भी शेड का ढांचा बन पाया है, जबकि ऐसे 25 से ज्यादा पिलर हैं। इस हिसाब से बाकी का शेड बनने में कम से कम 6 माह तो लग ही जाएंगे।
... नहीं तो हम हटाएंगे
^एक तो रेलवे ने औद्योगिक क्षेत्र की रोड को प्लेटफॉर्म में शामिल करते हुए पूरे में सीसी वर्क कर दिया है। उस पर दोनों तरफ लोहे के गेट भी लगा दिए हैं। उन्हें हटाने के लिए रेलवे को नोटिस दिया है। तीन दिन में नहीं हटाए, तो हम हटाएंगे।मुकेश शर्मा, महाप्रबंधक-उद्योग विभाग^कवर शेड का निर्माण बहुत धीमा चल रहा है। लोडिंग-अनलोडिंग शुरू करने से पहले कवर शेड बनना बहुत जरूरी है। सुरक्षा के लिए कुछ अन्य इंतजाम रेलवे ने कर दिए हैं। इससे ट्रेडर्स को सुविधा होगी।सुभाष जैन, अध्यक्ष ट्रेडर्स एसोसिएशन^नया गुड्स शेड ट्रेडर्स और लोगों की सुविधा के लिए बनाया गया है। सरकारी डिपार्टमेंट का आपसी मामला है। दोनों मिलकर जल्द ही उसका निराकरण भी कर लेंगे। नियमानुसार जो भी होगा उसके अनुसार कदम उठाएंगे।
जेके जयंत, पीआरओ रेलवे
Jan 24 (11:21) Madhya Pradesh: Railway Goods shed of Ratlam railway station to be shifted at Dhoswas with advanced facilities (www.freepressjournal.in)
Commentary/Human Interest
WCR/West Central
0 Followers
13574 views

News Entry# 434888  Blog Entry# 4855124   
  Past Edits
Jan 24 2021 (11:22)
Station Tag: Dhosawas/DHWS added by Anupam Enosh Sarkar/401739
Stations:  Dhosawas/DHWS  
Ratlam: Railway Goods shed of Ratlam railway station will soon be shifted to newly constructed Goods shed at Dhoswas about 6 kilometre from Ratlam and will be started shortly for goods loading and unloading.
Railway information said that new goods shed at Dhoswas has been constructed with the future needs of freight customers and traders with many more facilities
When contacted Divisional Rail Manager Vineet Gupta, he said that most probably in the mid of February working at the new goods shed at Dhoswas will commence and by then part of the Dhoswas
...
more...
goods shed will also get covered for which work has started . He said that it is first of its type of goods shed on Indian Railways which will have facility of CCTV cameras and RPF posting from security point of view, he added.
According to railway information, new goods shed’s area at Dhoswas is more than 145 per cent and height is 15 per cent more than present goods shed of Ratlam railway station, which will facilitate direct loading and unloading by truck.
The area of new goods shed at Dhoswas is 10129 square meter which is 383 per cent more than Ratlam railway station situated present goods shed. In the new goods shed at Dhoswas, there will be four approach roads and three service roads.
At the new goods shed of Dhoswas, waiting area, parking area, labour rest room, traders room, two safety gate, CCTV cameras, fencing have been provided. The work for covered shed was taking place very speedily and by April 2021 the work will be completed fully, said railway information.
Jan 23 (08:01) तैयारी शुरू:रतलाम-चित्तौड़गढ़ सेक्शन में गणतंत्र दिवस बाद बिजली इंजन से दौड़ेंगी ट्रेनें (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WR/Western
0 Followers
50827 views

News Entry# 434655  Blog Entry# 4854040   
  Past Edits
Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Nimach/NMH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Mandsor/MDS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Jaora/JAO added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Shambhupura/SMP added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Nimbahera/NBH added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Dhosawas/DHWS added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Chittaurgarh Junction/COR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Jan 23 2021 (08:01)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Anupam Enosh Sarkar/401739
गणतंत्र दिवस यानी 26 जनवरी बाद क्यू ट्रैक से होकर रतलाम-चित्तौड़गढ़ सेक्शन में ट्रेन बिजली के इंजन से दौड़ने लगेगी। कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) के निरीक्षण में मिली 11 खामियों को ठीक करने के बाद रेलवे ने तैयारी पूरी कर ली है।
यात्रियों की सुरक्षा के लिए पहले कुछ दिन गुड्स ट्रेन चलाने के बाद रेलवे यात्री ट्रेन चलाएगा। रफ्तार बढ़ने के साथ सफर का समय घटेगा। रेलवे रतलाम-कोटा हल्दीघाटी पैसेंजर सहित डेमू ट्रेन शुरू करने में आसानी होगी। अभी इस सेक्शन में डीजल इंजन से पांच जोड़ी नियमित और साप्ताहिक गाड़ियां चल रही हैं। धौंसवास से चित्तौड़गढ़ तक की सिंगल लाइन को सीआरएस की मंजूरी पहले ही मिल गई थी, क्यू ट्रैक और निंबाहेड़ा-शंभुपुरा की दूसरी लाइन के इलेक्ट्रिफिकेशन अधूरा
...
more...
होने से ट्रेन बिजली इंजन से नहीं चल पा रही थी।
रेल विद्युतीकरण (आरई) डिपोर्टमेंट द्वारा दोनों काम पूरा करने के बाद 28 दिसंबर को सीआरएस आरके शर्मा ने निरीक्षण करके ऑब्जर्वेशन रिपोर्ट में 11 कमियां बताई थीं। इन्हें ठीक करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया था। एक पखवाड़े तक लगातार काम करके आरई और रेलवे ने ट्रैक के इलेक्ट्रिफिकेशन को ओके कर लिया है। इससे अब जल्द यात्रियों को भी राहत मिलेगी।
इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन चलने के फायदे
छह बार में फाइनल हुआ निरीक्षण
रतलाम से चित्तौड़गढ़ तक की सिंगल लाइन इलेक्ट्रिफिकेशन को मंजूरी देने के लिए सीआरएस को पांच बार निरीक्षण करना पड़ा है। पहली बार 2018-19 में धौंसवास-जावरा, दूसरी बार जावरा-मंदसौर, तीसरी बार नीमच -निंबाहेड़ा और चौथी बार निंबाहेड़ा-शंभुपुरा और पांचवी बार में शंभुपुरा-चित्तौड़गढ़ तक को सीआरएस ने हरी झंड़ी दी थी। दिसंबर अंत में छठी बार सीआरएस ने क्यू ट्रैक और निंबाहेड़ा-शंभुपुरा दूसरी लाइन के इलेक्ट्रिफिकेशन का निरीक्षण किया था।
इलेक्ट्रिफिकेशन में तकनीकी सुधार किया
रतलाम-चित्तौड़गढ़ के बीच अगले सप्ताह से पहले गुड्स फिर कुछ दिन बाद पैसेंजर ट्रेन चलाना शुरू कर देंगे। हमारी तैयारी पूरी है। सीआरएस की ऑब्जर्वेशन रिपोर्ट के अनुसार इलेक्ट्रिफिकेशन में तकनीकी सुधार कर लिया गया है। इससे रेलवे के साथ यात्रियों को भी सुविधा मिलेगी।
-विनीत गुप्ता, डीआरएम
Jul 26 2016 (01:24) Q ट्रैक ओके तो पहली ट्रेन इंदौर-अजमेर-इंदौर (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
WR/Western
0 Followers
42986 views

News Entry# 274856  Blog Entry# 1941885   
  Past Edits
Jul 26 2016 (1:24AM)
Station Tag: Dhosawas/DHWS added by Vaibhav Agarwal*^/432532

Jul 26 2016 (1:24AM)
Station Tag: Ratlam Junction/RTM added by Vaibhav Agarwal*^/432532
रतलाम से धौंसवास तक का क्यू ट्रैक फिट होते ही सबसे पहली यात्री गाड़ी इंदौर-अजमेर-इंदौर चलेगी। रेल मंडल ने प्रस्ताव मुख्यालय भेज िदया है। इसके लिए ट्रेन नंबर 19653 व 19654 रतलाम-अजमेर-रतलाम को ही आगे बढ़ाया जाएगा। संभव हुआ तो इसे महू तक भी बढ़ाया जा सकेगा। इसके अलावा चार नई यात्री ट्रेनों के लिए परिचालन विभाग शेड्यूलिंग कर रहा है।
अगस्त में क्यू ट्रैक पर ट्रेनें शुरू हो जाएंगी। पहले मालगाड़ी उसके बाद शेड्यूल तय होते ही यात्री गाड़ी चलेगी। कमिश्नर ऑफ रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) सुशील चंद्रा ने बुधवार को रतलाम से धौंसवास तक के 5.7 किमी क्यू ट्रैक की जांच की। सबसे ज्यादा जोर पटरियों के जोड़ पर रहा। सीआरएस ने हर जोड़ चैक करते हुए फिलर गेज का
...
more...
पता लगाया। थाेड़ा बहुत गेप सभी में निकला लेकिन लिमिट में। सीआरएस चीफ इंजीनियर और प्रोजेक्ट इंचार्ज केके गुप्ता से बोले ठीक है, और सुधार हो सकता है। सीआरएस ने सुबह 10.58 बजे मोटर ट्रॉली से क्यू ट्रैक का निरीक्षण शुरू किया। 6 ट्रॉली में 50 से ज्यादा लोगों की टीम ने सबसे पहले घटला ब्रिज फिर डाउन यार्ड में ट्रैक की जांच की। इसके आगे के ट्रैक की कभी पैदल तो कभी ट्रॉली पर जांच करते हुए सीआरएस शाम 4.10 बजे धौंसवास स्टेशन पहुंचे। धौंसवास स्टेशन पर पहले से ही इंस्पेक्शन स्पेशल ट्रेन तैयार खड़ी थी। चित्तौड़गढ़ एंड पर ऑब्जरवेशन कोच लगाया था। सीआरएस शाम 6.15 बजे धौंसवास से रवाना हुए। 70 से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रैक का ट्रायल करते हुए शाम 4.35 बजे वापस रतलाम पहुंचे। अधिकारियों से चर्चा के बाद शाम 6.15 बजे इंस्पेक्शन स्पेशल से ही फतेहाबाद होते हुए इंदौर चले गए। सीआरएस जब यहां पहुंचे तो उन्हें थ्रोट इंफेक्शन था। डॉक्टर ने चैकअप कर दवाई दी। हल्के बुखार में भी उन्होंने निरीक्षण पूरा किया। चीफ एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर अनिरुद्ध जैन, डीआरएम मनोज शर्मा, सीनियर डीओएम पीके सिंह, दो डिप्टी सीआरएस अधिकारी साथ थे। 21 जुलाई को सीआरएस लक्ष्मीबाईनगर-इंदौर सेक्शन का निरीक्षण करेंगे।
ट्रैक से घटला ब्रिज की ऊंचाई। ट्रेन के बाद छत की ऊंचाई। ओएचई के लिए जगह है या नहीं।
ब्रिज 373 बी के दोनों तरफ पीचिंग नहीं होने पर सीआरएस चीफ इंजीनियर केके गुप्ता को पीचिंग कराने का कहा। 25 से ज्यादा जगह फिलर गेज (पटरी का जोड़) चैक कराया।
स्केल से ट्रैक के बीच चौड़ाई नापी। जगह-जगह गिट्टी हटाकर गहराई भी नपवाई।
9.30 घंटे रतलाम में खड़ी रहती है अजमेर ट्रेन
अजमेर-रतलाम-अजमेर ट्रेन को इंदौर या महू तक चलाने में रेलवे को ज्यादा दिक्कत नहीं आएगी। क्योंकि यह ट्रेन 9.30 घंटे रतलाम में खड़ी रहती है। ट्रेन 19654 अजमेर से दोपहर 1 बजे चलकर रात 8.55 बजे रतलाम आती है। दूसरे दिन सुबह 6.40 बजे चलकर दोपहर 1.50 बजे अजमेर पहुंचती है। पर्याप्त समय होने से रेलवे ने सबसे पहले इसे चलाने का प्रस्ताव मुख्यालय भेजा है।
ओवरऑल अच्छा रहा
ओवरऑल सीआरएस इंस्पेक्शन अच्छा रहा है। गुरुवार को इंदौर-लक्ष्मीबाईनगर का निरीक्षण है। रिपोर्ट करीब एक सप्ताह में आएगी। ओके रिपोर्ट आते ही मालगाड़ी तो तुरंत चला देंगे। यात्री गाडिय़ां का शेड्यूल भी जल्द फाइनल कर लिया जाएगा। डीआरएम मनोज शर्मा
क्यू ट्रैक
ऐसे जांचा
क्यू ट्रैक पर इस तरह गुजरी ट्रेन। इनसेट- मोटर ट्रॉली से ट्रैक का निरीक्षण करते सीआरएस। फोटो | राकेश पोरवाल

2 Public Posts - Tue Jul 26, 2016

30249 views
Jul 26 2016 (11:50)
sonofgalaxy
SonOfGalaxy   98 blog posts
Re# 1941885-3            Tags   Past Edits
Pata nhi Ujjain- Fatehbad Jn GC kab hoga...It's really shame on both BJP Govt of MP & WR! both are unable to do GC of just 22KM rail line since 2012 !!!

30288 views
Jul 26 2016 (13:38)
pramodbhandari52   448 blog posts
Re# 1941885-4            Tags   Past Edits
Ajmer- Ratlam exp.ko Indore tak extend kar diya😭
To kya Nagpur- Indore exp.& Yeshwantpur - Indore exp & Bilaspur-Indore exp..ko bhi isi rout pe Ratlam ya Ajmer tak vistaar diya jaiga ?
Vaise bhi Ratlam se Nagpur RaipurDurg Chennai Jodhpur Bikaner ki direct trains Coñnectivity nahi hai.
RATLAM jn. All Over India me ekmaatra Divisional aHeadquarter hai jo trains Coñnectivity ke make me poor
...
more...
condition me hai.

29645 views
Aug 07 2016 (20:55)
Vaibhav Agarwal   6715 blog posts
Re# 1941885-5            Tags   Past Edits

30022 views
Aug 07 2016 (20:57)
Vaibhav Agarwal   6715 blog posts
Re# 1941885-6            Tags   Past Edits

32109 views
Sep 17 2016 (01:09)
Vaibhav Agarwal   6715 blog posts
Re# 1941885-7            Tags   Past Edits
नए साल से पहले क्यू ट्रैक पर दौड़ने लगेंगी 5 ट्रेनें
.
पहला चरण -
.
=>19653/19654 अजमेर-रतलाम-अजमेर - क्यू ट्रैक से होते हुए इंदौर तक चलाया जाएगा। अभी 19654 अजमेर से दोपहर 1 बजे चलकर रात 8.55 बजे रतलाम आती है। दूसरे
...
more...
दिन सुबह 6.40 बजे चलकर दोपहर 1.50 बजे अजमेर पहुंचती है। इस बीच यह ट्रेन 9.30 घंटे रतलाम में खड़ी रहती है। पर्याप्त समय होने से चलाने में कोई दिक्कत नहीं।
.
=>19413/19414 अहमदाबाद-कोलकाता-अहमदाबाद एक्सप्रेस - रतलाम से फतेहाबाद, इंदौर, देवास, मक्सी होते हुए गुजारा जाएगा। अभी 19413 रतलाम रात 11.25 बजे आकर 11.50 बजे नागदा, उज्जैन, भोपाल होते हुए कोलकाता तक जाती है। वापसी में 19414 ट्रेन 1.15 बजे रतलाम आकर 1.40 बजे रवाना होती है।
.
=>17019/17020 अजमेर-हैदराबाद-अजमेर एक्सप्रेस- रतलाम से फतेहाबाद, इंदौर, मक्सी होकर भोपाल पहुंचाया जाएगा। अभी 17019 चित्तौड़गढ़, मंदसौर होकर हर बुधवार रात 12.25 बजे रतलाम आकर 12.50 बजे रवाना होकर नागदा, उज्जैन, भोपाल होते हुए हैदराबाद तक जाती है। वापसी में 17020 ट्रेन रविवार को 7.20 बजे रतलाम पहुंचकर 7.45 बजे रवाना होती है।
.
दूसरा चरण
.
=>इंदौर-दिल्ली-इंदौर एक्सप्रेस - यह रतलाम रेल मंडल की नई ट्रेन होगी, जो प्रतिदिन चलेगी। इसे फतेहाबाद, रतलाम, चित्तौड़गढ़, अजमेर, जयपुर होते हुए दिल्ली तक चलाया जाएगा। वापसी में भी यही मार्ग होगा। रेल मंडल के प्रस्ताव पर पश्चिम रेलवे मुख्यालय ने मुहर लगा दी है। बाकी मंडलों से शेड्यूलिंग की जा रही है। प्रपोजल रेलवे बोर्ड से अप्रूव होना है।
.
तीसरा चरण
.
=>भीलवाड़ा-महू-भीलवाड़ा डेमू ट्रेन - भीलवाड़ा से चलकर चित्तौड़गढ़, नीमच, मंदसौर, रतलाम, फतेहाबाद, इंदौर होते हुए महू तक जाएगी और आएगी। इसे महू में पीट लाइन (मेंटेनेंस के लिए) बनने के बाद चलाया जाएगा। इससे मेंटेनेंस में परेशानी नहीं होगी। शेड्यूलिंग बैठने पर अभी रतलाम-भीलवाड़ा व नीमच के बीच चल रही डेमू को भी महू तक चलाने की योजना।
Page#    Showing 1 to 4 of 4 News Items  

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy