PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

हम RailFan - हमेशा पंखों पे

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Mon Nov 30 05:07:49 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Advanced Search
<<prev entry    next entry>>
News Entry# 422946
Oct 28 (10:10) अगले साल लखनऊ के लिए दौड़ने लगेगी ट्रेन (m.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NER/North Eastern
0 Followers
14964 views

News Entry# 422946  Blog Entry# 4760709   
  Past Edits
Oct 28 2020 (10:10)
Station Tag: Pilibhit Junction/PBE added by Pilibhit broad gauge/1323097
Stations:  Pilibhit Junction/PBE  
पीलीभीत,जेएनएन : तीन साल से तराईवासियों के लिए प्रदेश की राजधानी दूर हो गई है। इस जिले के साथ ही उत्तराखंड के कुमायूं के लोगों के लिए लखनऊ तक जाने का सबसे सुगम रास्ता यही रहा है। पहले यहां से लखनऊ के लिए सीधी ट्रेनें चला करती थीं। मीटरगेज को ब्राडगेज में बदलने के लिए तीन साल पहले ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया था। ब्राडगेज कार्य भी रुक रुक कर हो रहा था लेकिन अब इसमें काफी तेजी आ गई है। रेलवे का मानना है कि अगले साल मार्च में इस पर ट्रेनें दौड़ाने का रास्ता साफ हो जाएगा। इससे लखनऊ के साथ ही सीतापुर और लखीमपुर जिलों से पीलीभीत का सीधा जुड़ाव फिर से हो जाएगा। लोगों को रेल का सस्ता सफर मुहैया होगा। पीलीभीत-मैलानी तक ही काम होना है। आगे लखनऊ तक ब्राडगेज पहले ही हो चुका है।
...
more...
लगभग तीन साल पहले जब रेलवे ने मीटर गेज लाइनों को ब्राडगेज में बदलने के लिए ब्लॉक लिया तो ट्रेनों का संचालन बंद हो गया। ऐसे में पूरनपुर तहसील की बड़ी आबादी के लिए दिक्कतें पैदा हो गईं। पूरनपुर क्षेत्र से बड़ी संख्या में लोग जिला मुख्यालय के लिए आवागमन करते थे। ब्राडगेज का कार्य तो पीलीभीत से लेकर लखनऊ तक होगा था लेकिन मैलानी से लेकर लखनऊ तक काफी तेजी से काम हुआ। ऐसे में मैलानी से ऐशबाग तक बड़ी लाइन डाली जा चुकी है। पीलीभीत से लेकर मैलानी तक 100 किमी क्षेत्र में ब्राडगेज कार्य पहले तो सुस्त गति से रहा लेकिन अब इसमें काफी तेजी आई है। ऐसे में रेलवे अधिकारियों का मानना है कि अगले साल मार्च के बाद पीलीभीत से लखनऊ तक फिर ट्रेनें दौड़ने लगेंगी। सिर्फ आठ किमी तक कुछ समस्या है। इस इलाके में जंगल पड़ता है। ऐसे में वन विभाग से एनओसी लिया जाना आवश्यक है।
इनसेट
पीलीभीत-मैलानी रेल खंड पर ब्राडगेज का कार्य काफी तेजी कराया जा रहा है। पीलीभीत से माला स्टेशन तक आठ किमी रूट पर जंगल के बीच से होकर रेलवे लाइन है। ऐसे में वन विभाग से एनओसी मिलने का इंतजार है। इससे बाद यहां भी तेजी से ब्राडगेज संबंधी सभी व्यवस्थाएं पूर्ण करा ली जाएंगी।
-राजेंद्र सिंह, जनसंपर्क अधिकारी रेलवे मंडल इज्जतनगर

Rail News
13439 views
Oct 28 (11:07)
भारतीय रेल प्रशंसक
Bhartiya_rail~   5316 blog posts
Re# 4760709-1            Tags   Past Edits
It is really great news. After the GC gets completed some trains can be diverted via STP-Mailani-PBE-IZN bas IZN se ab ek Y-leg bhi banana chahiye jisse bina LR ke Delhi ke liye trains ja sake to LKO BE ka congestion kam karne me useful hoga

Rail News
11329 views
Oct 28 (12:23)
sanjay07   1089 blog posts
Re# 4760709-2            Tags   Past Edits
Good News
Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy