Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Eat-Sleep-Railfanning 🔄 Repeat - Shankar Mehani

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Thu Oct 29 01:51:01 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
Medium; Front Entrance - Outside; Large Station Board;
Entry# 2929516-0
Medium; Front Entrance - Outside; Large Station Board;
Entry# 2929516-0


MDDP/Mandi Dip (2 PFs)
منڈی دیپ     मन्डी दीप

Track: Double Electric-Line

Show ALL Trains
N.H. 12/69, Hoshangabad Road Mandideep District Raisen
State: Madhya Pradesh

Elevation: 455 m above sea level
Zone: WCR/West Central   Division: Bhopal

No Recent News for MDDP/Mandi Dip
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 2
Number of Halting Trains: 13
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
Rating: 3.4/5 (16 votes)
cleanliness - good (2)
porters/escalators - average (2)
food - average (2)
transportation - good (2)
lodging - good (2)
railfanning - good (2)
sightseeing - good (2)
safety - good (2)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 22 News Items  next>>
Oct 24 (07:46) गुड्स शेड के बीच बना क्रॉसिंग, माल उतारने-चढ़ाने में हो रही परेशानी (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
3346 views

News Entry# 422571  Blog Entry# 4757121   
  Past Edits
Oct 24 2020 (07:46)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 24 2020 (07:46)
Station Tag: Mandi Dip/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bhopal Junction/BPL   Mandi Dip/MDDP  
गुड्स शेड के निर्माण में तकनीकी खामी से रेलवे का धन बर्बाद
मंडीदीप।(नवदुनिया प्रतिनिधि)
लॉकडाउन के दौरान रेलवे ने भोपाल सिरे की ओर आपात स्थिति से निपटने के लिए नया क्रॉसिंग बनाते समय गुड्सशेड में होने वाली परेशानियों को नजर अंदाज कर दिया था। उसकी लंबाई-चौड़ाई पर ध्यान नहीं देने के कारण अब माल उतारने-चढ़ाने में परेशानी हो रही है।
परिवहन ठेकेदारों
...
more...
व व्यापारियों की दिक्कत तब बढ़ गई जब विभाग ने 45 बोगियों को खड़ा करने के लिए गुड्स शेड की लंबाई बढ़ा दी। मालूम हो कि पहले माल से लदी बोगियां, भोपाल सिरे तक खड़ी रहती थीं। नया क्रॉसिंग बनाने के बाद मालगाड़ी की बोगियां, क्रॉसिंग से आगे खड़ी करने के कारण व्यापारियों और परिवहनकर्ताओं को परेशानी हो रही है।
नया शेड बना मुसीबतः
क्रॉसिंग निर्माण के बाद गुड्स शेड छोटा हो गया। उसे 45 बोगी खड़ा करने के लिए विभाग ने यह सोच कर बनाया था कि बोगियों को बार-बार आगे पीछे नहीं करना पड़ेगा। परंतु बिना तकनीकी परीक्षण किए लाखों रुपये खर्च कर शेड की लंबाई बढ़ाने के लिए स्लीपर बिछा दिए गए। जब परिवहनकर्ताओं ने बोगियों से माल उतारने के लिए ट्रक लगाए तो ट्रक के डाले बोगियों से ऊंचे हो गए। वहीं ट्रकों को आगे-पीछे करने के लिए जगह ही नही बची। इस बारे में रेलवे के वाणिज्य विभाग से जुड़े जिम्मेदारों ने पूछने पर अलग-अलग बताया कि यह त्रुटि कैसे हो सकती है इसका परीक्षण कराया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि पांच दिन पहले रेलवे के नए फरमान के बाद परिवहनकर्ताओं ने माल से लदी बोगियां खाली करने से यह कहते हुए मना कर दिया कि नई व्यवस्था में ढेरों खामियां हैं। इस बात को लेकर विभाग में हड़कंप मच गया था। विभागीय अधिकारियों को परिवहनकर्ताओं और व्यापारियों की पुरानी व्यवस्था वाली मांग को मानना पड़ा, उसके बाद माल से भरी बोगियां खाली की गई।
-----------------------
Oct 18 (07:56) रेलवे ने सुधारी गलती, बोगियां पीछे कीं तब व्यापारी उतार पाए यूरिया (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
5371 views

News Entry# 421800  Blog Entry# 4750748   
  Past Edits
Oct 18 2020 (07:57)
Station Tag: Mandi Dabwali/MBY removed by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 18 2020 (07:57)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 18 2020 (07:56)
Station Tag: Mandi Dip/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 18 2020 (07:56)
Station Tag: Mandi Dabwali/MBY added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bhopal Junction/BPL   Mandi Dip/MDDP  
मंडीदीप (नवदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे के एक आदेश के चलते यूरिया से लदी बोगियां गुड्स शेड पर रात 10 बजे तक खड़ी रहीं। बाद में विभाग ने अपना फरमान वापस लेते हुए मालगाड़ी की बोगियों को रात में पीछे किया तो व्यापारियों व परिवहनकर्ताओं ने राहत की सांस लेते हुए रैक खाली करना शुरू किया। बता दें कि विभाग के आदेश को लेकर मंडीदीप से भोपाल रेल मंडल तक हलचल मची रही। रात 10 बजे मंडीदीप स्टेशन को सूचना मिली की माल से लदी बोगियों को पीछे किया जाए। दरअसल, शुक्रवार को विभाग ने मालगाड़ी से भरी बोगियों को पीछे करने से यह कहते हुए मना कर दिया था कि गुड्स शेड की लंबाई बढ़ा दी गई है, अब डिब्बे आगे-पीछे नहीं किए जाएंगे। परिवहनकर्ता व व्यापारियों का कहना था कि भारी वाहन आगे-पीछे नहीं हो सकते, क्योंकि शेड में जो स्लीपर बिछाई गई हैं, उनकी ऊंचाई ज्यादा है। इस कारण ट्रक...
more...
का डाला बोगियों के गेट से ऊपर हो रहा है, जिससे लोडिंग-अनलोडिंग में परेशानी हो रही है। इस समस्या को देखते हुए रेलवे अधिकारियों ने अपना आदेश वापस लेते हुए बोगियों को पीछे कर दिया, ताकि आसानी से माल की उतारा-चढ़ाया जा सके।
फ़ोटो- आदेश के बाद यूरिया की रैक खाली हुई।
-------------------
-------------------
Oct 17 (08:59) रेलवे ने बोगी पीछे नहीं की तो ठेकेदार ने खाली करने से किया माना (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
4343 views

News Entry# 421683  Blog Entry# 4749598   
  Past Edits
Oct 17 2020 (08:59)
Station Tag: Mandi Dip/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Mandi Dip/MDDP  
रेलवे के तुगलकी फरमान से बनी विवाद की स्थिति
मंडीदीप। रेलवे के एक तुगलकी फरमान से मंडीदीप गुड्स शेड पर व्यापारियों व परिवहनकर्ताओं ने मालगाड़ी की आधी बोगी खाली करने से मना कर दिया। विवाद के कारण नौ घंटे में खाली होने वाला रैक समस्या का समाधान होने तक खड़ा रहा।
सूत्रों के अनुसार शुक्रवार को 12 बजे यूरिया से लदी 45 बोगी मंडीदीप स्टेशन के रैक पॉइंट पर पहुंचीं। इस रैक को नौ घंटे में खाली करना था। इस बीच बोगी खाली करने वाले ठेकेदार ने 35 बोगी खाली भी
...
more...
कर दीं। यहां तक सबकुछ ठीक रहा पर समस्या तब खड़ी हो गई, जब रेलवे ने दस बोगी पीछे करने से इनकार कर दिया, जबकि हर बार बोगी पीछे कर दी जाती थीं, जिससे ट्रक पर माल लादना आसान रहता है। लेकिन शुक्रवार को बोगी पीछे नहीं की गईं। रेलवे के इस तुगलकी फरमान से गुस्साए मंडीदीप रेक पॉइंट से जुड़े व्यापारी व ठेकेदार ने बोगी खाली करने से मना कर दिया। उनका कहना था कि जहां बोगी खड़ी हैं, वहां ट्रक नहीं जा सकेंगे। इसके अलावा जो स्लीपर ठेकेदार ने बिछाए हैं उनकी ऊंचाई अधिक होने से ट्रक भरने और खाली करने में परेशानी होगी। उन्होंने बताया कि हर बार रेलवे पॉइंट पर बोगी आगे-पीछे करता आया है। शुक्रवार को उन्होंने यूरिया से भरी बोगी को आगे-पीछे करने से यह कहते हुए मना कर दिया कि ऊपर से आदेश नहीं हैं।
........
शुक्रवार को यूरिया की बोगियां खाली करने से इसलिए मना कर दिया क्योंकि वहां ट्रक आगे-पीछे करने की जगह नहीं है। विभाग को हमेशा की तरह बोगियों को जरूरत के हिसाब से आगे-पीछे करना चाहिए।
राजेश गोयनका, परिवहनकर्ता मंडीदीप गुड्स सेट
इटारसी एंड तक स्लीपर बिछा दी गईं हैं। ठेकेदार को वहीं से बोगी खाली करना पड़ेगा। अगर कोई समस्या है तो उसे दूर की जाएगी।
आरएन मीना, परिचालन प्रबंधक
Oct 04 (07:14) भोपाल रेल मंडल ने पहली बार मंडीदीप से बांग्लादेश भेजे ट्रैक्टर (www.naidunia.com)
New/Special Trains
WCR/West Central
0 Followers
8259 views

News Entry# 420194  Blog Entry# 4733176   
  Past Edits
Oct 04 2020 (07:14)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Oct 04 2020 (07:14)
Station Tag: Mandi Dip/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bhopal Junction/BPL   Mandi Dip/MDDP  
मंडीदीप (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल रेल मंडल ने पहली बार औद्योगिक नगर मंडीदीप से 100 ट्रैक्टरों की एक खेप बंगलादेश भेजी है। रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार मंडल के मंडीदीप स्टेशन से शुक्रवार को मालगाड़ी के 25 डिब्बों में 100 ट्रैक्टर लदवाकर बेनापोल बांग्लादेश रवाना किए गए। इससे पहले मालगाड़ी के इंजन को हार व फूलों से सजाया गया। भोपाल रेल मंडल के सूबेदार सिंह ने बताया कि हमने यह कारनामा पहली बार किया है। प्रथम बार किसी देश में भोपाल मंडल ने मालगाड़ी से परिवहन कर इतिहास बना दिया। वहीं, मंडीदीप रेलवे स्टेशन के मालबाबू हरीश शिकारी ने बताया की बीटीसी एशिया शिपिंग कंपनी द्वारा 100 ट्रैक्टरों का परिवहन करने पर रेलवे को 18.23 लाख का राजस्व प्राप्त हुआ है। बता दें कि मंडीदीप रेलवे स्टेशन प्रति वर्ष माल परिवहन में करोड़ों रुपये का राजस्व देने वाला स्टेशन है।फ़ोटो सहित
---------------------
...
more...

---------------------
महात्मा गांधी के जीवनदर्शन एवं राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर हुई आनलाइन संगोष्ठी
मंडीदीप। नगर के शासकीय राजाभोज महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद करियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति एवं महात्मा गांधी के जीवनदर्शन पर ऑनलाइन संगोष्ठी का आयोजन किया गया। महाविद्यालय के प्रशासनिक अधिकारी एवं स्वामी विवेकानंद करियर प्रकोष्ठ के प्रभारी डा. एसके भदौरिया ने बताया की कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्वामी विवेकानंद करियर मार्गदर्शन योजना मप्र के निदेशक डा. उमेश कुमार सिंह थे। उन्होंने आनलाइन संगोष्ठी के माध्यम से विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि गांधीजी के विचारों ने दुनियाभर के लोगों को न सिर्फ प्रेरित किया, बल्कि करुणा, सहिष्णुता और शांति के दृष्टिकोण से भारत और दुनिया को बदलने में भी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस अवसर पर सैकड़ों विद्यार्थी उपस्थित थे।
Sep 30 (08:01) रेल मंडल ने 240 टन लिक्विड सोप काचीगुड़ा भेजकर कमाए 6.73 लाख रुपये (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
9559 views

News Entry# 419902  Blog Entry# 4729019   
  Past Edits
Sep 30 2020 (08:01)
Station Tag: Mandi Dip/MDDP added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 30 2020 (08:01)
Station Tag: Kacheguda/KCG added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 30 2020 (08:01)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि
रेल मंडल भोपाल ने पहली बार पार्सल यान में एक साथ 240 टन लिक्विड सोप मंडीदीप से हैदराबाद के काचीगुड़ा भेजा है। कोरोना संक्रमण के कारण हाथ साफ करने में इसका उपयोग बढ़ा है। रेलवे ने इसके परिवहन से 6.73 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त किया है। वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विजय प्रकाश ने बताया कि मंडल ने पहली बार इसी माह मालगाड़ी के 10 डिब्बों में लादकर 580 टन लिक्विड सोप का परिवहन किया था। मंगलवार को स्पेशल पार्सल यान में दोबारा परिवहन कराया है। दोनों बार मिलाकर कुल 12.09 लाख रुपये का राजस्व मंडल ने अर्जित किया है।
Page#    Showing 1 to 20 of 22 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy