Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Godan Express: गोदान एक्सप्रेस - प्रेमचन्द की लेखनी ने रची यह अनुपम कृति, ये जोड़े मुंबई से पूंर्वांचली संस्कृति ।। - Saurabh

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Sat Aug 13 00:20:38 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Post PNRPost BlogAdvanced Search
Large Station Board;
Entry# 1690143-0
Large Station Board;
Entry# 3159201-0

BASR/Bateshwar Halt (1 PFs)
بٹےشور     बटेश्वर

Track: Single Electric-Line

Show ALL Trains
MDR 77W, Bah-Bateshwar Road, UP - 283104
State: Uttar Pradesh

Elevation: 159 m above sea level
Zone: NCR/North Central   Division: Agra

No Recent News for BASR/Bateshwar Halt
Nearby Stations in the News
Type of Station: Regular
Number of Platforms: 1
Number of Halting Trains: 0
Number of Originating Trains: 0
Number of Terminating Trains: 0
0 Follows
Rating: 3.8/5 (8 votes)
cleanliness - excellent (1)
porters/escalators - average (1)
food - average (1)
transportation - good (1)
lodging - good (1)
railfanning - good (1)
sightseeing - excellent (1)
safety - good (1)
Show ALL Trains

Station News

Page#    Showing 1 to 20 of 27 News Items  next>>
Sep 21 2021 (12:56) Gwalior Railway News: इंजीनियराें ने दी हरी झंड़ी, अब नवरात्र से ग्वालियर-इटावा ट्रैक पर दाैड़ने लगेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेन (www.naidunia.com)
IR Affairs
NCR/North Central
0 Followers
86372 views

News Entry# 465412  Blog Entry# 5071288   
  Past Edits
Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Mainpuri Junction/MNQ added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Jhansi Junction/JHS added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Bhind/BIX added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Birlanagar Junction/BLNR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Udi Mor Junction/UDMR added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Adittyaa Sharma/1421836

Sep 21 2021 (12:56)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Adittyaa Sharma/1421836
Gwalior Railway News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ग्वालियर-इटावा रेलमार्ग पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें शारदीय नवरात्र से दौड़ने लगेंगी। तीन साल में 90 करोड़ रुपये की लागत से 101 किलोमीटर की दूरी की यह लाइन ग्वालियर के बिरला नगर से इटावा के उदी मोड़ जंक्शन तक बनी है। बीते सप्ताह इंजीनियरों ने इलेक्ट्रिक इंजन दौड़ाकर इस लाइन को हरी झंडी दिखा दी थी। अब रेल संरक्षा आयुक्त की अनुमति मिलते ही ट्रैक पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।
इटावा जंक्शन से बीते पांच वर्षो में तीन रेलवे ब्रांच लाइनों पर यात्री ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित बटेश्वर-आगरा से इटावा रेल मार्ग पर 24 दिसंबर 2015 को, इसके बाद 27 फरवरी 2016 को ग्वालियर-भिंड-इटावा रेलमार्ग पर व
...
more...
28 दिसंबर 2016 को इटावा-मैनपुरी रेलमार्ग पर डीजल इंजन की ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। कुछ माह पूर्व आगरा-बटेश्वर रेल मार्ग पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का परिचालन शुरू हुआ। अब ग्वालियर-इटावा रेलमार्ग पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का परिचालन शुरू कराने की कवायद जोरों पर है। शारदीय नवरात्र में इस मार्ग पर इलेक्टि्रक ट्रेनों का परिचालन शुरू करने की तैयारी है।
जल्द रेल संरक्षा आयुक्त करेंगे निरीक्षण: सितंबर के अंतिम सप्ताह से रेल संरक्षा आयुक्त इस ग्वालियर-इटावा ट्रैक का निरीक्षण करेंगे। उनको जो खामियां मिलेंगी, उनको दूर कराकर अक्टूबर के प्रथम सप्ताह से इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।
ट्रेनों के विस्तार की संभावना: इस रेल मार्ग पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू होने से यात्री ट्रेनों का विस्तार होने की संभावना बढ़ गई है। अभी तक ग्वालियर-झांसी, गुना और कोटा तक इस मार्ग पर यात्री ट्रेनें हैं। यहां से मुंबई, अहमदाबाद, भोपाल, इंदौर के लिए यात्री ट्रेनों का चलाए जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है।
एलएचबी कोच लगेंगे छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस मेंः रेलवे जल्द ही छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को एलएचबी (लिंक हाफमैन बुश)कोच से सुसज्जित करने जा रही है। इससे किसी तरह की दुर्घटना में जान- माल की सुरक्षा हो सकेगी। असल में 2020 में छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में यह कोच लगाए जाने थे, पर कोविड के आने से यह कार्य नहीं हो सका। अब हालात सामान्य हेाते जा रहे हैं तो रेलवे अब उन गाड़ियों में एलएचबी कोच लगाने की प्रक्रिया तेज कर रही है, जिनमें कोरोना के चलते कोच नहीं लगाए जा सके थे। वर्तमान में छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस स्पेशल बनकर सप्ताह में केवल तीन दिन चल रही है।
वर्जन-
ग्वालियर से उदी मोड़ जंक्शन तक रेलवे का विद्युतीकरण कार्य पूर्ण हो चुका है। रेल संरक्षा आयुक्त के निरीक्षण का समय मिलने का इंतजार किया जा रहा है। उनके निरीक्षण के बाद इलेक्ट्रिक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा।
मनोज सिंह, जनसंपर्क अधिकारी उत्तर-मध्य रेलवे, झांसी मंडल
जागरण संवाददाता, इटावा : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित उनके पैतृक गांव बटेश्वर को जोड़ने वाली आगरा-इटावा ब्रांच लाइन पर विद्युतीकरण का कार्य पूर्ण हो गया है। इस ट्रैक पर तेज गति से ट्रेनों का परिचालन कराने के लिए रेलवे के सीआरएस यानी मुख्य सुरक्षा आयुक्त ने बीते गुरुवार को इटावा से आगरा भांडई तक गहनता से ट्रैक का निरीक्षण किया। इससे उम्मीद हो गई है कि जल्द ही इस ट्रैक पर अधिकतम 80 किमी की स्पीड से चलने वाली ट्रेनें 100-120 किमी प्रति घंटा की स्पीड से फर्राटा भरने लगेंगी।
इटावा-आगरा ब्रांच लाइन पर भांडई से इटावा तक विद्युतीकरण कराने का कार्य आगरा रेलवे मंडल के निर्देशन में करीब दो साल पूर्व शुरू कराया गया था, जो बीते
...
more...
माह पूर्ण हो गया। बीते दिवस सीआरएस लतीफ खान ने डीआरएम आगरा वीके श्रीवास्तव तथा इंजीनियरों की टीम के साथ इटावा से भांडई तक करीब आठ घंटे गहनता से रेलवे ट्रैक और नवीन ओएचई लाइन का स्पेशल ट्रेन से निरीक्षण किया। कई जगह ट्रेन से उतरकर देखा तथा कुछ हल्की खामियां होने को लेकर उनको दूर करने के निर्देश दिए। बताया गया है कि सीआरएस के ओके करने पर ही नवीन ट्रैक पर ट्रेनों की स्पीड बढ़ाई जाती है तथा इसी तरह ओएचई लाइन को देखा जाता है। इसके तहत यह निरीक्षण कराया गया।
स्टेशन अधीक्षक पीएम मीना ने बताया कि अभी अधिकतम स्पीड एक्सप्रेस ट्रेन की प्रति घंटा 80 किमी तथा मालगाड़ी के लिए 60 किमी निर्धारित है। अब स्पीड बढ़ाए जाने की संभावना बढ़ हो गई है।
पर्यावरण होगा सुरक्षित
2004 में शुरू की गई यह ब्रांच लाइन 2014 में पूर्ण हुई थी। शुरुआत में खाली मालगाड़ी ट्रेनें चलाई गईं। इसके बाद लोड मालगाड़ी ट्रेनें चलाई गईं। 24 दिसंबर 2015 को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस से एक दिन पूर्व तत्कालीन रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री वाजपेयी के पैतृक गांव बटेश्वर में धूमधाम के साथ आयोजन करके पहली यात्री ट्रेन चलाई थी। तब से अभी तक डीजल इंजन के माध्यम से ट्रेनों का परिचालन कराया जा रहा है। इससे वातावरण में काफी धुंआ फैलता है, इलेक्ट्रिकफाइड ट्रेनों के चलने पर पर्यावरण काफी सुरक्षित होगा।
अब अन्य यात्री ट्रेनों की उम्मीद
इलेक्ट्रिकफाइड ट्रेनों का परिचालन शुरू होने पर अन्य यात्री ट्रेनों का इस मार्ग से परिचालन शुरू किए जाने की उम्मीद है। अभी इटावा जंक्शन पर शंटिग कराकर इंजन बदलना पड़ता है, इलेक्ट्रिक इंजन का बदलाव नहीं होगा। इसके साथ इटावा जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर एक को मालगाड़ी के देर तक खड़ी रहने से मुक्ति मिलेगी।
सीआरएस ने गहनता से निरीक्षण करके ओएचई कार्य संतोषजनक पाया। कुछ हल्की खामियां बताई गईं, जिनको जल्द दूर करा दिया जाएगा। ट्रैक पर स्पीड बढ़ाना मान लिया है। जल्द ही उनका प्रमाणपत्र मिल जाएगा उसके बाद इलेक्ट्रिकफाइड ट्रेनों का परिचालन शुरू करा दिया जाएगा।
-संजीव कुमार श्रीवास्तव
जनसंपर्क अधिकारी, आगरा मंडल
Mar 02 2021 (12:55) Indian Railway: आगरा कैंट-इटावा वाया बटेश्वर रेल लाइन पर जल्द इलेक्ट्रिक इंजन से दौडे़ंगी ट्रेन, विद्युतीकरण का काम हुआ पूरा (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
41397 views

News Entry# 441835  Blog Entry# 4893101   
  Past Edits
Mar 02 2021 (12:56)
Station Tag: Bateshwar Halt/BASR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 02 2021 (12:55)
Station Tag: Udi Mor Junction/UDMR added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 02 2021 (12:55)
Station Tag: Bhandai Junction/BHA added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 02 2021 (12:55)
Station Tag: Etawah Junction/ETW added by Anupam Enosh Sarkar/401739

Mar 02 2021 (12:55)
Station Tag: Agra Cantt./AGC added by Anupam Enosh Sarkar/401739
आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा-इटावा 105 किमी लंबी एकल रेल लाइन का विद्युतीकरण का काम पूरा हो गया है। चंबल के बीहड से गुजरने वाले इस ट्रैक जल्द इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों का संचालन किया जाएगा। दो दिन पहले रविवार को झांसी के लोको शेड के इंजन से ट्रेक पर ट्रायल भी किया गया। अभी मुख्य संरक्षा आयुक्त की हरी झंडी मिलने का इंतजार है।
आगरा कैंट से भांडई वाया उदी मोड़ होकर इटावा तक एकल रेलवे ट्रैक का निर्माण वर्ष 2015 में किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी की कर्मभूमि बटेश्वर से होकर गुजरने वाली रेल लाइन पर आगरा कैंट-इटावा पैसेंजर का संचालन भी वर्ष 2015 में शुरू किया गया था। दो साल पहले इस ट्रैक का विद्युतीकरण का काम शुरू
...
more...
किया गया था। आगरा रेल मंडल के जनसंपर्क अधिकारी एसके श्रीवास्वत ने बताया कि इस ट्रैक का 100 फीसद विद्युतीकरण हो चुका है। सिंगल लाइन सेक्शन को 25 केवी, एसी सिंगल फेज, 50 हर्ट्ज पर ओएचई को ऊर्जीकृत कर दिया गया है। इलेक्ट्रिक ट्रेनों के नियमित संचालन के लिए 28 फरवरी को झांसी लोको शेड के विद्युत लोको द्वारा भी एक परीक्षण भी किया गया। उम्मीद है कि दो-तीन माह में इस ट्रैक पर इलेक्ट्रिक इंजन से यात्री ट्रेनों का संचालन शुरू हो सकता है। विद्युतीकरण कार्य के होने से रेल नेटवर्क पर रेल यातायात का निर्बाध संचालन होगा, बल्कि कर्षण बदलने की आवश्यकता भी सुलझेगी। परिचालन क्षमता व लाइन क्षमता बढ़ेगी, ट्रेनों की औसत गति में सुधार होगा। खंडों के विद्युतीकरण से आयातित पेट्रोलियम ईधन के प्रयोग में कमी आएगी और ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन भी कम होगा।

Rail News
34165 views
Mar 02 2021 (13:38)
asppd   72 blog posts
Re# 4893101-1              
1 compliments
now implemented
Patna Kota should run through this route only because at present Train is changing engine two times Agra and Mathura and alots of time killing , via this rout no need to change engine in Agra only ENGINE WILL BE changed in Mathura .

32828 views
Mar 02 2021 (13:48)
akkutheraillover
akkutheraillover~   2153 blog posts
Re# 4893101-2              
Should run via kasganj mathura in 4 days in a week and remain 3 days go via another route

29933 views
Mar 02 2021 (15:19)
Pranav Pratap
Railfan_Anmol_167   21 blog posts
Re# 4893101-3               Past Edits
Yes waha loco pe time ni waste krna padega aur bhi waise bhi ye train jab bhi divert hoti h tab wahi route isko diya jata h isliye us route ko hi permanent kr Dena chahiye

30900 views
Mar 02 2021 (15:23)
akkutheraillover
akkutheraillover~   2153 blog posts
Re# 4893101-4              
Haa
पांच साल पहले आगरा बटेश्वर वाया इटावा रेल लाइन की हुई थी शुरुआत
एकमात्र पैसेंजर ट्रेन भी आठ माह से बंद, एकमात्र यात्री गाड़ी गुजरती है
दोहरीकरण और स्टेशनों का विकास नहीं हो सका, प्रस्ताव बने मगर काम नहीं हुआ
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जन्मस्थली बटेश्वर को रेल लाइन से जोड़े हुए पांच साल बीत गए मगर अभी तक बटेश्वर हॉल्ट को
...
more...
स्टेशन का दर्जा नहीं मिल सका है। इसका नाम अटलजी के नाम पर रखे जाना तो दूर, रेल लाइन से गुजरने वाली एकमात्र पैसेंजर ट्रेन भी बंद है। केवल सप्ताह में तीन दिन चलनेे वाली एक ट्रेन यहां से होकर गुजर रही है।
आगरा बटेश्वर इटावा रेल लाइन चंबल के बीहड़ से होकर गुजरती है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने छह अप्रैल 1999 को इसकी आधारशिला रखी थी। दिसंबर 2015 में इस सिंगल रेल लाइन का शुभारंभ हुआ और आगरा कैंट से चलने वाली आगरा वाया बटेश्वर पैसेंजर ट्रेन की शुरुआत हुई। पांच साल गुजरने के बाद भी इस सिंगल रेल लाइन के विस्तार के प्रस्तावों पर काम नहीं हो सका है।
स्टेशन का नाम अटल स्टेशन रखने की मांग पूरी नहीं हुई
बटेश्वर हॉल्ट को स्टेशन बनाने और इसका नाम अटल जी के नाम पर रखने की मांग भी स्थानीय निवासियों ने की थी। यहां अटलजी का बचपन बीता था, लेकिन अभी तक चंबल से गुजरने वाले इस ट्रैक के किसी स्टेशन पर आरपीएफ व जीआरपी की चौकी तक स्थापित नहीं हो सकी है।
यहां से सप्ताह में तीन दिन चलने वाली एकमात्र एक्सप्रेस गुजरती है। लॉकडाउन से ही एकमात्र पैसेंजर ट्रेन भी बंद चल रही है। इस ट्रैक पर यात्री ट्रेनों के बढ़ाने की मांग भी कई बार की जा चुकी है मगर अभी तक इस रूट पर ट्रेनों को भी नहीं बढ़ाया जा सका है।
शमसाबाद बने बड़ा स्टेशन
यात्री परामर्शदात्री समिति के सदस्य राजकुमार शर्मा का मानना है कि बटेश्वर रेल लाइन पर शमसाबाद, राजाखेड़ा (राजस्थान) से जोड़ता है। अगर इस स्टेशन का विकास किया जाए तो इस रूट पर यात्री मिलेंगे। यहां से बड़ी संख्या में दैनिक यात्री भी आगरा आवागमन करते हैं। इस रेलवे ट्रैक का विद्युतीकरण भी होना चाहिए।
विद्युतीकरण का कार्य चल रहा : डीसीएम
बटेश्वर बाह रेलवे लाइन के विद्युतीकरण का कार्य चल रहा है। यह अगले साल मार्च तक पूरा होेने की उम्मीद है। दोहरीकरण के बारे में जानकारी नहीं है।
- एसके श्रीवास्तव, वाणिज्य प्रबंधक, आगरा रेल मंडल
आज से पांच वर्ष पूर्व रेलवे ने बटेश्वर में रेलवे स्टेशन बनाकर पूर्व प्रधानमंत्री स्व अटल बिहारी बाजपेयी का सपना तो पूरा कर दिया पर उसके बाद सुध नहीं ली।स्टेशन के हालात खराब हो गए हैं और साल से अधिक समय से यहां एक भी टिकट नहीं बिकी है।
अटल बिहारी वाजपेयी के पैतृक गांव में है बटेश्वर स्टेशन
देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के जन्मदिन पर उनके पैतृक गांव से जुड़े तमाम किस्सों का जिक्र हो रहा है। अटल के जीवन से जुड़ी कहानियों के बीच उनके
...
more...
पैतृक गांव बटेश्वर की कहानियां शुरू हुईं तो एक जिक्र उस रेलवे स्टेशन का भी आया, जिसे अटल बिहारी वाजपेयी का ड्रीम प्रॉजेक्ट कहा गया था। अटल बिहारी वाजपेयी के इस सपने को मोदी सरकार ने पूरा तो कर दिया, लेकिन जिस रेलवे स्टेशन को अटल अपना ड्रीम प्रॉजेक्ट कहते थे..आज उसकी असल हकीकत बिल्कुल जुदा है।
अटल बिहारी वाजपेयी के पैतृक गांव बटेश्वर में रेलवे स्टेशन बनाया तो गया है पर न यहां कोई ट्रेन रुकती है और न ही यहां कोई कर्मचारी काम करता है। नवभारत टाइम्स की टीम ने स्व. अटल जी की जयंती पर उनके पैतृक गांव का हाल जाना तो हकीकत सामने आई। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि प्रपोजल भेजे गए हैं और आने वाले समय मे वहां के हालात सुधारे जाएंगे। बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का सपना था कि उनके पैतृक गांव बटेश्वर में ट्रेन रुके।
1999 में रखी गई स्टेशन की नींव
अपने सपने को साकार करने की नींव उन्होंने 6 अप्रैल 1999 को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री परवेज मुशर्रफ के साथ शिखर वार्ता के समय रेलवे लाइन के शिलान्यास के रूप में डाली।इसके बाद सरकार बदलने पर मामला ठंडे बस्ते में चला गया और जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता संभाली तो एक बार फिर इस प्रॉजेक्ट को पंख लगे और 24 दिसम्बर 2015 को तत्कालीन रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने बटेश्वर स्टेशन का उद्घाटन किया। इस दौरान मंत्री ने यहां ट्रेन को हरी झंडी भी दिखाई। गांव में पहली बार रेल आने पर लोगों का कौतूहल देखने लायक था। इस रूट पर आगरा से इटावा तक का सफर किया जा सकता था। इसके बाद कुछ समय तक तो स्टेशन के हालात ठीक रहे पर फिर रेलवे इसे भूल गया।
प्रपोजल सिर्फ कागजों में?
आज हालात यह हैं कि काफी समय से यहां एक भी कर्मचारी नहीं है। स्टेशन मास्टर का कमरा खुला पड़ा रहता है और सालों से यहां एक भी टिकट नहीं बिकी है। ग्रामीणों का कहना है कि यहां पानी की व्यवस्था भी नहीं है। लोग कहते हैं कि कोई कर्मचारी है ही नहीं तो टिकट बेचेगा कौन? स्टेशन की बदहाली के सवाल पर सीनियर डीसीएम आशुतोष सिंह का कहना है कि रेलवे आउट स्टैंडिंग स्टेशनों के लिए काम कर रहा है। स्टेशन पर विकलांग यात्रियों के लिए रैम्प,बिजली और पानी की व्यवस्था का प्रपोजल दिया गया है। वर्तमान में यहां कोई ट्रेन का स्टापेज नहीं है। जब आगरा इटावा डीएमयू चलना शुरू होगी तो वहां टिकट विक्रय का काम शुरू कराया जाएगा।
Page#    Showing 1 to 20 of 27 News Items  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy