Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Pamban Sethu - இது தான் நம்முடைய ராமர் சேது - Darnish C

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Fri Jun 18 04:05:50 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search

News Posts by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥

Page#    Showing 1 to 5 of 76 news entries  next>>
Feb 14 (22:49) UVSS installed at DDU junction (m.timesofindia.com)
New Facilities/Technology
ECR/East Central
0 Followers
8951 views

News Entry# 439083  Blog Entry# 4876920   
  Past Edits
Feb 14 2021 (22:49)
Station Tag: Pt. DD Upadhyaya Junction (Mughalsarai)/DDU added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117
Varanasi: In a move to step up security measures at "DDU" Junction, the railway has installed a new system -Under Vehicle Scanning System (UVSS). Through this system, all the vehicles reaching the parking lot are checked thoroughly. Through this technology, when a vehicle passes over the UVSS, the system captures the chassis number of the vehicle, the number of the vehicle and face of the driver.
The system was inaugurated by general manager, East Central Railway Lalit Chandra Trivedi and DRM, Deen Dayal Upadhyay Division, ECR Rajesh Kumar Pandey on Friday. They said that it was the part of an integrated security system, which is being adopted to ensure the safety of people and avert terror attacks.
The
...
more...
UVSS has been designed and installed by Vehant Technologies, a leader in Artificial Intelligence (AI) / Machine Learning (ML). They have also trained the Railway Protection Force (RPF) personnel to operate the machine. This is a complete camera system that combines hardware and software to track down the vehicles passing through a checkpoint.
According to officials, this system has been installed for important clues in case of suspicious goods in vehicles or any untoward incident at the railway station. This technology does not cost much, once a system is installed, only its maintenance is required.
According to Kapil Bardeja, CEO and co-founder of Vehant Technologies, the UVSS requires physical devices to detect illegal items. With the help of this system, it is easy to inspect vehicles during both night and day hours and it is capable of working in any weather condition. All vehicles passing through the system will be given one-by-one entry once the trains are in regular operation. All vehicles will require UVSS scanning. This mechanized monitoring system will check trespassers and unwanted vehicles, ensuring the safety of passengers.
Dec 21 2020 (09:30) DDU Junction declared as ‘green station, gets Silver rating (timesofindia.indiatimes.com)
ECR/East Central
0 Followers
23384 views

News Entry# 429353  Blog Entry# 4818934   
  Past Edits
Dec 21 2020 (09:30)
Station Tag: Pt. DD Upadhyaya Junction (Mughalsarai)/DDU added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117
VARANASI: The Indian Green Building Council (IGBC) has awarded Pt. Deen Dayal Upadhyay Junction with Silver rating after it was declared a ‘green station’. The station scored 51 points out of 100 for its environment-friendly initiatives.
More than 100 years old and one of the busiest railway stations of the country, it achieved the silver rating almost two years after getting its name changed from Mughalsarai railway station to Pt. Deen Dayal Upadhyay Junction.
Talking to TOI on Saturday, the divisional railway manager, PDDU division of East Central Railway, Rajesh Kumar Pandey said,
...
more...
“We secured maximum points in the category of health, hygiene and sanitation (64.5%) followed by energy efficiency (50%) and water efficiency (47.7%). This certification was possible due to the continuous efforts of all departments to improve and upgrade this station.
Pandey said that encouraged by this achievement, fresh efforts have been intensified to ensure improvement in all categories in order to secure the Gold rating next year.
The officials said that Confederation of Indian Industries (CII)-IGBC, with the support of environment directorate of Indian Railway, has developed this rating system, which is a voluntary and consensus-based programme. It is a first of its kind holistic rating system in India to address environmental sustainability of Indian railway stations, they said.
“The overarching objective of the rating is to facilitate adoption of green concepts, thereby reducing the adverse environmental impact of station operation and maintenance, and enhancing the overall commuter experience,” added the officials. The rating system helps the station management to gauge the ‘green performance’ of the station and assess requirements for continuous improvement. The rating system is designed primarily for existing Indian railway stations, said the officials. “Many steps including training station operation and maintenance personnel on ‘Green Railway Station’, performance improvement and detailed study on opportunities for reducing energy and water consumption, increasing renewable energy, effective waste management, enhancing passenger amenities, guidance on implementation of green measures and facilitation of assessment by third party independent experts, are taken into account for the rating process.

17997 views
Dec 21 2020 (09:36)
Guest: 6cd27867   show all posts
Re# 4818934-2            Tags   Past Edits
DDU is ♥️♥️

15532 views
Dec 21 2020 (10:22)
😎😎HWH Raj ▶️ Poorva Exp meri Jaan ♥️♥️😘😘
SakshamMaheshwa~   30352 blog posts
Re# 4818934-3            Tags   Past Edits
Great 🤩🤩🤩😎😎😎
Proud to be MGS 😎😎😎😎😎🎉🎉🎉🎉

17751 views
Dec 21 2020 (10:24)
💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥
furquan_ashraf~   3455 blog posts
Re# 4818934-4            Tags   Past Edits
Thank you 😊
#MGSian

Rail News
13008 views
Dec 21 2020 (11:50)
ApsaraRaniGhoshPal27
WorldWar3~   6359 blog posts
Re# 4818934-5            Tags   Past Edits
haa haa reaction kidhar hain
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में बनारस आ सकते हैं। आदर्श ब्लाक के रूप में विकसित हो रहे सेवापुरी में विकास योजनाओं से संबंधित कार्यक्रम में शिरकत कर सकते हैं। समझा जा रहा है कि बनारस से ही बिहार चुनाव को साधने की तैयारी है। हालांकि, पीएम के आगमन को  लेकर कोई अधिकारिक  जानकारी नहीं है लेकिन अंदरखाने की तैयारियां संभावना को मजबूती दे रही हैं। बात रेलवे की करें तो मंडुआडीह रेलवे स्टेशन का नया नाम बनारस हो गया है जिसका लोकार्पण पीएम के हाथ से कराने की तैयारी है।
यही वजह है कि एक सप्ताह पूर्व पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के डीआरएम विजय कुमार पंजियार के  निरीक्षण के बाद स्टेशन पर जहां भी बनारस नाम लिखा गया था।
...
more...
आनन-फानन  में उसे हटाकर फिर से मंडुआडीह कर दिया गया। पूर्वोत्तर रेलवे के मंडुआडीह स्टेशन का नामकरण बनारस होने के बाद स्टेशन पर तमाम जगहों पर बनारस की पट्टिकाएं और होर्डिंग लगाए गए थे। अब उन्हें हटाकर फिर से मंडुआडीह नाम लिख दिया है। यहां तक कि मंडुआडीह से दिल्ली को जाने वाली शिवगंगा स्पेशल ट्रेन की बोगियों पर लगे डिस्प्ले बोर्ड पर भी बनारस-दिल्ली लिखने के बाद फिर से मंडुआडीह-दिल्ली कर दिया गया है।

रेलवे अफसरों के अनुसार ऐसा इसलिए किया गया कि रेलवे के सिस्टम में अभी पुराना मंडुआडीह स्टेशन का कोड एमयूवी ही शो कर रहा है जबकि बनारस नाम से कोड बीएसबीएस जारी किया गया है। आरक्षण के समय यात्रियों में कोड को लेकर भ्रम की स्थिति है। यह देखते हुए रेलवे प्रशासन ने सिस्टम अपग्रेड नहीं होने तक मंडुआडीह नाम ही चलने का फैसला लिया है। पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के पीआरओ अशोक कुमार ने बताया कि मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन पर ट्रायल बेस पर एक बोर्ड पर बनारस लिखा गया था। अब यह निर्णय लिया गया है कि पेंङ्क्षटग बोर्ड की जगह रेट्रोरिफ्लेक्टिव बोर्ड लगाया जाएगा। वहीं, पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम में बनारस नाम एवं कोड फीड होने के बाद रेलवे बोर्ड से निर्देश मिलते ही नाम बदलने की कार्रवाई शुरू की जाएगी।

मंडुआडीह रेलवे स्टेशन पर वाराणसी मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार के निरीक्षण के दौरान ट्रायल के तौर पर एक बोर्ड पर बनारस लिखा गया था जिसे देखने के बाद मंडुआडीह के उच्च मानक को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया गया है कि पेंटिंग बोर्ड की जगह रेट्रोरिफ्लेक्टिव बोर्ड लगाया जाए। इससे दिन एवं रात्रि में लाइट पडऩे पर स्टेशन की सुंदरता में और निखार आए।
Sep 04 2020 (00:57) एक लड़की को पहुंचाने के लिए 535 KM के सफर पर चल पड़ी राजधानी एक्सप्रेस (www.jagran.com)
ECR/East Central
0 Followers
15394 views

News Entry# 417520  Blog Entry# 4704102   
  Past Edits
Sep 04 2020 (00:58)
Station Tag: Pt. DD Upadhyaya Junction (Mughalsarai)/DDU added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117

Sep 04 2020 (00:58)
Station Tag: DaltonGanj/DTO added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117

Sep 04 2020 (00:58)
Train Tag: New Delhi - Ranchi Covid - 19 AC Special/02454 added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117
रांची (मुजतबा हैदर रिजवी)। सिर्फ एक लड़की को पहुंचाने के लिए गुरूवार को राजधानी एक्सप्रेस 535 KM के सफर पर चल पड़ी है। दरअसल, हुआ कुुुुुछ यूं कि नई दिल्ली से रांची के लिए चली राजधानी एक्सप्रेस के पहिए टाना भगतों के आंदोलन ने डाल्टनगंज में थाम लिए। इसके बाद ट्रेन में सवार 930 यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने बस की वैक्लपिक व्यवस्था की। इस दौरान 929 यात्री इसमें जाने के लिए तैयार हो गए। लेकिन एक युवती ने बस से जाने से इंकार कर दिया। इसके बाद रेलवे को युवती के जिद के आगे झुकना पड़ा। राजधानी एक्सप्रेस को शाम तकरीबन चार बजे डाल्टनगंज से वापस गया ले जाकर गोमो और बोकारो होते हुए रांची ले जाना पड़ा। ट्रेन के रात 1 से 1:30 बजे के बीच रांची रेलवे स्टेशन पर पहुंचने की संभावना है।
दिल्ली
...
more...
से रांची के लिए सवार युवती राजधानी से ही सुबह रांची पहुंचेगी। दिल्ली से रांची आ रही राजधानी एक्सप्रेस में 930 यात्री सवार थे। राजधानी एक्सप्रेस को डाल्टनगंज से सीधे रांची आना था। डाल्टनगंज से ट्रेन के जरिए रांची की दूरी 308 किलोमीटर है। मगर, युवती ने राजधानी से ही रांची जाने की जिद की तो ट्रेन को गया ले जाकर गोमो व बोकारो होकर रांची लाना पड़ा। डाल्टनगंज से गया 217 किलोमीटर व गया से बोकारो 202 किलोमीटर और बोकारो से रांची 116 किलोमीटर यानि कुल 535 किलोमीटर का सफर राजधानी ने एक युवती को लेकर किया। युवती मुगलसराय से चढ़ी है। रांची जाना है। युवती का नाम अनन्या है। बी 3 कोच की 51 नंबर सीट पर है।

दरअसल, जब टोरी में टाना भगत के रेलवे ट्रैक पर चल रहे आंदोलन की वजह से राजधानी एक्सप्रेस को डाल्टनगंज रेलवे स्टेशन पर रोका गया। पहले तो रेलवे के अधिकारियों ने सोचा कि टाना भगत का आंदोलन खत्म हो जाएगा तो राजधानी रांची पहुंचा दी जाएगी। मगर, जब आंदोलन खत्म नहीं हो पाया तो रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को इसकी जानकारी दी गई। तब रेलवे बोर्ड ने राजधानी से मुसाफिरों को उतार कर बसों से रांची भेजने का आदेश दिया। रेलवे बोर्ड ने निर्देश दिया कि राजधानी एक्सप्रेस को डाल्टनगंज में ही खड़ा रखा जाए और जब आंदोलन खत्म हो तो इसे नियमित रूट से रांची भेज दिया जाए। इसके बाद 929 मुसाफिरों को रांची बस से ले जाया गया। मगर, राजधानी में बैठी एक युवती बस से जाने के लिए तैयार नहीं हुई।

बस से सफर करने से कर दिया इंकार
दिल्ली से रांची जा रही एक युवती ने बस से सफर करने से इंकार कर दिया। उसने अधिकारियों से साफ कहा कि वो बस से सफर नहीं करेगी। युवती ने कहा कि वो ट्रेन से ही रांची जाएगी क्योंकि, उसने दिल्ली से रांची तक का ट्रेन का टिकट लिया है। युवती का कहना था कि अगर उसे बस से सफर करना होता तो वो दिल्ली से ही बस पर सफर करती। युवती जिद पर अड़ी थी कि उसने राजधानी एक्सप्रेस का टिकट लिया है तो वो इसी से रांची जाएगी। युवती ने रेलवे के अधिकारियों और प्रशासनिक अधिकारियों से कहा कि उसे बस का सफर अच्छा नहीं लगता। उसका ये भी कहना था कि जिन बसों का इंतजाम किया गया है। वह ठीक नहीं है।

युवती ने नहीं मानी रेलवे के अधिकारियों की बात
इसके बाद रेलवे के अधिकारियों ने युवती से कहा कि उसके पास अब रांची जाने का कोई चारा नहीं है। क्योंकि, अधिकारियों को रेलवे बोर्ड से जो आदेश मिला था उसके अनुसार राजधानी एक्सप्रेस को डाल्टनगंज में खड़ा रखा जाना था और इसे टाना भगत के आंदोलन के बाद ही रांची लाया जाना था। अधिकारियों ने युवती से कहा कि अगर वो चाहे तो उसे कार के जरिए रांची भेज दिया जाए मगर युवती इस जिद पर अड़ी रही कि वो राजधानी से ही रांची जाएगी।

युवती की जिद के आगे फूल गए थे अधिकारियों के हाथ पैर
इसके बाद रेलवे के अधिकारियों के हाथ पैर फूल गए। आनन-फानन रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को ये बात बताई गई। युवती की जिद की बात सुन कर रेलवे बोर्ड के चेयरमैन भी सकते में आ गए और थोड़ी देर बाद निर्देश देने की बात कही। बाद में रेलवे बोर्ड ने डीआरएम को निर्देश दिया कि युवती को राजधानी में बैठा कर ट्रेन को गया ले जाकर वहां से गोमो व बोकारो के रास्ते रांची ले जाया जाए। इसके बाद राजधानी एक्सप्रेस देर शाम डाल्टनगंज से रांची के लिए रवाना हुई।

युवती की सुरक्षा के लिए चाक-चौबंद रहीं आरपीएफ की महिला सिपाही
सीनियर डीसीएम ने बताया कि राजधानी एक्सप्रेस में युवती के अकेले सफर करने की वजह से रेलवे ने उसकी सुरक्षा के इंतजाम किए हैं। इसके लिए आरपीएफ के एक अधिकारी कई महिला सिपाहियों के साथ ट्रेन पर मौजूद हैं। ताकि, युवती को हिफाजत के साथ रांची पहुंचाया जाए।
सारे मुसाफिरों को बस के जरिए डाल्टनगंज से रांची ले जाया गया। मगर, एक युवती ऐसा करने के लिए तैयार नहीं थी। उसने ट्रेन से ही रांची जाने की जिद की। इस पर राजधानी एक्सप्रेस को गया, गोमो व बोकारो होकर देर शाम रांची के लिए रवाना किया गया। - अखिलेश पांडेय, सीनियर डीसीएम धनबाद
Sep 03 2020 (12:13) Jharkhand: टाना भगतों के प्रदर्शन से थमे ट्रेनों के पहिए, बस से रांची भेजे गए राजधानी एक्‍सप्रेस के यात्री (www.jagran.com)
ECR/East Central
0 Followers
15873 views

News Entry# 417474  Blog Entry# 4703360   
  Past Edits
Sep 03 2020 (12:13)
Station Tag: DaltonGanj/DTO added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117

Sep 03 2020 (12:13)
Train Tag: New Delhi - Ranchi Covid - 19 AC Special/02454 added by 💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥/1949117
पलाम, जासं। टाना भगतों के प्रदर्शन के कारण रेल यातायात बाधित होने से प्रभावित नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस के यात्रियों को बस से रांची भेजा गया है। इसके अलावा कई टैक्सियों का भी इंतजाम किया गया है। डाल्टनगंज रेलवे स्टेशन परिसर से स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस के 140 यात्रियों को लेकर 5 बसें रांची के लिए रवाना हो गईं है। 52 सीटर हर एक बस पर शारीरिक दूरी का पालन करते हुए 28-28 यात्री रवाना हुए हैं। डाल्टनगंज रेलवे स्टेशन पर पुलिसकर्मियों ने यात्रियों का सामान उठाने में मदद की।
टाना भगतों के आंदोलन के कारण नई दिल्ली-रांची राजधानी ट्रेन सुबह 6.40 बजे से डालटनगंज रेलवे स्टेशन पर खड़ी है। लातेहार जिला के टोरी रेलवे स्टेशन के समीप टाना भगतों ने अप और
...
more...
डाउन रेल पटरियों को बुधवार की शाम 5:30 से ही जाम कर दिया है। इसे लेकर रेल परिचालन पूरी तरह से बाधित है। 8 से 10 मालगाड़‍ियां विभिन्‍न स्‍टेशनों पर खड़ी है। अब भी टाना भगतों का समूह रेल पटरी पर बैठा हुआ है। स्थानीय रेल अधिकारी मौके पर पहुँच कर रेल यात्रियों की सहायता कर रहे हैं। बता दें कि यह राजधानी स्पेशल ट्रेन है, जिसे कोरोना को लेकर जारी लॉकडॉउन में चलाया जा रहा है।

स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस के कई यात्रियों ने डाल्टेनगंज रेलवे स्टेशन पर हंगामा शुरू कर दिया है। डाल्टनगंज रेलवे स्टेशन पर हंगामा कर रहे यात्रियों को पुलिस पदाधिकारी लगातार समझा रहे हैं। इधर, पलामू जिला प्रशासन की पहल पर हंगामा कर रहे स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस के यात्री शांत हुए हैं। डाल्टनगंज रेलवे स्टेशन प्रबंधक ने यात्रियों के लिए नाश्ते की व्यवस्था कराई है। उन्‍हें बसों से रांची भेजने का इंतजाम किया गया है। पलामू के एसपी अजय लिंडा, पलामू डीसी डालटनगंज रेलवे स्टेशन परिसर पहुंच गए हैं। वे यात्रियों को रांची भेजने के लिए हो रही व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं।

इस ट्रेन का डालटनगंज रेलवे स्टेशन में ठहराव नहीं है। डाल्टेनगंज रेलवे स्टेशन पर राजधानी एक्सप्रेस के यात्रियों को बसों से रांची भेजने की तैयारी हो रही है। डालटनगंज रेलवे स्टेशन पर खड़ी स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस से उतर कर यात्री स्‍टेशन से बाहर जा रहे हैं। टोरी स्टेशन पर ट्रैक जाम होने के कारण यह ट्रेन सुबह 6:40 से डालटेनगंज रेलवे स्टेशन पर खड़ी है। अब इस ट्रेन के यात्री अपने संसाधन से रांची जाने लगे हैं। डाल्टेनगंज रेलवे स्टेशन पर सुबह 6:40 से रुकी स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस में करीब 750 यात्री हैं। इन सभी को रांची जाना है।

राजधानी एक्सप्रेस को 10:00 बजे तक रांची पहुंचना था। पीआरओ चंदन कुमार ने बताया कि रेलवे के आला अधिकारी राज्य सरकार के अधिकारियों से बात कर रहे हैं। टाना भगत को समझाया जा रहा है कि वह ट्रैक से हट जाएं। उनके ट्रैक से हटने के बाद राजधानी एक्सप्रेस को रांची की तरफ रवाना किया जाएगा। राजधानी एक्सप्रेस के डाल्टनगंज में फंस जाने से अब यह ट्रेन लेट हो गई है। इस पर सवार मुसाफिर परेशान हैं। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि राजधानी के अलावा 8 मालगाड़ियां भी दोनों तरफ फंसी हुई हैं।

धनबाद रेल मंडल अंतर्गत बरकाकाना-डालटनगंज रेलखंड के टोरी रेलवे स्टेशन के समीप टाना भगतों ने अप और डाउन रेल पटरियों को बुधवार शाम से ही जाम कर दिया गया है। टाना भगतों का समूह रेल पटरी पर बैठा हुआ है। इसके कारण रेलखंड पर रेल परिचालन पूरी तरह से बाधित है। हालांकि कोरोना को लेकर इस मार्ग से यात्री ट्रेनों का परिचालन लंबे समय से बंद है। लेकिन इससे मालगाड़ी का परिचालन पूरी तरह से ठप हो गया है। इसके अलावा स्‍पेशल ट्रेनों का आवागमन भी बाधित हुआ है।

सुबह 9 बजे से लातेहार एसडीएम सागर कुमार के नेतृत्व में प्रशासनिक टीम टाना भगतों को समझा कर रेलवे ट्रैक से हटाने का प्रयास कर रही है। फिलवक्त 500 से अधिक की संख्या में टाना भगत रेलवे ट्रैक जाम कर बैठे हुए हैं। टाना भगत थोड़ी-थोड़ी देर में घंटा भी बजा रहे हैं। वहीं आंदोलनकारी टाना भगतों को देखने के लिए लोगों की भीड़ जमा हो रही है। स्थानीय लोगों को पुलिस टीम लगातार हटा रही है।

बता दें कि झारखंड के छोटानागपुर के टाना भगत आजादी के इतने सालों के बाद भी अपने हक और अधिकार के लिए आंदोलनरत हैं। केन्द्र एवं राज्य सरकार से अपनी मांगों को अवगत करा चुके हैं। उनका कहना है क‍ि सरकार उनकी मांग को गंभीरता से नहीं ले रही है।

Rail News
13380 views
Sep 03 2020 (12:21)
বাংলার চপ শিল্প জিন্দাবাদ
Harsh12345ER~   17621 blog posts
Re# 4703360-1            Tags   Past Edits
Corona sharm se chala gaya kya?🧐🧐

13408 views
Sep 03 2020 (12:25)
💥 Guard Furquan Ashraf DDU 💥
furquan_ashraf~   3455 blog posts
Re# 4703360-2            Tags   Past Edits
Hahahaha
Ye toh wahi waali baat hogyi
Macchar inhe katega toh Dengue inhe nhi balki maccharon ko ho jaayega 🤣🤣🤣🤣
Page#    76 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy