Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

प्रयागराज एक्सप्रेस - जो भी हो तुम खुदा की कसम; लाजवाब हो

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sun Jun 16 18:00:43 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

News Posts by Vcpl Jbp

Page#    Showing 1 to 5 of 1034 news entries  next>>
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. वेस्टर्न रेलवे के रतलाम मंडल द्वारा पिछले दिनोंं जबलपुर से होकर चलने वाली नर्मदा एक्सप्रेस सहित जिन 39 गाडिय़ों में चलती ट्रेन में मसाज सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया था, वह आलोचनाओं में घिर गया है. इंदौर के सांसद शंकर लालवानी के बाद अब पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन (ताई) ने भी रेलमंत्री को पत्र लिखकर रेलवे के इस निर्णय पर अपना विरोध प्रदर्शित किया है. माना जा रहा है कि मसाज की सुविधा को रेलवे वापस ले सकता है.
सुमित्रा महाजन ने पत्र में रेलमंत्री से यह सवाल पूछे
सुमित्रा
...
more...
महाजन ने रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पत्र में लिखा है कि भारतीय रेल को आधुनिक, गतिशील एवं प्रौद्योगिकी अनुकूल बनाने की दिशा में आपके द्वारा किए गए प्रयासों की मैं प्रशंसा करती हूं. आशा है कि भविष्य में रेल मंत्रालय यात्रियों के लिए उत्कृष्टतम सुविधाएं उपलब्ध कराएगा. उन्होंने आगे लिखा, इस संबंध में मैं आपका ध्यान रतलाम रेल मंडल द्वारा हाल ही में इंदौर की 39 ट्रेनों में मसाज की सुविधा उपलब्ध कराने संबंधी एक समाचार की ओर से आकृष्ट करना चाहती हूं.
इस संबंध में मेरे कुछ प्रश्न हैं, जिनके उत्तर मैं जानना चाहती हूं. उन्होंने पत्र में पूछा है कि क्या वास्तव में रतलाम रेल मंडल ट्रेनों में हेड-फुट मसाज की सुविधा उपलब्ध करवाएगा? क्या इस नीतिगत निर्णय को रेल मंत्रालय की स्वीकृति है? इससे महिलाओं की सुरक्षा और सहजता संबंधी सवाल खड़े हो सकते हैं. क्या प्लेटफॉर्म पर भी हेड-फुट मसाज पार्लर खोलने का प्रस्ताव है?
इंदौर सांसद लालवानी पहले ही लिख चुके हैं पत्र, किया है विरोध
इससे पहले इंदौर के नव निर्वाचित सांसद शंकर लालवानी ने मसाज सुविधा का विरोध किया था. उन्होंने रेल मंत्री पीयूष गोयल को इसके लिए एक पत्र भी लिखा था. सांसद लालवानी का कहना था कि ये हमारी भारतीय सभ्यता के खिलाफ है, महिलाओं के सामने इस तरह की सेवा रेलवे द्वारा शुरू करना गलत है. उन्होंने रेल मंत्री को सुझाव भी दिया है कि मसाज की जगह ट्रेनों में स्वास्थ्य संबंधी सुविधा होना चाहिए, जो यात्रियों के लिए आवश्यक है.
इस माह के अंत में इन ट्रेनों में शुरू होना है सुविधा
रेलवे ने चलती ट्रेन में यात्रियों के सिर और पैर की मसाज की शुरुआत करने का निर्णय लिया था. इंदौर की 39 ट्रेनों से इसकी शुरुआत होना है. योजना के तहत इंदौर से चलने वाली 39 ट्रेनों में मसाज प्रोवाइडर उपलब्ध रहेंगे. इसमें गाड़ी संख्या 18233-18234 बिलासपुर-इंदौर व्हाया जबलपुर नर्मदा एक्सप्रेस, देहरादून-इंदौर एक्सप्रेस (14317), नई दिल्ली-इंदौर इंटरसिटी एक्सप्रेस (12416) और इंदौर-अमृतसर एक्सप्रेस (19325) सहित प्रमुख ट्रेनें शामिल हैं.
अलग-अलग मसाज के हैं अलग दर
यात्री अलग-अलग दर में सिर या पैर की मसाज करवा सकेंगे. रेलवे ने इसके लिए एक फर्म को 20 लाख रुपए का ठेका भी दे दिया है. जून माह के अंत में इसकी शुरुआत होना है. रतलाम रेल मंडल में शुरू होने वाली इस तरह की भारतीय रेलवे में पहली सुविधा है. वही रेलवे का कहना है मसाज के लिए कुछ बर्थों का चयन किया जाएगा, जिससे बाकी यात्रियों को इससे परेशानी ना हो.
तीन श्रेणियां हैं सेवाओं की
मसाज सुविधा की तीन श्रेणियां, गोल्डन, डायमंड और प्लेटेनियम हैं. गोल्डन पैकेज 100 रुपये, डायमंड पैकेज 200 रुपये का और प्लेटेनियम पैकेज 300 रुपये का होगा.

1 Public Posts - Yesterday

  
Rail News
289 views
Yesterday (19:44)
ਅਮਿ ਸਾਂਕ੍ਰਿਤ   264 blog posts
Re# 4344007-2            Tags   Past Edits
बकवास !
समय से चलाने पर ध्यान दो गोयल जी।
मसाजगीरी बाद में करना।
😕
यहां बैठने को जगह नही और इन्हें मालिश की पड़ी है।

  
281 views
Yesterday (19:54)
©The Dark Lord™~   9933 blog posts   2 correct pred (67% accurate)
Re# 4344007-3            Tags   Past Edits
Baithe ka jagah hai nahi, e maalish kahan karwaoge? Unrealistic project tha, badhiya hua cancel ker diya.

  
281 views
Yesterday (19:58)
ਅਮਿ ਸਾਂਕ੍ਰਿਤ   264 blog posts
Re# 4344007-4            Tags   Past Edits
यहां लोग गर्मी से मर जा रहे हैं, अरे कुछ ऐसा करें जिससे लोगों को ट्रेन में ही ठंडा पानी मिले, कुछ ऐसा जो हर तबके के लिए हो, लेकिन नही इन्हें तो कमाई से मतलब है कि टिकट ज्यादा बिकेगा, हद है!
पता नही अंत्योदय में आर ओ वाटर मिलता भी है या नही। बातें बहुत होती हैं बड़ी बड़ी, हर ट्रेन में कैमरा लगेगा, डॉक्टर मिलेगा, सब नौटंकी।
😔

  
280 views
Yesterday (20:03)
Myra Misfit 🍷^~   73960 blog posts   47014 correct pred (79% accurate)
Re# 4344007-5            Tags   Past Edits
Frequency increase krega fir..
Aur bheed peak hour me hota h us time to hona lazmi h baki time itna nhi
Phle wala agar fare kr de to frequency badhana pdega but loss jyda hoga

  
278 views
Yesterday (20:06)
©The Dark Lord™~   9933 blog posts   2 correct pred (67% accurate)
Re# 4344007-6            Tags   Past Edits
E Ramayan me sakuni Ko kahe ghusa rahe ho. E sab jo likha hai iska is news se koi lena dena nahi hai.
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. आरपीएफ द्वारा पूरे देश में टिकट दलालों के खिलाफ चलाए गये ऑपरेशन थंडर में पकड़े गये टिकट दलालों से पूछताछ में कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं, जिसमेें कई टिकट दलालों के संपर्क रेलवे के वाणिज्य विभाग के कर्मचारियों और अधिकारियों से रहे हैं, जिनकी भूमिका की भी जांच आरपीएफ की विशेष जांच शाखा (एसआईबी) कर रही है. इस जांच के दायरे में में पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर, भोपाल व कोटा मंडल का वाणिज्य विभाग भी शामिल है.
उल्लेखनीय है कि रेल सुरक्षा बल (आरपीएफ) द्वारा पूरे भारत में एक साथ टिकट दलालों के खिलाफ ऑपरेशन थंडर चलाया, जिसमें 141 शहरों में 276 स्थानों में एक साथ छापामारी की गई, जिसमें 387 टिकिट दलाल पकड़े गये. सभी संदिग्ध यूजर
...
more...
आईडी तथा जब्त टिकिटों को निष्क्रिय किये जाने की प्रक्रिया की जा रही है. वहीं इस आपरेशन में पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर, भोपाल व कोटा मंडलों में 14 स्थानों पर छापेमारी की गई, जिसमें 35 लाख 75 हजार 660 रुपए को जप्त कर 14 व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है. आरपीएफ के इस अभियान से हड़कम्प की स्थिति है.
एसआईबी ने वित्त विभाग से मांगी जानकारी
रेलवे टिकट एजेंटों और दलालों पर अपनी सबसे बड़ी कार्रवाई करने के बाद रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की विशेष जांच शाखा (एसआईबी) अब इस गिरोह में शामिल विभागीय कर्मियों की भूमिका की जांच कर रही है. यह गोरखधंधा करोड़ो रुपयों का है. आरपीएफ ने रेलवे के वित्तीय विभाग से ई-टिकटों के रियल-टाइम की जानकारी मांगी है. हालांकि खुफिया एजेंसी को यह महत्वपूर्ण जानकारी अभी मिली नहीं है. वहीं पश्चिम मध्य रेलवे के ाजस्थान के कोटा मंडला से एक सॉफ्टवेयर एएनएमएस/रेड मिर्ची बरामद किया गया, जिसका उपयोग आईआरसीटीसी की तत्काल सेवा को हैक करने के लिए किया जा रहा था. अब इसे सुधार दिया गया है.
रेलकर्मियों की संलिप्तता की जांच, रेलमंत्री ने दी मंजूरी
सूत्रों ने कहा कि जब देश भर में विभिन्न टिकेट एजेंटों के ई-टिकट की बुकिंग और भुगतान के माध्यमों से संबंधित जानकारी मिल जाएगी तो देशभर में फैले तत्काल टिकट रैकेट की साफ तस्वीर उभरकर आएगी. विभाग के लोगों के या चतुर्थ-श्रेणी कर्मियों के इसमें शामिल होने के सवाल पर आरपीएफ के निदेश अरुण कुमार ने कहा, यह जांच का विषय है. मैं फिलहाल कोई जानकारी साझा नहीं कर सकता. सूत्रों ने कहा कि रेल मंत्री पीयूष गोयल ने टिकेट घोटाले में आरपीएफ की जांच ऑपरेशन थंडर की प्रशंसा की है और गिरोह में किसी भी विभागीय कर्मी की संलिप्तता की स्थिति में कार्रवाई शुरू करने की मंजूरी दे दी है.
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. रेल सुरक्षा बल (आरपीएफ) द्वारा पूरे भारत में एक साथ टिकट दलालों के खिलाफ ऑपरेशन थंडर चलाया, जिसमें 141 शहरों में 276 स्थानों में एक साथ छापामारी की गई, जिसमें 387 टिकिट दलाल पकड़े गये. सभी संदिग्ध यूजर आईडी तथा जब्त टिकिटों को निष्क्रिय किये जाने की प्रक्रिया की जा रही है. वहीं इस आपरेशन में पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर, भोपाल व कोटा मंडलों में 14 स्थानों पर छापेमारी की गई, जिसमें 35 लाख 75 हजार 660 रुपए को जप्त कर 14 व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है. आरपीएफ के इस अभियान से हड़कम्प की स्थिति है.
उल्लेखनीय है कि ग्रीष्म अवकाश, स्कूलों की छुट्टियाँ तथा शादी विवाह का मौसम होने के कारण टं्रेनों में अत्यधिक भीड़
...
more...
चल रही है. ऐसी सूचना मिल रही थी कि स्थिति का फायदा उठाते हुए अराजक तत्व टिकट काउंटर एवं ई-टिकटिंग सुविधा का दुरूपयोग करते हुए, फर्जीवाड़ा कर, ऊँचे दामों पर रेल टिकटों की कालाबाजारी करते हैं. इस प्रक्रिया में वह आमजन को टिकटों की उपलब्धता से वंचित कर रहे हैं साथ ही आईआरसीटीसी की वेबसाइट में दी गर्ई यात्री सुविधा का दुरूपयोग कर सामान्य लोगों को परेशानी में डाल रहे हैं.
आरपीएफ मुखिया ने दिया था आदेश
महानिदेशक आरपीएफ अरुण कुमार न े अखिल भारतीय स्तर पर तकनीकि एर्वं आइटी सेल की मदद से ऐसे सभी संदिग्धों को चिन्हित करते हुए उनके गतिविधियों की सभी खुफिया जानकारी एकत्रित करवाई तथा इनके विरुद्ध व्यापक कार्यवाही हेत ु योजना बनाई. इन सूचनाओं को सभी संबधित क्षेत्रीय रेल के आरपीएफ प्रमुखों से अत्यंत गोपनीय रूप से साझा किया गया तथा पूरे देश में एक साथ एक ही दिन एवं एक समय छापेमारी की योजना तैयार की गई. फील्ड अधिकारियों को संंदिग्धों के संबंध में छापेमारी के पूर्व उनका पूर्ण सत्यापन करने के निर्देश जारी किये गए थे.
एक ही दिन पूरे देश में कार्रवाई
कार्यवाही की व्यापकता तथा गंभीरता को देखते हुए, छापेमारी को सफल बनाने हेतु एक ही तिथि अर्थात 13 जून 2019 निर्धारित की गई तथा इसे ऑपरेशन थंडर का नाम दिया गया रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार पश्चिम मध्य रेल के तीनों मण्डलों में रेल टिकिटों का अवैध कारोबार करने वाले रेल टिकिट दलालों के विरुद्ध एक दिवसीय आपरेशन-थंडर संचालित कर 14 सफल रेड के माध्यम से 2073 रेल टिकिट, जिनका मूल्य 35 लाख 75 हजार 660 रुपए को जप्त कर 14 व्यक्तियों के विरुद्ध रेल अधिनियम की धारा 141 के तहत् गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही की गई. रेल सुरक्षा बल, पश्चिम मध्य रेल द्वारा की गई कार्यवाही से जहां रेल टिकिट का काला कारोबार करने वालों में दहशत व्याप्त है, वहीं आमजन में गर्मी के मौसम में इस तरह की कार्यवाही से संतोषयुक्त माहौल है. जिसकी चारों ओर प्रशंसा हो रही है. प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त/प.म.रे/जबलपुर द्वारा प.म.रे. के तीनों मण्डलों को निर्देशित कर अवैध टिकटों का कारोबार करने वाले टिकिट दलालों के विरूद्ध रलगातार कार्यवाही करने के निर्देश जारी किये गये हैं.
पूरे भारत में 141 शहरों के 276 स्थानों पर कार्रवाई, 387 दलाल पकड़ाए
इसी प्रकार पूरे भारत में सभी क्षेत्रीय रेलवे में ऑपरेशन थंडर के तहत 141 शहरों में 276 स्थानों में एक साथ छापामारी की गई, जिसमें 387 टिकिट दलाल पकड़े गये. सभी संदिग्ध यूजर आईडी तथा जब्त टिकिटों को निष्क्रिय किये जाने की प्रक्रिया की जा रही है.
आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में
जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य
खबर : चर्चा में
1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल
2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा
3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार
4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक
5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन
6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे
7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर
8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट
9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका
10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत
11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. मुंबई से डायरेक्ट यूपी-बिहार का विद्युत इंजिन से यात्रा करने का सपना फिर से एक बार टल गया है. दरअसल इटारसी-जबलपुर-कटनी-मानिकपुर-इलाहाबाद के बीच चल रहे काम में से कटनी-सतना के बीच काम अधूरा पड़ा है. जिसे पूर्व में जून 2019 तक पूरा करने का टारगेट दिया गया था, किंतु फिर से इस खंड में टेंडर प्रक्रिया शुरू की जा रही है, जिससे अब टारगेट मार्च 2019 कर दिया गया है.
उल्लेखनीय है कि मुंबई से इलाहाबाद और इलाहाबाद से मुंबई आने जानेवालो की संख्या काफी बढ़े तादाद में है और यह संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. इस रुट पर चलनेवाली ट्रेन आम तौर पर यात्रियों से खचाखच भरी होती है. मुंबई से व्हाया इटारसी- जबलपुर, इलाहाबाद
...
more...
पहुंचने में आम तौर पर 28 से 32 घंटे लगते हैं. जिसमें अभी फिलहाल आगामी 9 माह तक किसी तरह की राहत मिलने की संभावना नहीं है, क्योंकि विद्युतीकरण की डगर अभी भी काफी दुर्गम प्रतीत हो रही है.
विद्युतीकरण संगठन का यह है दावा
इलाहाबाद यानी की प्रयागराज स्थित केंद्रीय रेल विद्युतीकरण संगठन (कोर) की ओर से इस रूट के बचे हुए सतना-कटनी रेलखंड पर इसी वित्तीय वर्ष रेल विद्युतीकरण पूरा करने का दावा किया है. इसके बाद संबंधित रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन लगी ट्रेनों की आवाजाही शुरू हो जाएगी. इलेक्ट्रिक इंजन लगी ट्रेनों के शुरू होने के बाद संबंधित रूट पर चलने वाली तमाम ट्रेनों की स्पीड में इजाफा हो जाएगा.
यूपी-बिहार-एमपी सीधे विद्युतीकरण से मुंबई, चेन्नई जोडऩे का है लक्ष्य
इलाहाबाद जंक्शन से से मुंबई छत्रपति शिवाजी टर्मिनल रेलवे स्टेशन की कुल दूरी 1362 किलोमीटर है. देश के व्यस्तम रूटों में यह रेलमार्ग शुमार है. अभी इस रूट पर इटारसी-मुंबई रेलखंड पर ही इलेक्ट्रिक इंजन लगी ट्रेनों का संचालन हो रहा है. कुछ ट्रेनें जबलपुर व कटनी तक भी आ-जा रही हैं, किंतु कटनी-सतना के बीच काम अधूरा पडृ़ा है, इस वजह से इलाहाबाद, पटना, गुवाहाटी, दरभंगा, वाराणसी, हावड़ा, रांची से मुंबई जाने वाली तमाम ट्रेनें जंक्शन एवं छिवकी से इटारसी तक डीजल इंजन से ही चलती है. इटारसी में डीजल की जगह इलेक्ट्रिक इंजन लगाया जाता है.

  
Rail News
322 views
Jun 14 (12:57)
deepakrashikendra~   1912 blog posts
Re# 4342723-1            Tags   Past Edits
electrification target 2019-20

  
Rail News
309 views
Jun 14 (12:58)
deepakrashikendra~   1912 blog posts
Re# 4342723-2            Tags   Past Edits
Katni Satna Target is 31.12.2019.
  
पलपल संवाददाता, जबलपुर. गुजरात के तट पर समुद्री तूफान वायु को देखते हुए रेलवे ने कई गाडिय़ों को रद्द व कुछ को शार्ट टर्मिनेट करने का निर्णय लिया है. जो गाडिय़ां प्रभावित होंगी, उनमें जबलपुर-सोमनाथ एक्सप्रेस शामिल है. इस ट्रेन को सोमनाथ तक ले जाया गया, लेकिन वहां से खाली रैक को रात में ही राजकोट वापस लाया जाएगा, जहां से उसे 13 जून गुरुवार को जबलपुर के लिए चलाया जाएगा.
रेल प्रशासन के मुताबिक वायु तूफान से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए रेलवे ने भी व्यापक इंतजाम किये हैं, जिसके तहत 15 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. इसके अलावा 16 गाडिय़ों को शार्ट टर्मिनेट किया गया है. जिसमें जबलपुर-सोमनाथ एक्सप्रेस शामिल है.
रेलवे
...
more...
के मुताबिक गाड़ी संख्या 11464 सोमनाथ-जबलपुर एक्सप्रेस जो 12 जून बुधवार को जबलपुर से रवाना हुई, वह राजकोट तक ही जाएगी, जहां पर उसे रद्द कर दिया जायेगा, वापसी में गाड़ी संख्या 11463 को सोमनाथ की बजाय 14 जून शुक्रवार को राजकोट से जबलपुर के लिए चलाया जायेगा.
आज का दिन : ज्योतिष की नज़र में
जानिए कैसा रहेगा आपका भविष्य
खबर : चर्चा में
1. RBI के खिलाफ आजादी के बाद पहली बार सरकार ने किया विशेष शक्ति का इस्तेमाल
2. CM योगी का राम मंदिर पर बड़ा बयान- धैर्य रखें, दिवाली पर खुशखबरी दूंगा
3. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस विशेष...देखें हैं रंग हजार
4. न्यूनतम वेतन पर 'आप' की जीत, दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर SC ने लगाई रोक
5. सार्वजनिक वाहनों में अब जरूरी होगा लोकेशन ट्रेकिंग एवं आपात बटन
6. 50 पैसे का ये दुर्लभ सिक्का आपको दिला सकता है 51 हजार 500 रुपए, जानें कैसे
7. ईज ऑफ डुइंग बिजनेस: भारत 23 पायदान की छलांग लगा 100 से पहुंचा 77 वें स्थान पर
8. दिवाली पर घर जाने के लिए ऐसे कराएं कन्फर्म तत्काल टिकट
9. MeToo:HC ने खारिज की छानबीन के लिए निर्देश की मांग वाली याचिका
10. भारत में आर्थिक वृद्धि सुनिश्चित करने एक दशक में 10 करोड़ नए रोजगार की जरूरत
11. मंगलनाथ की भात पूजा सहित इन उपायों से कर्ज संकट कम होता
Page#    1034 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy